सीआईएसएफ द्वारा वृहद वृक्षारोपण अभियान: एक ही दिन में लगाए गए लगभग 2.33 लाख पौधे

0
497

गृह मंत्री अमित शाह ने रविवार को मेघालय से एक विशाल वृक्षारोपण अभियान का शुभारंभ किया। उन्होंने कहा कि यह अभियान ग्लोबल वार्मिंग और जलवायु परिवर्तन के खिलाफ लड़ाई में एक महत्वपूर्ण कदम है। इस अभियान के तहत एक ही दिन में लगभग 2.33 लाख पौधे लगाए गए।

 

केंद्रीय गृह मंत्री द्वारा की गई इस पहल के अनुरूप, केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ)  भी इस अभियान में शामिल हुआ। 25 जुलाई 2021 को सीआईएसएफ की सभी इकाइयों में ’वृक्षारोपण महोत्सव’ के रूप में मनाया गया। इस अभियान का नेतृत्व करते सीआईएसएफ के महानिदेशक सुधीर कुमार सक्सेना ने अन्य वरिष्ठ अधिकारियों और कर्मियों के साथ 25.07.2021 को सीआईएसएफ परिसर शास्त्री पार्क, नई दिल्ली में आयोजित एक समारोह में फलदार और पारंपरिक भारतीय पेड़ लगाए।

समारोह के दौरान महानिदेशक, सीआईएसएफ ने इस बात पर जोर दिया कि हम सभी को आगे आना होगा और एक हरे-भरे और स्वच्छ भारत के अभियान में शामिल होना होगा। उन्होंने कहा कि पेड़ हम सभी के लिए असली खजाना हैं और पेड़ लगाकर और उनका पालन-पोषण करके हम अपने बच्चों और आने वाली पीढ़ियों के भविष्य को सुरक्षित कर रहे हैं।

इस अभियान में सीआईएसएफ के बल सदस्यों ने बढ़-चढ़ कर हिस्सा लिया। बल के अधिकारियों और अन्य सदस्यों ने अपने परिवार के सदस्यों के साथ इस अभियान में सक्रिय रूप से भाग लिया और आज देश भर में सभी सीआईएसएफ इकाइयों में लगभग 2.33 लाख पौधे लगाकर पर्यावरण संरक्षण के प्रति अपनी प्रतिबद्धता दोहराई। ’संरक्षिका’ या सीआईएसएफ वाइव्स वेलफेयर एसोसिएशन ने भी सामूहिक वृक्षारोपण अभियान में शामिल होकर इस प्रयास को अपना पूर्ण समर्थन दिया।

प्रियंवदा सक्सेना, अध्यक्ष-“संरक्षिका“ ने संरक्षिका के अन्य वरिष्ठ सदस्यों, अधिकारियों, कर्मियों और उनके परिवारों के साथ अभियान में भाग लिया और सीआईएसएफ परिसर 5वीं आरक्षित वाहिनी, गाजियाबाद में फलदार और पारंपरिक भारतीय पेड़ लगाए। इस अभियान में महिलओं एवं बच्चों ने बढ़-चढ़ कर भाग लिया। वृक्षारोपण अभियान के लिए पेड़ों को स्थानीय टोपोग्राफी को ध्यान में रखते हुए सावधानी से चुना गया है, ताकि वे पर्यावरण को शुद्ध बनाए रखने और दैनिक आवश्यकताओं को पूरा करने में योगदान दे सकें।

इस प्रकार 50 प्रतिशत पेड़ लंबे जीवन वाले पेड़ हैं यानी, पारंपरिक भारतीय पौधे जैसे नीम, शीशम, पीपल, आदि और 50 प्रतिशत आम, जामुन आदि जैसे फल देने वाले पेड़ हैं। 25.07.2021 को देश भर में सभी 352 सीआईएसएफ इकाइयों और 75 संरचनाओं में लगाए गए। इन पौधों को संरक्षित किया जाएगा और यह सुनिश्चित किया जाएगा कि वे बड़े होकर बड़े पेड़ बन जाएं।

एक ही दिन में लगभग 2.33 लाख पौधे लगाने और सीआईएसएफ के बल सदस्यों द्वारा यह शपथ लेने की वे बड़े पेड़ बनने तक पौधों का पोषण करेंगे हरित और स्वच्छ भारत के लिए सीआईएसएफ का समर्पण और प्रतिबद्धता प्रतिबिम्बित करता है। सीआईएसएफ के बल सदस्य सही मायने में ’हरित योद्धा’ बनकर उभरे हैं।