A- A A+
Last Updated : Apr 10 2021 7:39PM     Screen Reader Access
News Highlights
West Bengal: Average voter turnout registered at 66.76 per cent till 3:30 PM            India and Netherlands announce launch of strategic partnership in water sector and setting up of fast track mechanism to facilitate bilateral trade            India's cumulative COVID-19 vaccination coverage nears 10 crore            Teeka Utsav to be organised from tomorrow across the country to control surging COVID-19 cases            Rajasthan govt imposes night curfew in 9 cities till April 30 to curb pace of COVID-19 infection           

Text Bulletins Details


दोपहर समाचार

1430 HRS
27.02.2021

मुख्य समाचार :-

  • प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने देश के पहले खिलौना मेले का आज वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्‍यम से उद्घाटन किया।

  • प्रधानमंत्री ने कहा--खिलौना मेला आत्‍मनिर्भर भारत के निर्माण में महत्‍वपूर्ण कदम। उन्‍होंने भारत के खिलौना निर्माताओं से आग्रह किया कि वे पर्यावरण अनुकूल और बाल मनोविज्ञान  के अनुरूप खिलौने बनाएं।

  • पश्चिम बंगाल, असम, तमिलनाडु, केरल और पुद्दुचेरी में 27 मार्च से 29 अप्रैल तक विधानसभा चुनाव कराए जाएंगे। चुनाव आचार संहिता लागू।

  • तमिलनाडु में कन्‍याकुमारी और केरल में मल्‍लापुरम लोकसभा सीटों का उपचुनाव छह अप्रैल को होगा।

  • वोटों की गिनती दो मई को होगी।

  • केरल, महाराष्‍ट्र, पंजाव, कर्नाटक, तमिलनाडु और गुजरात में कोरोना वायरस के सर्वाधिक सक्रिय मामले सामने आए।

  • केंद्रीय गृह सचिव ने राज्‍यों और केंद्रशासित प्रदेशों से कोविड महामारी पर पूरी तरह से नियंत्रण पाने के लिए उचित सावधानी और कड़ी निगरानी रखने को कहा।

  • देश में अब तक एक करोड 42 लाख से अधिक कोविड टीके लगाए गए।

  • प्रधानमंत्री कल सुबह 11 बजे आकाशवाणी से मन की बात कार्यक्रम में अपने विचार साझा करेंगे।

  • भक्ति आंदोलन के संत गुरू रविदास की जयंती आज देश भर में मनाई जा रही है।

-----------------

कोविड महामारी से देश एकजुट होकर लड़ रहा है। आप भी हमारे साथ सुरक्षा और बचाव के तीन आसान उपायों का संकल्‍प लें।

  • मास्‍क पहनें
  • दो गज दूरी, है जरूरी
  • हाथ और मुंह साफ रखें।

-----------------

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने कहा है कि भारत खिलौना मेला  आत्‍मनिर्भर भारत के निर्माण और देश की सदियों पुरानी परंपराओं को सुदृढ़ करने की दिशा में महत्‍वपूर्ण कदम है। भारत खिलौना मेले का वीडियो कान्‍फ्रेंस के माध्‍यम से उद्घाटन करते हुए श्री मोदी ने कहा कि भारत के स्‍थानीय खिलौने अपेक्षाकृत अधिक सस्‍ते और पर्यावरण अनुकूल वस्‍तुओं से निर्मित हैं। उन्‍होंने भारतीय खिलौना निर्माताओं से पर्यावरण और मस्तिष्‍क के अनुकूल खिलौने बनाने का अनुरोध किया।


रिस्‍क्‍यू रियूज, रियूज और रिसाइक्लिंग जिस तरह भारतीय जीवन शैली का हिस्‍सा रहे हैं। वहीं हमारे खिलौनों में दिखता है। ज्‍यादातर भारतीय खिलौने प्राकृतिक और ईको-फ्रेंडली चीज़ों से बनाते हैं। उनमें इस्‍तेमाल होने वाले रंग भी प्राकृतिक और सुरक्षित होते हैं। अभी हम वाराणसी के लोगों को संबोधित कर रहे थे। वाराणसी के लकड़ी के खिलौने और गुडियां को देखिए। राजस्‍थान के मिट्टी के खिलौने देखिए। ऐसे ही पूर्वी मेदिनीपुर की गलर गुडियां कच्‍छ के कपड़ा डिंगला और डिंगली है, आंध्रप्रदेश के ईटोकोपक बोम्‍मोलू और बुधनी के लकड़ी के खिलौने हैं।


श्री मोदी ने कहा कि किसी भी संस्‍कृति में जब खेल और खिलौने आस्‍था के केन्‍द्रों का हिस्‍सा बन जाए तो इसका अर्थ है कि वो समाज खेलों के विज्ञान को समझता है।


हमारे यहां खिलौने ऐसे बनाए जाते थे, जो बच्‍चों के चहुमुखी विकास में योगदान दें। उनमें एलालिटीकल माइंड विकासित करें। आज भी भारतीय खिलौने आधुनिक फैंसी खिलौनों की तुलना में कही सरल और सस्‍ते होते हैं। सामाजिक, भौगोलिक परिवेश से जुड़े भी होते हैं।


श्री मोदी ने कहा कि पहला खिलौना मेला व्‍यापारिक या आर्थिक गतिविधि नहीं है बल्कि देश के सदियों पुराने खेलों की संस्‍कृति को मजबूती प्रदान करने का आयोजन है। प्रधानमंत्री ने कहा कि देश के लोगों ने सिंधु घाटी और मोहनजोदड़ो सभ्‍यताओं के खिलौनों पर अनुसंधान किया है।


श्री मोदी ने कहा कि भारत में शुरू हुआ शतरंज का खेल विश्‍वभर में प्रसिद्ध है। उन्‍होंने कहा कि भारत में शतरंज पहले 'चतुरंग' या 'चदुरंग' और लूडो को 'पच्‍चीसी' के रूप में खेला जाता था। प्रधानमंत्री ने कहा कि देश के खिलौना उद्योग में बहुत बड़ी ताकत छिपी है और आत्‍मनिर्भर भारत अभियान से इसमें और वृद्धि हो रही है। 


खिलौनों के क्षेत्र में भारत के पास क्रेडिशन भी है और टेक्‍नोलॉजी भी है। भारत के पास कॉनसेप्‍ट भी है और कॉनफिडेन्‍स भी है। हम दुनिया को ईको फ्रेंडली टॉय्स की ओर वापस लेकर जा सकते हैं। हमारे सॉफ्टवेयर इंजीनियर्स कम्‍प्‍यूटर गेम्‍स के जरिए, भारत की कहानियों, भारत की जो मूलभूत मूल्‍य हैं उन कथाओं को दुनिया तक पहुंचा सकते हैं। लेकिन इन सबके बावजूद सौ बिलियन डॉलर के वैश्विक खिलौना बाजार में आज हमारी हिस्‍सेदारी बहुत ही कम है। देश में 85 प्रतिशत, जिन्‍होंने बाहर से आते हैं, आज हम इस स्थिति को बदलने के लिए मिलकर काम करना है। हमें खेल और खिलौनों के क्षेत्र में भी देश को आत्‍मनिर्भर बनाना है। वॉकल फॉर लॉकल होना है।


प्रधानमंत्री ने कहा कि अभिलेखों से भगवान राम के विभिन्‍न खिलौनों के बारे में जानकारी मिलती है। प्रधानमंत्री ने कहा कि स्‍थानीय खिलौने बच्‍चों में एकता की भावना को सुदृढ़ता प्रदान करते हैं। उन्‍होंने कहा कि भारतीय खिलौने मनोरंजन के साथ जटिल वैज्ञानिक सिद्धांतों को आसानी से सिखाने में महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। लट्टू हमें गुरूत्‍वाकर्षण और संतुलन तथा गुलेल ताकत और गतिज ऊर्जा के बारे में शिक्षा देते हैं।


जब बच्‍चे लट्टू से खेलना सीखते हैं, तो लट्टू खेल-खेल में ही उन्‍हें ग्रेविटी और बेलेंस का पाठ पढ़ा जाता है। वैसे ही गुलेल से खेलता बच्‍चा जाने-अनजाने में पोटेंशियल से कायनेटिक एनर्जी के बारे में बेसिक सीखने लगता है। प्‍जल टॉय से राणनीतिक सोच और समस्‍या को सुलझाने के लिए सोच विकसित होती है।


श्री मोदी ने कहा कि खिलौने बच्‍चों के सीखने की प्रक्रिया में अहम भूमिका निभाते हैं, इसलिए उन्‍होंने अभिभावकों से अपने बच्‍चों के साथ खेलने का अनुरोध किया।


अच्‍छे खिलौनों की ये खूबसूरती होती है कि वो ऐजलेस और टाइमलेस होते हैं। आप भी जब बच्‍चों के साथ खेलने लगते हैं, तो इन खिलौनों के जरिए अपने बचपन में चले जाते हैं इसलिए मैं सभी माता-पिता से ये अपील करूंगा कि आप जिस तरह बच्‍चों के साथ पढ़ाई में इनवोल्‍व होते हैं, वैसी ही उनके खेलों में भी शामिल होइए।


श्री मोदी ने कहा कि नई शिक्षा नीति में खेल और गतिविधि आधारित शिक्षा पर विशेष ध्‍यान दिया गया है।


हमारी नई राष्‍ट्रीय शिक्षा नीति भी है, नई राष्‍ट्रीय शिक्षा नीति में है, प्‍ले आधारित और गतिविधि आधारित शिक्षा को बड़े पैमाने पर शामिल किया गया है। एक ऐसी शिक्षा व्‍यवस्‍था है जिसमें बच्‍चों में पहलियों और खेलों के माध्‍यम से तार्किक और रचनात्‍मक सोच बढ़े, इस पर विशेष ध्‍यान दिया गया है।


श्री मोदी ने कहा कि अगर आज मेड इन इंडिया की मांग है तो आज हैंड मेड इन इंडिया की मांग भी उतनी ही है। 


अगर आज मेड इन इंडिया की डिमांड है तो आज हैंड मेड इन इंडिया की डिमांड भी उतनी ही बढ़ रही है। आज लोग खिलौनों को केवल एक प्रोडक्‍ट के रूप में ही नहीं बल्कि उस खिलौने से जुड़े अनुभव से भी जुड़ना चाहते हैं। इसलिए हैंड मेड इन इंडिया को भी प्रमोट करना है। हमें ये भी याद रखना है कि जब हम कोई खिलौना बनाते हैं, तो हम एक बाल मन को गढ़ते हैं। यहीं उल्‍लास हमारे कल का निर्माण करेगा।


प्रधानमंत्री ने कहा कि देश में टॉय टूरिज्‍़म की संभावनाओं को सुदृढ़ किया जा रहा है। राज्‍यों को बराबर भागीदार बनाकर टॉय क्‍ल्‍सटर विकसित करने का प्रयास किया गया है।


नेशनल टॉय एक्‍शन प्‍लान भी तैयार किया गया है, इसमें 15 मंत्रालयों और विभागों को शामिल किया गया है, ताकि ये उद्योग कॉम्पिटिटिव बने। देश खिलौनों में आत्‍मनिर्भर बने और भारत के खिलौने दुनिया में भी जाएं। इस पूरे अभियान में राज्‍यों को बराबर का भागेदार बनाकर टॉय क्‍ल्‍सटर विकसित करने का प्रयास किया जा रहा है। इसके साथ ही देश टॉय टूरिज्‍म की संभावनाओं को भी मजबूत कर रहा है। भारतीयों खेलों पर आधारित खिलौनों को प्रमोट करने के लिए देश में टॉय-का-थॉन 20-20 वन का आयोजन भी किया गया था।


प्रधानमंत्री ने कहा कि खिलौना उद्योगों को विश्‍व बाजार की प्राथमिकताओं को ध्‍यान में रखते हुए खिलौनों का निर्माण करना होगा।


श्री मोदी ने कर्नाटक के चन्‍नपटना, उत्‍तर प्रदेश के वाराणसी और राजस्‍थान में जयपुर के खिलौना निर्माताओं से बातचीत की। उन्‍होंने दो सौ वर्ष से खिलौनों का व्‍यापार कर रहे चन्‍नपटना के खिलौना विक्रेता समूहों से अपने उत्‍पाद विश्‍वभर में बेचने के लिए ई-मॉर्किट का उपयोग करने का आग्रह किया।


श्री मोदी ने वाराणसी के खिलौना निर्माताओं से खिलौनों का निर्माण करने का आग्रह किया। प्रधानमंत्री ने जयपुर के कठपुतली निर्माताओं से बच्‍चों में हाथ धोने और मास्‍क पहनने की आदतों को बढ़ावा देने के लिए नाटक तैयार करने का आग्रह किया।


इस मेले में एक हजार से अधिक खिलौना निर्माता भाग ले रहे हैं। इस अवसर पर केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्‍मृति ईरानी ने कहा कि खिलौना मेले में 11 राज्‍यों के पेवेलियन दिखाई देंगे। इस मेले में खिलौना उद्योग के सौ विशेषज्ञ और जानकार वक्‍ता भाग लेंगे। उन्‍होंने कहा कि भारत खिलौना मेला प्रधानमंत्री की प्रेरणा और निर्देशों के अनुसार आयोजित किया जा रहा है।

-----------------

निर्वाचन आयोग ने पश्चिम बंगाल, असम, तमिलनाडु, केरल और पुद्दुचेरी में विधानसभा चुनावों की घोषणा कर दी है।


इन राज्यों में विधानसभा चुनाव 27 मार्च से 29 अप्रैल तक कराए जाएंगे। मतगणना दो मई को होगी।


तमिलनाडु, केरल और केंद्रशासित प्रदेश पुद्दुचेरी में विधानसभा चुनाव के लिए एक ही चरण में 6 अप्रैल को मतदान होगा।


मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने बताया कि पश्चिम बंगाल में 27 मार्च से 29 अप्रैल तक आठ चरणों में चुनाव कराए जाएंगे।  असम में 27 मार्च, पहली अप्रैल और 6 अप्रैल को तीन चरणों में चुनाव होंगे। श्री अरोडा ने कहा कि चुनाव कार्य के लिए तैनात प्रत्‍येक व्‍यक्ति को चुनाव से पहले कोविड से बचाव के टीके लगाए जाएंगे।

-----------------

असम में विधानसभा चुनाव तिथियों की घोषणा के साथ ही चुनाव से संबंधित गतिविधियां शुरू हो गईं हैं। गृह विभाग ने कल रात 18 वरिष्‍ठ पुलिस अधिकारियों के स्‍थानांतरण का आदेश जारी किया। हमारे संवाददाता ने बताया कि मुख्‍य चुनाव अधिकारी नितिन खरे आज शाम चार बजे संवाददाता सम्‍मेलन को संबोधित करेंगे।


चुनाव की तारीखों की घोषणा के साथ ही असम में आने वाले दिनों में राजनीतिक गतिविधियों को और गति मिलेगी। सत्‍तारूढ़ भाजपा और असम गण परिषद अपना गठबंधन जारी रखेंगे और यूपीपीएल इस गठबंधन में शामिल होंगे। भाजपा ने पहले ही घोषणा की है कि पार्टी वर्तमान सहयोगी बोडोलैंड पीपुल्‍स फ्रंट-बीपीएफ की बजाय यूपीपीएल के साथ गठजोड़ करेगी। बीपीएफ की वरिष्‍ठ नेता प्रोमिला रानी ब्रह्मा ने कहा कि पार्टी बोडोलैंड प्रादेशिक क्षेत्र में अकेले चुनाव लड़ेगी, जबकि असम के बाकी हिस्‍सों में अन्‍य दलों के साथ गठबंधन पर निर्णय लिया जाना बाकी है। कांग्रेस, एआईयूडीएफ, वाम दलों और आंचलिक गण मोर्चा के महागठबंधन भी सीट बंटवारे को लेकर बैठकें कर रहे हैं। प्रदेश के दो नवगठित क्षेत्रीय दल - असम जातीय परिषद और रायजोर दल मिलकर चुनाव लड़ेंगे। मानस प्रतिम सरमा, आकाशवाणी समाचार, गुवाहाटी।

-----------------

तमिलनाडु और केरल में घोषित हुए विधानसभा चुनाव कार्यक्रमों के साथ ही तमिलनाडु के कन्‍याकुमारी और केरल के मल्‍लापुरम सीटों पर छह अप्रैल को उपचुनाव होंगे। 12 मार्च को चुनाव की अधिसूचना जारी की जाएगी जबकि 19 मार्च को नामांकन पत्र दाखिल करने की अंतिम तारीख है।

-----------------

केन्‍द्रशासित प्रदेश पुद्दुचेरी विधानसभा की 30 सीटों के चुनाव के लिए 6 अप्रैल को वोट डाले जाएंगे। ये घोषणा कल निर्वाचन आयोग ने की। पांच सीटें अनुसूचित जाति के उम्‍मीदवारों के लिए आरक्षित हैं। कोविड-19 महामारी को देखते हुए मतदान का समय एक घंटा अधिक होगा। मतगणना दो मई को होगी।

-----------------

सरकार ने, सोशल मीडिया, डिजिटल न्‍यूज मीडिया तथा ओवर द टॉप-ओटीटी कंटेंट सेवा प्रदाताओं को नियमित करने के लिए दिशा-निर्देश जारी किये हैं। सरकार ने स्‍पष्‍ट किया है कि इन दिशा-निर्देशों से डिजिटल प्‍लेटफार्मो का इस्‍तेमाल करने वाले लोगों का सशक्तिकरण होगा और उन्‍हें अपनी शिकायतों का समाधान कराने के लिए एक मंच उपलब्‍ध होगा। ये दिशा-निर्देश डिजिटल उपभोक्‍ताओं के अधिकारों का हनन होने की स्थिति में जवाबदेही तय करने में भी सहायक होंगे।


केन्‍द्रीय फिल्‍म प्रमाणन बोर्ड-सीबीएफसी के सदस्‍य विवेक अग्निहोत्री ने इस कदम का स्‍वागत किया है।

-----------------

केन्‍द्रीय विधि मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा है कि सरकार प्रेस की स्‍वतंत्रता और लोगों के अधिकारों के प्रति वचनबद्ध है। लेकिन उन्‍होंने कहा कि देश की सुरक्षा और कानून व्‍यवस्‍था भी उतनी ही महत्‍वपूर्ण है। पटना उच्‍च न्‍यायालय के शताब्‍द समारोहों का उद्घाटन करते हुए श्री प्रसाद ने कहा कि सोशल मीडिया ने लोगों को सशक्‍त बनाया है। उन्‍होंने कहा कि सरकार आलोचना का सम्‍मान करती है। यहां तक कि नागरिक प्रधानमंत्री की भी आलोचना कर सकते हैं, लेकिन सोशल मीडिया का इस्‍तेमाल अगर नफरत फैलाने के लिए किया जाता है, तो कार्रवाई करनी ही होती है।


विधि मंत्री ने कहा कि सोशल मीडिया मंचों के दुरूपयोग और फर्जी खबरों को लेकर चिन्‍ता जताई जाती रही है। उन्‍होंने कहा कि सोशल मीडिया पर न्‍यायपालिका और न्‍यायाधीशों के विवेक के बारे में आपत्तिजनक टिप्‍पणियां नहीं की जानी चाहिए।

-----------------

केंद्रीय गृह सचिव अजय कुमार भल्‍ला ने राज्‍यों और केंद्रशासित प्रदेशों से कोविड महामारी पर पूरी तरह से नियंत्रण पाने के लिए उचित सावधानी और कड़ी निगरानी रखने को कहा है। कोविड के मौजूदा दिशा-निर्देशों को 31 मार्च तक बढ़ाने के बारे में श्री भल्‍ला ने सभी राज्‍यों और केंद्रशासित प्रदेशों को पत्र लिखा है। उन्‍होंने कहा कि पिछले कुछ महीनों में देश में सक्रिय और नए मामलों की संख्‍या में गिरावट आई है, लेकिन सावधानी बरतने और कड़ी निगरानी की आवश्‍यकता है।


राज्‍यों और केंद्रशासित प्रदेशों से सावधानीपूर्वक कंटेनमेंट जोन बनाने के लिए कहा गया है। इन क्षेत्रों में कोविड दिशानिर्देशों का कड़ाई से पालन सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया है।

-----------------

केंद्र सरकार ने आज कहा कि केरल, महाराष्‍ट्र, पंजाब, कर्नाटक, तमिलनाडु और गुजरात में कोविड मरीजों की संख्‍या में तेजी से वृद्धि हुई है। केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने कहा है कि महाराष्‍ट्र में एक दिन में सर्वाधिक आठ हजार तीन सौ तैंतीस नए मरीजों का पता चला। केरल में तीन हजार छह सौ 71 और पंजाब में 622 नए रोगी सामने आए। मंत्रालय ने कहा कि छह राज्‍यों और केंद्रशासित प्रदेश में 82 दशमलव तीन प्रतिशत नए मरीजों की मृत्‍यु हुई। महाराष्‍ट्र में सबसे ज्‍यादा 48 व्‍यक्तियों की कोविड के कारण मृत्‍यु हुई। पिछले चौबीस घंटे में पंजाब में 15 और केरल में 14 लोगों की मौत हुई।

-----------------

उत्तर प्रदेश सरकार ने केरल और महाराष्ट्र से लौट रहे लोगों के लिए नए दिशा-निर्देश जारी किए हैं। कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों से सतर्क रहने को कहा है। मुख्यमंत्री ने आवश्यक मामलों में कोरोना जांच अनिवार्य रूप से किए जाने पर बल दिया है।

-----------------

नागपुर जिला प्रशासन ने शहर में कोविड के बढते मामलों के मददेनजर सप्‍ताहांत लॉकडाउन लगाने के आदेश दिये हैं। नागपुर के प्रभारी मंत्री डॉक्‍टर नितिन रावत ने कल कोविड संक्रमण की समीक्षा करने के बाद लोगों से इसे रोकने के लिए जिला प्रशासन के साथ सहयोग की अपील की।


नागपुर जिला प्रशासन ने शहर में बढ़ते कोविड सकारात्मक मामलों पर अंकुश लगाने के लिए आज और कल के लिए  वीकेंड लॉक डाउन लागू किया है। नागपुर के पालक मंत्री डॉ. नितिन राउत ने कल एक समीक्षा बैठक ली और वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने के लिए जनता से जिला प्रशासन के साथ सहयोग करने की अपील भी की। उन्होंने यह भी कहा कि यह पूर्ण तालाबंदी नहीं है। पुलिस आयुक्त अमितेश कुमार ने शहर के मुख्य चौराहों का निरीक्षण किया। उन्होंने कहा कि इस  विकेंड लॉकडाउन को लोग अच्छा  प्रतिसाद दे रहे हैं।


इस लॉकडाउन  के बीच आवश्यक सेवाएं सुचारू रूप से चल रही हैं। नागपुर जिले में दैनिक परीक्षण और टीकाकरण युद्ध  स्तर पर हो रहा है। धनंजय वानखेडे, आकाशवाणी समाचार, नागपूर।

-----------------

केन्‍द्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने कहा है कि देश भर में अब तक एक करोड 42 लाख से अधिक लोगों को कोविड के टीके लगाये जा चुके हैं। पिछले 24 घंटे के दौरान सात लाख 69 हजार स्‍वास्‍थ्‍यकर्मियों और अग्रिम पंक्ति कार्यकर्ताओं को टीके लगाये गये।


इस बीच, पिछले 24 घंटों में 12 हजार से अधिक लोगों के ठीक होने के साथ ही देश में कोविड से स्‍वस्‍थ होने की दर 97 दशमलव एक चार प्रतिशत हो गई है। मंत्रालय ने कहा कि एक करोड़ सात लाख से अधिक रोगी इस बीमारी से पहले ही स्‍वस्‍थ हो चुके हैं। फिलहाल एक लाख 59 हजार 590 रोगियों का इलाज चल रहा है, जो कुल संक्रमित व्‍यक्तियों का एक दशमलव चार चार प्रतिशत है।


पिछले 24 घंटों में 16 हजार 488 नये मरीजों की पुष्टि हुई। इन्‍हें मिलाकर अब तक एक करोड़ दस लाख से अधिक लोग संक्रमित हो चुके हैं। पिछले 24 घंटों में 113 व्‍यक्तियों की मृत्‍यु के साथ ही देश भर में मृतकों का आंकड़ा एक लाख 56 हजार को पार कर गया है। भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद ने बताया है कि विभिन्‍न प्रयोगशालाओं में पिछले 24 घंटों में सात लाख 73 हजार कोविड नमूनों की जांच की गई। कुल मिलाकर अब तक 21 करोड़ 54 लाख नमूनों की जांच की जा चुकी है।

-----------------

गुजरात में, चार लाख सात हजार से अधिक स्‍वास्‍थ्‍य कर्मियों और चार लाख 14 हजार अग्रिम पंक्ति के कार्यकर्ताओं को कोविड टीका लगाया जा चुका है। एक लाख 65 हजार स्‍वास्‍थ्‍यकर्मियों को कोविड टीके की दूसरी खुराक दी जा चुकी है।


गुजरात में कोविड 19 संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए मुख्यमंत्री श्री विजय रुपाणी ने कोर ग्रुप के साथ एक बैठक में स्थति की समीक्षा की। जिसके बाद राज्य के चार बड़े शहरों अहमदाबाद, वड़ोदरा, राजकोट और सूरत में लागू किया गया रात्रि कर्फ्यू 15 दिन तक और बढ़ाया गया है। इसी तरह शहरी इलाकों में स्वास्थ्य जांच घनिष्ठ बनाई गई है, जबकि राज्य के सीमावर्ती क्षेत्रों में भी लोगों का स्क्रीनिंग शरू किया गया है। इस बीच राज्य में पिछले 24 घंटों में कोविड-19 संक्रमण के 4 सौ 60 नए मामले सामने आये है। सबसे अधिक नए मामले अहमदाबाद और वड़ोदरा शहरों में दर्ज हुए. इस वक्त राज्य में 2 हजार एक सौ 36 सक्रिय मामले है, जिसमें से 38 मरीजों को वेंटिलेटर पर रखा गया है। योगेश पंड्या, आकाशवाणी समाचार, अहमदाबाद।

-----------------

सरकार 60 वर्ष से अधिक आयु वाले लोगों तथा 45 वर्ष से ऊपर के उन लोगों के लिए सोमवार से कोविड टीकाकरण अभियान शुरू करेगी जो अन्‍य बीमारियों से ग्रस्‍त हैं। टीकाकरण के इस चरण के लिए तैयारियां की जा रही हैं। इसे देखते हुए आज और कल टीकाकरण का कार्य नहीं किया जायेगा। दस हजार सरकारी अस्‍पतालों में इस श्रेणी के लोगों को कोविड का टीका मुफ्त में लगाया जायेगा तथा 20 हजार निजी अस्‍पतालों में स्‍थापित टीकाकरण सुविधा के लिए लोगों को कीमत अदा करनी होगी। हमारे संवाददाता ने बताया है कि इस आयु वर्ग के लोगों के लिए टीकाकरण के नये चरण के शुरू होने से देश में कोविड टीकाकरण कई गुना बढ जायेगा।


गुजरात में कोविड 19 संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए मुख्यमंत्री श्री विजय रुपाणी ने कोर ग्रुप के साथ एक बैठक में स्थति की समीक्षा की। जिसके बाद राज्य के चार बड़े शहरों अहमदाबाद, वड़ोदरा, राजकोट और सूरत में लागू किया गया रात्रि कर्फ्यू 15 दिन तक और बढ़ाया गया है। इसी तरह शहरी इलाकों में स्वास्थ्य जांच घनिष्ठ बनाई गई है, जबकि राज्य के सीमावर्ती क्षेत्रों में भी लोगों का स्क्रीनिंग शरू किया गया है। इस बीच राज्य में पिछले 24 घंटों में कोविड-19 संक्रमण के 4 सौ 60 नए मामले सामने आये है। सबसे अधिक नए मामले अहमदाबाद और वड़ोदरा शहरों में दर्ज हुए. इस वक्त राज्य में 2 हजार एक सौ 36 सक्रिय मामले है, जिसमें से 38 मरीजों को वेंटिलेटर पर रखा गया है। योगेश पंड्या, आकाशवाणी समाचार, अहमदाबाद।

-----------------

आकाशवाणी से बातचीत में नई दिल्ली स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान के निदेशक डॉक्टर रणदीप गुलेरिया ने बताया कि कोविड टीकाकरण के लिए दिव्‍यांग व्‍यक्तियों को प्राथमिकता सूची में रखा गया है।


अभी तक वैक्‍सीन जो है वो हाईरेस्‍ट ग्रुप है। जैसे हमने शुरू में कहा कि 60 साल से ज्‍यादा जिनकी उम्र है या फिर 45 साल से ज्‍यादा है और उनको कोमोडिटी है, उनको दिया जाएगा। क्‍योंकि अभी अगर हम देखें तो हमारे जो वैक्‍सीन है उसका सप्‍लाई और डिमांड बेलेंस होना चाहिए। डिमांड अभी काफी है, सप्‍लाई जो है वो हमें अभी क्‍लीअर नहीं है। कितना होगा क्‍योंकि दो डोजिज लगने हैं और हमारे देश की जनता भी ज्‍यादा है हमें ही चरण में फेज़-1 की बात करें और दो डोजिज की बात करें तो हमें करीब साठ करोड़ डोजिज की जरूरत पड़ेगी।


लेडी हार्डिंग मेडिकल कालेज के निदेशक डॉक्टर एन.एन. माथुर ने लोगों से टीकाकरण के बावजूद मास्‍क पहनने का अनुरोध किया। 


मास्‍क तो अभी पहनना पड़ेगा, मास्‍क कब लगाना है और कब उतारना है या कब कोविड एप्रोप्रिएट बिहेवियर में थोड़ी रिलेक्सिटी आनी है ये सरकार तय करेगी। और वो विशेषज्ञों के साथ बैठकर तय करना पड़ेगा। अभी हम बहुत दूर है उस चीज से। अभी तो हम लोगों को मास्‍क लगाना ही पड़ेगा चाहे हमने वैक्‍सीन लगवा भी लिया हो उसके बावजूद।

-----------------

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी कल आकाशवाणी से मन की बात कार्यक्रम में देश विदेश के लोगों से अपने विचार साझा करेंगे। यह इस मासिक रेडियो कार्यक्रम की 74वीं कडी होगी। आकाशवाणी और दूरदर्शन के समूचे नटवर्क पर इसका प्रसारण होगा। यह आकाशवाणी समाचार की वेबसाइट www.newsonair.com  और न्‍यूज ऑन एआईआर मोबाइल ऐप पर भी उपलब्‍ध रहेगा। मन की बात कार्यक्रम आकाशवाणी, दूरदर्शन समाचार, प्रधानमंत्री कार्यालय तथा सूचना और प्रसारण मंत्रालय के यूट्यूब  चैनलों पर भी सीधा प्रसारित होगा।


आकाशवाणी से हिन्‍दी में प्रसारण के तुरंत बाद क्षेत्रीय भाषाओं में भी इसे प्रसारित किया जायेगा। क्षेत्रीय भाषाओं में इसे रात आठ बजे फिर सुना जा सकेगा।

-----------------

संत रविदास जयंती आज देशभर में मनाई जा रही है। भारतीय संस्‍कृति, मुख्‍य रूप से उत्‍तर भारत में उनका गहरा प्रभाव है। भक्ति आंदोलन के संत रविदास ने जाति प्रथा समाप्‍त करने के लिए अथक प्रयास किए। संत रविदास, संत कबीरदास के समकालीन थे।

-----------------

राष्ट्रपति, उपराष्‍ट्रपति, प्रधानमंत्री और गृहमंत्री ने गुरु रविदास जयंती पर लोगों को शुभकामनाएं दी हैं। श्री रामनाथकोविंद ने एक संदेश में कहा कि गुरु रविदास एक महान संत और धर्म-सुधारक थे जिनका पूरा जीवन मानवता को समर्पित था।


उप-राष्ट्रपति एम वैंकेया नायडू ने भी आज संत रविदास की जयंती पर उनका पुण्य स्मरण किया है। उन्होंने कहा है कि रविदास जी विश्व बंधुत्व में विश्वास रखते थे और उन्होंने अपने लेखन और शिक्षा में एकता का संदेश प्रमुखता से दिया था। श्री नायडू ने लोगों से अपील की है कि वे रविदास जी के संदेशों को अपनाएं और उनके बताए मार्ग पर चलने का संकल्प लें।


प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने ट्वीट संदेशों में कहा कि संत रविदास ने कई शताब्दी पूर्व समानता, सद्भावना और करुणा का संदेश दिया था, जो सदियों तक देशवासियों को अनुप्राणित करता रहेगा।


गृहमंत्री अमित शाह ने कहा है कि गुरु रविदास ने पूरे समाज को एकता के सूत्र में बांधने के प्रयास किये और उन्होंने सभी वर्गों के कल्याण का मार्ग प्रशस्त किया।

-----------------

केंद्रीय पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेन्‍द्र प्रधान ने आज संत रविदास जयंती पर वाराणसी में सीर गोवर्धन इलाके में  रविदास मंदिर के दर्शन किए। श्री प्रधान दो दिन के दौरे पर कल वाराणसी पहुंचे। आज पहले दिन उन्‍होंने खिड़किया घाट स्थित सीएनजी स्‍टेशन का निरीक्षण किया। इसके बाद उन्‍होंने शहर में बिछाई जा रही पीएनजी गैस पाइपलाइन के कार्य की समीक्षा की। उनके पार्टी की बैठक में भाग लेकर कार्यकर्ताओं को संबोधित करने का भी कार्यक्रम है।

-----------------

भारतीय जनता पार्टी के अध्‍यक्ष जे पी नड्डा ने कहा है कि मोदी सरकार की सभी योजनाओं का लक्ष्‍य अंतिम छोर पर खड़े व्‍यक्ति को मजबूत बनाना है। नई दिल्‍ली स्थित पार्टी मुख्‍यालय में संत रविदास जयंती के उपलक्ष में आयोजित एक कार्यक्रम में श्री नड्डा ने कहा कि सरकार इन कार्यक्रमों के जरिये निर्धन, वंचित, शोषित और कमजोर वर्गों को मुख्‍य धारा में लाने के प्रयास कर रही है।

-----------------

उपराष्‍ट्रपति एम वेंकैया नायडु ने आज क्रांतिकारी स्‍वतंत्रता सेनानी चन्‍द्रशेखर आजाद को उनकी पुण्‍यतिथि पर श्रद्धांजलि अर्पित की। एक ट्वीट में श्री नायडु ने कहा कि असाधारण नेता और सच्‍चे देशभक्‍त चन्‍द्रशेखर आजाद ने अनेक लोगों को स्‍वतंत्रता आंदोलन में शामिल होने के लिए प्रेरित किया। उपराष्‍ट्रपति ने कहा कि मातृभूमि के लिए किया गया उनका सर्वोच्‍च बलिदान हमेशा याद किया जायेगा। गृहमंत्री अमित शाह ने भी शहीद चन्‍द्रशेखर आजाद को श्रद्धांजलि अर्पित की। श्री शाह ने कहा कि चन्‍द्रशेखर आजाद के बलिदान से हमें अपना सर्वस्‍व मातृभूमि की सेवा में न्‍यौछावर करने की प्रेरणा मिलती है।

-----------------

मिस्र की राजधानी काहिरा में अंतर्राष्‍ट्रीय निशानेबाजी संघ के शॉट गन विश्‍वकप में भारत के मेराज अहमद खान, अंगद वीर सिंह बाजवा और गुरजोत खंगूरा की टीम ने पुरूषों की स्‍कीट टीम स्‍पर्धा का कांस्‍य पदक जीत लिया है। प्रतियोगिता के  तीसरे दिन भारतीय टीम ने कजाकिस्‍तान के डेविड पोशीवालोफ, एडवर्ड येश्‍चेनको और एलेक्‍जेंडर मुखामेदिएव को 6-2 से हराकर तीसरा स्‍थान हासिल किया।

-----------------

आज का मौस :-


राष्ट्रीय राजधानी दिल्‍ली में आज न्यूनतम तापमान 18 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। अधिकतम तापमान 33 डिग्री सेल्सियस रहने के आसार हैं। दिन में तेज हवा चल सकती है।



मुम्‍बई में मुख्‍य रूप से आसमान साफ रहेगा। न्‍यूनतम तापमान 22 डिग्री सेल्सियस रहा। अधिकतम तापमान 35 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहेगा।



चेन्नई में आंशिक रूप से बादल छाये रहेंगे। न्‍यूनतम तापमान 21 डिग्री सेल्सियस रहा जबकि 35 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है।



कोलकाता में सुबह कोहरा छाया रहा, आसमान मुख्य रूप से साफ रहेगा। न्यूनतम तापमान 23 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जबकि अधिकतम तापमान 34 डिग्री सेल्सियस रहने के आसार हैं।



श्रीनगर में बादल छाए रहेंगे, बारिश हो सकती है। न्‍यूनतम तापमान 5 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहा जबकि अधिकतम तापमान 8 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है।



जम्‍मू में गरज के साथ वर्षा हो सकती है। तापमान 14 डिग्री सेल्सियस से 21 डिग्री सेल्सियस के बीच रहने की संभावना है।


गिलगित में सामान्य रूप से बादल छाए रहेंगे। हल्‍की वर्षा हो सकती है। तापमान 7 डिग्री सेल्सियस से 18 डिग्री सेल्सियस के बीच रहने का अनुमान है।



मुजफ्फराबाद में सामान्य वर्षा हो सकती है। न्‍यूनतम तापमान 8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। अधिकतम तापमान 18 डिग्री सेल्सियस के बीच रहेगा। समाचार कक्ष से अलका सिंह।

-----------------

Live Twitter Feed

Listen News

Morning News 10 (Apr) Midday News 10 (Apr) Evening News 9 (Apr) Hourly 10 (Apr) (1910hrs)
समाचार प्रभात 10 (Apr) दोपहर समाचार 10 (Apr) समाचार संध्या 9 (Apr) प्रति घंटा समाचार 10 (Apr) (1900hrs)
Khabarnama (Mor) 10 (Apr) Khabrein(Day) 10 (Apr) Khabrein(Eve) 9 (Apr)
Aaj Savere 10 (Apr) Parikrama 10 (Apr)

Listen Programs

Market Mantra 10 (Apr) Samayki 1 (Jan) Sports Scan 9 (Apr) Spotlight/News Analysis 9 (Apr) Employment News 10 (Apr) रोजगार समाचार 10 (Apr) World News 9 (Apr) Samachar Darshan 22 (Mar) Radio Newsreel 21 (Mar)
    Public Speak

    Country wide 12 (Mar) Surkhiyon Mein 9 (Apr) Charcha Ka Vishai Ha 11 (Mar) Vaad-Samvaad 17 (Mar) Money Talk 17 (Mar) Current Affairs 6 (Mar) Sanskrit Saptahiki 10 (Apr) North East Diary 8 (Apr)