A- A A+
Last Updated : Jan 21 2021 3:44PM     Screen Reader Access
News Highlights
Govt approves over one crore one lakh houses under Pradhan Mantri Awas Yojana (Urban) till date            More than 8 lakh beneficiaries get COVID-19 vaccine across country            Nation Covid-19 recovery rate reaches 96.75 per cent            Meghalaya, Manipur & Tripura celebrate their statehood day today; Prez, Vice Prez & PM greet the people            Sensex breaches 50,000 mark for the first time           

Text Bulletins Details


समाचार प्रभात

0800 HRS
25.11.2020
मुख्य समाचार -
  • प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने कहा - सभी के लिए कोविड वैक्‍सीन उपलब्‍ध करना सरकार की प्राथमिकता।

  • देश में कोविड से स्‍वस्‍थ होने की दर बढ़कर 93 दशमलव सात-छह प्रतिशत हुई।

  • राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद आज गुजरात के केवड़ि‍या में अखिल भारतीय पीठासीन अधिकारी सम्‍मेलन का उद्घाटन करेंगे।

  • प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी आज वर्चुअल माध्‍यम से लखनऊ विश्‍वविद्यालय की स्‍थापना के शताब्‍दी समारोह में शामिल होंगे।

  • बंगाल की खाड़ी में 'निवार' तूफान प्रचण्‍ड हुआ। तमिलनाडु और पुद्दुचेरी के 7 जिलों में भारी वर्षा की आशंका। 

-----------------

कोविड महामारी के खिलाफ देश एकजुट होकर लड़ रहा है। आप भी हमारे साथ सुरक्षा और बचाव के तीन आसान एहतियाती उपायों का संकल्‍प लें।

मास्‍क पहने
दो गज दूरी, है जरूरी-सुरक्षित दूरी बनाए रखें
हाथ और मुंह साफ रखें।

-----------------

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने कहा है कि सरकार का लक्ष्‍य सभी नागरिकों के लिए आवश्यक वैज्ञानिक कसौटियों पर खरी उतरने वाली वैक्सीन की उपलब्‍धता सुनिश्चित करना है। श्री मोदी ने कल सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों के साथ वर्चुअल बैठक के दौरान यह बात कही। प्रधानमंत्री ने इस बात पर बल दिया कि जिस तरह कोविड से लड़ाई में प्रत्येक जान बचाने पर ध्यान दिया गया, उसी तरह यह सुनिश्चित करने को प्राथमिकता दी जाएगी कि प्रत्येक व्यक्ति को वैक्सीन मिले।


कोरोना के खिलाफ अपनी लड़ाई में हमने शुरुआत से ही एक-एक देशवासी का जीवन बचाने को सर्वोच्च प्राथमिकता दी है। अब वैक्सीन आने के बाद भी हमारी प्राथमिकता यही होगी कि सभी तक कोरोना की वैक्सीन पहुंचे, लेकिन कोरोना की वैक्सीन से जुड़ा भारत का अभियान, अपने हर नागरिक के लिए एक प्रकार से नेशनल कमिटमेंट की तरह है। इतना बड़ा टीकाकरण अभियान Smooth हो, Systematic हो, और Sustained हो, ये लंबा चलने वाला है, इसके लिए हम सभी को, हर सरकार को, हर संगठन को एकजुट हो करके, coordination के साथ एक टीम के रूप में काम करना ही पड़ेगा।

 

यह बैठक कोविड से निपटने और प्रबंधन की स्थिति तथा तैयारियों की समीक्षा के लिए आयोजित की गई थी। इस दौरान कोविड से प्रभावित आठ प्रमुख राज्यों पर विशेष ध्यान दिया गया। ये राज्य हैं - हरियाणा, दिल्ली, छत्तीसगढ़, केरल, महाराष्ट्र, राजस्थान, गुजरात और पश्चिम बंगाल।

 

बैठक के दौरान प्रधानमंत्री ने कहा कि राज्यों के परामर्श से टीकाकरण की प्राथमिकता का फैसला किया जा रहा है। अतिरिक्त शीत भंडारण सुविधाओं की आवश्यकता के बारे में भी राज्यों के साथ चर्चा की गई है।


भारत जो भी वैक्सीन अपने नागरिकों को देगा, वो हर वैज्ञानिक कसौटी पर खरी होगी। वैक्सीन प्राथमिकता के आधार पर किसे लगाई जाएगी, ये निर्णय तो हम सब मिलकर के ही करेंगे। हर राज्‍यों के सुझाव का महत्‍व इसमें बहुत रहेगा, हमें कितने अतिरिक्त कोल्ड चेन स्टोरेज की ज़रूरत रहेगी। कहां-कहां ये संभव होगा, उसके पैरामीटर्स क्‍या होंगे। उस पर यहां से सूचनाएं तो डिपार्टमेंट्स को चली गई हैं लेकिन इसको अब implement करने के लिए हमें रेड्डी रहना पड़ेगा।

 

प्रधानमंत्री ने कहा कि अतीत के अनुभवों से हमने सीखा है कि वैक्सीन के बारे में कई तरह की भ्रांतियां और अफवाहें फैलाई जाती हैं। उन्होंने कहा कि कोविड वैक्सीन के दुष्प्रभावों के बारे में भी अफवाहें फैलाई जा सकती हैं।

 

प्रधानमंत्री ने इस बात पर बल दिया कि नागरिक समाज, एनसीसी और एनएसएस के विद्यार्थियों तथा मीडिया सहित हरसंभव मदद से व्यापक जागरूकता अभियान के ज़रिए इस तरह के प्रयासों पर अंकुश लगाया जाए।

 

श्री मोदी ने कहा कि देश ने सामूहिक प्रयासों के जरिए महामारी का सामना किया है। भारत में कोविड से स्वस्थ होने की दर और मृत्यु दर तथा समग्र स्थिति विश्व के ज्यादातर देशों से बेहतर है। उन्होंने कहा कि हमारा लक्ष्य कोविड से मृत्यु दर को एक प्रतिशत से नीचे लाना होना चाहिए।

 

प्रधानमंत्री ने जांच और उपचार सुविधा के नेटवर्क के विस्तार पर भी बल दिया। उन्होंने कहा की पीएम केयर्स फंड के तहत ऑक्सीजन उपलब्ध कराने पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है।

 

हम सभी के अथक प्रयासों से देश में टेस्टिंग से लेकर ट्रीटमेंट का एक बहुत बड़ा नेटवर्क आज काम कर रहा है। इस नेटवर्क का लगातार विस्तार भी किया जा रहा है। पीएम केयर्स के माध्यम से ऑक्सीजन और वेंटिलेटर्स उपलब्ध कराने पर भी विशेष जोर है। कोशिश ये है कि देश के मेडिकल कॉलेज और जिला अस्पतालों को ऑक्सीजन जनरेशन के मामले में Self-sufficient बनाया जाए। इसलिए अभी 160 से ज्यादा नए ऑक्सीजन प्लांट्स के निर्माण की प्रक्रिया already शुरू की गई है।

 

प्रधानमंत्री ने कहा कि आरटी-पीसीआर जांच की संख्या बढ़ाना, खासतौर से पृथकवास में रह रहे रोगियों की बेहतर निगरानी, ग्राम और समुदाय स्तर पर स्वास्थ्य केंद्रों में बेहतर सुविधा उपलब्ध कराना तथा वायरस से सुरक्षा के लिए जागरूकता अभियान चलाना बहुत महत्वपूर्ण है।

 

प्रधानमंत्री ने कहा कि बड़ी मजबूती के साथ कोविड के खिलाफ लड़ाई जारी है, लेकिन अभी लापरवाही नहीं बरती जानी चाहिए। उन्‍होंने कहा कि स्‍वस्‍थ होने की अच्‍छी दर के मद्देनजर बहुत से लोग सोचने लगे हैं कि वायरस कमजोर हो गया है। श्री मोदी ने सतर्क किया कि इस तरह की सोच से असावधानी बढती है। श्री मोदी ने संक्रमण की दर को 5 प्रतिशत से नीचे लाने की आवश्‍यकता पर बल दिया।

 

प्रधानमंत्री के साथ वर्चुअल बैठक में अन्‍य राज्‍यों के अतिरिक्‍त दिल्‍ली, राजस्‍थान, गुजरात, महाराष्‍ट्र, छत्‍तीसगढ, पश्चिम बंगाल, हरियाणा, उत्‍तराखंड, आंध्र प्रदेश और तेलंगाना के मुख्‍यमंत्री भी शामिल हुए। गृह मंत्री अमित शाह, स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री डॉक्‍टर हर्षवर्धन, कैबिनेट सचिव राजीव गौबा, स्‍वास्‍थ्‍य सचिव राजेश भूषण और नीति आयोग के सदस्‍य डॉ. वी.के. पॉल भी इस उच्‍च स्‍तरीय कोविड समीक्षा बैठक में उपस्थित थे।

-----------------

विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री डॉक्‍टर हर्षवर्धन ने कहा है कि कोविड जैसी वैश्विक चुनौतियों पर काबू पाने में वैश्विक सहयोग ही प्रमुख कुंजी है। शंघाई सहयोग संगठन क‍े युवा वैज्ञानिकों के सम्‍मेलन को कल नई दिल्ली में वर्चुअल माध्‍यम से संबोधित करते हुए डॉक्‍टर हर्षवर्धन ने कोरोना महामारी सहित आम सामाजिक चुनौतियों के समाधान के लिए  उनसे आगे आने और मिलकर काम करने का आह्वान किया। डॉक्‍टर हर्षवर्धन ने बताया कि भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद कोविड के टीकों के परीक्षण में शामिल है और भारत इसका टीका बनाने वाले सभी दावेदारों के टीकों का भी चिकित्‍सकीय परीक्षण कर रहा है। उन्‍होंने कहा कि भारत में लगभग 30 टीके विकसित होने के विभिन्‍न चरणों में हैं और उनमें से दो सबसे उन्‍नत चरण में पहुंच गए हैं। डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि कोवैक्‍सीन, आईसीएमआर और भारत बायोटेक की साझेदारी से और कोवीशील्‍ड सीरम इंस्‍टीट्यूट ऑफ इंडिया द्वारा विकसित किये जा रहे हैं।

-----------------

देश में कोविड के 86 लाख से अधिक रोगियों के ठीक होने के साथ ही स्‍वस्‍थ होने की दर 93 दशमलव सात छह प्रतिशत हो गई है। बीते एक दिन में कोरोना के 38 हजार नए  मरीजों का पता चला जबकि 42 हजार रोगी स्‍वस्‍थ हुए। देश में इस समय कोरोना के चार लाख 38 हजार से अधिक मरीज हैं जो अब तक संक्रमित लोगों का चार दशमलव सात आठ प्रतिशत है। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के अनुसार 26 राज्‍यों और केंद्रशासित प्रदेशों में संक्रमित लोगों की संख्‍या बीस हजार से कम है। कोरोना से मरने वालों की दर भी कम होकर एक दशमलव चार छह प्रतिशत हो गई है। पिछले 24 घंटों के दौरान 480 लोगों की मृत्‍यु हुई।

 

बीत एक दिन में 11 लाख कोविड नमूनों की जांच की गई जिसे मिलाकर अब तक कुल 13 करोड 37 लाख नमूनों की जांच हो चुकी है। देश की नमूना जांच क्षमता 15 लाख प्रतिदिन है। दो हजार 134 प्रयोगशालाओं में इन नमूनों की जांच की जाती है।

-----------------

दिल्ली में पिछले 24 घंटों के दौरान कोविड के छह हजार 224 नये रोगियों की पुष्टि हुई है। इसके साथ ही संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर पांच लाख चालीस हजार से अधिक हो गई है। दिल्ली सरकार ने कहा है कि इस दौरान चार हजार 943 लोगों के स्वस्थ होने के साथ ही ठीक होने वालों की संख्या बढ़कर चार लाख 93 हजार से अधिक हो गई है। राष्ट्रीय राजधानी में कल एक सौ नौ लोगों के मरने की पुष्टि के साथ ही यह आंकड़ा बढ़कर आठ हजार 621 हो गया है। इस समय 38 हजार पांच सौ एक रोगियों का इलाज चल रहा है।

-----------------

मध्य प्रदेश के इंदौर, भोपाल, ग्वालियर, रतलाम, विदिशा और शिवपुरी सहित कई जिलों में पिछले एक सप्ताह से कोविड संक्रमण की उच्च दर बनी हुई है। हमारे संवाददाता ने बताया है कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मास्क पहनना सुनिश्चित कराने के लिए अधिकारियों को कड़े निर्देश दिए हैं और उल्लंघन करने वालों के विरुद्ध आर्थिक दंड लगाने के भी निर्देश दिए हैं।


मध्‍यप्रदेश में कोविड-19 के मामलों की समीक्षा में पाया गया कि प्रदेश में 3 नवम्बर से कोरोना के एक्टिव केसेस दोबारा बढ़ने लगे हैं। एक्टिव केसेस की संख्या जो हफ्ते भर पहले 8 हजार 44 रह गई थी, अब बढ़कर 12 हजार 979 हो गई है। प्रदेश की औसत पॉजिटिविटी दर भी 5.5 प्रतिशत हो गयी है। वहीँ, प्रदेश में कोरोना रिकवरी रेट 91.8 प्रतिशत तथा मृत्यु दर महज 1.6 प्रतिशत है। मप्र में प्रति 10 लाख मरीजों पर परीक्षणों की संख्या 41 हजार 734 है। वहीँ,प्रदेश में कोरोना के कुल मरीजों में 59 प्रतिशत मरीज होम आइसोलेशन में है। मुख्यमंत्री ने कोरोना नियंत्रण के लिए प्रत्येक जिले में नियुक्त किये गए वरिष्ठ प्रभारी अधिकारियों को निर्देश दिए कि प्रदेश में एक बार फिर कोरोना संक्रमण बढ़ रहा है इसलिए अपने जिलों में निरंतर निगरानी करें और कोरोना संक्रमण को हर हाल में रोकें। -संजीव शर्मा, आकाशवाणी समाचार, भोपाल।

-----------------

बिहार में कोविड से स्वस्थ होने की दर 97 दशमलव तीन-शून्य तक पहुंच गई है। यह दर राष्ट्रीय औसत से अधिक है। राज्य में रोगियों की संख्या निरंतर घट रही है। इस समय पांच हजार 16 मरीजों का इलाज चल रहा है। पिछले 24 घंटों के दौरान 746 रोगी स्वस्थ हुए हैं और 645 नये रोगियों की पुष्टि हुई है। अब तक दो लाख 25 हजार 447 रोगी कोविड-19 से स्वस्थ हुए हैं।

-----------------

इस बीच, छत्तीसगढ़ से हमारे संवाददाता ने बताया है कि कोविड संक्रमण की रोकथाम के लिए हवाई अड्डों पर सभी यात्रियों की जांच अनिवार्य रूप से की जाएगी।


छत्तीसगढ़ सरकार के सामान्य प्रशासन विभाग ने प्रदेश के रायपुर और जगदलपुर विमानतल पर बाहर से आने वाले सभी यात्रियों की समुचित कोविड स्क्रीनिंग करने के निर्देश जारी किए हैं। इसके अनुसार सभी यात्रियों की विमानतल पर स्वास्थ्य जांच की जाएगी। कोरोना संक्रमण के लक्षण दिखने पर उन्हें प्रशासन द्वारा स्थापित आइसोलेशन केन्द्र में रखा जाएगा। विदेश से आने वाले ऐसे यात्री जिनमें लक्षण नहीं होंगे, उन्हें भी रायपुर नगर निगम द्वारा निर्धारित पेड क्वारेंटाइन केन्द्रों में चौदह दिनों तक रहना होगा। वहीं, प्रदेश के राजनांदगांव जिले में कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए अब चैक-चौराहों पर भी कोरोना की जांच की जा रही है। बिना मास्क लगाए घर से बाहर निकलने वाले लोगों के खिलाफ नगर निगम की टीम द्वारा जुर्माने की कार्रवाई भी की जा रही है। इस बीच, प्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या दो लाख सत्ताईस हजार को पार कर गई है। विकल्प शुक्ला, आकाशवाणी समाचार, रायपुर।

-----------------

ओडिसा में कोविड से स्वस्थ होने वालों की संख्या बढ़कर तीन लाख 7 हजार 374 हो गई है। कल 648 रोगी उपचार के बाद ठीक हुए। कल ही 642 नए रोगियों का पता लगने के बाद राज्य में कोरोना संक्रमित लोगों संख्या तीन लाख 15 हजार 271 हो गई है। ओडिशा में अब तक कोविड से एक हजार 671 लोगों की मृत्यु हो चुकी है। 

-----------------

तमिलनाडु में कोविड रोगियों की संख्या अब घटकर 11 हजार 875 हो गई है। नये रोगियों की संख्या में कमी आई है। पिछले 24 घंटों के दौरान एक हजार नौ सौ दस रोगी स्वस्थ हुए हैं, जबकि 17 लोगों के मौत की पुष्टि हुई है। कल 66 हजार से अधिक लोगों की आरटी पीसीआर किट के माध्यम से जांच की गई।

-----------------

हिमाचल प्रदेश सरकार ने लोगों को कोविड महामारी के बारे में जागरूक करने तथा घर-घर जाकर तपेदिक, कुष्‍ठ रोग, मधुमेह और रक्‍तचाप जैसी बीमारियों के लक्षणों के बारे में जानकारी जुटाने के लिए हिम सुरक्षा अभियान की शुरूआत की है। यह अभियान आज से प्रारम्‍भ होकर 27 दिसम्‍बर तक चलेगा।


शिमला में कल इसके उद्घाटन अवसर पर मुख्‍यमंत्री जयराम ठाकुर ने राज्‍य के लोगों से स्‍वास्‍थ्‍य कर्मचारियों को अपनी बीमारी और स्‍वास्‍थ्‍य के बारे में सही जानकारी देने की अपील की है।

 

इस अभियान के लिए करीब आठ हजार दल तैनात किए गए हैं, जिनमें स्‍वाथ्‍य, आयुर्वेद, महिला और बाल विकास, पंचायती राज्‍य विभागों, जिला प्रशासन तथा गैर सरकारी संगठन शामिल हैं।

-----------------

गुजरात के केवडि़या में स्‍टेच्‍यु ऑफ यूनिटी पर आज से पीठासीन अधिकारियों का दो दिन का अखिल भारतीय सम्‍मेलन शुरू हो रहा है। इस बार सम्मेलन का विषय है - विधायिका, कार्यपालिका और न्यायपालिका के बीच सौहार्द्रपूर्ण समन्वय - गतिशील लोकतंत्र की कुंजी। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद आज सुबह सम्मेलन का उद्घाटन करेंगे। उपराष्‍ट्रपति एम.वेंकैया नायडू भी इस अवसर पर उपस्थित रहेंगे। हमारे संवाददाता ने बताया है कि सम्‍मेलन की अध्‍यक्षता लोकसभा अध्‍यक्ष ओम बिड़ला करेंगे।


इस वर्ष को पीठासीन अधिकारियों के सम्मेलन के शताब्दी वर्ष के रूप में भी मनाया जा रहा है। 1921 में अखिल भारतीय पीठासीन अधिकारियों के सम्मेलन की शुरुआत हुई थी। इतने सारे वर्षो में पीठासीन अधिकारियों का यह सम्मलेन लोकतांत्रिक प्रक्रिया को मजबूत करने के लिए नये अनुभवों और विचारों को साजा करने का एक श्रेष्ठ मंच बन चुका है। इस सम्मलेन के दौरान विधानमंडल के पीठासीन अधिकारिओं भारतीय लोकतंत्र के तीन स्तम्भों को मजबूत करके उन्हें ज्यादा प्रभावी बनाने के लिए बेहतर सहयोग समन्वय की आवश्यकता पर चर्चा करेंगे। सम्मलेन में विधान मंडल की संविधान के प्रति और कार्यपालिका की लोगों के प्रति जवाबदेही को प्रभावी ढंग से सुनिश्चित करने पर भी चर्चा होगी। इस में विधान मंडलों के अनुशासित और व्यवस्थित तरीके से कार्य करने के बारे में भी चर्चा होगी। दो दिन के सम्मलेन के दूसरे दिन 26 नवम्बर को संविधान दिवस के उपलक्ष्‍य में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समापन सत्र को सम्बोधित करेंगे। इस के दौरान प्रधानमंत्री की अगवाई में सभी प्रतिनिधियों द्वारा संविधान की प्रस्तावना का सामूहिक रूप से पठन किया जायेगा। योगेश पंड्या, आकाशवाणी समाचार, अहमदाबाद।

 

गुजरात के राज्‍यपाल आचार्य देवव्रत, मुख्‍यमंत्री विजय रूपाणी और अन्‍य गणमान्‍य हस्तियां भी सम्मेलन में शामिल होंगी।

-----------------

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी आज शाम साढ़े पांच बजे वर्चुअल तरीके से लखनऊ विश्‍वविद्यालय की स्‍थापना के शताब्‍दी समारोह में शामिल होंगे। वे विश्‍वविद्यालय की स्‍थापना के 100 साल पूरे होने की याद में एक सिक्‍का जारी करेंगे। प्रधानमंत्री इस दौरान भारतीय डाक विभाग की ओर से जारी विशेष डाक टिकट और विशेष आवरण का भी लोकार्पण करेंगे। इस कार्यक्रम में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, उत्‍तर प्रदेश की राज्‍यपाल आनंदी बेन पटेल और प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी मौजूद रहेंगे।

 

लखनऊ विश्‍वविद्यालय की स्‍थापना 1920 में की गई थी।

-----------------

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कल तीसरे वैश्विक नवीकरणीय ऊर्जा निवेश सम्मेलन और प्रदर्शनी- रीइन्वेस्ट का वर्चुअल उद्घाटन करेंगे। तीन दिन के इस सम्मेलन का आयोजन नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय कर रहा है।

 

इसका विषय है - टिकाऊ ऊर्जा अंतरण के लिए नवाचार। इस दौरान नवीकरणीय और भावी ऊर्जा विकल्पों पर चर्चा होगी। विनिर्माताओं, डेवल्पर, निवेशक और नव-प्रवर्तकों की प्रदर्शनी भी आयोजित की जाएगी। इसका उद्देश्य नवीकरणीय ऊर्जा के विकास प्रसार के वैश्विक प्रयासों को तेज करना और वैश्विक निवेश समुदाय के साथ भारतीय ऊर्जा क्षेत्र से जुड़े पक्षों का सम्पर्क बढ़ाना है।

-----------------

बिहार में नई विधानसभा के अध्यक्ष का आज चुनाव होगा। भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता विजय कुमार सिन्हा ने आज एनडीए उम्मीदवार के रूप में विधानसभा अध्यक्ष पद के लिए अपना नामांकन भरा। राष्ट्रीय जनता दल के नेता अवधबिहारी चौधरी ने भी महागठबंधन की ओर से पर्चा भरा है।

-----------------

उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने राज्यसभा सांसद अहमद पटेल ने निधन पर दुख व्यक्त किया है। एक ट्वीट में श्री नायडू ने कहा है कि अहमद पटेल एक अच्छे सांसद थे और उनका सभी राजनीतिक दलों के नेताओं से गहरा संबंध था। श्री नायडू ने उनके परिवार के लोगों के प्रति संवेदना व्यक्त की।

-----------------

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कांग्रेस नेता अहमद पटेल के निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया है। ट्वीट संदेश में श्री मोदी ने कहा कि अहमद पटेल लंबे समय तक सार्वजनिक जीवन में रहे और समाज की सेवा की। श्री मोदी ने उनके पुत्र फैसल से भी बातचीत करके संवेदना व्यक्त की।

-----------------

जानेमाने शिया धर्म गुरू और ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के उपाध्यक्ष कल्बे सादिक का कल लखनऊ में निधन हो गया। वे 83 वर्ष के थे और लंबे समय से बीमार थे।

 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जानेमाने शिक्षाविद, इस्लामिक विद्वान और साम्प्रदायिक सद्भाव के अग्रदूत मौलाना सादिक के निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया है।

-----------------

उत्‍तर प्रदेश सरकार ने शादियों के लिए गैर कानूनी तरीके से धर्म परिवर्तन पर पाबंदी लगाने के लिए अध्‍यादेश को मंजूरी दे दी है। इसके तहत शादी करने के लिए बलपूर्वक या धोखा देकर अथवा दबाव डालकर कराए जाने वाले धर्म परिवर्तन के मामलों पर अधिकतम दस साल की सजा का प्रावधान होगा। 


उत्तर प्रदेश विधि विरुद्ध धर्म संपरिवर्तन प्रतिषेध अध्यादेश 2020 के अनुसार अगर कोई व्यक्ति यह साबित नहीं कर पाता है कि  महिला का धर्म परिवर्तन किसी दबाव, धोखे या लालच में या महज शादी करने के लिए नहीं कराया गया है तो उसे 1 से 5 साल तक की सजा हो सकती है। अगर  महिला अनुसूचित जाति या अनुसूचित जनजाति से समाज से आती है या सामूहिक तौर पर  धर्म परिवर्तन कराया गया है तो ऐसी दशा में  कम से कम 3 साल और अधिकतम 10 साल तक की सजा और 50 हज़ार रुपये जुर्माने  का प्रावधान है। ऐसी शादियां शून्य घोषित कर दी जाएंगी। मंत्रिमंडल के फैसले के बाद मीडिया से बातचीत करते हुए सरकार के प्रवक्ता और मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा कि अगर कोई युगल दूसरे धर्म में परिवर्तन करते हुए शादी करना चाहता है तो उसे संबंधित जिलाधिकारी के सामने 2 महीने पहले आवेदन देना होगा। उन्होंने कहा कि  प्रदेश में 100 से ज्यादा बलपूर्वक धर्म परिवर्तन के मामले सामने आए हैं। सुशील चन्‍द्र तिवारी आकाशवाणी समाचार लखनऊ।

-----------------

बंगाल की खाड़ी में चक्रवाती तूफान निवार आज सेवेरे भीषण तूफान में बदल गया है। चेन्नई में मौसम विभाग ने बताया कि आज दोपहर तक यह और तेज हो जाएगा। देर शाम तक यह चक्रवात पुद्दुचेरी के पास कारैक्कॉल और मामल्लपुरम के बीच पहुंच जाएगा। इसके प्रभाव से 130-140 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से आंधी चलने की संभावना है।

 

चक्रवात को देखते हुए आज तमिलनाडु में सार्वजनिक अवकाश घोषित किया गया है। चक्रवात के रास्ते में पड़ने वाले सभी जिलों में राज्य के अंतर-विभागीय दल तैनात किये गए हैं। निवार तूफान से निपटने में तमिलनाडु और पुद्दुचेरी की सहायता के लिए रक्षा सेनाओँ ने तैयारी की हुई है।


भारतीय तटरक्षक ने व्यापारिक और मछली पकड़ने की नौकाओं को समुद्र में सहायता पहुंचाने के लिए चार निगरानी पोत तैयार रखे हुए हैं। चक्रवात से होने वाले नुकसान का जायजा लेने तथा प्रभावित इलाकों में निगरानी के लिए विशाखापटनम में तीन डोर्नियर विमान तैनात है। भारतीय तटरक्षक ने तमिलनाडु और पुद्दुचेरी में प्रशासन की मदद करेंगे। नागिपट्टनम और रामेश्वरम में भी इसी तरह के दल चौकसी कर रहे हैं। जय सिंह आकाशवाणी समाचार चैन्‍नई।

 

हमारे पुदुचेरी संवाददाता ने बताया कि निवार चक्रवात आज शाम तमिलनाडु और पुद्दुचेरी तटों को पार कर सकता है।


चक्रवात के निकट आने के साथ ही पुद्दुचेरी और कारैक्कॉल में वर्षा हो रही है। जिला प्रशासन ने निवार के कारण किसी भी स्थिति से निटपने के लिए सभी ऐहतियाती उपाय किये हैं। कल रात नौ बजे से कल सवेरे छह बजे तक पुद्दुचेरी जिले में धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू है। जिला कलेक्टर पूर्वा गर्ग ने बताया कि सभी विभागों और राष्ट्रीय आपदा मोचन बल के दलों को तैयार रखा गया है। उन्होंने बताया कि निषेधाज्ञा के दौरान पुद्दुचेरी क्षेत्र में एक या एक से अधिक लोगों की आवाजाही प्रतिबंधित है तथा दुकानें और व्यापारिक प्रतिष्ठानों को बंद रहना होगा। सरकार ने आज सार्वजनिक आवकाश घोषित किया है। लोगों को किसी भी संकट की स्थिति में सहायता के लिए फोन नंबर दिये गए हैं। कारैक्कॉल जिला प्रशासन ने मछुआरों से अपनी नौकाओं, मछली प़कड़ने के जालों और नौकाओं के इंजन को सुरक्षित जगह पर रखने को कहा है। पुद्दुचेरी से चन्‍द्रमोहन की रिपोर्ट के साथ समाचार कक्ष से निखिल कुमार।

-----------------

आंध्रप्रदेश में चक्रवाती तूफान निवार के प्रभाव से आज और कल मध्यम वर्षा या गरज के साथ छींटे पड़ सकते हैं। दक्षिण तटीय इलाकों और रायलसीमा में एक या दो स्‍थानों पर बहुत भारी व र्षा हो सकती है। नेल्लूर और चित्तूर में आज तथा कर्नूल में कल बहुत भारी वर्षा होने की संभावना है।

----------------

मौसम विभाग के प्रमुख वैज्ञानिक आर के जेनामणि ने बताया

 

सिवियर साइक्‍लोनिक्‍स टर्म जो निवार है आज जो अर्ली मार्निंग में वो 300 थर्टी किलोमीटर दक्षिण पूर्व के दक्षिण पश्चिम बंगाल सागर पर केन्‍द्रीभूत है और ये जो है वो अभी तक पश्चिम की दिशा में आ के आज नाइट पुद्दुचेरी के आसपास लैंडफॉल करेगा। तो समुंदर जो बे ऑफ बंगाल है दक्षिण-पश्चिम बे ऑफ बंगाल है, श्रीलंका और तमिलनाडु कोस्‍ट और साउथ आंध्र प्रदेश कोस्‍ट ये जो विंड है काफी स्‍ट्रांग है तो इसलिए हमारा जो फिशरमैन है वो किसी को वहां अलाउड नहीं है।

-----------------

कैबिनेट सचिव राजीव गॉबा ने कल वीडियो कांफ्रेंस के ज़रिए राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन समिति की बैठक की अध्यक्षता करते हुए कहा कि इसका उद्देश्य जानमाल के नुकसान को कम करना है।

 

राष्‍ट्रीय आपदा मोचन बल-एनडीआरएफ के महानिदेशक एस.एन. प्रधान ने अगले तीन दिनों में स्थिति से निपटने की तैयारियों के बारे में जानकारी दी।


12 टीमें तमिलनाडु स्टेट में और पुदुचेरी में दो टीमें और एक कराईकल में और जहां तक आंध्र प्रदेश का सवाल है। तो वहां भी वहीं जिले अफेक्टेड हो रहे हैं जो तमिलनाडु से सटे हुए हैं तो इसलिए नेल्लोर और चित्तूर में  टीमें हैं। तीन-तीन नेल्लोर में हैं और चित्तूर में एक टीम हैं। जो कि अभी मुव करके पहुंचने वाली है। विशाखापट्नम में पहले से ही तैनात है तीन टीम एनडीआरएफ के। तो इस तरह से कुल 22 टीमें ऑलरेडी ग्राउंड पर उपलब्ध है जो कि स्‍ट्रॉग फेसिंग हैं और 8 टीमें हम लोगों को बटालियन हेडक्वार्टर में रेसपेक्टिव स्टेंडबाय में हैं।

-----------------

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने चक्रवात निवार की स्थिति के संबंध में तमिलनाडु के मुख्‍यमंत्री ई के पलनीसामी और पुद्दुचुरी के मुख्‍यमंत्री वी नारायणसामी से बात की। श्री मोदी ने केन्‍द्र की ओर से हरसंभव सहायता का आश्‍वासन दिया।

-----------------

मौसम:
 

दिल्‍ली में आज तापमान 11 से 23 डिग्री सेल्सियस के बीच रहने का अनुमान है। मुंबई में आसमान साफ रहेगा। तापमान 22 और 34 डिग्री सेल्सियस के आस-पास रहने के आसार हैं। चेन्नई में बारिश हो सकती है। तापमान 24 और 28 डिग्री सेल्सियस के बीच रहने का अनुमान है। कोलकाता में बादल छाए रहेंगे। न्यूनतम तापमान 18 और अधिकतम तापमान 27 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है। जम्मू में न्‍यूनतम तापमान 12 और अधिकतम तापमान 18 डिग्री के आस-पास रह सकता है। श्रीनगर में बारिश या बर्फबारी का अनुमान है। न्‍यूनतम तापमान जमाव बिन्‍दु से चार डिग्री सेल्सियस तक रहने के आसार हैं।  लेह में हल्‍की बर्फबारी हो सकती है। पारा शून्य से चार डिग्री सेल्सियस नीचे है, जबकि अधिकतम तापमान शून्‍य डिग्री सेल्सियस के रहने के आसार हैं। गिलगित में हल्‍का हिमपात हो सकता है। तापमान शून्य से दो डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया है, जबकि अधिकतम तापमान सात डिग्री सेल्सियस रहने का अनुमान है। मुजफ्फराबाद में तापमान पांच से 10 डिग्री सेल्सियस के बीच रहने की संभावना है। गुवाहाटी में तापमान 13 से 27 डिग्री के बीच रहने के आसार हैं। समाचार कक्ष से चन्‍द्रशेखर शर्मा।

-----------------

कोरोना से निपटने के लिए राज्यों के मुख्यमंत्रियों से प्रधानमंत्री की बातचीत अखबारों की अहम खबर है। जनसत्ता की सुर्खी है - प्रधानमंत्री ने मुख्यमंत्रियों से कहा - ढिलाई न बरतें, मृत्यु दर एक फीसद से नीचे लाएं। हिन्दुस्तान लिखता है - टीके पर कई सवालों का जवाब अभी बाकी। अमर उजाला का शीर्षक है - सभी को लगेगा कोरोना का टीका, ब्लॉक स्तर पर वितरण की तैयारी करें राज्य। नागरिकों के लिए सबसे बेहतर टीका लायेंगे। दैनिक भास्कर की अहम खबर है - महामारी के बीच दूसरी बीमारियों के साठ प्रतिशत मरीज बेइलाज, ऑपरेशन थमे। पांच राज्यों के बड़े सरकारी अस्पतालों के ओपीडी में भी मरीज आम दिनों की तुलना में सिर्फ 20 प्रतिशत।

 

राजस्थान पत्रिका की सुर्खी है - एक और डिजिटल स्ट्राइक, चीन के 43 ऐप पर लगा प्रतिबंध। भारत की संप्रभुता, अखंडता, सुरक्षा और कानून व्यवस्था के खिलाफ गतिविधियों में लिप्त पाये गये ऐप्स पर लगा प्रतिबंध। अब तक 267 ऐप्स हुए डेड।

 

नवभारत टाइम्‍स की खबर है - ब्रह्मोस टेस्ट में पास, मारक दूरी बढ़कर चार सौ किलोमीटर हुई। रफ्तार ध्वनि से तीन गुना अधिक।

 

हिन्दुस्तान की सुर्खी है - खाद्य तेलों में ओमेगा युक्त तेल मिलाने की अनुमति। खाद्य सुरक्षा और मानक प्राधिकरण ने बड़ा फैसला करते हुए खाद्य तेलों में भरपूर अलसी और चिया के तेल को मिलाने की अनुमति दी।

-----------------


Live Twitter Feed

Listen News

Morning News 21 (Jan) Midday News 21 (Jan) Evening News 20 (Jan) Hourly 21 (Jan) (1300hrs)
समाचार प्रभात 21 (Jan) दोपहर समाचार 21 (Jan) समाचार संध्या 20 (Jan) प्रति घंटा समाचार 21 (Jan) (1310hrs)
Khabarnama (Mor) 21 (Jan) Khabrein(Day) 21 (Jan) Khabrein(Eve) 20 (Jan)
Aaj Savere 21 (Jan) Parikrama 20 (Jan)

Listen Programs

Market Mantra 20 (Jan) Samayki 1 (Jan) Sports Scan 20 (Jan) Spotlight/News Analysis 20 (Jan) Employment News 20 (Jan) रोजगार समाचार 19 (Jan) World News 20 (Jan) Samachar Darshan 22 (Mar) Radio Newsreel 21 (Mar)
    Public Speak

    Country wide 12 (Mar) Surkhiyon Mein 20 (Jan) Charcha Ka Vishai Ha 11 (Mar) Vaad-Samvaad 17 (Mar) Money Talk 17 (Mar) Current Affairs 6 (Mar) Sanskrit Saptahiki 16 (Jan) North East Diary 17 (Jan)