मुख्य समाचार
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कृषि के क्षेत्र में ऐतिहासिक सुधारों की प्रशंसा की, कहा--किसानों के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य प्रणाली जारी रहेगी।            श्री मोदी ने बिहार में संपर्क व्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए कोसी रेल महासेतु का उदघाटन और 12 रेल परियोजनाओं की शुरूआत की            देश में कोविड से स्वस्थ होने की दर 78 दशमलव आठ-छह प्रतिशत हुई।            विदेशमंत्री डॉ० एस० जयशंकर ने कहा--भारत और जापान के बीच आर्थिक सहयोग प्रगति पर।            आई०पी०एल० क्रिकेट का 13वां संस्करण कल से अबूधाबी में।           

Text Bulletins Details


दोपहर समाचार

1430 HRS
09.08.2020

मुख्य समाचार

  • प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने प्रधानमंत्री किसान योजना के अंतर्गत एक लाख करोड रुपये के कृषि अवसंरचना कोष की शुरूआत की। कृषि उद्यमियों, स्‍टार्ट अप, फसल कटाई के बाद प्रबंधन और कृषि परिसम्‍पत्ति के संवर्धन में सहायता मिलेगी।

  • प्रधानमंत्री ने कहा- किसानों को आत्‍मनिर्भर बनाने का उद्देश्‍य पूरा हो रहा है।

  • रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कहा- रक्षा क्षेत्र में स्‍वदेशी उत्‍पादन बढाने के लिए एक सौ एक वस्‍तुओं के आयात पर रोक लगाई जायेगी।

  • देश में कोविड-19 से स्‍वस्‍थ होने वालों की संख्‍या वर्तमान मरीजों से दुगनी हुई। ठीक होने की दर 68 दशमलव सात-आठ प्रतिशत पहुंची।

  • आंध्र प्रदेश के विजयवाडा में कोविड उपचार केन्‍द्र के तौर पर इस्‍तेमाल हो रहे होटल में आग दुर्घटना में नौ लोगों की मौत।

  • महिन्‍दा राजपक्ष ने चौथी बार श्रीलंका के प्रधानमंत्री पद की शपथ ली।

..............

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने आज कृषि अवसंरचना कोष के अंतर्गत एक लाख करोड़ रूपये की वित्‍तीय सुविधा की शुरूआत की। ये कोष कृषि उद्यमियों, स्‍टार्ट अप, कृषि प्रौद्योगिकियों और फसल कटाई परवर्ती प्रबंधन तथा कृषि परिसम्‍पत्ति पोषण से संबंधित किसान समूहों के लिए हैं। इस अवसर पर, श्री मोदी ने कहा कि यह योजना किसानों को आत्‍मनिर्भर बनाएगी।


इस योजना का जो लक्ष्‍य था वो लक्ष्‍य हासिल हो रहा है। हर किसान परिवार तक सीधी मदद पहुंचे और जरूरत के समय पहुंचे । इस उद्देश्‍य में ये योजना सफल रही है। बीते डेढ साल में इस योजना के माध्‍यम से 75 हजार करोड़ रूपए सीधे किसानों के बैंक खाते में जमा हो चुके हैं, जिसमें से बाईस हजार करोड़ रूपए का कोरोना के कारण लगे लॉकडाउन के दौरान किसानों तक पहुंचाए गए।


इस योजना को मंत्रिमंडल से औपचारिक मंजूरी के केवल 30 दिन बाद ही आज दो हजार दो सौ अस्‍सी से अधिक किसान समितियों को एक हजार करोड़ रूपये से अधिक राशि की पहली किश्‍त उपलब्‍ध कराई गई। यह कार्यक्रम वीडियो कॉन्‍फ्रेंस के जरिये आयोजित किया गया और इसमें लाखों किसान शामिल हुए। श्री मोदी ने प्रधानमंत्री किसान सम्‍मान निधि योजना के अंतर्गत 8 करोड़ 55 लाख से अधिक कृषक लाभार्थियों को 17 हजार एक सौ करोड़ रूपये की छठी किश्‍त भी जारी की।


इस अवसर पर, श्री मोदी ने फिर कहा कि भारत के पास भंडारण, शीत गृह और खाद्य प्रसंस्‍करण जैसे फसल कटाई परवर्ती प्रबंधन में निवेश करने और जैविक तथा पोषक आहार जैसे क्षेत्रों में वैश्विक उपस्थिति बनाने की अपार संभावनाएं हैं। प्रधानमंत्री ने किसानों से अपने खेतों में कम मात्रा में उर्वरकों का इस्‍तेमाल करने की अपील की।


हमें हमारी धरती माता को भी बचाना है। जिस प्रकार से हम आंख बंद करके अनाप-शनाप यूरिया का उपयोग करते हैं। पूरी धरती माता हमारी तबाह हो रही है तो हमारे किसान वो ये तय कर सकते हैं कि अभी अगर वो पांच थैली यूरिया लेते हैं तो आगे से तीन थैली में ही चलाएंगे। अभी वो छह थैली लेते हैं तो आगे से चार थैली ही चलाएंगे। उसका पैसा बचेगा, ये हमारी धरती माता बचेगी और किसान का, बच्‍चों का भविष्‍य उज्‍जवल हो जाएगा।


प्रधानमंत्री ने कहा कि यह योजना कृषि में स्‍टार्ट अप के लिए अच्‍छा अवसर उपलब्‍ध कराएगी। इससे ऐसी पर्यावरण अनुकूल प्रणाली उत्‍पन्‍न होगी जो देश के प्रत्‍येक भाग में रहने वाले किसानों तक पहुंचेगी। प्रधानमंत्री ने कहा कि इससे ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार के अधिक अवसर उपलब्‍ध होंगे।


देश में कृषि से जुडी सुविधाएं तैयार करने के लिए एक लाख करोड़ रूपए का विशेष फंड लांच किया गया है। इससे गांवो-गांवों में बेहतर भंडारण, आधुनिक कोल्‍ड स्‍टोरेज की चेन तैयार करने में मदद मिलेगी और गांव में रोजगार के अनेक अवसर तैयार होंगे। इसके साथ-साथ किसान सम्‍मान निधि के सत्रह हजार करोड रूपए सीधे-सीधे साढ़े आठ करोड़ किसानों के खाते में जमा हो गए।


श्री मोदी ने प्रधानमंत्री किसान योजना के लागू होने की गति पर संतोष व्‍यक्‍त किया। उन्‍होंने बताया‍ कि इस कार्यक्रम में आज जारी राशि इतने अधिक लोगों तक पहुंची है जितनी कई देशों की कुल जनसंख्‍या है।


उन्‍होंने इस कार्यक्रम को लागू करने में महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाने और पंजीकरण से राशि बांटने तक सभी प्रक्रियाओं के माध्‍यम से किसानों की मदद करने के लिए राज्‍य सरकारों को बधाई दी।


कृषि मंत्री नरेन्‍द्र सिंह तोमर भी इस अवसर पर उपस्थित थे।


..............

प्रधानमंत्री ने कहा है कि स्‍वच्‍छ भारत अभियान से देश के प्रत्‍येक नागरिक के आत्‍म-विश्‍वास और इच्‍छा-शक्ति को बल मिला है। नई दिल्‍ली में कल राष्‍ट्रीय स्‍वच्‍छता केंद्र के उद्घाटन  के बाद श्री मोदी ने कहा कि इस अभियान का प्रभाव देश के निर्धन व्‍यक्ति के जीवन पर स्‍पष्‍ट रूप से दिखाई दे रहा है। प्रधानमंत्री ने कहा कि स्‍वच्‍छ भारत अभियान से हमारी सामाजिक चेतना और व्‍यवहार में स्‍थाई बदलाव आया है।


स्‍वच्‍छ भारत अभियान से हमारी सामाजिक चेतना समाज के रूप में हमारे आचार-व्‍यवहार में भी स्‍थाई परिवर्तन आया है। बार-बार हाथ धोना हो, हर कहीं थूकने से बचाना हो। कचरे को सही जगह फेंकना हो, ये तमाम बातें सहज रूप से बड़ी तेजी से सामान्‍य भारतीय तक हम पहुंचा पाए।


..............

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी कल चेन्‍नई में अंडमान-निकोबार द्वीप समूह को मुख्‍य भू-भाग से जोड़ने वाली समुद्र में बिछी दूर संचार केबल प्रणाली की शुरूआत करेंगे। प्रधानमंत्री नई दिल्‍ली से वीडियो कॉन्‍फ्रेंस के जरिये विशेष और सबसे लंबी केबल प्रणाली भी राष्‍ट्र को समर्पित करेंगे।


यूनिवर्सल सर्विस ऑब्लिगेशन फंड के अंतर्गत सार्वजनिक क्षेत्र के भारत संचार निगम लिमिटेड ने चेन्‍नई को अंडमान निकोबार के आठ प्रमुख द्वीपों से जोड़ने वाली 23 सौ किलोमीटर लंबी केबल बिछाई है। चेन्‍नई से जिन स्‍थानों को जोड़ा जा रहा है,  उनमें - राजधानी पोर्ट ब्‍लेयर, स्‍वराज द्वीप, लिटिल अंडमान, कार निकोबार, कामोर्टा, ग्रेट निकोबार, लॉन्‍ग आईजलैंड और रंगत शामिल हैं।


..............

रक्षा मंत्रालय आत्मनिर्भर भारत को बढावा देने के लिए बड़े पैमाने पर तैयारी कर रहा है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि उनका मंत्रालय रक्षा उत्‍पादन में स्‍वदेशी तकनीक को बढ़ावा देने के लिए निर्धारित समय सीमा के बाद एक सौ एक वस्‍तुओं के आयात पर प्रतिबंध लगाएगा।


उन्‍होंने ट्वीट संदेश में कहा कि प्रधानमंत्री ने पांच स्‍तंभों पर आधारित आत्‍मनिर्भर भारत का आह्वान किया है। ये स्‍तंभ हैं - अर्थव्‍यवस्‍था, आधारभूत ढांचा, व्‍यवस्‍था, जनसंख्‍या और मांग। रक्षामंत्री ने कहा कि इस निर्णय से भारतीय रक्षा उद्योग को उन वस्‍तुओं के विनिर्माण का अवसर मिलेगा जिनके आयात पर प्रतिबंध होगा। उन्‍होंने कहा कि भारतीय निर्माता अपने डिजाइन और विकास क्षमताओं के अनुसार रक्षा सामानों का निर्माण कर सकेंगे।


श्री राजनाथ सिंह ने कहा कि देश का रक्षा उद्योग सशस्‍त्र सेनाओं की आवश्‍यकताओं की पूर्ति के लिए रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन की ओर से डिजाइन और विकसित की गई प्रौद्योगिकी भी अपना सकता है। रक्षामंत्री ने बताया कि रक्षा सामान के आयात पर साल 2020 और 2024 के दौरान चरणबद्ध रूप से प्रतिबंध लगाया जाएगा।


..............

भारत और चीन के बीच कल मेजर जनरल स्तर की वार्ता में पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा के निकट चीनी सैनिकों की वापसी की प्रक्रिया आगे बढ़ाने पर चर्चा हुई। यह वार्ता वास्तविक नियंत्रण रेखा के पास दौलत बेग ओल्डी क्षेत्र में कल सुबह ग्यारह बजे से शाम साढ़े सात बजे तक चली। बैठक में पिछले सप्ताह सैनिकों के हटने की प्रक्रिया पर दोनों सेनाओं के कमांडरों की पांचवें दौर की वार्ता में लिए गए निर्णयों को लागू करने के बारे में मुख्य रूप से विचार किया गया।


..............

देश में कोविड-19 से स्‍वस्‍थ होने वालों की संख्‍या वर्तमान मरीजों से दुगनी हो गई है। पिछले 24 घंटों के दौरान कोविड 19 संक्रमण के 64 हजार 399 नए मरीजों की पुष्टि हुई। इन्हें मिलाकर भारत में कोरोना संक्रमितों की संख्‍या 21 लाख को पार कर गई है। लगातार तीसरे दिन 60 हजार से अधिक नए कोविड रोगी सामने आए हैं।


स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया है कि देश में अब तक कुल 14 लाख 80 हजार आठ सौ 84 कोविड मरीज स्‍वस्‍थ हुए हैं। पिछले 24 घंटों के दौरान 53 हजार आठ सौ 79 मरीज स्वस्थ हुए। कोविड से स्‍वस्‍थ होने की दर बढ़कर 68 दशमलव सात आठ प्रतिशत हो गई है। इसके साथ ही कोविड से मृत्युदर घटकर दो दशमलव शून्य एक प्रतिशत रह गई है।

देश में फिलहाल 6 लाख 28 हजार 747 रोगियों का उपचार चल रहा है।


भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद के अधिकारी ने बताया कि कल 7 लाख 19 हजार 3 सौ 64 नमूनों की कोविड जांच की गई।


..............

दिल्‍ली में पिछले एक दिन में कोरोना संक्रमण के एक हजार 404 नए मरीजों का पता चला। इन्‍हें मिलाकर राष्‍ट्रीय राजधानी में संक्रमित व्‍यक्तियों की कुल संख्‍या एक लाख 44 हजार से अधिक हो गई। दिल्‍ली सरकार ने इस बात की पुष्टि की है कि अभी तक एक लाख 29 हजार व्‍यक्ति पूरी तरह स्‍वस्‍थ हो चुके हैं। पिछले 24 घंटों में एक हजार 130 रोगी स्‍वस्‍थ हुए जबकि 16 लोगों की मृत्‍यु हो गई।


..............

कर्नाटक में, कल सात हजार 178 लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर अब एक लाख 72 हजार एक सौ दो हो गई है। पांच हजार छह रोगी कल स्वस्थ हुए हैं।


..............

ओडिसा में, पिछले चौबीस घंटे के दौरान उपचार के बाद एक हजार 554 कोविड रोगी स्वस्थ हुए हैं, जिससे राज्य में कुल स्वस्थ होने वाले रोगियों की संख्या बढ़कर तीस हजार से अधिक हो गई है। राज्य सरकार ने निजी अस्पतालों को भी कोविड संक्रमित रोगियों का उपचार करने की मंजूरी दे दी है।


..............

मिज़ोरम में पिछले 24 घंटों में 28 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए जबकि आठ रोगियों को उपचार के बाद अस्‍पताल से छुट्टी दे दी गई। सरकारी विज्ञप्ति के अनुसार कोविड 19 के संक्रमितों की संख्‍या पांच सौ 93 हो गई है। इनमें से दो सौ 96 लोग उपचार के बाद स्‍वस्‍थ हो गए और दो सौ 97 रोगियों का उपचार चल रहा है।


..............

त्रिपुरा में कोविड 19 के और चार रोगियों की पिछले 48 घंटे में मृत्‍यु हो गई है। इनमें सीमा सुरक्षा बल के दो जवान भी थे।


राज्‍य में अब तक 40 लोग कोविड 19 की बीमारी से जान गंवा चुके हैं। राज्‍य में एक लाख 97  हजार सात सौ 34 लोगों में कोरोना की जांच की गई है जिनमें से छह हजार एक सौ 64 लोग संक्रमित पाए गए। अभी राज्‍य में एक हजार आठ सौ 76 कोविड रोगियों का उपचार चल रहा है।


..............

पश्चिम-मध्य रेलवे ने मध्य प्रदेश के जबलपुर रेलवे स्टेशन पर कोविड सुरक्षा केन्द्र की शुरुआत की है। इस केन्द्र में यात्रियों को सैनिटाइजर, मास्क, नैपकिन और चादरें जैसे सामान आसानी से उपलब्ध होंगे। हमारे संवाददाता ने बताया है कि अन्य स्टेशनों पर भी इस तरह के केन्द्र जल्द ही खोले जाएंगे। 


रेलवे ने यात्रियों की सुविधा के लिए मात्र 50 रुपए कीमत का एक डिस्पोजेबल पैक तैयार किया है। इस पैक में यात्रियों को एक चादर, एक नैपकिन, एक पिलो, एक  सैनिटाइजर और एक मास्क मिलेगा। इसके अलावा, यहाँ से 10 रुपए में मास्क और 15 रुपए में सैनिटाइजर भी उपलब्ध है। पश्चिम मध्य रेलवे की मुख्य जनसंपर्क अधिकारी प्रियंका दीक्षित ने आकाशवाणी को बताया कि ट्रेनों का संचालन पुनः शुरू होने और यात्रियों की भीड़ की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए रेलवे ने यह नई पहल की है।


यात्री यहां से कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए छह सौ रुपए में पी पी ई किट खरीदकर और उसे पहनकर भी ट्रेन में सफर कर सकते हैं। यात्रियों को महज 10 रुपए में अपने लगेज को सैनेटाइज कराने की सुविधा भी इस केन्‍द्र में दी जा रही है। डिस्‍पोजल पैक की अधिकतर सामग्री बायो-डिग्रेडेबल तत्‍वों से बनी है जो उपयोग के बाद आसानी से नष्‍ट हो जाएगी। संजीव शर्मा, आकाशवाणी समाचार, भोपाल।


..............

गुजरात सरकार ने कोरोना महामारी के कारण सभी सावर्जनिक उत्‍सवों और समारोहों पर रोक लगा दी है। हमारे संवाददाता ने खबर दी है कि जन्‍माष्‍टमी तथा अन्‍य त्‍यौहारों के दौरान कोविड 19 संक्रमण रोकने के लिए यह निर्णय किया गया है।


अगले सप्ताह आ रहे कृष्ण जन्माष्टमी के त्योहार को देखते हुवे राज्य में सार्वजनिक त्यौहार और महोत्सवो पर प्रतिबन्ध काफी महत्वपूर्ण है. जन्माष्टमी के त्यौहार के दौरान मेले और महोत्सवों के लिए सौराष्ट्र क्षेत्र जाना जाता है. लेकिन कोरोना वायरस महामारी के चलते अब पुरे राज्य में त्योहार और महोत्सव सार्वजनिक रूप से नहीं मनाये जाएँगे. इसी तरह, भादर्वी पूनम का मेला, अम्बाजी मंदिर की पद यात्रा, गणेश चतुर्थी महोत्सव और गणेश विसर्जन के जुलुस, महोरम के दौरान ताजिया और ताजिया विसर्जन के जुलुस सार्वजनिक रूप से नहीं निकाले जा सकेंगे. सूत्रों के अनुसार राज्य में धार्मिक और सांस्कृतिक उत्सवो संगठनो के साथ जुड़े लोगो ने भी कोविड19 महामारी के चलते किसी भी त्यौहार और उत्सवो को मंजूरी नहीं देने के मांग की थी, जिससे कोरोना वायरस के संक्रमण को ज्यादा फैलने से रोका जा सके। योगेश पंड्या, आकाशवाणी समाचार, अहमदाबाद ।


..............

कोविड महामारी के बीच जहां शिक्षा क्षेत्र पर सबसे बुरा असर पड़ा है वहीं महाराष्‍ट्र सरकार विदेशों में अध्‍ययन कर रहे विद्यार्थियों को कुछ राहत देने की कोशिश कर रही है।ब्‍यौरा हमारे संवाददाता से-


महाराष्ट्र सरकार ने कहा है कि जो छात्र ऑनलाइन कक्षाओं के माध्यम से शैक्षणिक वर्ष 2020-21 के लिए विदेशी विश्वविद्यालयों में शिक्षा ले रहे हैं और जो 2019-2020 में शिक्षा ले चुके हैं, ऐसे छात्रों को शैक्षिक शुल्क के साथ-साथ निर्वाह भत्ता भी दिया जाएगा।  यह विशेष वित्तीय लाभ विदेशी छात्रवृत्ति के तहत फरवरी 2020 से सितंबर 2020 के बीच की अवधि के लिए दिया जाएगा। महाराष्ट्र के सामाजिक न्याय और विशेष सहायता मंत्री धनंजय मुंडे ने कहा, इसे एक विशेष मामले के रूप में देखते हुए राज्य सरकार के सामाजिक विकास विभाग के आयुक्त द्वारा इस संबंध में एक अधिसूचना जारी की गई है। साथ ही, वे छात्र जो 2019-2020 में विदेशी विश्वविद्यालयों में अध्ययन करने के लिए चुने गए थे और वर्तमान में शैक्षणिक वर्ष 2020-21 के प्रथम सेमेस्टर के लिए ऑनलाइन कक्षाओं में भाग लेकर शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं,  उन्हें भारत में ही रहकर उन्हें शैक्षणिक शुल्क अनुमन्य किया जाएगा। इसके अलावा, वर्तमान परिस्थितियों में, जो छात्र भारत वापस आने के इच्छुक हैं, उन्हें उनकी वापसी की तिथि तक निर्वाह भत्ता दिया जाएगा। इसके अलावा, सरकार ने स्पष्ट किया कि वह इन छात्रों को नियम के अनुसार हवाई टिकट के लिए किराया और शुल्क की प्रतिपूर्ति करेगी। मुंडे ने कहा, यह सरकार का प्रयास है कि वह इन छात्रों का समर्थन करे और कोविद महामारी के बीच वित्तीय और शैक्षणिक नुकसान को रोकने में उनकी मदद करे। कुणाल शिंदे के साथ, देवप्रियो भट्टाचार्जी, आकाशवाणी समाचार, मुंबई।


..............

आकाशवाणी का समाचार सेवा प्रभाग आज अपने फोन इन कार्यक्रम में कोविड-19 पर विशेष परिचर्चा प्रसारित करेगा। यह कार्यक्रम रात साढे नौ बजे एफ.एम. गोल्‍ड और अतिरिक्‍त मीटरों पर सुना जा सकता है।


सर गंगा राम अस्‍पताल के डॉ. लेफ्टिनेंट जनरल वेद चतुर्वेदी इस चर्चा में हिस्‍सा लेगें।


श्रोता, टोल‍-फ्री नम्‍बर 1 8 0 0 1 1 5 7 6 7  पर फोन करके विशेषज्ञ से सवाल पूछ सकते हैं। 0 1 1 2 3 3 1 4 4 4 4 पर भी सवाल पूछे जा सकते हैं। 


ट्वीटर हैंडल @airnews s पर हैशटैग Askair के जरिए से भी सवाल पूछ सकते हैं।


..............

आकाशवाणी के समाचार सेवा प्रभाग से विशेषज्ञों की राय श्रृंखला में कोविड-19 महामारी के बारे में वरिष्‍ठ चिकित्‍सा विशेषज्ञों की राय प्रसारित की जाती है।


आकाशवाणी से बातचीत में अखिल  भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान-एम्स के निदेशक डॉ0 रणदीप गुलेरिया ने कोरोना वायरस के फैलाव को रोकने के लिए लोगों से सुरक्षित दूरी बनाए रखने और हाथों की स्वच्छता के मानदंडों का कडाई से पालने करने को कहा है।


एम्‍स की ही गठिया रोग विभाग की प्रमुख डॉ. उमा कुमार का सुझाव है कि लोगों को सामाजिक दूरी और हाथों की स्‍वच्‍छता के साथ-साथ खांसते समय भी सावधानी रखनी चाहिए।


इसको ट्रीटमेंट कह ले या फिर प्रीवेंशन कह लें, बचाव कह ले। जो तरीके हैं, जिससे यह कंट्रोल में पाया जा सकता है वो है सोशल डिस्‍टेसिंग। रेस्‍पेरेटरी हाइजीन और या फिर कॉफ एटिकेट्स बोल देते हैं, जिसमें खांसते और छींकते वक्‍त मुंह को कवर करना है और हैंड हाइजिन अपने हाथों को बहुत फ्रीक्‍वेंटली वॉश करना है साबुन पानी से या फिर हैंड सैनीटाइजर का इस्‍तेमाल करना है।


..............

आंध्र प्रदेश के विजयवाड़ा में कोविड उपचार केंद्र के रूप में प्रयोग हो रहे एक होटल में आग लगने से 9 लोगों की मौत हो गई है। यह घटना आज सवेरे पांच बजे हुई। दुर्घटना के समय होटल में कोविड के 30 रोगी और दस स्‍वास्‍थ्‍य कर्मी मौजूद थे। शुरूआती जांच के अनुसार बिजली का शॉर्ट सर्किट होने से आग लगी।


अधिकतर लोगों की मृत्‍यु दम घुटने से हुई। कोविड-19 के रोगी पहले ही सांस लेने में कठिनाई महसूस कर रहे थे और धुंए ने उनकी स्थिति और खराब कर दी। घटना में बचाए गये लोगों को पास के दूसरे कोविड केंद्र में भर्ती कर दिया गया है। दो और लोगों की स्थिति गंभीर है।


आंध्र प्रदेश के मुख्‍यमंत्री वाई एस जगनमोहन रेड्डी ने इस दुर्घटना में मारे गए व्‍यक्तियों के परिजनों के लिए पचास लाख रूपये की सहायता राशि की घोषणा की है। मुख्‍यमंत्री ने दुर्घटना में घायल लोगों को अच्‍छी चिकित्‍सा सुविधाएं देने के भी निर्देश दिए हैं।


राष्‍ट्रीय आपदा मोचन बल की टीम भी पुलिस और दमकल कर्मियों को राहत और बचाव कार्य में सहयोग कर रही है।


राष्‍ट्रपति, उपराष्‍ट्रपति और प्रधानमंत्री ने इस घटना में लोगों के मारे जाने पर दु:ख व्‍यक्‍त किया है। राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि दु:ख की इस घड़ी में वे शोक संतप्‍त परिवारों के साथ है। उन्‍होंने दुर्घटना में घायल लोगों के शीघ्र स्‍वस्‍थ होने की कामना की।


उपराष्‍ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने मृतकों के परिजनों के प्रति संवेदना व्‍यक्‍त की है और घायलों के शीघ्र स्‍वस्‍थ होने की कामना की है। प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने आंध्र प्रदेश के मुख्‍यमंत्री वाई एस जगनमोहन रेड्डी से फोन पर बातचीत की और घटना पर गहरा दु:ख व्‍यक्‍त करते हुए हर संभव सहायता का आश्‍वासन दिया। गृह राज्‍य मंत्री जी किशन रेड्डी ने भी इस दुर्घटना पर दु:ख व्‍यक्‍त किया है।


..............

केरल में कोझिकोड़ हवाई अड्डे पर शुक्रवार को हुई विमान दुर्घटना की विस्‍तृत जांच शुरू हो गई है। जांच के लिए तीस पुलिसकर्मियों का विशेष दल बनाया गया है। इस बीच इस दुर्घटना में 18 लोगों की मौत हो गई है जिनमें चार बच्‍चे शामिल हैं। 14 घायल यात्रियों की स्थिति गंभीर है और तीन लोगों को वेंटिलेटर पर रखा गया है। अधिकारियों ने बताया कि एक सौ एक लोगों की हालत स्थिर है।


वंदे भारत अभियान के तहत दुबई से एक सौ 90 यात्रियों और चालक दल के सदस्‍यों को लेकर कोझिकोड़ पहुंचा एअर इंडिया एक्‍सप्रेस का विमान कोझिकोड़ के करीपुर हवाई अड्डे पर उतरते ही दुर्घटनाग्रस्‍त हो गया था। 


..............

जम्‍मू कश्‍मीर में मध्‍य कश्‍मीर के बड़गाम जिले में आज आतंकवादियों ने भारतीय जनता पार्टी के एक कार्यकर्ता पर गोली चलाई। पुलिस सूत्रों ने बताया कि आतंकवादियों ने भाजपा कार्यकर्ता 38 वर्षीय अब्‍दुल हामिद नजर पर रेलवे स्‍टेशन के पास गोली चलाई जब वे सुबह की सैर पर थे।


सुरक्षा बलों ने इलाके की घेराबंदी कर दी है और हमलावरों को पकड़ने के लिए एक बड़ा अभियान शुरू किया है। 


..............

राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण ने जम्मू-कश्मीर में पूर्व पुलिस उपाधीक्षक देवेन्दर सिंह और पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिद्दीन के बीच वित्तीय संपर्कों की जांच के सिलसिले में कई स्थानों पर छापे मारे हैं। राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण ने एक महीना पहले निलंबित पुलिस उपाधीक्षक देवेन्द्र सिंह सहित छह लोगों के खिलाफ जम्मू की विशेष एन आई ए अदालत में आरोप पत्र दायर किया था।


..............

केरल में इडुक्‍की जिले के राजमाला क्षेत्र में हुए भूस्‍खलन में आज तीन और शव निकाले गए। इस घटना में मृतकों की संख्‍या 29 हो गई है। एक रिपोर्ट


क्षेत्र में राहत और तलाश अभियान जारी है। भूस्‍खलन में 30 से अधिक लोग अब भी लापता हैं। खराब मौसम से तलाश अभियान में बाधा आ रही है। इस बीच, पूरे केरल में भारी बारिश हो रही है। आज अलपुझा, कन्‍नूर, कोझिकोड, वायनाड़, मल्‍लापुरम, इडुक्‍की और कासरगोड में रेड अलर्ट जारी किया गया है। मौसम विभाग ने अगले कुछ दिनों में विशेष रूप से 24 घंटों में भारी बारिश का अनुमान लगाया है। राज्‍य में कई निचले इलाकों में बाढ़ आई है। पम्‍पा, आंचनकोविल, मनीमला, मीनांचल सहित प्रमुख नदियां उफान पर हैं। कुटानाड क्षेत्र में दो लोगों की मौत होने की खबर है। मुल्‍लापेरियार बांध में जलस्‍तर बढ़ने के कारण पेरियार नदी के आसपास के क्षेत्र में हाई अलर्ट जारी किया गया है। समुद्र में ऊंची लहरें उठने के कारण मछुवारों से समुद्र में न जाने की सलाह दी गई है। तिरूवनंतपुरम से मायूषा की रिपोर्ट के साथ समाचार कक्ष से शशिभूषण त्रिपाठी। 


..............

तमिलनाडु के मुख्‍यमंत्री इडापडी के. पलनीस्‍वामी ने आज केरल के मुख्‍यमंत्री पिनराई विजयन से बात कर मुन्‍नार में भूस्‍खलन की घटना के बारे में जानकारी प्राप्‍त की। भूस्‍खलन में 29 से अधिक लोगों के मारे जाने की खबर है। अधिकतर मृतक तमिलनाडु के थे जो मुन्‍नार में चाय बागानों में काम करते थे।


..............

श्रीलंका में महिंदा राजपक्ष ने आज चौथी बार प्रधानमंत्री पद की शपथ ग्रहण की। उनके छोटे भाई और श्रीलंका के राष्ट्रपति गोटबया राजपक्ष ने कोलंबो के निकट बौद्ध मंदिर में आयोजित समारोह में उन्हें शपथ दिलाई। कैबिनेट के अन्य सदस्यों को अगले सप्ताह कैंडी में शपथ दिलाई जाएगी। महिंदा राजपक्ष 2006 से 2015 तक श्रीलंका के राष्ट्रपति रह चुके हैं। बुधवार को हुए आम चुनाव में उनकी पार्टी को भारी बहुमत से विजय मिली थी।


आज के शपथ ग्रहण में राजपक्‍से के सत्‍ता में पुर्न काबिज होने के सपने को साकार कर दिया है। दो बार राष्‍ट्रपति रहे महिंदा राजपक्‍से को 2009 में लिट्टे युद्ध समाप्‍त करने का श्रेय दिया जाता है, लेकिन 2015 के राष्‍ट्रपति चुनाव में भ्रष्‍टाचार और भाई-भतीजावाद के आरोपों के बीच उनकी हार हो गई थी। तब से उनका पक्ष सत्‍ता वापसी की पुरजोर कोशिश कर रहा था और पिछले नवंबर राष्‍ट्रपति  चुनाव में उनके भाई गोताबया की जीत के बाद से ही उनका रास्‍ता साफ हो गया था। दो तिहाई बहुमत की सरकार के लिए उनका सफर चुनौतीपूर्ण होगा और अर्थव्‍यवस्‍था के साथ कर्ज भुगतान सरकार के लिए परेशानी का विषय बन सकते हैं। महिंदा राजपक्‍से के परिवार से सांसद चुने गए हैं और उन्‍हें ये भी जताना होगा कि श्रीलंका की सत्‍ता किसी परिवार विशेष में सीमित नहीं है । आकाशवाणी समाचार के लिए कोलंबों से संतोष कुमार।


..............

74वें स्वतंत्रता दिवस समारोहों की श्रृंखला में आकाशवाणी समाचार से आज वाणिज्य और उद्योग पर विशेष खबर।


सरकार के अथक प्रयासों और नीतिगत सुधारों से भारत के प्रति विश्व के दृष्टिकोण में महत्वपूर्ण बदलाव आया है। सरकार के ऐतिहासिक निर्णयों और प्रोत्साहन योजनाओं से जुड़े विशेष प्रयासों से कारोबारी सुगमता के संदर्भ में वैश्विक सूची में भारत के स्थान में सुधार हुआ है। मजबूत वैश्विक आपूर्ति श्रृंखला बनाए रखते हुए घरेलू निर्माण पर अधिक बल देने के कारण यह संभव हुआ है।


मेक इन इंडिया मेड फॉर द वर्ल्‍ड के मूल मंत्र को आधार मानते हुए सरकार ने अपनी नीतियों के जरिए पिछले कुछ वर्षों में वाणिज्‍य और उद्योग के क्षेत्र में अभूतपूर्व प्रयास किए हैं। प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी की सरकार ने विश्‍व व्‍यापार समुदाय के समक्ष एक ऐसे आयाम को प्रस्‍तुत किया है जिसे नजरअंदाज कर पाना संभव नहीं है। इन्‍हीं ऐतिहासिक नीतियों की वजह से ही विगत कुछ वर्षों में विश्‍व पटल पर भारत की साख एक नई महाशक्ति के रूप में उभर कर आई है। एक सौ तीस करोड़ से अधिक लोगों के साथ भारत एक महाबाजार और महाकौशल केन्‍द्र होने के साथ ही मौजूदा लोकतांत्रिक मजबूत और स्थिर सरकार के कारण विश्‍व भर के देशों के लिए एक निवेश केन्‍द्र के रूप में उभरकर सामने आया है। सरकार ने गैर आवश्‍यक आयातों पर अत्‍याधिक निर्भरता को कम करने के उद्देश्‍य से सौ से अधिक वस्‍तुओं पर सीमा शुल्‍क बढ़ाने के साथ ही कई वस्‍तुओं के आयात पर प्रतिबंध भी लगाए। इन फैसलों की वजह से ही देश में स्‍थानीय आपूर्तिकर्ताओं और निर्माताओं को अत्‍याधिक लाभ मिला। पिछले वित्‍त वर्ष में देश में विदेशी निवेश लगभग 18 प्रतिशत की दर से बढ़कर तकरीबन 73 अरब अमरीकी डॉलर तक पहुंच गया। निवेश की सुविधा के लिए कोयला खनन गतिविधियों और अनुबंध निर्माण के लिए ये स्‍वत: मार्ग के अंतर्गत सौ प्रतिशत विदेशी निवेश की अनुमति भी प्रदान की गई। सरकार ने भारतीय कंपनियों के अवसरवादी अधिग्रहण को रोकने के लिए विदेशी निवेश नीति में संशोधन किया। व्‍यापार आपूर्ति में समानता सुनिश्चित करने के दृष्टिकोण से भारत अपने सभी विदेशी व्‍यापार समझौतो की भी समीक्षा कर रहा है। इन्‍हीं मूल सिद्धांतों और स्‍वदेशी निर्माताओं के हितों की रक्षा के उद्देश्‍य से भारत ने आर्थिक समूह उसके वर्तमान नियमों और शर्तों के साथ शामिल होने से दो टूक शब्‍दों में इंकार कर दिया। आनंद चतुवेर्दी, आकाशवाणी समाचार, दिल्‍ली।


..............

उत्तर प्रदेश में आईआईटी कानपुर ने देश में बने बीज नाम के सीड बॉल विकसित किए हैं। इनसे लोगों और विशेष रूप से किसानों को कोरोना के समय सुरक्षित पौधरोपण में मदद मिलेगी।  इससे लोगों के लिए रोजगार के अवसर भी पैदा हुए हैं। बीज का विकास एक स्टार्टअप कंपनी अग्निस वेस्ट मैनेजमेंट प्राईवेट लिमिटेड ने किया है। 


और ब्यौरा हमारे लखनऊ संवाददाता से-


इन सीड बॉल को देसी किस्‍म के बीज खाद और संक्षिप्‍त मिट्टी के मिश्रण से बनाया गया है। इसमें पौधारोपण के लिए गड्ढे खोदने की जरूरत नहीं होती । इन सीड बॉल को वांछित स्‍थानों पर फेंकना होता है और पानी के संपर्क में आने से एक दिन में पौधे खुद ब खुद उगने लगते हैं। आई आई टी के प्रोफेसर अमन दीप सिंह ने बताया-


कानपुर इस बार अपने स्‍टार्टअप के साथ नया प्रोडक्‍ट लेकर आया है जिसका हमने नाम रखा है बीज। बी ई ई जी बॉय कम्‍पोज, एनरिज, इको फ्रैंडली ग्‍लोबियो। ये एक बॉयो कम्‍पोज सीड बॉल है जिसको हम दूर से फेंके । आजकल के जो मॉनसून का सीज़न है इसको दूर से फेकेंगे तो जहां भी ये गिरेगा वहां पर बरसात के साथ कॉन्‍टेक्‍ट होने में ये बीज उग जाएगा। इसमें जैसे आजकल कोविड के समय में भीग करके प्‍लांटेशन करना बहुत मुश्किल हो रहा है तो इसका भी बहुत सीधा कॉन्‍टेक्‍ट कुदरत से रहेगा। दूर से हम फेंके अपने प्‍लांटेशन को जो प्‍लांटेशन ट्राइस इस मौसम में होती हैं वो कॉन्‍टीन्‍यू रहेंगी। इसकी बहुत ही कम कॉस्‍ट रखी गई है करीबन तीन चार रूपए।


स्‍टार्टअप अग्निस के निदेशक हरिशंकर ने बताया- अंग्रेजी


दीज़ सीड बॉल्‍स विल बी द बेस्‍ट सूटेबल ऑप्‍शंस। सो डू दॉ प्‍लांटेशन विदाउट मेंकिग ऑफ सेल्‍फ सर्विस एम एस यादव, आकाशवाणी यादव, लखनऊ।


..............

और अब एक नजर देश के विभिन्‍न भागों में आज के मौसम पर।


राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्‍ली में गरज के साथ बारिश होने के आसार हैं। न्यूनतम तापमान 27 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया, अधिकतम तापमान 35 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने का अनुमान है।


मुंबई में बादल छाये रहने और सामान्‍य वर्षा होने की संभावना है। न्‍यूनतम तापमान 25 डिग्री सेल्सियस रहा जबकि अधिकतम तापमान 31 डिग्री सेल्सियस तक रह सकता है।

चेन्‍नई में भी बादल छाये रहने और हल्‍की वर्षा होने का अनुमान है। तापमान 24 और 35 डिग्री सेल्सियस के बीच रह सकता है।


कोलकाता में आमतौर पर बादल छाये रहने और एक या दो स्‍थानों पर गरज के साथ बारिश होने के आसार हैं। न्‍यूनतम तापमान 27 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, अधिकतम तापमान 33 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने का अनुमान है।


केंद्र शासित प्रदेश जम्‍मू-कश्‍मीर के जम्‍मू में न्‍यूनतम तापमान 25 डिग्री सेल्सियस रहा, अधिकतम तापमान 35 डिग्री सेल्सियस तक जा सकता है। आंशिक रूप से बादल छाये रहने और सामान्‍य वर्षा होने की उम्‍मीद है।


श्रीनगर में, न्‍यूनतम तापमान 21 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, अधिकतम तापमान 35 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहेगा। आमतौर पर बादल छाए रहेंगे और सामान्‍य वर्षा हो सकती है।


लद्दाख में आंशिक रूप से बादल छाये रहेंगे। बारिश या धूल भरी आंधी या गरज के साथ छीटें पड़ने की उम्‍मीद है। तापमान 18 और 35 डिग्री सेल्सियस के बीच रहने की संभावना है।


गिलगित में तापमान 19 और 40 डिग्री सेल्सियस के बीच रहने का अनुमान है। आंशिक रूप से बादल छाए रहने और सामान्‍य वर्षा होने के आसार हैं।


मुजफ्फराबाद में बादल छाये रहने और सामान्‍य वर्षा होने की संभावना है। न्‍यूनतम तापमान 21 डिग्री सेल्सियस रहा, अधिकतम 37 डिग्री सेल्सियस रहने का अनुमान है। समाचार कक्ष से मैं नईम अख्‍तर।


..............

ट्विटर अपडेट

समाचार सुनें

  • Morning News 18 (Sep)
  • Midday News 18 (Sep)
  • News at Nine 18 (Sep)
  • Hourly 18 (Sep) (1910hrs)
  • समाचार प्रभात 18 (Sep)
  • दोपहर समाचार 18 (Sep)
  • समाचार संध्या 18 (Sep)
  • प्रति घंटा समाचार 18 (Sep) (2200hrs)
  • Khabarnama (Mor) 18 (Sep)
  • Khabrein(Day) 18 (Sep)
  • Khabrein(Eve) 18 (Sep)
  • Aaj Savere 18 (Sep)
  • Parikrama 18 (Sep)

कार्यक्रम सुनें

  • Market Mantra 18 (Sep)
  • Samayki 9 (Aug)
  • Sports Scan 18 (Sep)
  • Spotlight/News Analysis 18 (Sep)
  • Employment News 18 (Sep)
  • World News 18 (Sep)
  • Public Speak
  • Country wide 12 (Mar)
  • Surkhiyon Mein 18 (Sep)
  • Charcha Ka Vishai Ha 11 (Mar)
  • Vaad-Samvaad 17 (Mar)
  • Money Talk 17 (Mar)
  • Current Affairs 6 (Mar)
  • Sanskrit Saptahiki 12 (Sep)
  • North East Diary 17 (Sep)

 

 

 

 

× All donations towards the Prime Minister's National Relief Fund(PMNRF) and the National Defence Fund(NDF) are notified for 100% deduction from taxable income under Section 80G of the Income Tax Act,1961""