A- A A+
Last Updated : Jan 17 2021 10:12PM     Screen Reader Access
News Highlights
Connectivity through 8 new special trains to Kevadiya will give a boost to tourism, job opportunities: PM            Home Minister reiterates govt's commitment to national security, self reliance & social welfare            Country's Covid-19 recovery rate reaches 96.58 per cent            Sporting facilities to be named after renowned athletes: Kiren Rijiju            Australia lead India by 54 runs at stumps on day three           

Text Bulletins Details


समाचार संध्या

2000 HRS
13.01.2021
मुख्य समाचार :-

  • प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने कहा- प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना परिश्रमी किसानों को प्राकृतिक आपदाओं से सुरक्षित रखने के लिए महत्‍वपूर्ण पहल है।

  • कृषि मंत्री नरेन्‍द्र सिंह तोमर ने कहा - इस योजना के तहत किसानों को पिछले पांच वर्षों में 90 हजार करोड रूपए वितरित किए गए।

  • सरकार ने भारतीय वायुसेना के लिए हिन्‍दुस्‍तान एरोनॉटिक्‍स लिमिटेड से लगभग 48 हजार करोड रूपए के 83 हल्‍के लडाकू विमान तेजस की खरीद को मंजूरी दी।

  • देश में कोविड से स्‍वस्‍थ होने की दर 96 दशमलव पांच-एक प्रतिशत हुई।

  • फसल की कटाई के पर्व देशभर में हर्षोल्‍लास से मनाए जा रहे हैं।

--------

कोविड महामारी के खिलाफ देश एकजुट होकर लड़ रहा है। आप भी हमारे साथ सुरक्षा और बचाव के तीन आसान एहतियाती उपायों का संकल्‍प लें।


मास्‍क पहनें

दो गज दूरी, है जरूरी।


सुरक्षित दूरी बनाए रखें।


हाथ और मुंह साफ रखें।

--------

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना परिश्रमी किसानों के लिए एक महत्वपूर्ण पहल है जो उन्‍हें प्राकृतिक आपदाओं से सुरक्षा प्रदान करती है। योजना के पांच साल पूरे होने पर सभी लाभार्थियों को बधाई देते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि इस योजना के अन्‍तर्गत कवरेज में वृद्धि किए जाने के साथ ही जोखिम को कम किया गया है, जिससे देश के करोड़ों किसानों को फायदा मिला है।

--------

फसल बीमा योजना के तहत किसानों की हिस्सेदारी से अधिक की प्रीमियम लागत केन्द्र और राज्य सरकार वहन करती हैं। कृषि मंत्रालय ने कहा है कि इस योजना से पहले प्रति हेक्टेयर बीमा की औसत राशि 15 हजार एक सौ रुपये थी, जिसे प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत बढ़ाकर 40 हजार सात सौ रुपये कर दिया गया है।


पिछले वर्ष फरवरी में प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में और सुधार किया गया और इस योजना को सभी किसानों के लिए स्‍वैच्छिक बना दिया गया। राज्‍यों के लिए बीमा राशि को तर्कसंगत बनाने के लिए इस योजना को और सरल बनाया गया, ताकि किसानों द्वारा पर्याप्‍त लाभ उठाया जा सके। अब तक 90 हज़ार करोड़ रुपये के दावों का भुगतान किया जा चुका है। आधार सीडिंग ने भी किसानों के खातों में सीधे दावा निपटान में तेजी लाने में मदद की है। वहीं कोविड-19 लॉकडाउन के दौरान इस योजना से 70 लाख किसानों को लाभ हुआ और आठ हज़ार 741 करोड़ रुपये से अधिक की राशि लाभार्थियों को हस्‍तांतरित की गई। मोहम्‍मद नसीम नकवी के साथ आनंद कुमार, आकाशवाणी समाचार, दिल्‍ली।

--------

कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के बारे में जागरूकता बढ़ाने की आवश्यकता पर जोर दिया है ताकि अधिकांश किसान योजना का लाभ उठा सकें। श्री तोमर ने कहा कि पिछले पांच वर्ष में 90 हजार करोड़ रुपये किसानों में बांटे जा चुके हैं।


श्री तोमर ने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के पांच साल पूरे होने के अवसर पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से देशभर के हितधारकों के साथ बातचीत के दौरान यह बात कही।


राज्‍यों को ये चाहिए कि जो कंपनियां टेंडर में पार्टिसिपेट कर रही हैं, उनके साथ बैठकर हर किसान बीमा योजना के सम्‍पर्क में आवे उसकी तरफ आकर्षित होवे। इस दृष्टि में निश्चित रोड़मैप में हमको कंपनियों के साथ मिलकर बनाना चाहिए। उसे होनी चाहिए कि फसल बीमा योजना के प्रति हर व्‍यक्ति जागरूक रहें।


कृषि मंत्री ने कहा कि यह योजना प्राकृतिक जोखिमों के कारण होने वाले नुकसान के खिलाफ पूर्ण फसल चक्र को कवर करती है।


प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना ये किसानों के लिए प्रतिकूल प्रत्‍येक परिस्थितियों में एक बड़ा सुरक्षा कवच है, जिसका लाभ देशभर में किसानों को मिल रहा है। क्रॉप इंश्‍योरेंस ऐप के माध्‍यम से यह सुविधा किसानों को प्रदान की गई हैं कि वो अपनी स्थिति को कभी भी देख सकें, जांच सकें, किसानों के भुगतान ठीक समय पर हो सकें। राज्‍यों का केन्‍द्र का काम कम हो सकें और ईमानदारी से पूरे पारदर्शी ढंग से उनके नुकसान का मूल्‍यांकन किया जा सकें। इसके लिए सैटेलाइट का उपयोग भी करना प्रारंभ किया है। उसके भी एक अच्‍छे परिणाम आज हम सब लोगों के सामने आ रहे है।


श्री तोमर ने कहा कि कोविड-19 लॉकडाउन के दौरान भी यह योजना पूरी तरह से लागू थी। इस दौरान देशभर में लगभग 70 लाख किसानों के आठ हजार 741 करोड़ रुपये के दावों का निपटारा किया गया।


कृषि मंत्री ने कहा कि इस योजना के अंतर्गत अब तक 29 करोड़ से अधिक किसानों ने अपनी फसलों का बीमा कराया। उन्होंने बताया कि हर वर्ष लगभग साढ़े पांच करोड़ नए किसान फसल बीमा के लिए अपना पंजीकरण करा रहे हैं।


कृषि मंत्री ने देशभर में योजना के सफल कार्यान्वयन के लिए राज्य सरकारों, बैंकों और बीमा कंपनियों को भी बधाई दी। उन्होंने कुछ उल्लेखनीय उदाहरणों का हवाला दिया जहां यह योजना किसानों के हितों की रक्षा करने में सक्षम रही। आंध्र प्रदेश और कर्नाटक में सूखे के दौरान दावों का निपटारा किया गया और हरियाणा में ओलावृष्टि तथा 2019 में राजस्थान में टिड्डी हमले के दौरान भी किसानों के हितों का संरक्षण किया गया।

--------

सरकार ने भारतीय वायुसेना के लिए हिन्‍दुस्‍तान एरोनॉटिक्‍स लिमिटेड से लगभग 48 हजार करोड़ रूपये की लागत के 83 हल्‍के लड़ाकू विमान तेजस की खरीद करने की मंजूरी दे दी है। प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी की अध्‍यक्षता में सुरक्षा से संबंधित मंत्रिमंडलीय समिति की आज नई दिल्‍ली में बैठक हुई।


रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने ट्वीट में कहा है कि इस सौदे से भारतीय रक्षा साजो सामान विनिर्माण के क्षेत्र में आत्‍मनिर्भरता के लिए बड़ा सकारात्मक परिवर्तन होगा। उन्‍होंने यह भी कहा कि तेजस में इस्‍तेमाल किए गये साजो सामान अत्याधुनिक हैं जो इससे पहले भारत में इस्‍तेमाल नहीं किए गये थे।


रक्षा मंत्री ने कहा कि हिन्‍दुस्‍तान एरोनॉटिक्‍स लिमिटेड ने नाशिक और बंगलुरू में लड़ाकू विमान निर्माण की नई सुविधाएं दी है। इन नई सुविधाओं से लैस होकर हिन्‍दुस्‍तान एनोनॉटिक्‍स लिमिटेड भारतीय वायुसेना को हल्‍के लड़ाकू विमान - एम के वन ए का उत्‍पादन किया जायेगा और इसे समय पर भारतीय वायुसेना को उपलब्‍ध करा दिया जायेगा। श्री सिंह ने यह भी बताया कि आज लिए गये निर्णय से हल्‍के लड़ाकू विमान इको सिस्‍टम विस्‍तार और रोजगार के नये अवसर उपलब्‍ध कराने में सहायक सिद्ध होगा।


आत्‍मनिर्भर भारत अभियान के तहत भारत रक्षा क्षेत्र में स्‍वदेशी डिजाइन, विनिर्माण के क्षेत्र में आधुनिक प्रौद्योगिकी के विकास में शक्तिशाली बन रहा है। हिन्‍दुस्‍तान एरोनॉटिक्‍स लिमिटेड द्वारा हल्‍के लड़ाकू विमान के निर्माण आत्‍मनिर्भर भारत पहल और तेज होगा तथा स्‍वदेशी रक्षा उत्‍पादन और रक्षा उपयोग को बढ़ावा मिलेगा। हिन्‍दुस्‍तान एरोनॉटिक्‍स लिमिटेड कंपनी द्वारा तैयार किए जाने वाले तेजस लड़ाकू विमान की खरीदारी से उससे संबद्ध लगभग पांच सौ कंपनियों और उनके सहायक सूक्ष्‍म लघु और मध्‍यम उद्यमियों को रोजगार मिलेगा।

--------

राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र और केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड सीबीएसई द्वारा छात्रों और इंजीनियरिंग ग्राफिक्स पाठ्यक्रम के संकाय के लिए सम्पूर्ण इंजीनियरिंग समाधान उपलब्ध कराने के लिए कोलैबकैड सॉफ्टवेयर कल शुरू किया जाएगा। इस पहल का उद्देश्य पूरे देश में छात्रों को रचनात्मकता और कल्पना के मुक्त प्रवाह के साथ थ्री-डी डिजिटल डिजाइन बनाने और संशोधित करने के लिए एक मंच प्रदान करना है। यह सॉफ्टवेयर छात्रों को पूरे नेटवर्क में डिजाइन पर सहयोग करने, भंडारण और विज़ुअलाइज़ेशन के लिए समान डिज़ाइन डेटा तक पहुंचने में मदद करेगा। नेशनल इन्फॉर्मेटिक्स सेंटर, सीबीएसई और अटल इनोवेशन मिशन संयुक्त रूप से कोलाब थ्री-डी मॉडलिंग पर एक व्यापक ई-पुस्तक का विमोचन करेंगे। इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी मंत्रालय ने कहा है कि कोलैबकैड सॉफ्टवेयर को समझने और उपयोग करने के लिए छात्रों और पेशेवरों का मार्गदर्शन करेगा।

--------

प्रसार भारती ने स्पष्ट किया है कि देश में आकाशवाणी का कोई भी केन्‍द्र बंद नहीं किया जा रहा है। इस संबंध में भ्रामक खबरों को गंभीरता से लेते हुए प्रसार भारती ने स्पष्ट किया है कि ये खबरें आधारहीन और गलत हैं।


प्रसार भारती ने यह भी स्‍पष्‍ट किया है कि किसी भी आकाशवाणी केन्‍द्र का स्‍तर कम या उसे परिवर्तित नहीं किया जा रहा है। आकाशवाणी केन्‍द्र स्थानीय प्रतिभाओं को बढ़ावा देने के लिए भाषाई, सामाजिक-सांस्कृतिक और जनसांख्यिकीय विविधता के अनुरूप स्थानीय कार्यक्रमों का प्रसारण जारी रखेंगे।


प्रसार भारती ने कहा है कि वह 2021-2022 के दौरान आकाशवाणी नेटवर्क को मजबूत करने की अपनी योजना के तहत देश भर में सौ से अधिक नए एफएम रेडियो ट्रांसमीटर लगाएगा।


प्रसार भारती देश में डिजिटल टेरेस्ट्रीअल रेडियो शुरू करने की योजना पर भी काम कर रहा है। कई शहरों और क्षेत्रों में प्रायोगिक आधार पर इस तकनीक के माध्यम से श्रोताओं को आकाशवाणी के कुछ चुनिंदा चैनल उपलब्ध कराए गए हैं। प्रसार भारती द्वारा एफएम रेडियो के लिए डिजिटल प्रौद्योगिकी विकल्पों के परीक्षण अंतिम चरण में है। देश में डिजिटल एफएम रेडियो प्रसारण के मानकों को शीघ्र ही अंतिम रूप दिया जाएगा।

--------

कर्नाटक में आज मंत्रिमंडल का विस्तार किया गया, जिसमें सात नए मंत्रियों को जगह मिली। राज्यपाल वजूभाई वाला ने राजभवन में आयोजित एक समारोह में मंत्रियों को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। नए मंत्रियों में उमेश कट्टी, एस. अंगारा, मुरुगेश निरानी, अरविंद लिम्बावली के अलावा विधान परिषद सदस्य आर. शंकर, एमटीबी नागराज तथा सीपी. योगेश्वर शामिल हैं।


मुख्यमंत्री बी.एस. येदियुरप्पा जी और मंत्रिमंडल के अन्‍य सदस्‍य आज समारोह में मौजूद थे। उनके अलावा बीजेपी राष्‍ट्रीय जनरल सैक्रेटरी और कर्नाटक के प्रभारी अरुण सिंह और राज्य बीजेपी अध्यक्ष नलिन कुमार पटेल भी मौजूद थे। येदियुरप्पा जी, जुलाई 2019 में मुख्‍यमंत्री बनने के बाद यह तीसरी बार मंत्रिमंडल का विस्तार हुआ है। 17 महीने पुराने मंत्रिमंडल की सभी 34 स्‍थान भर चुके हैं। उमेश कट्टी बेलगावी से आठ बार के विधायक हैं। निरानी और लिंबावली बीजेपी राज्‍य वाइस प्रैजीडेंट हैं और मंत्री रह चुके हैं। अंगारा सुलिया से छह बार जीते हैं। सुधींद्रा, आकाशवाणी समाचार, बेंगलुरु।

--------

केंद्रीय अन्‍वेषण ब्यूरो- सीबीआई ने बेंगलुरू स्थित निजी कंपनी और अन्य कम्‍पनियों के खिलाफ दो सौ करोड़ रुपये से अधिक का कथित नुकसान पहुंचाने का मामला दर्ज किया है। यह मामला 2017-2019 की अवधि के दौरान बेंगलुरू स्थित ऋण लेने वाली कम्‍पनि‍यों ने भारतीय बैंक और ई-विजया बैंक से मिलकर कंसोर्टियम लेंडिंग के तहत ऋण सुविधाओं का लाभ उठाकर बैंकों को धोखा दिया था। आरोप लगाया गया कि बैंकों से उच्च कार्यशील पूंजी की सीमा का लाभ उठाने के लिए, ऋण लेने वाली कम्‍पनियों ने अपना टर्नओवर बढ़ा कर बैंकों में गलत विवरण प्रस्तुत किया और बैंकों के धन को निकाल लिया।


आज इन आरोपियों के आवासीय और आधिकारिक परिसरों पर बेंगलुरू और शूलगिरी, कृष्णागिरि जिला, तमिलनाडु में तलाशी ली गई। इस तालाशी के दौरान कई दस्तावेजों में हेराफेरी करने के सबूत मिले हैं।

--------

केरल देश का आठवां राज्‍य बन गया है जिसने वित्‍त मंत्रालय द्वारा व्‍यापार सुगमता से जुडे सुधारों को सफलतापूर्वक लागू किया है। इसके साथ ही राज्‍य ने खुले बाजार से कर्ज लेने के लिए दो हजार 373 करोड रूपये के अतिरिक्‍त संसाधनों की व्‍यवस्‍था की है। केरल के अलावा सात अन्‍य राज्‍यों-आंध्रप्रदेश, कर्नाटक, मध्‍यप्रदेश, ओडिशा, राजस्‍थान, तमिलनाडु और तेलंगाना ने भी इन सुधारों को लागू कर दिया है।

--------

स्मार्ट जलापूर्ति माप और निगरानी प्रणाली के विकास के लिए आईसीटी ग्रांड चैलेंज शुरू किया गया है। इसे राष्ट्रीय जल जीवन मिशन द्वारा इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के साथ साझेदारी में 15 सितंबर, 2020 को लागू किया गया था। वर्तमान में, चयनित 10 आवेदक प्रोटोटाइपों का विकास कर रहे हैं। इस काम का मूल्यांकन जनवरी के अंतिम सप्ताह में किया जाएगा। बाद में उत्पाद विकास के लिए सर्वश्रेष्ठ चार तकनीकी-आर्थिक रूप से सक्षम प्रोटोटाइपों का चयन किया जाएगा।

--------

देश में कोविड महामारी से स्‍वस्‍थ होने की दर बढ़कर 96 दशमलव पांच-एक प्रतिशत हो गई है। पिछले 24 घंटे में 17 हजार 817 रोगी स्‍वस्‍थ हुए हैं। इसके साथ ही स्‍वस्‍थ होने वालों की कुल संख्‍या एक करोड़ एक लाख 29 हजार से अधिक हो गई है। इस समय केवल दो लाख 14 हजार 507 मरीजों का इलाज चल रहा है।


पिछले 24 घंटे के दौरान कोविड के 15 हजार 968 नये मरीजों की पुष्टि हुई है। देश में अब तक इस संक्रमण की चपेट में आये लोगों की कुल संख्‍या करीब एक करोड़ पांच लाख हो गई है। पिछले 24 घंटे में देशभर में कोविड से 202 लोगों की मृत्यु हुई हैं। अब तक एक लाख 51 हजार 529 लोगों की इस संक्रमण से मौत हो चुकी है।


भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद- आई.सी.एम.आर. के अनुसार पिछले 24 घंटे में आठ लाख 36 हजार से अधिक कोविड नमूनों की जांच की गई है। देशभर में अब तक 18 करोड 34 लाख से अधिक कोरोना नमूनों की जांच की जा चुकी है।

--------

स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने आज स्‍पष्‍ट किया है कि कोविड वैक्‍सीन खुराक के आवंटन में किसी भी राज्‍य के साथ भेदभाव करने का सवाल ही नहीं है। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने अपने कई ट्वीट में कहा है कि सभी राज्‍यों और केन्‍द्रशासित प्रदेशों को उनके स्‍वास्‍थ्‍यकर्मियों की संख्‍या के अनुरूप कोविशील्‍ड और कोवैक्सिन टीके आवंटित किए गये हैं। इनमें कहा गया है कि वैक्‍सीन खुराक की ये शुरूआती आपूर्ति है और आने वाले सप्‍ताहों में आवश्‍यकतानुसार टीके की और भी खुराक उपलब्‍ध करायी जायेगी। इसमें यह भी कहा गया है कि टीके की खुराक की आपूर्ति के बारे में जो संदेह व्‍यक्‍त किए जा रहे

हैं वह निराधार हैं।

मंत्रालय ने कहा है कि उसने राज्‍यों को सलाह दी है कि वे दस प्रतिशत आरक्षित या खुराक हानि को ध्‍यान में रखते हुए टीकाकरण अभियान शुरू करें। अभियान के दौरान प्रतिदिन लगभग सौ लोगों के टीकाकरण को सुनिश्चित बनायें। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने यह भी कहा है कि टीकाकरण कार्य में जल्‍दबाजी नहीं होनी चाहिए।

--------

भारत बायोटेक ने कहा है कि देश के 11 शहरों में कोवैक्सीन की खेप आज पहुंचा दी गई हैं। कम्पनी ने भारत सरकार को सोलह लाख 50 हजार खुराक उपलब्ध कराई हैं। भारत बायोटेक ने हैदराबाद में वक्तव्य में कोविड-19 के टीके के विकास में सहयोग करने वाले सभी लोगों, परीक्षण के लिए स्वयं को प्रस्तुत करने वाले व्यक्तियों तथा राष्ट्र के प्रति धन्यवाद व्‍यक्‍त किया है। कोवैक्सीन पूरी तरह देश में निर्मित कोविड टीका है, जिसे भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद, राष्ट्रीय वायरोलॉजी संस्थान और भारत बायोटेक के सहयोग से हैदराबाद में बनाया गया है।

--------

उत्तर प्रदेश में कोविड का टीका आज अधिकांश प्रमुख शहरों में पहुंच गया। इनमें कानपुर और प्रधानमंत्री का संसदीय क्षेत्र वाराणसी भी शामिल है। कल टीकों की खेप लखनऊ पहुंचने के बाद इसे विभिन्न स्थानों पर पहुंचाने के लिए कोल्ड चेन बनाई गई।


अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में 9 स्थानों पर वैक्सीन को भेजा जा रहा है और 16 जनवरी से लक्षित समूह को वैक्सीन लगाने का काम शुरू होगा। प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह ने कहा कि प्रदेश को 11 लाख वैक्सीन मिलनी है जिनमें से एक लाख 60 हजार वैक्सीन की पहली खेप कल पहुंच गई। इस बीच, एक लंबे अंतराल के बाद प्रदेश में 24 घंटे के भीतर मिलने वाले नए मरीजों की संख्या 500 से कम दर्ज की गई है। प्रदेश में इस समय 10 हजार 132 कोविड के मरीज हैं। राज्य में कोरोना से ठीक होने की दर भी बढ़ कर 96.86 फ़ीसदी हो गई है। सुशील चंद्र तिवारी, आकाशवाणी समाचार, लखनऊ।

--------

राजस्थान में कोविड टीकाकरण के पहले चरण की सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। हमारे संवाददाता ने बताया है कि आज वहां टीके की पांच लाख 63 हजार 500 खुराकें पहुंच गईं। इनमें से चार लाख 43 हजार 500 खुराकें कोविशील्ड वैक्सीन की हैं, जबकि बीस हजार टीके कोवैक्सीन के हैं।


स्वास्थ्य विभाग के निदेशक-आरसीएच डॉं. लक्षमण ओला ने बताया कि कल सुबह से सभी जिला मुख्यालयों पर वैक्सीन भेजने का काम शुरू हो जायेगा। उन्होंने बताया कि 16 जनवरी को 161 स्थानों पर टीकाकरण का काम शुरू होगा, जिसमें साढे चार लाख स्वास्थ्यकर्मियों को टीका लगाया जायेगा। इस बीच, राज्य में कोरोना के सक्रिय मामलों की संख्या 6 हजार से कम रह गयी है। आज संक्रमण के 373 नये मामले सामने आये हैं। पिछले कुछ दिनों से किसी भी जिले में एक दिन में 100 से ज्यादा केस रिपोर्ट नहीं हुए हैं। वहीं ज्यादातर जिलों में नये मामलों की संख्या 10 तक सीमित रही है। जितेन्द्र द्विवेदी, आकाशवाणी समाचार, जयपुर।

--------

मध्य प्रदेश में कोविशील्ड टीके की लगभग 94 हजार खुराकें आज भोपाल हवाई अड्डे पर पहुंचीं।


भोपाल में आज 94 हजार वैक्सीन प्राप्त हुई हैं। जिसे संभाग के 8 जिले बैतूल, भोपाल, हरदा, होशंगाबाद, रायसेन, राजगढ़, सीहोर और विदिशा भेजा गया है। प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने भोपाल आई कोरोना वैक्सीन के स्टोरेज और ट्रान्सपोर्ट प्रक्रिया का निरीक्षण किलोल पार्क स्थित स्टेट वैक्सीन स्टोर पर किया। गुरूवार को ग्वालियर में भी वैक्सीन उपलब्ध होगी। प्रथम चरण में लगभग 5 लाख 6 हजार से अधिक वैक्सीन प्राप्त हो रही हैं। पूजा पी. वर्धन, आकाशवाणी समाचार भोपाल।

--------

कर्नाटक को कोवैक्सीन की 20 हजार खेप जल्द ही मिलेंगी। स्वास्थ्य और चिकित्सा शिक्षा मंत्री डॉक्‍टर के. सुधाकर ने आज बेंगलुरु में पत्रकारों को बताया कि राज्य में पहली कोवि-शील्ड वैक्सीन की खेप के अलावा, कोवैक्सीन की खेप भी भेजी जा रही है। कर्नाटक में अगले दो महीने में 15 हजार सात सौ तीस केंद्रीय स्वास्थ्य कर्मचारियों, 7 लाख 75 हजार चार सौ राज्य स्वास्थ्य कर्मियों और दो हजार पांच सौ 80 सशस्त्र बल चिकित्सा कर्मियों को यह टीका लगाया जाएगा।

--------

सिक्किम में 16 जनवरी से शुरू होने वाले कोविड टीकाकरण के पहले चरण में केंद्रीय स्वास्थ्यकर्मियों को 180 और राज्य के स्वास्थ्यकर्मियों को दस हजार 650 टीके लगाए जाएंगे। सशस्त्र बलों की चिकित्सा सेवा में लगे एक हजार 290 लोगों को भी इसी चरण में टीके दिए जाएंगे।

--------

मणिपुर में कोविड टीके की पहली खेप के रूप में कोविशील्ड की 54 हजार खुराकें पहुंच गई हैं। मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री को मणिपुर के लोगों की जीवन रक्षा के लिए भेजे गए इस टीके के लिए धन्यवाद दिया। मुख्यमंत्री ने कहा कि आठ हजार चार सौ 76 स्वास्थ्य कर्मियों को पहले चरण में दस स्थानों पर टीका लगाया जाएगा।

--------

मिजोरम में, 14 हजार 421 स्वास्थ्य कर्मचारियों ने कोविड-19 टीकाकरण अभियान के पहले चरण के लिए पंजीकरण कराया है। कुल स्वास्थ्य कर्मचारियों में से 14 हजार 107 राज्य स्वास्थ्य कार्यकर्ता हैं और 314 केंद्रीय स्वास्थ्य कर्मचारी हैं।


कोविड-19 टीकाकरण के लिए राज्य के स्वास्थ्य सचिव एच. लालेंगमाविया ने कहा कि राज्य सरकार इस महीने की 16 तारीख से शुरू होने वाले टीकाकरण अभियान के पहले चरण के लिए तरह से तैयार है। वे टास्क फोर्स के अध्यक्ष भी हैं। मिजोरम में पहले से ही टीकाकरण के लिए राज्य, जिला और ब्लॉक स्तरों पर स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षण दिया जा चुका है।

--------

अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में कोविड वैक्सीन कोविशील्ड की पहली खेप पहुंच गई है। पोर्टब्लेयर स्थित जी.बी. पंत अस्पताल के केंद्रीय टीका भंडारण केंद्र में टीके को रखने के लिए व्यापक व्यवस्था की गई है। पहले चरण में चार हजार 687 स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लगाया जाएगा। टीकाकरण का काम पोर्ट ब्लेयर के दो स्थानों जी.बी. पंत अस्पताल और आयुष अस्पताल में किया जाएगा, बाद में अन्य छह स्थानों पर भी टीकाकरण होगा।

--------

देश में लॉकडाउन के समय से बंद केरल के सिनेमाघर 50 प्रतिशत क्षमता के साथ खोल दिये गये हैं।


इस बीच, राज्‍य सरकार ने फिल्‍म उद्योग को बढ़ावा देने के लिए जनवरी से मार्च तक मनोरंजन कर में छूट देने का निर्णय लिया है। कोविड महामारी के दौरान पिछले वर्ष मार्च से बिजली अधिभार में पचास प्रतिशत की छूट भी शामिल है।

--------

विश्व स्वास्थ्य संगठन का एक दल चीन में कोविड संक्रमण के नए मामले मिलने के बीच कल वुहान पहुंचेगा, जहां इस महामारी की शुरुआत के बारे में तथ्यों का पता लगाया जाएगा। हमारे पेइचिंग संवाददाता के अनुसार राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अधिकारियों ने आज पत्रकार वार्ता में बताया कि हेबेई प्रांत के केंद्र में स्थित वुहान पहुंचने पर दल के सदस्यों को क्वारंटीन किया जाएगा।


स्वास्थ्य मिशन ने बताया कि चीन के मध्य भाग में कल कोविड संक्रमण के 115 नए मामले मिले, जो कई महीनों बाद सबसे अधिक संख्या है। इनमें से 107 लोग स्थानीय तौर पर संक्रमित हुए हैं।


हीलोंगज्यांग प्रांत में आज कोविड-19 आपातकाल घोषित किया गया। सुइहुआ शहर के लगभग 52 लाख लोग लॉकडाउन का पालन कर रहे हैं।

--------

सरकार ने राज्यों को सलाह दी है कि बर्ड फ्लू के फैलाव को रोकने के लिए वे अपने इलाकों में कार्ययोजना 2021 के अनुसार प्रभावी कार्रवाई करें। मत्स्यपालन, पशुपालन और दुग्ध उत्पादन मंत्रालय ने आज एक बयान में कहा कि अब तक दस राज्यों में बर्ड फ्लू के मामलों की पुष्टि हो चुकी है। जम्मू-कश्मीर के गांदरबल और झारखंड के चार जिलों में पक्षियों की अस्वाभाविक मौत के मामले सामने आए हैं।


मंत्रालय ने कहा कि स्थिति से निपटने के लिए राज्यों से स्वास्थ्य विभाग और वन विभाग के साथ तालमेल बना कर काम करने को कहा गया है। मुर्गी फार्मों में विशेष ऐहतियात बरतने को कहा गया है ताकि यहां संक्रमण न फैले क्योंकि इससे मुर्गीपालकों को बहुत अधिक आर्थिक नुकसान की आशंका है। मंत्रालय ने कहा कि यह पता चला है कि बहुत से राज्यों में मुर्गियों और उनसे जुड़े उत्पादों के दूसरे राज्यों से आने पर रोक लगा दी है। मंत्रालय ने इस फैसले पर फिर से विचार करने का अनुरोध किया है, क्योंकि इससे मुर्गीपालन व्यवसाय पर विपरीत असर पड़ेगा।

--------

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने समाजसेवी और पद्मश्री डी. प्रकाश राव के निधन पर दुख व्यक्त किया है। एक ट्वीट में श्री मोदी ने कहा कि डी. प्रकाश राव द्वारा किया गया शानदार काम हमेशा लोगों को प्रेरित करेगा। उन्होंने कहा कि प्रकाश राव ने शिक्षा को सही मायने में सशक्तिकरण का महत्वपूर्ण माध्यम के रूप में देखा था। प्रधानमंत्री ने कुछ वर्ष पहले कटक में उनसे हुई मुलाकात को भी याद किया।


केन्‍द्रीय मंत्री धर्मेन्‍द्र प्रधान ने अपने शोक संदेश में कहा कि डी प्रकाश राव ने पिछड़ों और वंचितों के विकास के लिए बहुत काम किया। ओडिसा के राज्‍यपाल प्रेाफेसर गनेशी लाल, मुख्‍यमंत्री नवीन पटनायक और केन्‍द्रीय राज्‍यमंत्री प्रताप चन्‍द्र सारंगी ने भी डी प्रकाश राव के प्रति श्रृद्धांजलि अर्पित की है।

--------

समूचे देश में फसलों की कटाई का त्‍यौहार मनाया जा रहा है।


राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोहड़ी, मकर संक्रांति, पोंगल, भोगाली बिहू, उत्तरायण और पौष पर्व के अवसर पर देशवासियों को शुभकामनाएं दी हैं।


पंजाब में फसलों के त्योहार लोहड़ी के मौके पर उत्साह का माहौल है। नई फसल का स्वागत करने के लिए गन्ने के रस से बनी खीर का भी लोगों ने स्वाद लिया।


लोहड़ी में गन्ने के उत्पादों जैसे गुड़ और गजक के अलावा मूंगफली का भी सेवन किया जाता है।


शाम को शीतकाल को विदा देने के लिए अग्नि भी जलाई जाती है।


पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ में इस समय सब जगह लोहड़ी जलाई जा रही हैं। लोग पूरे उत्‍साह और जोश के साथ बंटवारे से पहले के पंजाब के इस त्‍यौहार को मौसमी के साथ-साथ अविभाजित पंजाब के त्योहार को बहुत उत्साह के साथ पूरे जोश के साथ मना रहे हैं। लोगों को ढोल की थाप पर नाचते देखा जा सकता हैं। भांगड़े की हर जगह धूम है। हर कोई गजक, रेवड़ी, मुंगफली और गुड़ से बने अन्य पदार्थों का आनंद ले रहा है, जो शाम को लोहड़ी जलाते समय पवित्र अग्नि को अर्पित किए गए। पंजाब में इस मौके पर मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने "धियां दी लोहड़ी" की शुरूआत की, जो पूरा सप्‍ताह तक चलेगी। इस मौके पर कई कार्यक्रमों का आयोजन भी किया गया। विभिन्न संस्थानों और अस्पतालों में लोहड़ी मनाई गई। छात्राओं और नवजात बच्चियों को तोहफे के रूप में लोहड़ी दी गईं। अश्विनी कुमार शर्मा, आकाशवाणी समाचार, चंडीगढ़।


तेलंगाना में मकरसंक्राति का उत्‍सव आज भोगी के परंपरागत आयोजन के साथ शुरू हुआ।


पुदुचेरी में चार दिवसीय यह पर्व तमिल माह थाए के आरंभ के अवसर पर मनाया जाता है।

--------

रक्षा मंत्रालय ने कहा है कि इस साल गणतंत्र दिवस परेड के सांस्कृतिक कार्यक्रम में 321 स्कूली बच्चे और 80 लोक कलाकार हिस्सा लेंगे। दिल्ली के चार स्कूलों के बच्चे और पूर्व क्षेत्रीय सांस्कृतिक केंद्र, कोलकाता के लोक कलाकार सांस्कृतिक कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे।


मंत्रालय ने कहा कि माउंट आबू पब्लिक स्कूल और विद्या भारती स्कूल, दिल्ली का विषय है- आत्मनिर्भर भारत-समर्थ भारत का दृष्टिकोण। गवर्नमेंट गर्ल्स सीनियर सेकेंडरी स्कूल, दिल्ली के छात्र जिस विषय पर एक कार्यक्रम प्रस्तुत करेंगे, वो है - हम फिट तो इंडिया फिट। इसके अलावा, डीटीईए सीनियर सेकेंडरी स्कूल, दिल्ली के छात्र अपने पारंपरिक परिधानों में तमिलनाडु के लोकनृत्य दिखाएंगे।


पूर्व क्षेत्रीय सांस्कृतिक केंद्र, कोलकाता के 80 लोक कलाकार ओडिशा के कालाहांडी का लोकनृत्य बजासल पेश करेंगे। कोविड-19 प्रतिबंधों के मद्देनजर कार्यक्रमों में भाग लेने वाले बच्चों और लोक कलाकारों की संख्या घटा दी गई है। पिछले साल के छह सौ से अधिक की तुलना में इस वर्ष 400 लोग ही कार्यक्रम प्रस्तुत करेंगे।

--------

इस वर्ष गणतंत्र दिवस परेड में नई दिल्ली में राजपथ पर बांग्लादेशी सशस्त्र बलों की टुकड़ी भी शामिल रहेगी।


इस वर्ष गणतंत्र दिवस के अवसर पर भारत की सेनाओं के साथ बंगलादेश का एक फ़ौजी दस्ता भी राजपथ की परेड में शामिल होगा। परेड में शामिल होने के लिए बंगलादेश के फ़ौजियों का एक दस्ता कल ढाका से भारतीय वायुसेना के विशेष विमान सी-17 ग्लोबमास्टर से रवाना हुआ। 122 लोगों के इस दस्ते में बंगलादेश की थलसेना, वायुसेना और नौसेना के जवान शामिल हैं। बंगलादेश में भारत के उच्चायोग के द्वारा जारी एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है कि भारत के इतिहास में यह तीसरी बार है जब किसी दूसरे देश की सेना के जवान राजपथ पर आयोजित गणतंत्र दिवस की परेड में शामिल होने के लिए आमंत्रित किए गए हैं। यह विशेष रूप से इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि 2021 में बंगलादेश पाकिस्तान से अपनी आज़ादी की 50वीं वर्षगांठ मना रहा है। बंगलादेश के इस सैन्य-दस्ते में ईस्ट बंगाल रेजिमेंट और फ़ील्ड आर्टिलरी रेजिमेंट के लोग शामिल हैं। इन रेजिमेंटों ने 1971 में बंगलादेश के मुक्ति संग्राम के दौरान शानदार भूमिका निभाई थी। बंगलादेश इस वर्ष अपनी आज़ादी और भारत के साथ राजनयिक संबंध स्थापित होने की 50वीं वर्षगाँठ मना रहा है। राजेश झा, आकाशवाणी समाचार, ढाका।

--------


आर्थिक जगत -

बम्‍बई शेयर बाजार का सेंसेक्‍स 25 अंकों का मामूली नुकसान दर्ज करता हुआ 49 हजार 492 पर बंद हुआ। हालांकि, नेशनल स्‍टॉक एक्‍सचेंज का निफ्टी एक अंक की बढ़त से ताजा रिकॉर्ड उच्‍चतम स्‍तर 14 हजार 565 पर बंद हुआ। दिल्‍ली सर्राफा बाजार में सोना एक सौ आठ रुपये सस्‍ता होकर 48 हजार आठ सौ 77 रुपये प्रति दस ग्राम पर आ गया और ब्रेंट कच्‍चे तेल का वायदा मूल्‍य दस सेंट बढ़कर 56 डॉलर 68 सेंट प्रति बैरल पर था।

---------


मौसम -

राष्ट्रीय राजधानी दिल्‍ली में सुबह घनी धुंध छाई रहेगी। न्यूनतम तापमान 4 डिग्री सेल्सियस और अधिकतम 17 डिग्री के आसपास रहेगा। मुम्‍बई में आसमान साफ रहेगा। तापमान 21 डिग्री से 33 डिग्री सेल्सियस के बीच रहने के आसार है। चेन्नई में बारिश हो सकती है। तापमान 24 डिग्री और 29 डिग्री सेल्सियस के बीच रहने की सम्‍भावना है। कोलकाता में सुबह कोहरा छाया रहेगा और बाद में आसमान साफ रहेगा। तापमान 14 डिग्री और 25 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहेगा। केन्‍द्रशासित प्रदेश जम्‍मू-कश्‍मीर के श्रीनगर में दोपहर या शाम को आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे। जम्मू में न्यूनतम तापमान सात डिग्री और अधिकतम तापमान 15 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहेगा। गिलगित में मुख्यत: आसमान साफ रहेगा। न्यूनतम तापमान शून्य से चार डिग्री नीचे और अधिकतम 11 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने की सम्‍भावना है। लेह में आसमान साफ रहेगा। मुजफ्फराबाद में आसमान साफ रहेगा और दोपहर या शाम को आंशिक रूप से बादल छाए रहने की सम्‍भावना है। गुवाहाटी में तडके कोहरा या धुंध छाई रह सकती है। समाचार कक्ष से दीपिका शर्मा।

--------

51वें अंतर्राष्ट्रीय-भारतीय फिल्म समारोह में प्रख्यात फिल्म निर्माता सत्यजित रे को भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की जाएगी। सूचना और प्रसारण मंत्रालय के सचिव अमित खरे ने सत्यजित रे की शताब्दी समारोह के क्रम में अंतर्राष्ट्रीय भारतीय फिल्मोत्सव-2019 के स्वर्ण जयंती कार्यक्रम में यह जानकारी दी थी। इस श्रद्धांजलि में फिल्मोत्सव के दौरान सत्यजित रे की यादगार फिल्में दिखाई जाएंगी। इनमें पाथेर पांचाली, चारूलता, घरे बायरे, शतरंज के खिलाड़ी और सोनार केला शामिल हैं।


अंतर्राष्ट्रीय भारतीय फिल्म समारोह 16 से 24 जनवरी के बीच गोआ में आयोजित किया जा रहा है।

--------

Live Twitter Feed

Listen News

Morning News 17 (Jan) Midday News 17 (Jan) Evening News 17 (Jan) Hourly 17 (Jan) (1910hrs)
समाचार प्रभात 17 (Jan) दोपहर समाचार 17 (Jan) समाचार संध्या 17 (Jan) प्रति घंटा समाचार 17 (Jan) (1900hrs)
Khabarnama (Mor) 17 (Jan) Khabrein(Day) 17 (Jan) Khabrein(Eve) 17 (Jan)
Aaj Savere 17 (Jan) Parikrama 17 (Jan)

Listen Programs

Market Mantra 17 (Jan) Samayki 1 (Jan) Sports Scan 17 (Jan) Spotlight/News Analysis 17 (Jan) Employment News 17 (Jan) रोजगार समाचार 17 (Jan) World News 16 (Jan) Samachar Darshan 22 (Mar) Radio Newsreel 21 (Mar)
    Public Speak

    Country wide 12 (Mar) Surkhiyon Mein 17 (Jan) Charcha Ka Vishai Ha 11 (Mar) Vaad-Samvaad 17 (Mar) Money Talk 17 (Mar) Current Affairs 6 (Mar) Sanskrit Saptahiki 16 (Jan) North East Diary 17 (Jan)