A- A A+
Last Updated : Mar 4 2021 10:28PM     Screen Reader Access
News Highlights
UN General Assembly adopts India's resolution to declare 2023 as International Year of Millets            Prime Minister Narendra Modi says, India is honored to be at forefront of popularizing Millets            BJP CEC meets in New Delhi in wake of upcoming Assembly Elections            External Affairs Minister, Dr. S. Jaishanker visits Dhaka, says, Bangladesh is central to India's neighborhood first Policy            India commemorates Chabahar Day, External Affairs Minister says, Chabahar port facilitated delivery of humanitarian assistance during COVID-19 pandemic           

Text Bulletins Details


समाचार संध्या

2000 HRS
24.01.2021
मुख्य समाचार :-

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा - वोकल फॉर लोकल और आत्‍मनिर्भर भारत अभियान की सफलता युवाओं पर निर्भर।

  • राष्‍ट्र ने राष्‍ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर देश की बेटियों की उपलब्धियों की सराहना की।

  • गृहमंत्री अमित शाह ने कहा - मोदी सरकार के नेतृत्‍व में असम शांति और विकास के मार्ग पर है।

  • देश में अब तक पंद्रह लाख से अधिक लोगों को कोविड-19 वैक्‍सीन दी गई, देश में कोविड से स्‍वस्‍थ होने की दर 96 दशमलव आठ तीन प्रतिशत हुई।

  • गोवा के पणजी में 51वें अंतरराष्‍ट्रीय फिल्‍म महोत्‍सव का समापन। डेन्‍मार्क की फिल्‍म इन टू द डार्कनेस ने स्‍वर्ण मयूर पुरस्‍कार प्राप्‍त किया।

-----

कोविड महामारी के खिलाफ देश एकजुट होकर लड़ रहा है। आप भी हमारे साथ सुरक्षा और बचाव के तीन आसान एहतियाती उपायों का संकल्‍प लें।


मास्‍क पहनें

दो गज दूरी, है जरूरी।

सुरक्षित दूरी बनाए रखें।

हाथ और मुंह साफ रखें।

-----


प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने कहा है कि गणतंत्र दिवस की परेड भारत की महान सामाजिक-सांस्‍कृतिक विरासत और सामरिक शक्ति तथा विश्‍व के सबसे बड़े लोकतंत्र के संविधान के प्रति नमन का प्रतीक है। गणतंत्र दिवस की परेड में हिस्‍सा लेने आए राष्‍ट्रीय कैडेट कोर और राष्‍ट्रीय सेवा योजना के कैडेट तथा झांकियों के कलाकारों से अपने आवास पर बातचीत करते हुए श्री मोदी ने कहा


राजपथ पर जब आप जोश के साथ कदम-ताल करते हैं तो हर देशवासी जोश से भर जाता है। जब आप भारत की समृद्ध कला, संस्‍कृति, परम्‍परा और विरासत की झांकी दिखाते हैं तो हर देशवासी का माथा गौरव से और ऊंचा हो जाता है।


प्रधानमंत्री ने कहा कि देश में बहुत सारी भाषाएं, बोलियां तथा विभिन्‍न तरह के खान-पान हैं, लेकिन भारत एक है।


भारत यानी कोटि-कोटि सामान्‍य जन के खून-पसीने, अकांक्षाओं और अपेक्षाओं की सामुहिक शक्ति है। राज्‍य अनेक-राष्‍ट्र एक, समाज एक-भाव अनेक, पंथ अनेक-लक्ष्‍य एक, रिवाज अनेक-मूल्‍य एक। भारत यानी भाषाएं अनेक-अभिव्‍यक्ति एक।


प्रधानमंत्री ने कहा कि हम में से हर किसी को देश की आजादी की लड़ाई में बलिदान देने का अवसर नहीं मिला, लेकिन देश ने हमें हर तरह के अवसर उपलब्‍ध कराए।


हमें देश की आजादी के‍ लिए अपना सर्वस्‍व न्‍यौछावर करने का अवसर नहीं मिला। क्‍योंकि हम में से अधिकतर लोग आजादी के बाद पैदा हुए हैं लेकिन हमें देश ने अपना सर्वश्रेष्‍ठ अर्पित करने का अवसर ज़रूर दिया है। हम जो भी देश के लिए अच्‍छा कर सकते हैं, भारत को मज़बूत बनाने के लिए कर सकते हैं तो हमें करते ही रहना चाहिए।


प्रधानमंत्री ने कहा कि वोकल फॉर लोकल की भावना से मजबूती आएगी और एक भारत श्रेष्‍ठ भारत की भावना सशक्‍त होगी। उन्‍होंने कहा कि विभिन्‍न राज्‍यों के उत्‍सवों और परम्‍पराओं के संबंध में और ज्‍यादा जागरूक होना चाहिए। विशेषतौर पर आदिवासियों की समृद्ध परम्‍पराओं, कलाओं और शिल्‍प से राष्‍ट्र बहुत कुछ सीख सकता है। प्रधानमंत्री ने कहा कि एक भारत श्रेष्‍ठ भारत अभियान इस दिशा में बढ़ने में मदद कर रहा है। उन्‍होंने कहा कि वर्ष 2014 में कौशल की उपयोगिता को देखते हुए कौशल विकास के लिए अलग मंत्रालय का गठन किया गया और अभी तक तकरीबन साढ़े पांच करोड़ युवाओं को विभिन्‍न कला और कौशल में प्रशिक्षित किया जा चुका है। श्री मोदी ने कहा कि भारत केवल कहने के लिए ही आत्‍मनिर्भर नहीं होगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि यह युवाओं के द्वारा संभव होगा और वे अपने आवश्‍यक कौशल के साथ अच्‍छा प्रदर्शन कर सकेंगे।


उन्‍होंने कहा कि नई राष्‍ट्रीय शिक्षा नीति में कौशल पर ध्‍यान केन्द्रित किया गया है और व्‍यावहारिक ज्ञान पर जोर दिया गया है। उन्‍होंने कहा कि इस नीति का एक प्रमुख पहलू विषय चयन के लिए अपनाया गया लचीला रुख है। प्रधानमंत्री ने कहा कि इस नीति में शिक्षा की मुख्‍यधारा में व्‍यावसायिक शिक्षा को लाने का पहली बार गंभीर प्रयास किया गया है। उन्‍होंने कहा कि कक्षा छह से छात्र अपनी रूचि, स्‍थानीय जरूरतों और व्‍यवसाय के अनुसार पाठ्यक्रम का चयन कर सकेंगे। माध्‍यमिक स्‍तर पर शैक्षिक और व्‍यावसायिक शिक्षा के विषयों में एकीकरण का प्रस्‍ताव किया गया है। 


श्री मोदी ने युवाओं से कोविड-19 के टीकाकरण में मदद करने के लिए आगे आने की अपील की। उन्‍होंने कहा कि उन्‍हें निर्धनों और आम जनता को सही सूचना उपलब्‍ध करानी है और इस संबंध में गलत सूचनाओं और अफवाहों की प्रक्रिया को ध्‍वस्‍त करना है।


प्रधानमंत्री ने कहा कि इस वर्ष भारत अपनी स्‍वतंत्रता की 75वें वर्ष में प्रवेश कर रहा है। इसके साथ ही देश गुरु तेगबहादुर जी का 400वां प्रकाश पर्व भी मना रहा है। इसी वर्ष नेताजी सुभाष चन्‍द्र बोस की 125वीं जयंती भी है, जिसे पराक्रम दिवस के रूप में घोषित किया गया है।


आजादी के 75 वर्ष गुरू तेग बहादुर जी का जीवन, नेताजी का शौर्य, उनका हौसला ये सब कुछ हम सभी के लिए बहुत बड़ी प्रेरणा है।


इस अवसर पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, जनजातीय मामलों के मंत्री अर्जुन मुंडा, युवा मामलों के मंत्री किरेन रिजिजू और जनजातीय मामलों की राज्‍य मंत्री रेणुका सिंह सरूता भी मौजूद थे।

-----

देश भर में आज राष्‍ट्रीय बालिका दिवस मनाया जा रहा है। यह दिवस बालिकाओं को समान अवसर सुनिश्चित करने पर जोर देने के लिए मनाया जाता है।


इस अवसर पर अनेक कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है। जिसमें बेटियों के स्‍वास्‍थ्‍य और सुरक्षा के लिए समाज को जागरूक किया जाता है।

-----

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने राष्‍ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर विभिन्‍न क्षेत्रों में शानदार उपलब्धि हासिल करने के लिए देश की बेटियों की सराहना की है। एक ट्वीट संदेश में उन्‍होंने कहा कि केंद्र सरकार ने लडकियों के सशक्तिकरण, उनकी शिक्षा और बेहतर स्‍वास्‍थ्‍य सेवा तथा भेदभाव समाप्‍त करने की दिशा में कई कदम उठाए हैं। श्री मोदी ने कहा कि आज का दिन लडकियों के सशक्तिकरण के लिए काम करने वालों तथा उन्‍हें सम्‍मान के साथ जीवन में समान अवसर दिलाने वालों की सराहना का दिवस भी है।


आज भी हमारे देश में एक हजार बालक पैदा हो तो उसके सामने एक हजार बालिकाएं भी पैदा होनी चाहिए। वर्ना संसार चक्र नहीं चल सकता। आज पूरे देश में ये चिंता का विषय है। मैं जरा माताओं से पूछ रहा हूं, अगर बेटी पैदा नहीं होगी तो बहु कहां से लाओंगे और इसलिए जो हम चाहते हैं, वो समाज भी चाहता है हम ये तो कहते हैं कि बहु तो हमें बढ़ी-लिखी मिले, लेकिन बेटी को बढ़ाना है तो 50 बार सोचने के लिए मजबूर हो जाते हैं।

-----

इस अवसर पर उपराष्‍ट्रपति एम वैंकेया नायडू ने अभिभावकों से बालिकाओं को बढ़ावा देने और शैक्षिक रूप से सशक्‍त बनाने के सभी अवसर उपलब्‍ध कराने को कहा है। उन्‍होंने बालक और बालिकाओं में भेद समाप्‍त करने की भी अपील की है। एक संदेश में श्री नायडू ने कहा कि लड़कों को बचपन से ही लड़कियों का सम्‍मान करना सिखाया जाना चाहिए। उन्‍होंने कहा कि समाज में महिलाओं पर अपराध नहीं होने चाहिए तथा अपराधियों के खिलाफ कडी कार्रवाई होनी चाहिए।

-----

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने इस अवसर पर देश की सभी बेटियों को शुभकामनाएं दी हैं। अपने ट्वीट संदेश में उन्‍होंने कहा कि बेटियां हमारे परिवार, समाज और देश का गौरव हैं। उन्‍होंने कहा कि आज लडकियां देश की रक्षा सहित जीवन के हर मोर्चे पर सकारात्‍मक भूमिका निभा रही हैं। श्री सिंह ने कहा कि बेटी बचाओ बेटी पढाओ अभियान से नये भारत की बुनियाद मजबूत हो रही है।


एक संदेश में गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि बेटी बचाओ बेटी पढाओं अभियान के कारण स्‍कूलों में लडकियों के दाखिले बढे हैं तथा लडके-लडकियों के अनुपात में आश्‍चर्यजनक सुधार हुआ है।

-----

केन्‍द्र सरकार अपनी महत्‍वाकांक्षी योजना बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के अंतर्गत बालिकाओं में शिक्षा का स्‍तर बढ़ाने के लिए प्रतिबद्ध है। शिक्षा मंत्रालय ने समग्र शिक्षा कार्यक्रम की शुरुआत की है, जो विभिन्‍न स्‍तरों पर बालिका शिक्षा प्रक्रिया में हस्‍तक्षेप कर रहा है। इसके अलावा देश में शैक्षिक रूप से पिछड़े विभिन्‍न हिस्‍सों में कस्‍तूरबा गांधी बालिका विद्यालयों को मंजूरी दी गई है। केन्‍द्र ने माध्‍यमिक शिक्षा में व्‍यवसायगत पाठ्यक्रमों को मदद दी है, जिससे बालिकाओं को अपनी पसंद का पाठ्यक्रम चुनने का अवसर मिला है।

राष्‍ट्रपिता महात्‍मा गांधी ने कहा था कि यदि आप किसी पुरूष को शिक्षित करते हैं तो आप सिर्फ उसे ही शिक्षित करते हैं लेकिन यदि आप किसी स्‍त्री को शिक्षित करते हैं तो आप एक पूरी पीढ़ी को शिक्षित करते हैं। प्रधानमंत्री के रूप में शपथ लेने के तुरंत बाद से ही नरेंद्र मोदी और केंद्र की उनकी सरकार ने देश की बेटियों की शिक्षा और सुरक्षा को अपनी प्राथमिकताओं में शामिल करते हुए सामाजिक अभियान 'बेटी-बचाओ, बेटी-पढ़ाओ का शुभारंभ किया। इसके अंतर्गत देश में बालिकाओं को शिक्षित और आत्‍मनिर्भर बनाने की ओर अभूतपूर्व कदम उठाए गए। समग्र शिक्षा कार्यक्रम के तहत देश में छह लाख से अधिक लड़कियों का सफलतापूर्वक नामांकन पांच हजार सात सौ से भी अधिक नवस्‍वीकृत कस्‍तूरबा गांधी बालिका विद्यालयों में कराया जा चुका है। इसी कड़ी में केंद्र में स्‍कूलों को खोलने, स्‍कूलों में लड़कियों के लिए अलग शौचालयों की व्‍यवस्‍था, आत्‍मरक्षा प्रशिक्षण का प्रावधान और कक्षा आठ तक की लड़कियों को मुफ्त पाठ्य पुस्‍तकें उपलब्‍ध कराने सहित विभिन्‍न अन्‍य पहलों का आगाज़ किया। 2020 की राष्‍ट्रीय शिक्षा नीति द्वारा लाए गए एतिहासिक सुधारों में भी बालिकाओं के विकास को लक्षित करने वाले जेंडर इन्‍क्‍लुजन फंड के गठन का प्रस्‍ताव रखा गया है। इस फंड के इस्‍तेमाल से स्‍कूली शिक्षा में लड़कियों के सौ प्रतिशत नामांकन को सुनिश्चित करने के साथ ही उच्‍च शिक्षा में उनकी भागीदारी को भी बढ़ावा दिया जाएगा। आनंद चतुर्वेदी, आकाशवाणी समाचार, दिल्‍ली।

-----

बेटियों के जन्म को एक उत्सव के रूप में मनाने तथा गर्भवती महिलाओं तथा बच्चों को पोषण के बारे में जागरूक करने के लिए राजस्थान के सिरोही जिले में 'एक पौधा सुपोषित बेटी के नाम योजना' शुरू की गयी है। 'बेटी बचाओ बेटी बढाओ योजना' के तहत सिरोही जिला प्रशासन द्वारा शुरू की गयी।


इस योजना के तहत बेटियों के जन्म पर घर में सहजन का एक पौधा लगाया जाता है। जिला प्रशासन द्वारा उपलब्ध कराये जाना वाला यह पौधा पौषक तत्वों से भरभूर है। तीन माह पहले शुरू हुई इस योजना के तहत अब तक साढे सात हजार घरों में बेटियों के जन्म पर ये पौधे लगाये जा चुके हैं। सिरोही के जिला कलेक्टर भगवती प्रसाद ने बताया कि इस योजना का मकसद परिजनों को बेटियों के जन्म को उत्साह से स्वीकार करने के लिए प्रेरित करना है।


दो महत्‍वपूर्ण विषय हैं एक तो है सुपोषण जो की पोषण और माल न्‍यूट्रीशन से संबंधित है एक है बेटी के नाम यानी की जो समाज में डेफिनेशन है किसी तरह का गर्ल चाइल्‍ड के प्रति उसको कम करना और उन परिवारों को आत्‍मविश्‍वास दिलाना, सम्‍मान दिलाना जिनके घर में बेटियां हैं उसको पढ़ाना और स्‍वीकार करना। यहां पर जब आंकड़े देखे गए तो उसको 0-6 आयु वर्ग में 29 हजार बालकों पर जब ये स्‍कीम शुरू की गई थी तो उस समय लगभग वेरिएशन था साढ़े आठ सौ से नौ सौ के बीच का और ये थोड़ा सा चिंता का विषय था इस हिसाब से इसको बैकअप कर सकते हैं तो एक तो कारण ये था। दूसरा ये नीति आयोग के द्वारा घोषत मैलन्‍यूट्रीशन डिस्ट्रिक्ट में है। अन्‍य उद्देश्‍य ये भी था कि एज. ए सोसाइटी इन जनरल अच्‍छे फूड हैबिट के प्रति प्रेरित भी हों और खाने में इस पौधे की फलियों और फूलों को उपयोग भी करें। 


इस मौके पर परिजनों को कलेक्टर की ओर से एक सम्मान पत्र भी भेजा जाता है। जिला कलेक्टर ने बताया कि आने वाले दिनों में इस येाजना के तहत ब्लॉक और पंचायत स्तर पर पोषण वाटिकाओं का विकास किया जायेगा। सिरोही से साकेत गोयल के साथ जयपुर से जितेन्द्र द्विवेदी की रिपोर्ट

-----

मध्‍य प्रदेश में भी राष्‍ट्रीय बालिका दिवस और सप्‍ताह पर कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है। हमारी संवाददाता ने बताया है कि बहुत साधारण परिवार से आई राज्‍य की निशानेबाज खिलाडी मनीषा कीर ने अपनी दृढ इच्‍छा और लगन के कारण नई ऊचाईयां प्राप्‍त की हैं।


मछलिया पकड़ने से लेकर भोपाल के बाजारों में बेचने तक के काम में अपने पिता की मदद करने वाली होनहार बेटी मनीषा ने शूटिंग में अचूक निशाला लगाकर देश का नाम रौशन किया है। हालांकि वो शूटिंग में रूचि रखती थीं। लेकिन पारिवारिक स्थिति ऐसी नहीं थी कि उन्‍हें प्रशिक्षण और उपकरण उपलब्‍ध हो सके। मनीषा आज प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी को धन्‍यवाद करती हैं कि उन्‍हें और उन्‍हीं की तरह अन्‍य बेटियों को खेलो इंडिया स्‍कीम के जरिये आवश्‍यक सुविधाएं उपलब्ध कराई गई हैं।


हमारे खेलों इंडिया में आने के बाद आठ साल तक सपोर्ट करते हैं। आपको पौकेट मनी देते हैं, दस हजार रुपये महीने, हमें मैडल भी मिलता है उसके बाद मैडल का पैसा भी मिलता है, तो मतलब ये अर्पोचुनिटी बहुत अच्‍छी है कि हमारे लिए खेलो इंडिया यूथ गेम्‍स रखा गया है।


मनीषा की कहानी यूवा बेटियों के लिए प्रेरणा से कम नहीं है। पूजा पी वर्धन आकाशवाणी समाचार भोपाल।  

-----

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कल दोपहर 12 बजे व‍ि‍डियो कांफ्रेन्‍स के माध्‍यम से प्रधानमंत्री राष्‍ट्रीय बाल पुरस्‍कार विजेताओं के साथ बातचीत करेंगे। इस अवसर पर महिला और बाल विकास मंत्री स्‍मृति जुबीन ईरानी भी उपस्‍थित रहेंगी।


सरकार, प्रधानमंत्री राष्‍ट्रीय बाल पुरस्‍कार के अंतर्गत बाल शक्ति पुरस्‍कार, असाधारण योग्‍यता और नवाचार, स्‍कूली उपलब्धि, खेल, कला और संस्‍कृति, सामाजिक सेवा तथा बहादुरी के क्षेत्र में उत्‍कृष्‍ट उपलब्धि के लिए प्रदान कर रही है। इस वर्ष बाल शक्ति पुरस्‍कार की विभिन्‍न श्रेणियों के तहत देशभर के 32 आवेदकों को प्रधानमंत्री राष्‍ट्रीय बाल पुरस्‍कार-2021 के लिए चुना गया है ।


सात पुरस्कार कला और संस्‍कृति क्षेत्र के लिए, नवोन्मेष के लिए नौ और स्कूल संबंधी उपलब्धियों के लिए पांच पुरस्कार दिए जाएंगे। तीन बच्चों को उनकी बहादुरी के लिए और एक बच्चे को समाज सेवा के क्षेत्र में उसके प्रयासों के लिए सम्मानित किया जा रहा है। उपलब्धि हासिल करने वाले सभी बच्चों की सराहना करते हुए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि उन्हें आशा है कि प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार-2021 से न केवल विजेताओं को प्रेरणा मिलेगी बल्कि इससे लाखों अन्य किशोर भी अपने स्वप्न देखने और उन्हें पूरा करने के लिए प्रोत्साहित होंगे।

-----

केन्‍द्रीय गृहमंत्री और भारतीय जनता पार्टी के वरिष्‍ठ नेता अमित शाह ने कहा है कि केवल भारतीय जनता पार्टी की सरकार असम में घुसपैठ रोकेगी। उन्‍होंने कहा कि नरेन्‍द्र मोदी सरकार में घुसपैठ के खिलाफ सख्‍त कदम उठाने का साहस है। श्री शाह ने आज नलबाडी में पार्टी की एक जनसभा में कहा कि कांग्रेस असम के लोगों को केवल बांटती है। श्री शाह ने कहा कि मोदी सरकार के नेतृत्‍व में असम ने विकास और शांति की दिशा में कदम बढ़ाए हैं। उन्‍होंने कहा कि सोनोवाल सरकार ने गैंडों का शिकार रोका है और काजीरंगा राष्‍ट्रीय पार्क को अतिक्रमण मुक्‍त किया है। उन्‍होंने आश्‍वासन दिया कि आने वाले दिनों में भारतीय जनता पार्टी सरकार असम को बाढ़ मुक्‍त बनाएगी। श्री शाह ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी सरकार ने चाय बागानों में काम करने वाले जनजातीय मजदूरों के कल्‍याण के लिए कई कदम उठाए हैं। उन्‍होंने आश्‍वासन दिया कि आने वाले दिनों में दैनिक मजदूरी में बढ़ोतरी सहित और भी काम किए जाएंगे।


मुख्‍यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी राज्‍य में फिर से सरकार बनाएगी। उन्‍होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार असम के लोगों की बेहतरी के लिए प्रतिबद्ध है। 

-----

श्री शाह ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के प्रयासों से बोडोलैंड प्रादेशिक क्षेत्र- बीटीआर में विकास और शांति के नए युग की शुरूआत हुई है। असम के कोकराझार में पहले बोडोलैंड प्रादेशिक क्षेत्र- समझौता दिवस के उद्घाटन समारोह में गृहमंत्री ने कहा कि एक समय था जब ये क्षेत्र आतंकवाद और खून-खराबे के लिए जाना जाता था, लेकिन अब यह राज्‍य का सबसे विकसित क्षेत्र बन चुका है।


बोडो शांति समझौते में प्रधानमंत्री जी ने एक निर्देश दिया कि पूरे उत्‍तर-पूर्व में जहां-जहां अशांति है, इनसर्जेंसी है कभी लोगों से वार्ता करिए और उनके साथ शांति का रास्‍ता प्रशस्‍त करिए। आपका चुनाव भी समाप्‍त हो गया है और शांति के नए युग की शुरुआत हुई। सालों से चली आई समस्‍या जिससे पांच हजार से ज्‍यादा लोगों की जान ली। मोदी जी के इनिशियेटिव के कारण आज यह समस्‍या शांत हो गई है और आने वालों अनेक सालों तक हमारा बोडो क्षेत्र विकास के रास्‍ते पर आगे चल पड़ेगा।


मुख्‍यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने कहा कि सरकार, बीटीआर समझौते के सभी प्रावधान का पालन करेगी।

-----

देश में अब तक 15 लाख 82 हजार 201 लोगों को कोविड का टीका लगाया जा चुका है। स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने बताया कि पिछले 24 घंटों में एक लाख 91 हजार से अधिक लोगों का टीकाकरण किया गया।


इस बीच, कोविड से स्वस्थ होने की दर सुधरकर 96 दशमलव आठ-तीन प्रतिशत हो गई है। अब तक कुल एक करोड तीन लाख से अधिक लोग कोविड के संक्रमण से ठीक हो चुके हैं।


देश में कोविड के मरीज भी लगातार घट रहे हैं। इस समय कुल रोगियों की संख्‍या एक लाख 84 हजार 408 हैं, जो संक्रमण की चपेट में आए लोगों का केवल एक दशमलव सात-तीन प्रतिशत है।


मंत्रालय ने बताया कि पिछले 24 घंटों में देश में कोविड के 14 हजार 849 नए रोगी सामने आए हैं। इसके साथ ही अब तक संक्रमण के शिकार लोगों की संख्‍या एक करोड़ छह लाख से अधिक हो चुकी है। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के अनुसार पिछले एक दिन में कोविड से एक सौ 55 लोगों की मौत हुई है। इसके साथ ही देश में अब तक एक लाख 53 हजार 339 लोग कोविड से जान गवां चुके हैं।

-----

महाराष्‍ट्र में अब तक लगभग एक लाख स्‍वास्‍थ्‍य कर्मियों को कोविड टीके की पहली खुराक दी जा चुकी है। हमारे मुंबई संवाददाता ने बताया है कि लगभग तीन लाख स्‍वास्‍थ्‍य कर्मियों को पहले चरण में टीका लगाया जाएगा और चार सप्‍ताह बाद इन्‍हें टीके की दूसरी खुराक दी जाएगी।


इस बीच राज्‍य में, पांचवी से आठवीं कक्षा तक के सभी स्‍कूल 27 जनवरी से खोल दिए जायेंगे।

-----

तेलंगाना में, कल से निजी क्षेत्र के स्‍वास्‍थ्‍य कार्यकर्ताओं को कोविड का टीका लगाया जाएगा। अब तक, राज्‍य के सरकारी क्षेत्र के लगभग एक लाख 20 हजार से अधिक स्‍वास्‍थ्‍य कार्यकर्ताओं और सफाईकर्मियों और चिकित्‍सा से जुडे लोगों को टीका लगाया जा चुका है। राज्‍य के जन स्‍वास्‍थ्‍य विभाग के निदेशक डॉक्‍टर श्रीनिवास राव ने बताया कि टीकाकरण के बाद किसी को भी स्‍वास्‍थ्‍य संबंधी कोई विशेष समस्‍या नहीं आई।

-----

मिजोरम में पिछले 24 घंटों में 322 स्‍वास्‍थ्‍य कर्मियों को कोविड टीका लगाया गया। अब तक वहां तीन हजार 979 स्‍वास्‍थ्‍य कर्मियों को टीका लगाया जा चुका है। इनमें से किसी को टीके के कारण कोई समस्‍या नहीं हुई है। राज्‍य को कोविड टीके की 35 हजार खुराकें प्राप्‍त हो चुकी हैं।


-----

नागालैंड में, कोविड-19 का आज एक भी मामला दर्ज नहीं किया गया। कोहिमा में एक व्यक्ति संक्रमण से स्वस्थ हुआ। दो जनवरी के बाद से अभी तक राज्य में तीसरी बार कोई भी मामला सामने नहीं आया। 

-----


मणिपुर में बीते चौबीस घंटे में 16 लोगों में कोविड-19 संक्रमण की पुष्टि हुई जिनमें से दो व्यक्ति केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल के हैं।


राज्य में पिछले चौबीस घंटे में 11 लोगों को स्वस्थ होने पर अस्पताल से छुट्टी दी गई। स्वस्थ होने की दर 98 दशमलव शून्य तीन प्रतिशत हो गई है।

-----

मत्‍स्‍य, पशुपालन और डेयरी उद्योग मंत्रालय ने कहा है कि अभी तक नौ राज्‍यों में मुर्गा पालन में एवियन इन्फ्लूएंजा फैलने की पुष्टि हो चुकी है। ये राज्‍य केरल, हरियाणा, मध्‍य प्रदेश, महाराष्‍ट्र, छत्‍तीसगढ़, उत्‍तराखंड, गुजरात, उत्‍तर प्रदेश और पंजाब हैं। मंत्रालय ने कहा है कि इसके अलावा 12 राज्‍यों में कौओं और प्रवासी तथा जंगली पक्षियों में एवियन इन्फ्लूएंजा पाया गया है।


मंत्रालय ने बताया कि कार्य योजना के तहत जिन किसानों के पालतू पक्षी मारे जा रहे हैं और अंडे नष्‍ट किये जा रहे हैं, उनको मुआवजा दिया जाता है।

-----

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद देश के 72वें गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर कल राष्ट्र को संबोधित करेंगे।


राष्ट्रपति का संबोधन शाम सात बजे से आकाशवाणी के समूचे राष्ट्रीय नेटवर्क और दूरदर्शन के सभी चैनलों से पहले हिंदी और फिर अंग्रेजी में प्रसारित किया जाएगा। राष्ट्रपति के संबोधन के हिंदी और अंग्रेजी प्रसारण के तुरंत बाद दूरदर्शन के क्षेत्रीय चैनलों से प्रादेशिक भाषाओं में इसका प्रसारण होगा।


आकाशवाणी से क्षेत्रीय नेटवर्क पर प्रादेशिक भाषाओं में राष्‍ट्रपति के संबोधन का प्रसारण रात साढे नौ बजे से किया जाएगा।

-----

दिल्‍ली पुलिस ने आज गणतंत्र दिवस पर होने वाली किसानों की ट्रैक्‍टर रैली को सशर्त अनुमति दे दी। हालांकि, दिल्‍ली पुलिस ने कहा है कि किसान संगठनों को रैली का शांतिपूर्ण होना सुनिश्चित करना होगा। विशेष पुलिस आयुक्‍त दीपेन्‍द्र पाठक ने संवाददाताओं को बताया कि ट्रैक्‍टर रैली को टिकरी, गाजीपुर और सिंधु बोर्डर से तीन मार्गों पर रैली की अनुमति दी गई है। उन्‍होंने कहा कि इन तीन स्‍थानों पर अवरोधक हटा दिए गए हैं। श्री पाठक ने कहा कि राजपथ पर गणतंत्र दिवस की परेड के समापन के बाद ही ट्रैक्‍टर रैली निकालने की इजाजत दी गई है।

-----

26 जनवरी को गणतंत्र दिवस पर सुरक्षा कारणों से दिल्ली में मेट्रो रेल सेवा में थोड़ी देर के लिए बदलाव किया गया है। दिल्ली मेट्रो के अनुसार हुडा सिटी सेंटर-समयपुर बादली येलो लाइन-2 पर आंशिक रूप से मेट्रो सेवा प्रभावित रहेगी। 26 जनवरी को इस मार्ग पर केंद्रीय सचिवालय और उद्योग भवन मेट्रो स्टेशन दोपहर 12 बजे तक बंद रहेंगे और प्रवेश और निकास की सुविधा नही होगी। केंद्रीय सचिवालय मेट्रो स्टेशन का इस्तेमाल यात्री केवल इंटरचेंज के लिए कर सकेंगे। वहीं पटेल चौक और लोक कल्याण मार्ग मेट्रो स्टेशन प्रवेश और निकास के लिए सुबह पौने 9 बजे से लेकर दोपहर 12 बजे तक बंद रहेगा। दिल्ली मेट्रो ने बताया कि सुरक्षा कारणों की वजह से दिल्ली मेट्रो की सभी पार्किंग भी 25 जनवरी की सुबह 6 बजे से लेकर 26 जनवरी की दोपहर 2 बजे तक बंद रहेंगी।

-----

गणतंत्र दिवस परेड में राजपथ पर पहली बार लद्दाख की झांकी भी देखने को मिलेगी। इसमें ऐतिहासिक थिक्‍से बौद्ध मठ को दर्शाया गया है। गणतंत्र दिवस की झांकी में लेह के पास हानले में स्थित भारतीय वेधशाला भी प्रदर्शित की जाएगी।


इस वर्ष राजपथ पर गणतंत्र दिवस की परेड में 17 राज्‍य और केन्‍द्र शासित प्रदेशों को प्रतिनिधित्‍व का अवसर मिलेगा।

-----

गोवा में पणजी के निकट श्यामाप्रसाद स्टेडियम में 51वां भारतीय अंतरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव आज शाम रंगारंग और आकर्षक रूप से समारोह पूर्वक सम्पन्न हो गया। डेनमार्क की फिल्म इनटू दि डार्कनेंस को प्रतिष्ठित स्वर्ण मयूर पुरस्कार से सम्मानित किया गया। समारोह में वर्ष के व्यक्तित्व-पर्सनेलिटी ऑफ दि ईयर बिस्वजीत चटर्जी को सम्मानित किया गया। उन्होंने प्रतिष्ठित पुरस्कार प्राप्त करते हुए सरकार का आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर वन, पर्यावरण और जलवायु परिवर्तन राज्य मंत्री बाबुल सुप्रियो ने कहा कि सिनेमा भावों को अभिव्यक्ति देता है और जिंदगी के विभिन्न आयामों को प्रदर्शित करता है।


मुख्‍य अतिथि प्रख्‍यात अभिनेत्री जीनत अमान न कहा कि सिनेमा अपनी अनूठी विशेषताओं के कारण मनोरंजन करता है और शिक्षा देता है। सिनेमा में दिलों तक पहुंचने की क्षमता है। गोवा के राज्‍यपाल भगत सिंह कोश्‍यारी का मत था कि सिनेमा और अन्‍य तरह की कला सीधे दिल से आती है। सिनेमा ने न केवल हमारे देश को एकजुट किया, बल्कि पड़ोसी देशों को भी जोड़ा है। गोवा के मुख्‍यमंत्री डॉ. प्रमोद सावंत ने महामारी की कठिनताओं के बावजूद आईएफएफआई की भारी सफलता पर संतोष जाहिर किया। उन्‍होंने कहा कि गोवा सरकार ने ईको टूरिज्‍म पर जोर देने का फैसला किया है। सूचना और प्रसारण सचिव अमित खरे ने कहा कि आईएफएफआई ने इस बार महामारी पर मानवीय भावना की विजय को परिलक्षित किया है। उन्‍होंने कहा कि इससे ऐसे इवेंट को हाईब्रिड रूप से आयोजित करने की भारत की विशेष क्षमता साबित हुई है। पणजी गोवा से मुकेश थली और तुषार जाधव की रिपोर्ट के साथ समाचार कक्ष से मैं शिव प्रकाश मिश्र।

-----

देश भर में कल राष्ट्रीय मतदाता दिवस मनाया जाएगा। इसका उद्देश्य मतदाताओं विशेषकर नये मतदाताओं को प्रोत्साहन और सुविधा देने के साथ-साथ अधिक से अधिक संख्‍या में उन्‍हें मतदाता सूची में शामिल करना है।


निर्वाचन आयोग की स्‍थापना के उपलक्ष में हर साल 25 जनवरी को देशभर में राष्‍ट्रीय मतदाता दिवस मनाया जाता है। राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद इस अवसर पर नई दिल्‍ली में आयोजित होने वाले राष्‍ट्रीय समारोह में मुख्‍य अतिथि होंगे। इस बार के राष्ट्रीय मतदाता दिवस का मुख्य विषय देश के मतदाताओं को सशक्त, सतर्क, सुरक्षित और जागरूक बनाना है। इसमें कोविड-19 महामारी के दौरान चुनावों को सुचारू रूप से आयोजित करने की चुनाव आयोग की प्रतिबद्धता पर भी प्रकाश डाला जाएगा। राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर राष्‍ट्रपति 2020-21 के लिए राष्‍ट्रीय पुरस्‍कार प्रदान करेंगे और निर्वाचन आयोग के वेब-रेडियो - हैलो वोटर्स का शुभांरभ भी करेंगे। राष्‍ट्रीय मतदाता दिवस देशभर के मतदाताओं को जागरूक बनाने और चुनाव प्रक्रिया में भाग लेने के लिए उन्‍हें प्रोत्‍साहित करने के लिए आयोजित किया जाता है। दीपेन्‍द्र की रिपोर्ट के साथ समाचार कक्ष से आरती राणा।

-----

मौसम -

राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्‍ली में सुबह हल्‍का कोहरा रहने का अनुमान है। तापमान 6 और 17 डिग्री सेल्सियस के बीच रहेगा।


मुम्‍बई में आसमान साफ रहेगा। न्यूनतम तापमान 15 और अधिकतम 29 डिग्री सेल्सियस रहने के आसार हैं।


चेन्नई में सुबह धुंध छाई रहेगी और बाद में बादल छाए रहेंगे। तापमान 22 और 30 डिग्री सेल्सियस के बीच रहने की संभावना है।


कोलकाता में सुबह कोहरा छाया रहेगा।न्यूनतम तापमान 14 और अधिकतम 26 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहेगा।


श्रीनगर में आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे। तापमान शून्‍य से तीन डिग्री नीचे और अधिकतम छह डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है।


लेह में कहीं-कहीं बादल छाए रहेंगे। न्यूनतम तापमान शून्य से 13 डिग्री सेल्सियस नीचे और अधिकतम एक डिग्री रहेगा।

-----

Live Twitter Feed

Listen News

Morning News 4 (Mar) Midday News 4 (Mar) Evening News 4 (Mar) Hourly 4 (Mar) (1910hrs)
समाचार प्रभात 4 (Mar) दोपहर समाचार 4 (Mar) समाचार संध्या 4 (Mar) प्रति घंटा समाचार 4 (Mar) (2200hrs)
Khabarnama (Mor) 4 (Mar) Khabrein(Day) 4 (Mar) Khabrein(Eve) 3 (Mar)
Aaj Savere 4 (Mar) Parikrama 4 (Mar)

Listen Programs

Market Mantra 4 (Mar) Samayki 1 (Jan) Sports Scan 4 (Mar) Spotlight/News Analysis 4 (Mar) Employment News 4 (Mar) रोजगार समाचार 4 (Mar) World News 3 (Mar) Samachar Darshan 22 (Mar) Radio Newsreel 21 (Mar)
    Public Speak

    Country wide 12 (Mar) Surkhiyon Mein 4 (Mar) Charcha Ka Vishai Ha 11 (Mar) Vaad-Samvaad 17 (Mar) Money Talk 17 (Mar) Current Affairs 6 (Mar) Sanskrit Saptahiki 27 (Feb) North East Diary 4 (Mar)