A- A A+
Last Updated : Mar 5 2021 6:38AM     Screen Reader Access
News Highlights
UN General Assembly adopts India's resolution to declare 2023 as International Year of Millets            Prime Minister Narendra Modi says, India is honored to be at forefront of popularizing Millets            BJP CEC meets in New Delhi in wake of upcoming Assembly Elections            External Affairs Minister, Dr. S. Jaishanker visits Dhaka, says, Bangladesh is central to India's neighborhood first Policy            India commemorates Chabahar Day, External Affairs Minister says, Chabahar port facilitated delivery of humanitarian assistance during COVID-19 pandemic           

Text Bulletins Details


समाचार संध्या

2000 HRS
15.01.2021

मुख्य समाचार
:-

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कल वीडियो कांफ्रेंस के माध्‍यम से देशव्‍यापी कोविड टीकाकरण अभियान की शुरूआत करेंगे।

  • देश में कोविड से स्‍वस्‍थ होने की दर सुधरकर 96 दशमलव पांच-तीन प्रतिशत हुई।

  • सरकार और किसान संगठनों के बीच नई दिल्‍ली में नौंवे दौर की बातचीत संपन्‍न। अगली वार्ता 19 जनवरी को।

  • आज देश के 600 जिलों में प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के तीसरे चरण की शुरूआत हुई।

  • भारत और नेपाल ने संपर्क, अर्थव्‍यवस्‍था और सुरक्षा मुद्दों सहित सहयोग के अन्‍य क्षेत्रों पर विचार विमर्श किया।

  • ब्रिसबेन में भारत के साथ चौथे और अंतिम क्रिकेट टेस्‍ट मैच के पहले दिन आज ऑस्‍ट्रेलिया ने पहली पारी में 5 विकेट पर 274 रन बनाए।

-----------------------------

कोविड महामारी के खिलाफ देश एकजुट होकर लड़ रहा है। आप भी हमारे साथ सुरक्षा और बचाव के तीन आसान एहतियाती उपायों का संकल्‍प लें।


मास्‍क पहनें

दो गज दूरी, है जरूरी।

सुरक्षित दूरी बनाए रखें।

हाथ और मुंह साफ रखें।

-----------------------------

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी कल सवेरे वीडियो कांफ्रेंस के जरिये विश्‍व के सबसे बड़े कोविड-19 टीकाकरण कार्यक्रम की शुरूआत करेंगे। टीकाकरण का यह अभियान पूरे देश में चलाया जायेगा। टीकाकरण अभियान की शुरूआत में सभी राज्‍यों और केन्‍द्रशासित प्रदेशों के तीन हजार 600 केन्‍द्र वीडियो कांफ्रेस के जरिये आपस में जुडेंगे। शुरूआत में सभी टीकाकरण केन्‍द्रों पर करीब एक सौ लाभार्थियों को टीका दिया जायेगा। टीकाकरण का यह कार्यक्रम जरूरतमंद लोगों को प्राथमिकता देने के आधार पर चलाया जायेगा। हमारे संवाददाता आनंद चतुर्वेदी ने बताया है कि प्रथम चरण में, स्‍वास्‍थ्‍यकर्मियों, सरकारी और निजी क्षेत्र के कर्मचारियों और समेकित बाल‍ विकास सेवा से संबंधित कर्मियों को टीके लगेंगे।


पहले चरण के राष्‍ट्रव्‍यापी टीकाकरण को क्रियान्वित करने के लिए लगभग दो हजार 360 मास्‍टर ट्रेनर्स, 61 हजार प्रोग्राम मैनेजर और लगभग दो लाख वैक्‍सीनेटर्स तैनात किये गये हैं। टीकाकरण अभियान की केन्द्रीकृत निगरानी के लिए कई अस्‍पतालों में वेब कैमरा को भी लगाया गया है। दिल्‍ली में टीकाकरण 81 केन्‍द्रों पर शुरू किया जा रहा है। जो कि निकट भविष्‍य में लगभग 175 केन्‍द्रों पर किया जायेगा। राम मनोहर लोहिया सहित सभी केन्‍द्रों ने टीकाकरण के लिए तीन अलग-अलग कक्ष बनाये हैं। पहले कक्ष में लाभार्थियों के आई डी कार्ड से उनकी जांच कोविन में मौजूद डेटा से की जायेगी। यहीं पर लाभार्थियों की प्रा‍थमिक जांच भी सुनिश्चित की जायेगी और उनकी मौजूदा बीमारियों और दवाओं के संबंध में जानकारी ली जायेगी। दूसरा कक्ष टीकाकरण कक्ष होगा। जबकि तीसरे कक्ष में टीका लगने के बाद तकरीबन आधे घंटे तक अवलोकन की व्‍यवस्‍था सुनिश्चित की गई है। अवलोकन या ऑबर्जवेशन रूम में टीकाकरण के बाद किसी भी प्रकार के एलर्जिक रिएक्‍शन जैसी स्थिति से निपटने के लिए सभी सुविधाएं और चिकित्‍सा उपकरण भी मौजूद हैं।

-----------------------------

नीति आयोग के सदस्य तथा स्वास्थ्य और कोविड वैक्सीन प्रशासन पर राष्ट्रीय विशेषज्ञ समूह के अध्यक्ष डॉक्‍टर वी० के० पॉल ने बताया है कि भारत में निर्मित दो टीके-कोवीशील्‍ड और कोवाक्सीन सुरक्षित हैं और दोनों ही टीकों में शरीर में प्रतिरक्षा और प्रतिरोधक प्रणाली विकसित करने की क्षमता मौजूद है। आकाशवाणी समाचार से विशेष बातचीत में डॉ पॉल ने बताया कि दोनों ही टीकों को देश के औषधि नियंत्रक और विशेषज्ञों द्वारा आपात स्थिति में इस्‍तेमाल करने के लिए स्‍वीकृत किया गया है और लोगों को इस पर विश्‍वास करना चाहिए।


मेरी गुजारिश है कि हमारी नर्सेस हैं, डॉक्‍टर्स हैं, हैल्‍थ वर्कर्स हैं, जो हमारी स्‍वास्‍थ्‍य सेवाओं के साथ जुड़े हुए हैं, एम्‍बुलेंस ड्राइवर्स हैं, टेक्निशियन्‍स हैं, रिसेप्‍शनिस्‍ट हैं उन सबसे मेरी विनती है कि आप इन दोनों वैक्‍सीन को जो भी आप के लिए प्रस्‍तुत किया जाएगा, उसको अपनाइये, उसका फायदा मिलेगा और हमें फायदा समाज के लेवल पर भी है। इनडिविज्‍युअल के लेवल पर भी है।


डॉक्‍टर पॉल ने लोगों को सलाह दी है कि वे कोविड टीकों के सम्‍बंध में गलत सूचनाओं पर बिल्‍कुल ध्यान न दें।

-----------------------------

महाराष्‍ट्र में भारत बायोटैक के कोविशील्‍ड के नौ लाख 63 हजार टीके और कोवैक्‍सीन की बीस हजार खुराक पहुंच गई हैं। राज्‍य के स्‍वास्‍थ्‍य विभाग के अधिकारियों के अनुसार टीके राज्‍य के विभिन्‍न जिलों में पहुंच गये हैं।

-----------------------------

राजस्थान में कोरोना टीकाकरण के पहले चरण की सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। टीकाकरण राज्यभर में 167 स्थानों पर किया जाएगा। परियोजना निदेशक के हवाले से हमारे संवाददाता ने बताया है कि टीके जिला मुख्यालयों को भेज दिए गए हैं और अब ये टीकाकरण केंद्रों पर भेजे जाएंगे।


पहले चरण में 4 लाख 87 हजार से ज्यादा स्वास्थयकर्मियों को टीका लगाया जायेगा। शुरू में टीकाकरण के लिए 167 सत्र स्थल बनाये गये हैं, जिन्‍हें निरन्तर बढाया जायेगा। पहले चरण के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा 5 हजार 600 टीकाकरण टीम गठित की गयी हैं, जिनके 28 हजार से जयादा सदस्यों को प्रशिक्षित किया जा चुका है। एक लाख 66 हजार से ज्यादा व्यक्तियों के लिए आमुकीकरण कार्यशालाएं और प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किये जा चुके हैं, जिनमें स्वास्यर्मियों के अलावा जनप्रतिनिधिगण, पुलिस और प्रशासन के अधिकारी तथा कर्मचारी और आशा तथा आंगनवाड़ी कार्यकर्ता शामिल हैं।- जितेन्द्र द्विवेदी, आकाशवाणी समाचार, जयपुर।

-----------------------------

मध्य प्रदेश में कोविड टीकाकरण कल सुबह नौ बजे से शुरू होगा। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि दोनों टीके कोविशील्ड और कोवैक्सीन पूरी तरह से सुरक्षित हैं। हमारी संवाददाता ने बताया है कि राज्य के प्रत्येक शहर में पहला टीका एक सफाई कर्मचारी को लगाया जाएगा।


मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि 16 जनवरी को मध्यप्रदेश के प्रत्येक जिले में पहला टीका स्वच्छता कर्मचारियों को कोरोना महामारी के दौरान दी गयी सेवाओं के सम्मान के रूप में लगाया जायेगा। मुख्यमंत्री ने स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा करते हुए कहा कि यह टीका ‘संजीवनी बूटी’ या जीवन रक्षक से कम नहीं है। मुख्यमंत्री ने कहा कि टीका लगवाने के लिए किसी भी सिफारिश की अनुमति नहीं दी जायेगी। प्रदेश को पहले चरण के लिए 5 लाख 6 हजार खुराक मिली है। श्री चौहान ने कहा कोविशील्ड और कोवाक्सिन दोनों पूरी तरह से सुरक्षित हैं। मीडिया से आग्रह करते हुए उन्होंने कहा कि टीकाकरण से संबंधित किसी भी भ्रामक जानकारी या अफवाह को न पनपने दें। पूजा पी वर्धन, आकाशवाणी समाचार, भोपाल।

-----------------------------

बिहार में कल से शुरू होने वाले कोविड-19 टीकाकरण की सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। राज्य के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने बताया कि राज्य सरकार ने राज्यभर में सुचारू टीकाकरण के लिए सभी तैयारियां पूरी कर ली हैं। श्री पांडेय ने कहा कि राज्य के सभी 38 जिलों में टीके की शीशियां पहुंच गई हैं। राज्य के विभिन्न भागों में 50 केंद्रों पर टीकाकरण वेबकास्टिंग की जाएगी। पटना के इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान के अधीक्षक डॉक्टर मनीष मंडल ने बताया कि टीकाकरण अंतर्राष्ट्रीय मानको के अनुसार किया जाएगा। डॉक्टर मंडल ने लोगों से अफवाहों पर ध्यान न देने की अपील की है।


बहुत प्रूफ के साथ ये बनाया गया है वैक्‍सीन। कई टेस्‍ट होते हैं, कई दौर होते हैं और सारे टेस्‍ट मानक के बाद ही वैक्‍सीनेशन होता है और सबसे बड़ी बात कि जो फ्रंट लाइन वॉरियर्स हैं ये खुद वैक्‍सीनेट होके ये साबित कर रहे हैं कि इससे कोई भय या डर नहीं होना चाहिए और दूसरी बात मैं कहना चाहूंगा कि 2020 जो था वो कोराना का वार था और 2021 जो हमारा है वो हमारा वार है कोरोना पर।


डॉक्‍टर मनीष ने साथ ही बताया कि टीका लगवाने के बाद लोगों को कम से कम छह सप्‍ताह कोविड संबंधी दिशा-निर्देशों का पालन करना होगा।


इस पर दो डोज पड़नी है। पहली डोज के चार वीक के बाद दूसरी डोज पड़ेगी। लेकिन सावधानी जितनी है वो पहले से बरत रहे हैं उतना ही बरतना चाहिए और सैकेण्‍ड डोज के दो सप्‍ताह तक ये सावधानी बहुत ही ज्‍यादा जरूरी है। क्‍योंकि इस बीच लोगों को जो है एंटीबॉडीज बनने में समय लगता है, तो जो भी सावधानी वो पहले से कर रहे हैं। जैसे मास्‍क पहन रहे हैं, हाइजीन मेंटेन कर रहे हैं, दूरी बरत रहे हैं ये सारी सावधानी छह सप्‍ताह तक जरूरी है। अगर आप आज टीका लेते हैं तो आज से छह सप्‍ताह तक आपको सावधानी अत्‍यंत आवश्‍यक है।

-----------------------------

गुजरात सरकार ने चार प्रमुख शहरों में रात के कर्फ्यू को 31 जनवरी तक बढ़ा दिया है। मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने घोषणा की है कि अहमदाबाद, वडोदरा, सूरत और राजकोट में 31 जनवरी तक कर्फ्यू रात 10 बजे से सुबह छह बजे तक लागू रहेगा। पहले इसे आज तक बढ़ाया गया था। इस बीच, राज्य सरकार ने कल से शुरू होने वाले राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान के लिए सभी आवश्‍यक कदम पूरे कर लिए गए हैं।


गुजरात सरकार का प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग कल के राष्ट्र व्यापी टीकाकरण अभियान के लिए पूरी तरह तैयार है। गुजरात को पुणे की इंस्टीट्यूट में निर्मित कोविशील्ड टीके की 5 लाख 41 हजार खुराकें मिल चुकी हैं। गुजरात के मुख्य मंत्री श्री विजय रूपाणी कल टीकाकारण अभियान शुरू करने के वक्त अहमदाबाद के सिविल अस्पताल में उपस्थित रहेंगे। पहले चरण में टीके लगाने के लिए 4 लाख से अधिक स्वास्थ्य कर्मचारिओं के साथ कुल 11 लाख अग्रिम श्रेणी के कोरोना योद्धाओं को चिन्हित कर लिया गया है। योगेश पंड्या// आकाशवाणी समाचार // अहमदाबाद//

-----------------------------

पश्चिम बंगाल में 207 कोविड टीकाकरण केंद्रों पर बीस हजार सात सौ स्वास्थ्यकर्मियों को टीके लगाए जाएंगे। प्रत्येक केंद्र पर करीब सौ लोगों को कोविशील्ड का पहला टीका लगाया जाएगा। कोलकाता में इस अभियान के लिए 18 केंद्र स्थापित किए गए हैं। मुख्यमंत्री, ममता बनर्जी राज्य सचिवालय से टीकाकरण प्रक्रिया का वीडियो कांफ्रेंस के जरिए जायजा लेंगी। राज्य स्वास्थ्य सेवा के निदेशक डॉक्टर अजय चक्रवर्ती ने लोगों से टीकाकरण के लिए बिना किसी संदेह या भय के आगे आने की अपील की है।

-----------------------------

असम में कल शुरू होने वाले टीकाकरण के लिए सभी प्रबंध पूरे कर लिए गए हैं। गुवाहाटी में संवाददाताओं से बात करते हुए राज्‍य के स्वास्थ्य मंत्री हेमंत बिस्वा सरमा ने बताया कि पहले चरण में एक लाख 90 हजार स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लगाया जाएगा। उन्होंने कहा कि अलग-अलग स्‍थानों पर टीकाकरण के लिए 65 सत्र होंगे। स्वास्थ्य विभाग ने टीकाकरण के लिए आठ हजार 651 नर्सों को प्रशिक्षण दिया है।


उन्‍होंने कहा कि नर्सों के साथ ही निगरानी के लिए एक हजार तीन सौ पर्यवेक्षक भी होंगे। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के उद्घाटन सत्र के दौरान गुवाहाटी मेडिकल कॉलेज अस्पताल सहित तीन स्वास्थ्य संस्थानों का आपस में सीधा सम्‍पर्क होगा। राज्य के कई वरिष्ठ चिकित्सकों का कल टीकाकरण किया जाएगा।

-----------------------------

सिक्किम में कोविड टीकाकरण कार्यक्रम की कल से शुरूआत के लिए सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। यह अभियान पूर्वी सिक्किम में गंगटोक के एस टी एन एम अस्पताल तथा पश्चिम सिक्किम के ग्‍यालसिंह जिला अस्पताल से शुरू किया जाएगा।

-----------------------------

कर्नाटक में कोविड टीकाकरण अभियान का संचालन करने के लिए राज्यभर में 243 केंद्र स्थापित किए गए हैं। आज बेंगलुरू में संवाददाताओं से बात करते हुए स्वास्थ्य और चिकित्सा शिक्षामंत्री डॉक्‍टर के० सुधाकर ने बताया कि प्रधानमंत्री कल सुबह बेंगलुरु मेडिकल कॉलेज से वीडियो कॉन्‍फ्रेंस के जरिये टीकाकरण अभियान का उद्घाटन करेंगे। उन्होंने कहा कि टीकाकरण के लिए दोनों टीकों - कोविशील्‍ड और कोवैक्‍सीन की 8 लाख 14 हजार पांच सौ खुराक उपलब्ध हैं।


कोविशील्‍ड वैक्‍सीन को 237 सैन्‍टर्स में और कोवैक्‍सीन कोविड वैक्‍सीन को छह सैन्‍टर्स में कल से दिया जाएगा। सब मिलाकर सात लाख 17 हजार चार सौ 29 हैल्‍थ वॉरियर्स को वैक्‍सीन दिया जाएगा। कल पहले दिन 24 हजार तीन सौ वॉरियर्स को वैक्‍सीन देने का लक्ष्‍य है। स्‍वास्‍थ्‍य विभाग के वॉरियर्स, पुलिस और नगर पालिका के कर्मचारियों को पहले चरण में वैक्‍सीन दिया जाएगा। इस प्रकिया को एक सप्‍ताह में पूर्ण करने की संभावना है। वैक्‍सीन लगवाने के बाद अगर किसी को साइडइफैक्‍ट दिखाई दिया तो उसके इलाज के लिए भी व्‍यवस्‍था की गई है। वैक्‍सीनेशन से जुड़ी अफवाह अगर सोशल मीडिया पर दिखाई दे तो उसे नज़रअंदाज करने की सलाह डॉ. सुधाकर जी ने दी है। सुधीन्‍द्रा, आकाशवाणी समाचार, बैंगलुरू।

-----------------------------

केन्‍द्रशासित प्रदेश पुदुच्‍चेरी में टीकाकरण कार्यक्रम की शुरुआत सुबह नौ बजे से होगी। हमारे संवाददाता ने बताया है कि इसके पहले चरण में स्वास्थ्य कर्मियों को टीके लगाए जाएंगे।


पुदुच्चेरी की उपराज्यपाल डॉक्टर किरन बेदी ने केंद्र शासित प्रदेश में टीकाकरण कार्यक्रम की तैयारियों के बारे में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए समीक्षा बैठक की। राजनिवास की प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार पहले चरण में पुदुच्चेरी के 19 हजार स्वास्थ्यकर्मियों, कराईकल के 1600, माहि के 897 और यनम के 323 स्वास्थ्य कर्मियों को टीके लगाए जाएंगे। इसके लिए पुदुच्चेरी में चार और अन्य तीन क्षेत्रों में एक-एक टीकाकरण केंद्र बनाया गया है। स्वास्थ्य निदेशक डॉक्‍टर मोहन कुमार ने बताया कि पुदुच्‍चेरी में टीके की एक हजार 750 बोतलें मिली हैं और हर बोतल में दस खुराक है। आज 28 लोगों में कोविड संक्रमण की पुष्टि हुई है, जबकि 32 अन्य को इलाज के बाद छुट्टी दे दी गई। प्रदेश में संक्रमितों के स्वस्थ होने की दर 97 दशमलव पांच आठ प्रतिशत हो गई है, जबकि मृत्यु दर एक दशमलव छह-छह प्रतिशत पर बरकरार है। समाचार कक्ष से सौरभ अग्रवाल।

-----------------------------

अंडमान-निकोबार द्वीप-समूह कल कोविड टीकाकरण अभियान की देशव्यापी शुरूआत में शामिल होने के लिए पूरी तरह तैयार है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दिल्ली से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से पोर्ट ब्लेयर के जी० बी० पंत अस्पताल से इस अभियान की शुरुआत करेंगे। पहले चरण में जी.बी. पंत अस्‍पताल सहित दो केंद्रों पर कोवीशील्‍ड की खुराक दी जाएगी। अंडमान के आयुक्‍त सह-स्वास्थ्य सचिव डॉक्‍टर वी० कंदवेलु ने बताया कि जी० बी० पंत अस्‍पताल और आयुष अस्‍पताल में कुल मिलाकर दो सौ 40 स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को टीका लगाया जाएगा। बाद में वैक्सीन को रंगत, मायाबंदर, डिगलीपुर, नैनकोवरी, कार निकोबार, हट बे और कैंपबेल बे के ब्लॉक सेंटरों में पहुंचाया जाएगा।

-----------------------------

मेघालय के स्वास्थ्य मंत्री ए.एल. हेक ने बताया कि कल से शुरू हो रहे कोविड टीकाकरण के लिए राज्य में सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि पहले चरण में 16 हजार स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लगाया जाएगा। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री कॉनराड के० संगमा राज्‍य में दस केंद्रों पर टीकाकरण अभियान की शुरूआत करेंगे।


सुरक्षा के विषय पर लोगों की चिंताओं के बारे में पूछे जाने पर स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि लोगों को चिकित्सा विशेषज्ञों के काम पर भरोसा होना चाहिए।


इस बीच, स्वास्थ्य सेवा निदेशालय के डॉक्‍टर अमन वार ने कहा कि पहले चरण में राज्य के सभी स्वास्थ्य कर्मियों का टीकाकरण पूरा होने तक यह अभियान जारी रहेगा।

-----------------------------

इस बीच, अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्‍थान नई दिल्‍ली के निदेशक डॉक्‍टर रणदीप गुलेरिया ने कहा कि लोग अफवाहों पर ध्‍यान न दें। कोविड टीका पूरी तरह सुरक्षि‍त है।


सोशल मीडिया में बहुत अफवाहें फैल रही हैं, कुछ कहते हैं कि वैक्‍सीन के ऑरिजन में पोर्क यूज़ हुआ है। कोई ये कहता है कि वैक्‍सीन से लोगों की इम्‍पोटेंसी हो जाती है या उससे न्‍यूरो डैमेज हो जाता है। तो एक लाख से ज्‍यादा लोगों को वैक्‍सीन लग चुका है। चाहे वो ट्रायल में लगा हो या वो रोल आउट में लगा हो और जो वैक्‍सीन यहां पर यूज हो रही हैं वो और देशों में भी यूज हो रही हैं तो कहीं भी ऐसा कोई सिग्‍नल भी नहीं आया है कि किसी को सीरियस एण्‍ड सिग्नीफिकेंट साइडइफैक्‍ट हुए हैं। इसलिए हमें पूरा विश्‍वास होना चाहिए कि ये जो वैक्‍सीन हैं जो हमारे साइंटिस्‍ट्स ने बनाई हैं, जिसपर रिसर्च हुई हैं, जिसपर सेफ्टी ट्रायल्स हुए हैं और वो जो बाहर भी यूज़ होनी हैं वो सारी सेफ हैं और उसमें कोई ऐसी घबराने वाली बात नहीं हैं।

-----------------------------

देश में कोविड-19 से स्‍वस्‍थ होने की दर सुधरकर 96 दशमलव पांच-तीन प्रतिशत हो गई है। भारत कोविड महामारी से निपटने की दिशा में तेजी से कदम बढ़ा रहा है। देश में अब तक एक करोड़ एक लाख 62 हजार से ज्‍यादा लोग इस महामारी से ठीक हुए हैं। रोजाना संक्रमण के मामलों की संख्‍या भी लगातार 20 हजार से कम हो रही है। पिछले 24 घंटों में केवल 15 हजार 590 मामले सामने आये हैं। वर्तमान में स्‍वस्‍थ होने वाले मरीजों की संख्‍या सक्रिय मामलों से करीब 48 गुना ज्‍यादा है।

-----------------------------

केंद्र सरकार और किसान संगठनों के बीच आज नई दिल्‍ली में नौवें दौर की वार्ता हुई।


कृषि मंत्री नरेन्‍द्र सिंह तोमर ने वार्ता के बाद पत्रकारों से बातचीत में कहा कि आज की बैठक में कोई नतीजा नहीं निकल पाया। उन्‍होंने कहा कि अगले दौर की बैठक 19 जनवरी को होगी।


तीनों कानून जिसमें दो नए हैं एक संशोधित है उनके बारे में चर्चा हुई और आवश्‍यक वस्‍तु अधिनियम के संशोधन पर विस्‍तार से चर्चा हुई। चर्चा में उन्‍होंने अपना मत व्‍यक्‍त किया और हमारे मंत्री जी ने विस्‍तार से उस एक्‍ट को सभी यूनियन के साथ रखा और उनकी जो शंकाएं हैं उनका समाधान करने की कोशिश की। लेकिन चर्चा निर्णायक मोड़ पर नहीं पहुंच पाई है और उसके बाद यूनियन और सरकार दोनों ने मिलकर ये तय किया कि 19 जनवरी को दोपहर 12 बजे पुन: चर्चा करेंगे। मुझे आशा है कि जो चर्चा आज हुई है, यूनियन्‍स उस चर्चा को आगे बढ़ाने का प्रयत्‍न करेंगी। हमने उनको यह भी कहा है कि वो चाहें तो अपने बीच में एक अनौपचारिक समूह बना लें, जो लोग ठीक प्रकार से कानून पर बात कर सकते हैं। जिसपर डिस्‍कस करके वो कुछ मसौदा बनाकर अगर सरकार को दें, तो सरकार उसपर खुले मन से विचार करने को तैयार है।


कृषि मंत्री ने बताया कि आज की वार्ता सद्भावपूर्ण माहौल में हुई। उन्‍होंने इस मुद्दे पर जल्‍द ही आम सहमति बनने की आशा व्‍यक्‍त की। उन्‍होंने शीतलहर की स्थिति में भी धरना प्रदर्शन कर रहे किसानों के प्रति चिंता व्‍यक्‍त की।


एक सवाल के जवाब में श्री तोमर ने कहा कि सरकार उच्‍चतम न्‍यायालय द्वारा गठित समिति के समक्ष अपना पक्ष रखेगी, अगर इस संबंध में उससे पूछा जाता है।


सुप्रीम कोर्ट ने जो निर्णय दिया है, उस निर्णय का भारत सरकार स्‍वागत करती है। सुप्रीम कोर्ट ने जो कमेटी मध्‍यस्‍थता के लिए और सुनने के लिए बनाई है वह कमेटी जब भारत सरकार को बुलाएगी, तो हम उस कमेटी के समक्ष भी अपना पक्ष प्रस्‍तुत करेंगे और अपनी बात निश्चित रूप से रखेंगे।


उच्‍चतम न्‍यायालय ने मंगलवार को इन तीनों कृषि कानून को अगले आदेश तक स्‍थगित करने का निर्देश दिया था। न्‍यायालय ने किसानों की शिकायतों को सुनने और सरकार की राय जानने के लिए एक समिति गठित करने का भी आदेश दिया।


इस बीच, उच्‍चतम न्‍यायालय द्वारा गठित चार सदस्‍यीय समिति में शामिल एक सदस्‍य भूपिन्‍दर सिंह मान ने अपना नाम वापस ले लिया है।

-----------------------------

प्रधानमंत्री की कौशल विकास योजना का तीसरा चरण आज देश के छह सौ जिलों में शुरु हुआ। कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय के नेतृत्व में चलाए जा रहे इस चरण में नए ज़माने के कौशलों के साथ साथ कोविड से संबंधित कौशलों पर भी ध्यान केंद्रित किया जाएगा।


कौशल विकास मंत्री डॉक्टर महेंद्र नाथ पांडेय ने कौशल विकास केंद्रों के विभिन्न प्रशिक्षणार्थियों के साथ वीडियो कांफ्रेंस के जरिए बातचीत की। स्किल इंडिया मिशन के चौथे चरण में 2020-21 के दौरान नौ सौ उनचास करोड़ रुपये की लागत से आठ लाख उम्मीदवारों को प्रशिक्षित करने का लक्ष्य रखा गया है।


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2015 में स्किल इंडिया कार्यक्रम की शुरुआत की थी। पिछले दो चरणों के अनुभवों के आधार पर अब तीसरे चरण की शुरुआत की है, जिसका उद्देश्य भारत को दुनिया में कौशलों का मुख्य केंद्र बनाना है।

-----------------------------

केंद्र शासित प्रदेश जम्मू कश्मीर में, कौशल विकास विभाग के प्रधान सचिव डॉक्‍टर असगर सामून ने आज जम्मू में सरकारी पॉलिटेक्निक द्वारा आयोजित एक मेगा रोजगार मेले का उद्घाटन किया।


हमारे संवाददाता ने बताया कि इस रोजगार मेले में पॉलिटेक्निक, आईटीआई के एक हजार दो सौ से अधिक छात्रों ने भाग लिया।  पॉलिटेक्निक डिप्लोमा और आईटीआई के छात्रों को रोजगार देने के लिए लगभग 35 बहुराष्‍ट्रीय कम्‍पनियां, राष्‍ट्रीय कम्‍पनिया और स्थानीय उद्योगों ने भाग लिया। डॉक्‍टर सामून ने कोविड महामारी के दौरान मेले का आयोजन करने के लिए पॉलिटेक्निक कॉलेज के प्रशासन के प्रयासों की सराहना की। उन्होंने कहा कि इस तरह के आयोजनों से उम्मीदवारों को उनकी क्षमता और शैक्षिक योग्यता के आधार पर रोजगार उपलब्ध कराने से बेरोजगारी की समस्‍या को दूर करने में मदद मिलती है।


इस मेले को आयोजित करने का उद्देश्‍य 35 विभिन्‍न बहुराष्ट्रीय, राष्ट्रीय और स्थानीय कंपनियों में पॉलिटेक्निक और आईटीआई के छात्रों को रोजगार के अवसर प्रदान करना है।

-----------------------------

दो दिन का स्टार्ट-अप इंडिया इंटरनेशनल सम्‍मेलन-प्रारम्भ आज से नई दिल्ली में शुरू हुआ। उद्घाटन समारोह में बिमस्‍टेक देशों के सदस्यों ने भाग लिया। आंतरिक व्यापार और उद्योग संवर्द्धन विभाग ने इस शिखर सम्मेलन का आयोजन किया है।


शिखर सम्मेलन का उद्घाटन करते हुए वाणिज्य और उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि इसका उद्देश्‍य पडोसी देशों के लिए - नेबरहुड फर्स्ट पॉलिसी है जिससे सदस्य देशों के बीच साझेदारी को बढ़ावा मिलेगा। उन्होंने आशा व्यक्त की कि इससे एक नई शुरूआत होगी, जिससे स्टार्ट-अप से जुडे विभिन्न पहलुओं को प्रदर्शित किया जा सकेगा। उन्होंने कहा कि भारतीय स्टार्ट-अप इको-सिस्टम ने स्टार्ट-अप इंडिया की शुरुआत के बाद से पिछले पांच वर्षों में काफी प्रगति की है। श्री गोयल ने कहा कि बिमस्‍टेक देशों के बीच साझेदारी सामान्‍य रूप से नया भारत, नया विश्‍व, नए पड़ोस की अवधारणा को आगे ले जाएगी।

-----------------------------

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 17 जनवरी को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्‍यम से देश के विभिन्न क्षेत्रों को केवडिया से जोड़ने वाली आठ रेलगाडियों को रवाना करेंगे। ये रेलगाडियां स्टैच्यू ऑफ यूनिटी से सीधे सम्‍पर्क सुविधा प्रदान करेंगी। इस दौरान प्रधानमंत्री गुजरात में रेलवे क्षेत्र से संबंधित कई अन्य परियोजनाओं का भी उद्घाटन करेंगे।

-----------------------------

आज 73वां सेना दिवस मनाया गया। दिल्‍ली कैंट के करियप्‍पा मैदान में आज सेना दिवस का आयोजन किया गया। इससे पहले, सेना प्रमुख मनोज मुकुंद नरवणे ने करियप्‍पा मैदान में शानदार परेड का निरीक्षण किया। सेना ने इस अवसर पर विभिन्‍न किस्‍म के टैंक और मिसाइल प्रणालियों का भी प्रदर्शन किया। भारतीय सेना ने पहली बार परेड में लड़ाकू स्‍वार्म ड्रोन प्रदर्शित किया। 10 पैरा विशेष बल इकाई के नायक संदीप को जम्‍मू कश्‍मीर में अपने स्‍क्‍वाड कमांडर की जान बचाने और दो आतंकवादियों को मार गिराने के लिए मरणोपरांत सेना मैडल से सम्‍मानित किया गया।

-----------------------------

भारत-नेपाल संयुक्‍त आयोग की छठी बैठक आज नई दिल्‍ली में आयोजित हुई जिसकी अध्‍यक्षता विदेश मंत्री डॉक्‍टर एस. जयशंकर और नेपाल के विदेश मंत्री प्रदीप कुमार ग्‍यावली ने संयुक्‍त रूप से की। बैठक में दोनों देशों के बीच बहुउद्देशीय सहयोग के सभी पहलुओं और मैत्रीपूर्ण संबंधों को प्रगाढ बनाने की रूपरेखा पर विस्‍तार से चर्चा की गई। दोनों पक्षों ने संपर्क, अर्थव्‍यवस्‍था, व्‍यापार, तेल और गैस, जल-संसाधन, राजनीतिक और सुरक्षा के क्षेत्र में सहयोग बढाने के मुद्दे पर भी चर्चा की।


विदेश मंत्रालय ने बताया कि क्षेत्र में कोविड महामारी से लडने में दोनों देशों के बीच हुए सहयोग पर भी चर्चा की गई।


नेपाल के विदेश मंत्री ने कोरोना पर काबू पाने के लिए भारत द्वारा तैयार टीके - कोविशील्‍ड और कोवैक्‍सीन की सराहना की और इन टीकों को नेपाल को दिए जाने का आग्रह किया।


बिहार के मोतिहारी-अमलेखगंज पेट्रोलियम पाइपलाइन का उल्‍लेख करते हुए दोनों पक्षों ने पाइपलाइन का विस्‍तार चितवन तक करने पर भी चर्चा की।


दोनों पक्षों ने भारत के जयनगर से नेपाल में जनकपुर के रास्‍ते कुरथा तक रेल लाइन का काम पूरा होने का स्‍वागत किया। संयुक्‍त आयोग ने सीमा पर नागरिकों और माल की आवाजाही को सुगम बनाने पर भी जोर दिया।

-----------------------------

51वां भारतीय अंतरराष्‍ट्रीय फिल्‍म समारोह कल से गोआ में शुरु हो रहा है। समारोह में भारत की 19 फिल्‍मी हस्तियों के साथ-साथ अंतरराष्ट्रीय फिल्म जगत की नौ हस्तियों की फिल्‍में प्रदर्शित की जायेंगी, जिनका पिछले वर्ष निधन हुआ था। कोरोना महामारी की वजह से हाईब्रिड फॉर्मेर्ट में आयोजित किए जा रहे इस समारोह में कुल 224 फिल्में दिखाई जायेंगी और यह 24 जनवरी को सम्पन्न होगा।


भारतीय अंतरराष्‍ट्रीय फिल्‍म समारोह में इरफान खान, सुशांत सिंह राजपूत, ऋषिकपूर और हॉलीवुड सितारे चैडविक बोसमैन और सौमित्र चाटर्जी की फिल्‍में प्रदर्शित कर उन्‍हें श्रद्धांजलि अर्पित की जायेगी। इन फिल्‍मी हस्तियों की बॉबी, पान सिंह तोमर, केदारनाथ, चारुलता और फोर्टी टू जैसी फिल्‍में दिखाई जायेंगी।


विदेशी फिल्‍मों में अभिनेता किर्क डगलस, ओलिविया डी हैवीलैंड, मैक्‍स वॉन सायडो, फिल्‍म निर्देशक एलेन पार्कर, इवान पासर, गोरान पास्कालजेविक, सिनेमेटोग्राफर एलेन डेवियू और संगीतकार इनियो मोरिकोम की फिल्‍में दिखाई जायेंगी।

-----------------------------

ब्रिसबेन में भारत के साथ चौथे और अंतिम क्रिकेट टेस्‍ट मैच के पहले दिन ऑस्‍ट्रेलिया ने पहली पारी में 5 विकेट पर 274 रन बनाए। कैमरन ग्रीन  28  और कप्‍तान टिम पेन 38 रन बनाकर क्रीज पर हैं। भारत की ओर से अपना पहला मैच खेल रहे टी नटराजन ने दो और वॉशिंगटन सुंदर ने एक विकेट लिया। वहीं मोहम्मद सिराज और शार्दूल ठाकुर ने भी एक-एक विकेट लिया। इससे पहले ऑस्‍ट्रेलिया ने आज टॉस जीतकर बल्‍लेबाजी करने का फैसला किया।

-----------------------------

संसद का बजट सत्र 29 जनवरी से शुरू होगा। राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा दोनों सदनों की संयुक्‍त बैठक के सम्‍बोधन के साथ बजट सत्र की शुरूआत होगी। पहली फरवरी को केन्‍द्रीय बजट पेश किया जायेगा।


मंत्रालयों और विभागों की अनुदान मांगों पर विचार करने संबंधी स्‍थायी समितियों द्वारा उनकी रिर्पोटों की तैयारी के मद्देनजर संसद की कार्यवाही पन्‍द्रह फरवरी को स्‍थगित हो जायेगी। बजट सत्र का दूसरा भाग आठ मार्च को शुरू होगा।

-----------------------------

तमिलनाडु में आज संत कवि तिरू वल्लुवर की जयन्ती तिरू वल्लुवर दिवस के रूप में मनाई जा रही है। उनकी महान कृति तिरुक्कुरल दुनियाभर में प्रसिद्ध है। तिरू वल्लुवर दिवस तमिल महीने थाई के दूसरे दिन मनाया जाता है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने तिरू वल्लुवर दिवस के अवसर पर उन्हें श्रद्धासुमन अर्पित किए।


प्रधानमंत्री मोदी ने अपनी लद्दाख यात्रा के दौरान इस महान तमिल संत कवि की कृतियों को उद्धृत किया था। 


महान संत तिरुवल्लुवर जी ने सैकड़ों वर्ष पूर्व कहा था कि मारामाणम मांड वणिच्‍येला तेतो येना नानगे, येमम पडाईकाह यानी  शौर्य, सम्‍मान, मर्यादापूर्ण व्‍यवहार की परंपरा और विश्‍वसनीयता; चार गुण किसी भी देश की सेना का प्रतिबिम्‍ब होते हैं। भारत की सेनाएं हमेशा से इसी मार्ग पर चली है।

-----------------------------

जनजातीय मामलों के मंत्रालय को ई-गवर्नेंस के लिए स्‍कॉच चैलेंजर पुरस्कार देने की घोषणा की गई है। विभाग के मंत्री अर्जुन मुंडा कल इस पुरस्‍कार को स्‍वीकार करेंगे। मंत्रालय को यह पुरस्कार आईटी-नीत की पहल और दूसरे परिवर्तनकारी कार्यों के लिए दिया गया है। इन परिवर्तनों से मंत्रालय में कार्यकुशलता में सुधार हुआ है।


मंत्रालय में हाल ही में कई बदलाव करते हुए कार्यालय में कागज-रहित और सभी प्रक्रियाओं को डिजिटल कर दिया है। मंत्रालय में सार्वजनिक जानकारी के लिए जनजातीय संबंधित डेटा भी उपलब्ध कराया है।


श्री अर्जुन मुंडा ने कहा है कि मंत्रालय ने नीति निर्माण और कार्य करने के दृष्टिकोण में एक प्रभावशाली बदलाव किया है। उन्होंने कहा कि सरकार साक्ष्य आधारित नीति बनाना चाहती है, जो यथार्थवादी होगी और आदिवासियों की समस्‍याओं का समाधान जमीनी स्‍तर पर किया जायेगा।

-----------------------------

Live Twitter Feed

Listen News

Morning News 4 (Mar) Midday News 4 (Mar) Evening News 4 (Mar) Hourly 5 (Mar) (0610hrs)
समाचार प्रभात 4 (Mar) दोपहर समाचार 4 (Mar) समाचार संध्या 4 (Mar) प्रति घंटा समाचार 5 (Mar) (0600hrs)
Khabarnama (Mor) 4 (Mar) Khabrein(Day) 4 (Mar) Khabrein(Eve) 3 (Mar)
Aaj Savere 4 (Mar) Parikrama 4 (Mar)

Listen Programs

Market Mantra 4 (Mar) Samayki 1 (Jan) Sports Scan 4 (Mar) Spotlight/News Analysis 4 (Mar) Employment News 4 (Mar) रोजगार समाचार 4 (Mar) World News 4 (Mar) Samachar Darshan 22 (Mar) Radio Newsreel 21 (Mar)
    Public Speak

    Country wide 12 (Mar) Surkhiyon Mein 4 (Mar) Charcha Ka Vishai Ha 11 (Mar) Vaad-Samvaad 17 (Mar) Money Talk 17 (Mar) Current Affairs 6 (Mar) Sanskrit Saptahiki 27 (Feb) North East Diary 4 (Mar)