A- A A+
Last Updated : Dec 1 2020 10:37PM     Screen Reader Access
News Highlights
Centre appeals to Farmers to suspend protests and Join Talks; 4th Round of talks on Thursday            J&K: Phase-2 of District Development Council elections conducted peacefully ; 48.62% voter turnout recorded            FPI inflows in October and November witness a significant resurgence            India reports new daily COVID-19 cases below 50 thousand mark for 24 consecutive days            India to take on Australia in third and final ODI at Canberra: Live Commentary on All India Radio           

Text Bulletins Details


समाचार संध्या

2000 HRS
20.10.2020
मुख्य समाचार:-

  • प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने लोगों से कोरोना वायरस का टीका आने तक ढिलाई नहीं बरतने की अपील की।
  • प्रधानमंत्री ने कोरोना वारियर्स की भूमिका की सराहना करते हुए कहा - भारत ने साधन सम्‍पन्‍न देशों की तुलना में ज्‍यादा जिंदगियां बचाईं।
  • देश में कोविड से अब तक 67 लाख से अधिक लोग स्‍वस्‍थ हुए। स्‍वस्‍थ होने की दर 88 दशमलव छह-तीन प्रतिशत हुई।
  • लोकसभा और विधानसभा चुनाव के लिए उम्‍मीदवारों के खर्च की सीमा दस प्रतिशत बढाई गई।
  • बिहार विधानसभा चुनाव में दूसरे चरण के 94 निर्वाचन क्षेत्रों में एक हजार चार सौ चौसठ उम्‍मीदवार मैदान में।
  • ग्रामीण विकास और पंचायती राज मंत्री नरेन्‍द्र सिंह तोमर ने ब्‍लॉक और जिला स्‍तरीय विकास योजनाओं की तैयारियों की रूपरेखा जारी की।
  • आईपीएल क्रिकेट में किंग्‍स इलेवन पंजाब के साथ मैच में दिल्‍ली कैपिटल टॉस जीतकर पहले बल्‍लेबाजी कर रही है।
-----
कोविड-19 महामारी के खिलाफ देश एकजुट होकर लड़ रहा है। आप भी हमारे साथ सुरक्षा और बचाव के तीन आसान एहतियाती उपायों का संकल्‍प लें।

मास्‍क पहने

दो गज दूरी, है जरूरी-सुरक्षित दूरी बनाए रखें

हाथ और मुंह साफ रखें।


-----

 

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने कहा है कि जब तक दवाई नहीं तब तक ढिलाई नहीं, के मंत्र का पूरी तरह पालन करना आवश्‍यक है। उन्‍होंने कहा कि लॉकडाउन खत्‍म हो गया है और आर्थिेक गतिविधियां धीरे-धीरे फिर शुरू हो रही हैं। लेकिन हम सबको अभी पूरी तरह सतर्क रहना है।

 

पिछले सात महीनों में सातवीं बार राष्‍ट्र को संबोधन में श्री मोदी ने कहा कि जनता कर्फ्यू से लेकर आज तक कोरोना से लड़ाई में भारत लंबा सफर तय कर चुका है। उन्‍होंने कहा कि महामारी की वैक्‍सीन बनने तक यह लड़ाई कमजोर नहीं पड़नी चाहिए। प्रधानमंत्री ने लोगों को याद दिलाया कि लॉकडाउन भले ही खत्‍म हो गया लेकिन वायरस अभी तक नहीं गया है।


समय के साथ आर्थिक गतिविधियों में भी धीरे-धीरे तेजी नजर आ रही है। हम में से अधिकांश लोग, अपनी जिम्मेदारियों को निभाने के लिए, फिर से जीवन को गति देने के लिए, रोज घरों से बाहर निकल रहे हैं। त्योहारों के इस मौसम में बाजारों में भी रौनक धीरे-धीरे लौट रही है। लेकिन हमें ये भूलना नहीं है कि लॉकडाउन भले चला गया हो, वायरस नहीं गया है। बीते 7-8 महीनों में, प्रत्येक भारतीय के प्रयास से, भारत आज जिस संभली हुई स्थिति में हैं, हमें उसे बिगड़ने नहीं देना है, और अधिक सुधार करना है।

 

प्रधानमंत्री ने डॉक्‍टर, नर्स और अन्‍य स्‍वास्‍थ्‍यकर्मियों को धन्‍यवाद देते हुए कहा कि वे सब सेवा परमो धर्म: के मंत्र पर चलते हुए विशाल जनसमुदाय की निस्‍वार्थ सेवा कर रहे हैं।

 

श्री मोदी ने कहा कि दुनिया की तुलना में भारत में ज्‍यादा लोगों की जान बचाई जा रही है।

 

आज देश में रिकवरी रेट अच्छी है, फेटालिटी रेट कम है। दुनिया के साधन-संपन्न देशों की तुलना में भारत अपने ज्यादा से ज्यादा नागरिकों का जीवन बचाने में सफल हो रहा है। आज हमारे देश में कोरोना मरीजों के लिए 90 लाख से ज्यादा बेड्स की सुविधा उपलब्‍ध है। 12,000 क्‍वारंटिन सेंटर्स हैं। कोरोना टेस्टिंग की करीब 2000 लैब्स काम रही हैं। देश में टेस्ट की संख्या जल्द ही 10 करोड़ के आंकड़े को पार कर जाएगी। कोविड महामारी के खिलाफ लड़ाई में टेस्ट की बढ़ती संख्या हमारी एक बड़ी ताकत रही है।

 

प्रधानमंत्री ने कहा कि जांच की बढ़ती संख्‍या कोविड महामारी से लड़ाई में प्रमुख ताकत रही है। देश में मृत्‍यु दर कम है और स्‍वस्‍थ होने की दर अच्‍छी है।

 

प्रधानमंत्री ने कहा कि ऐसे प्रयास किए जाएंगे कि कोविड वैक्‍सीन सब लोगों तक पहुंचे।

 

बरसों बाद हम ऐसा होता देख रहे हैं कि मानवता को बचाने के लिए युद्धस्तर पर पूरी दुनिया में काम हो रहा है। अनेक देश इसके लिए काम कर रहे हैं। हमारे देश के वैज्ञानिक भी वैक्‍सीन के लिए जी-जान से जुटे हैं। भारत में अभी कोरोना की कई वैक्सीन्स पर काम चल रहा है। इनमें से कुछ एडवान्स स्टेज पर हैं। आशास्‍वत स्‍थिति दिखती है। कोरोना की वैक्‍सीन जब भी आएगी, वो जल्द से जल्द प्रत्येक भारतीय तक कैसे पहुंचे इसके लिए भी सरकार की तैयारी जारी है। एक-एक नागरिक तक वैक्‍सीन पहुंचे, इसके लिए तेजी से काम हो रहा है। इसलिए याद रखिए, जब तक दवाई नहीं, तब तक ढिलाई नहीं।

 

प्रधानमंत्री ने मीडिया से जागरुकता फैलाने की भी अपील की।

 

दो गज की दूरी, समय-समय पर साबुन से हाथ धुलना और मास्क लगाना इसका ध्यान रखिए। और मैं आप सबसे करबद्ध प्रार्थना करना हूँ आपको मैं सुरक्षित देखना चाहता हूँ। ये त्‍योहार आपके जीवन में उत्‍साह और उमंग बढ़े ऐसा वातावरण चाहता हूँ और इसलिए मैं बार-बार हर देशवासी से आग्रह करता हूँ। मैं आज अपने मीडिया के साथियों से भी, सोशल मीडिया में जो सक्रिय हैं उन लोगों से भी बड़े आग्रह से कहना चाहता हूँ कि आप जागरूकता लाने के लिए इन नियमों का पालन करने के लिए जितना जन जागरण अभियान करेंगे ये आपकी तरफ से देश की बहुत बड़ी सेवा होगी। आप जरूर हमें साथ दीजिए, देश के कोटि-कोटि जनों को साथ दीजिए।

-----

 

देश में मेडिकल ऑक्‍सीजन की कोई कमी नहीं है। केंद्र सरकार ऑक्‍सीजन की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए अत्‍यधिक सक्रियता से कदम उठा रही है। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय में सचिव राजेश भूषण ने आज शाम बताया कि पिछले 10 माह में मेडिकल ऑक्‍सीजन की कोई कमी नहीं देखी गई।


देश में पिछले 10 महीने में कभी भी मेडिकल ऑक्‍सीजन की कोई कमी नहीं हुई और वर्तमान में भी मेडिकल ऑक्‍सीजन की कोई कमी नहीं है। सो वी आर इन ए एक्‍सट्रीमली कंफरटेबल पोजीशन। भारत सरकार के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने एक केन्‍द्रीय कंट्रोल रूम स्‍थापित किया गया है जो राज्‍यों के साथ ऑक्‍सीजन की सप्‍लाई को मॉनीटर करता है। इसी प्रकार के कंट्रोल रूम राज्‍यों ने और संघ शासित क्षेत्रों ने भी स्‍थापित किए हैं।

 

श्री भूषण ने कहा कि राज्‍यों और केंद्र शासित प्रदेशों में मेडिकल ऑक्‍सीजन की पर्याप्‍त उपलब्‍धता की निगरानी के लिए स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय में नियंत्रण कक्ष बनाया गया था।

 

श्री भूषण ने कहा कि पिछले सात दिन में प्रत्‍येक दस लाख की जनसंख्‍या पर भारत में तीन सौ दस लोग संक्रमित हुए जो विश्‍व में सबसे कम में से एक है। उन्‍होंने कहा कि देश में कोविड-19 से स्‍वस्‍थ लोगों की संख्‍या 67 लाख से अधिक हो गई है जो विश्‍व में सबसे अधिक है।

 

ये विश्‍व की सबसे बड़ी संख्‍या है रिकवर्ड केसेज की। हमने इस समय तक नौ करोड़ 60 लाख टेस्‍ट किए हैं देश भर में। ये विश्‍व की दूसरी सबसे बड़ी संख्‍या है टेस्‍टस की किसी भी देश में। इतनी बड़ी संख्‍या में टेस्‍ट करने के बावजूद जो क्‍यूमिलिटीव पॉजिटिविटी रेट है देश का वो 7.90 परसेंट है यानि आठ प्रतिशत से नीचे आ गया है।

 

श्री भूषण ने कहा कि देश में कोविड मरीजों के स्‍वस्‍थ होने की दर निरन्‍तर बढ़ रही है और अब राष्‍ट्रीय स्‍तर पर स्‍वस्‍थ होने की दर 88 दशमलव छह-तीन प्रतिशत है। देश में इलाज करा रहे 64 प्रतिशत मरीज छह राज्‍यों में हैं। स्‍वास्‍थ्‍य सचिव ने कहा कि भारत में प्रति दस लाख की आबादी पर 83 लोगों की मृत्‍यु हुई और यह विश्‍व के उन देशों में शामिल है जहां प्रति दस लाख की आबादी पर कोविड मृत्‍यु दर सबसे कम है।

 

श्री भूषण ने कहा कि जांच की संख्‍या के मामले में भारत विश्‍व में दूसरे स्‍थान पर है। अब तक नौ करोड़ 61 लाख जांच की गई है।

 

भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद-आईसीएमआर के महानिदेशक बलराम भार्गव ने बताया कि यदि पांच महीनों में किसी व्‍यक्ति में एंटीबॉडीज़ कम हो जाती है तो उसके दोबारा संक्रमित होने की आशंका है। उन्‍होंने लोगों को मास्‍क लगाने की सलाह देते हुए कहा कि यदि व्‍यक्ति पहले संक्रमित हो चुका है तब भी उसे सतर्कता बरतनी चाहिए।

-----

 

देश ने कोविड के खिलाफ संघर्ष में कई उपलब्धियां हासिल की हैं। पिछले 24 घंटे के दौरान नए संक्रमण के मामले पचास हजार से कम रहे। यह पिछले तीन महीनों का रिकॉर्ड है। वर्तमान समय में मरीज़ों की संख्‍या भी कुल संक्रमित व्‍यक्तियों के दस प्रतिशत से कम हो गई है जो एक नई उपलब्धि है। देश में वर्तमान समय में मरीज़ों की संख्‍या साढ़े सात लाख से भी कम है।

 

वर्तमान समय में मरिजों और ठीक होने वालों के बीच अंतर लगातार बढ़ रहा है और आज यह लगभग 59 लाख 84 हजार के पार हो गया है।

 

पिछले 24 घंटे के दौरान कोरोना के 69 हजार सात सौ से अधिक मरीज़ ठीक हुए।

 

इस दौरान कोरोना से पांच सौ 87 व्‍यक्तियों की मृत्‍यु हुई। लगातार दूसरे दिन कोरोना से मरने वालों की संख्‍या छह सौ से कम रही।

-----

 

लेडी हार्डिंग मेडिकल कॉलेज के डॉक्‍टर तन्‍मय तालुकदार ने आकाशवाणी से विशेष बातचीत में आग्रह किया है कि धूम्रपान से भी कोविड-19 के फैलने का खतरा है। उन्‍होंने लोगों से सुरक्षित रहने और धूम्रपान के विरूद्ध जनमत तैयार करने का आग्रह किया है।

 

स्‍मोक करने वाले के अंदर अगर कोरोना के वायरस हैं, तो अगर वो बात करते हैं या धुआं छोड़ते हैं या स्‍मोकर्स में कफ ज्‍यादा होता है वो खांसते भी ज्‍यादा हैं आमतौर पर। ऐसे मरीज भी नहीं, उन्‍हें तो खुद भी नहीं पता होगा कि वो कोरोना के वायरस कैरी कर रहे हैं, तो ऐसे व्‍यक्ति जो वातावरण में कीटाणु छोड़ेंगे और उनके साथ अगर कोई नॉन स्‍मोकर भी खड़ा है, तम्‍बाकू का सेवन नहीं करता, धूम्रपान नहीं करता, उनको भी खतरा बढ़ जाता है। इसलिए टाइम टू से नो टू स्‍मोकिंग, आपके आसपास भी कोई स्‍मोक कर रहा है तो हम आवाज उठाएं और बोलें-जी नहीं, आप बीड़ी या सिगरेट बंद करें।

-----

 

क्रिकेट खिलाड़ी सुरेश रैना ने कोरोना से बचाव के लिए लोगों से मास्‍क पहनने, सुरक्षित दूरी अपनाने और सरकार के दिशा-निर्देशों का पालन करने की अपील की। 


मेरी तरफ से सभी उन लोगों को एक हिदायत है कि प्‍लीज मास्‍क, मेन्‍टेन द सोशल डिस्‍टेंसिंग, बी वाइज, बी सेल्‍फीस, आई वुड से, एट द सेम टाइम बी वेरी वेरी पॉजिटिव बीकोज वर्क हार्ड ट्राई टू डू लॉट ऑफ योगा, डू रनिंग, आप कोशिश करिये कि फैमली के साथ टाइम स्‍पेन करें, घर वापस आएं, तो आप सेफ रहें। 

-----

 

आकाशवाणी का समाचार सेवा प्रभाग आज अपने फोन इन कार्यक्रम में कोविड-19 पर विशेष परिचर्चा प्रसारित करेगा। यह कार्यक्रम आज रात साढे नौ बजे से एफ.एम. गोल्‍ड और अतिरिक्‍त मीटरों पर सुना जा सकता है। 

 

जयपुर स्थित राष्‍ट्रीय आयुर्वेद संस्‍थान के निदेशक डॉ0 संजीव शर्मा इस चर्चा में भाग लेंगे।

 

श्रोता, हमारे टोल‍-फ्री नम्‍बर 1 8 0 0 1 1 5 7 6 7  और लैंडलाइन नम्‍बर 0 1 1 2 3 3 1 4 4 4 4 पर कॉल  करके विशेषज्ञ से सवाल पूछ सकते हैं।

-----

 

लोकसभा और विधानसभा चुनाव लड़ने वाले उम्‍मीदवारों के चुनाव खर्च की सीमा दस प्रतिशत बढ़ा दी गई है। केंद्र ने इस सम्‍बंध में निर्वाचन आयोग की सिफारिश स्‍वीकार कर ली है। आयोग ने कहा था कि कोविड के मद्देनज़र उम्‍मीदवारों को प्रचार में मुश्किलें आ रही हैं इसलिए उन्‍हें ज्‍यादा खर्च करने की अनुमति दी जाए। विधि मन्‍त्रालय ने कल रात इस सम्‍बंध में अधिसूचना जारी कर दी। अधिसूचना में कहा गया है कि लोकसभा चुनाव के लिए उम्‍मीदवार अब 77 लाख रुपये खर्च कर सकेगा। पहले यह सीमा 70 लाख रुपये थी। 2014 के लोकसभा चुनाव से पहले प्रचार खर्च की सीमा बढ़ाई गई थी।

-----

 

बिहार विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण में 94 सीटों के लिए आज नाम वापसी के आखिरी दिन एक हजार चार सौ 64 उम्‍मीदवार चुनाव मैदान में रहे गए हैं।

 

एक हजार पांच सौ 10 वैध नामांकन पत्रों में से कुल 46 प्रत्‍याशियों ने अपने नाम वापस लिए। 17 जिलों के इन निर्वाचन क्षेत्रों में तीन नम्‍बर को वोट डाले जांएगे।

 

महाराजगंज निर्वाचन क्षेत्र के सिवान जिले में जहां सबसे अधिक 27 वहीं इसी जिले के दारोली विधानसभा क्षेत्र में सबसे कम चार उम्‍मीदवार चुनाव मैदान में है।

 

तीसरे और अंतिम चरण के 78 निर्वाचन क्षेत्रों के लिए नामांकन भरने की प्रक्रिया आज समाप्‍त हो गई। इस चरण में आठ हजार 84 नामांकन पत्र भरे गए।

 

इस बीच, पहले और दूसरे चरण के लिए प्रचार अभियान तेज हो गया है। हमारे संवाददाता ने बताया है कि प्रमुख राजनीतिक दलों के वरिष्‍ठ नेता और स्‍टार प्रचारक अपने-अपने उम्‍मीदवारों के पक्ष में मतदाताओं का समर्थन मांगने के लिए तूफानी दौरा कर रहे हैं।


भाजपा के वरिष्ठ नेता और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज से बिहार के चुनाव के लिए प्रचार अभियान की शुरुआत की। बक्सर में एक जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होनें कहा कि एनडीए केवल विकास में विश्वास रखता है और इसकी राजनीति समावेशी विकास पर आधारित है। महागठबंधन के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार तेजस्वी प्रसाद यादव ने आज नौ रैलियों को संबोधित किया। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रणदीप सूरजेवाला ने एनडीए पर विकास के सभी मोर्चों पर विफल रहने का आरोप लगाया। सीपीआई माले, सीपीआई, सीपीएम, राष्ट्रीय लोक समता पार्टी और जन अधिकार पार्टी के नेताओं ने भी कई सभाओं को संबोधित किया। धर्मेन्द्र कुमार राय, आकाशवाणी समाचार, पटना।

-----

 

उत्‍तरप्रदेश में राज्‍यसभा की दस सीटों के चुनाव के लिए आज अधिसूचना जारी की गई। इन सीटों पर 9 नवम्‍बर को मतदान कराया जाएगा। सांसदों का कार्यकाल पूरा होने पर ये चुनाव कराए जा रहे हैं।

 

27 अक्‍टूबर तक पर्चे भरे जा सकते हैं, उसी दिन नामांकनपत्रों की जांच की जाएगी। 2 नवम्‍बर तक नाम वापस लिये जा सकते हैं। 9 नवम्‍बर को वोट डाले जाएंगे और मतगणना भी उसी दिन होगी।

----- 

 

लद्दाख में लद्दाख स्वायत्तशासी पर्वतीय विकास परिषद के चुनाव के लिए दूर-दराज के इलाकों के लिए मतदान कर्मियों, सुरक्षा कर्मियों और मतदान सामग्री को रवाना करने का काम आज पूरा हो गया। बाकी के इलाकों के लिए ये दल कल लेह से रवाना होंगे। हमारे लेह संवाददाता ने खबर दी है कि पहली बार परिषद के चुनाव में इलैक्‍ट्रॉनिक मतदान मशीनों का प्रयोग किया जाएगा। बृहस्‍पतिवार को होने वाले चुनाव के लिए तैयारियां अपने अंतिम चरण में हैं।

-----

 

ग्रामीण विकास और पंचायती राज मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने आज ब्‍लॉक और जिला स्‍तरीय विकास योजनाओं की तैयारी की रूपरेखा जारी की। यह रूपरेखा योजनाएं तैयार करने के लिए ब्‍लॉक और जिला पंचायतों के वास्‍ते चरणबद्ध ढंग से कार्य करने की मार्गदर्शिका है। श्री तोमर ने आशा व्‍यक्‍त की कि इस रूपरेखा से ब्‍लॉक और जिला स्‍तर पर समावेशी विकास को बढावा मिलेगा। इससे स्‍थानीय तौर पर उपलब्‍ध संसाधनों, स्‍थानीय लोगों की आकांक्षाओं और प्राथमिकता वाले क्षेत्रों पर अधिक ध्‍यान दिया जाएगा। जिससे ब्‍लॉक और जि़ला स्‍तर पर समावेशी विकास को प्रोत्‍साहन मिलेगा। यह ब्‍लॉक और जि़ला पंचायतों में विकेंद्रीकृत योजना बनाने से जुड़े सभी सम्‍बंधित व्‍यक्तियों और पक्षों के लिए महत्‍वपूर्ण साधन के रूप में कार्य करेगी और इससे ग्रामीण भारत में महत्‍वपूर्ण बदलाव आएगा।

-----

 

देश में खरीफ फसल 2020-21 के धान की खरीद प्रगति पर है। पंजाब, हरियाणा, उत्‍तर प्रदेश, तमिलनाडु, उत्‍तराखण्‍ड, चण्‍डीगढ़, जम्‍मू-कश्‍मीर और केरल में खरीद प्रक्रिया तेजी से चल रही है। उपभोक्‍ता मामले, खाद्य और सार्वजनिक वितरण मन्‍त्रालय के बयान में कहा गया है कि अब तक 98 लाख मीट्रिक टन से अधिक धान खरीदा जा चुका है। इसके लिए आठ लाख 54 हजार किसानों को न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य के रूप में 18 हजार पांच सौ 39 करोड़ रुपये का भुगतान किया गया। धान का न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य 18 हजार आठ सौ 80 रुपये प्रति मीट्रिक टन है।

 

पिछले खरीफ सीज़न में समान अ‍वधि तक 80 लाख 20 हजार मीट्रिक टन धान की खरीद हुई थी। पिछले सीज़न की तुलना में चालू सीज़न में 22 दशमलव चार-तीन प्रतिशत अधिक धान खरीदा गया।

 

राज्‍यों के प्रस्‍ताव के आधार पर 42 लाख 46 हजार मीट्रिक टन दालों और तिलहनों की खरीद की मंजूरी दी गई।

 

सरकार ने नोडल एजेंसियों के ज़रिए न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य पर आठ सौ छह मीट्रिक टन मूंग और उड़द की खरीद की है।

-----

 

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन की नई खरीद प्रक्रिया-2020 को मंजूरी दे दी है। रक्षामंत्री के कार्यालय ने कहा है कि इस नई प्रक्रिया से स्‍टार्टप और सूक्ष्‍म लघु और मध्‍यम उद्योगों समेत देश के उद्योग जगत को रक्षा अनुसंधान विकास संगठन की गतिविधियों में और अधिक भाग लेने का अवसर मिलेगा। इससे रक्षा क्षेत्र में देश को आत्‍मनिर्भर बनने में भी मदद मिलेगी।  रक्षा मंत्री ने कहा कि इसमें प्रक्रिया को सरल बनाया गया है ताकि स्‍वदेशी रक्षा उद्योग को डि‍जाइन और विकास गति‍विधियों में भाग लेने का अधिक अवसर मिले।

-----
 

इस्पात मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने आज कहा है कि सरकार ने कई पहल की हैं, जो ग्रामीण अर्थव्यवस्था में इस्पात के उपयोग को बढ़ावा देंगी। आत्मनिर्भर भारत पर एक कार्यक्रम में उन्‍होंने कहा है कि सरकार ने चावल से इथेनॉल का उत्पादन करने का लक्ष्य रखा है। श्री प्रधान ने कहा है कि इसके लिए कई डिस्टिलरी और रिफाइनरियां स्थापित की जाएंगी, जिससे इस्‍पात उद्योग को बढ़ावा मिलेगा।

 

इस्‍पात मंत्री ने बताया कि एक लाख करोड़ रुपये के एग्री इंफ्रास्ट्रक्चर कोष से धन का वितरण किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि आने वाले पांच से छह वर्षों के दौरान डेढ करोड मीट्रिक टन बायो गैस का उत्पादन किया जाएगा।

-----

 

सडक परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने आज असम में देश के पहले बहु मॉडल लॉजिस्टिक पार्क की आधारशिला रखी।

 

श्री गडकरी ने कहा कि सात अरब रुपये की लागत से बोंगाईगांव जिले में बनने वाला यह पार्क अतंर्राष्‍ट्रीय स्‍तर का होगा। उन्‍होंने बताया कि असम और पूर्वोत्‍तर के अन्‍य हिस्‍सों को हवाई, सड़क, रेल और जलमार्ग के माध्‍यम से इसे सीधा जोड़ा जाएगा।


अभी 12 लॉजिस्टिक पार्क और हम बना रहे हैं जिसके फिजिबीलिटी रिपोर्ट और डी पी आर का काम हो रहा है। मल्‍टी-मॉडल पार्क का प्रारूप है उसमें ब्रह्मपुत्र के किनारे पर एक हजार एक सौ 71 करोड़ की लागत से टोटल तीन सौ 17 एकड़ में टोटल प्‍लान है। ये मल्‍टीमॉडल लॉजिस्टिक पार्क इसमें से पचास एकड़ में इनलैंड़ वॉटर का टर्मिनल बनने वाला है और ये जो मल्‍टीमॉडल लॉजिस्टिक पार्क का पहला चरण जो है वो अभी हम कर रहे हैं। ये काम 2023 तक पूरा करने का लक्ष्‍य रखा गया है। लॉजिस्टिक पार्क बनाने का काम दो चरणों में होगा। दौ सौ 80 करोड़ का एवॉर्ड हो गया है। एक सौ 71 करोड़ रुपये का काम सड़क निर्माण का एवॉर्ड हो गया है। 87 करोड़ रुपये के स्‍टक्‍चर बनाने का काम एवॉर्ड हो गया है और 23 करोड़ रुपये रेड लाइन निर्माण का कार्य भी एवॉर्ड हुआ है। नवम्‍बर 2020 से काम शुरू हो जायेगा।

 

श्री गडकरी ने कहा कि राज्‍य में ढांचागत विकास के लिए कदम उठाये जा रहे हैं। उन्‍होंने कहा कि लॉजिस्टिक पार्क से क्षेत्र में रोजगार के अवसर पैदा होंगे। इससे बीस लाख लोगों को रोज़गार भी मिलेगा। श्री गडकरी ने कहा कि रोजगार सृजन हमारी प्राथमिकता है।


रोजगार निर्माण करना ही हमारी सबसे बड़ी प्राथमिकता है। इसमें वाटर ट्रीटमेंट प्‍लांट है, सीवेज ट्रीटमेंट प्‍लांट है, बान्‍ड्रीवाल का निर्माण किया जायेगा और इसका फिर विस्‍तार भी होगा और मेरा विश्‍वास है कि ये पोर्ट भी बहुत इम्‍पोर्टेंट है और मेरा नॉर्थ ईस्‍ट के बाकी के राज्‍यों को आह्वान है कि जहां-जहां से हमारी ब्रह्मपुत्र जाती है, बराक है, इन रीवर को जोड़कर ये एस्‍पोर्ट- इनपोर्ट अगर पानी पे आता है तो बहुत बड़ा का होगा और मेरा विश्‍वास है कि इसमें हमलोग अभी 22 ग्रीन एक्‍सप्रेस हाइवे बना रहे हैं जिसकी लंबाई सात हजार 652 किलोमीटर है और तीन लाख 18 हजार छह सौ 78 करोड़ उसमें खर्चा कर रहे हैं।

 

पूर्वोत्‍तर मामलों के राज्‍यमंत्री डॉ0 जितेन्‍द्र सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री की पहल के कारण पिछले छह वर्षों के दौरान पूर्वोत्‍तर में सडक सम्‍पर्क में सुधार हुआ है।

-----

 

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने आज लखनऊ में स्पेशलिटी कैंसर अस्पताल का वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए उदृघाटन किया। आठ सौ पांच करोड रुपये लागत वाला यह अस्‍पताल टाटा कैंसर इंस्‍टीट्यूट मुंबई की तर्ज पर होगा। रक्षा मंत्री और स्‍थानीय सांसद राजनाथ सिंह ने कहा कि लखनऊ में इस अस्‍पताल के शुरू हो जाने से राज्‍य के लोगों को कैंसर के उपचार के लिए मुंबई, चेन्‍नई और दिल्‍ली जैसे शहरों में नहीं जाना पडेगा।

-----

 

स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने कहा है कि देश के 14 राज्‍यों में परजीवी आंत्र कृमि संक्रमण को कम करने में सफलता मिली है। इस तरह के संक्रमण को मिट्टी के ज़रिए कृमियों से फैलने वाली बीमारी भी कहा जाता है। मंत्रालय ने बताया कि नौ राज्‍यों में सर्वेक्षण से कृमि संक्रमण में महत्‍वपूर्ण कमी का पता चला। ये राज्‍य हैं- छत्‍तीसगढ़, हिमाचल प्रदेश, मेघालय, सिक्किम, तेलंगाना, त्रिपुरा, राजस्‍थान, मध्‍य प्रदेश और बिहार।

 

स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने कहा कि मिट्टी के जरीए पेट में कीड़ों की समस्‍या प्रमुख सार्वजनिक स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍या है जो ज्‍यादातर कम संसाधन वाले परिवारों में होती है। इस तरह के संक्रमण के कारण बच्‍चों की शारीरिक वृद्धि पर बुरा असर पड़ता है और उन्‍हें खून की कमी तथा कुपोषण की समस्‍या का सामना करना पड़ता है। 'राष्ट्रीय कृमि निवारण दिवस' की शुरूआत 2015 में हुई थी।

 -----

 

केंद्रशासित प्रदेश जम्‍मू कश्‍मीर में आज तीसरे पहर पुलवामा के काकापोरा  स्थित हकरीपोरा में आतंकवादियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड में तीन आतंकवादी मारे गये। आतंकवादियों की पहचान की पहचान की जा रही है। उनके पास से बडी संख्‍या में हथियार और गोला बारूद बरामद हुए हैं। अंतिम समाचार मिलने तक तलाश अभियान जारी था।

-----

 

केंद्र शासित प्रदेश जम्‍मू कश्‍मीर के उपराज्‍यपाल मनोज सिन्‍हा ने अनंतनाग में पुलिस इंस्‍पेक्‍टर मोहम्‍मद अशरफ की आतंकवादियों द्वारा हत्‍या किए जाने की निंदा की है। आतंकवादियों ने कल शाम उनकी हत्‍या कर दी थी जब वे स्‍थानीय मस्जिद में नमाज अदा करने के बाद घर लौट रहे थे।

 

उपराज्‍यपाल ने कहा कि ऐसे जघन्‍य हमले घाटी में स्थिति खराब करने के प्रयास हैं जबकि वहां विकास के अनेक कार्य तेजी से चलाए जा रहे हैं।

-----

 

भारत शंघाई सहयोग संगठन में निरंतर सक्रिय बना हुआ है। भारत ने आज वीडियो कॉन्‍फ्रेंस के ज़रिए शंघाई सहयोग संगठन के प्रोसीक्‍यूटर जनरल की 18वीं बैठक में भाग लिया। बैठक में शामिल सभी देश भ्रष्‍टाचार से निपटने और उसकी रोकथाम, आपसी कानूनी सहायता और विनियामक कानूनी अधिनियमों के आदान-प्रदान के बारे में सहयोग मजबूत करने पर सहमत हुए। भारत का प्रतिनिधित्‍व महाधिवक्‍ता तुषार मेहता ने किया। उन्‍होंने कहा कि भारत भ्रष्‍टाचार और कालेधन को कतई बर्दाश्‍त न करने की नीति अपना रहा है। श्री मेहता ने सरकार की प्रमुख स्‍कीम प्रधानमंत्री जनधन योजना का उल्‍लेख करते हुए कहा कि इससे देश के वित्‍तीय ढांचे का विस्‍तार हुआ है। भारत अगले साल प्रोसीक्‍यूटर जनरल की बैठक की मेज़बानी करेगा।

-----

 

कलकत्‍ता उच्‍च न्‍यायालय की पीठ आज अपने आदेश की समीक्षा पर सहमत हो गई। पीठ ने कल पारित आदेश में दुर्गा पूजा पंडालों में भक्‍तों के प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया था।  


विभिन्‍न पूजा आयोजन समितियों के संगठन दुर्गोत्‍सव मंच की याचिका के बाद न्‍यायालय पिछले आदेश की समीक्षा पर सहमत हुआ। न्‍यायमूर्ति संजीब बनर्जी और अरीजीत बनर्जी की पीठ ने इस याचिका पर सुनवाई की। अदालत कल इस मामले में तर्क सुनेगी। पांच दिन के दुर्गा उत्‍सव की औपचारिक शुरूआत परसों होगी।

-----

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि नवरात्रि में आज मां दुर्गा के चौथे स्वरूप देवी कूष्मांडा की पूजा का दिन है।

 

श्री मोदी ने आशा व्यक्त की कि मां कूष्मांडा सभी के जीवन में सुख, समृद्धि और सफलता लाएं।

-----

 

तेलंगाना में पिछले सप्‍ताह की मूसलाधार वर्षा से हुए नुकसान से अभी लोग उबरे भी नहीं थे कि फिर हैदराबाद और उसके आसपास के क्षेत्रों में भारी वर्षा रिकार्ड की गई। पिछले सप्‍ताह की मूसलाधार वर्षा का पानी अब भी अनेक बस्तियों में भरा हुआ है। बंगाल की खाडी में बनी कम दवाब की स्थिति के कारण आज सुबह से ही शहर के विभिन्‍न इलाकों में भारी बारिश हुई। मौसम विभाग ने तेलंगाना के मध्‍य और दक्षिण भागों में तेज से और तेज वर्षा होने की चेतावनी दी है और अगले दो दिनों में भी तेज बारिश का अनुमान व्‍यक्‍त किया है।

 

इस बीच, राज्‍य सरकार ने वर्षा और बाढ प्रभावित गरीब परिवारों को दस-दस हजार रूपये की तत्‍काल सहायता देने की घोषणा की है। तीन लाख से अधिक प्रभावित परिवारों को सहायता दिए जाने की संभावना है।

-----

 

बंबई शेयर बाजार का संवेदी सूचकांक आज 113 अंक बढकर चालीस हजार पांच सौ 44 पर बंद हुआ। नेशनल स्‍टॉक एक्‍सचेंज का निफ्टी भी 24 अंक बढत के साथ 11 हजार आठ सौ 97 पर पहुंच गया।

-----

 

आईपीएल क्रिकेट दुबई में किंग्स इलेवन पंजाब और डेल्‍ही कैपिटल्स के बीच मुकाबला जारी है। ताजा समाचार मिलने तक डेल्‍ही कैपिटल्‍स ने 11 ओवर में 2 विकेट पर 90 रन बना लिए हैं।

-----


मौसम के पूर्वानुमान पर -
 

राजधानी दिल्ली में न्‍यूनतम तापमान 16 डिग्री और अधिकतम 34 डिग्री सेल्सियस रहने की सम्‍भावना है। जम्मू-कश्मीर के जम्मू में न्यूनतम तापमान 16 डिग्री और अधिकतम तापमान 33 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहेगा। गिलगित में आमतौर पर आसमान साफ रहेगा। मुजफ्फराबाद में न्यूनतम तापमान 13 और अधिकतम तापमान 31 डिग्री सेल्सियस के बीच रहने की संभावना है।

-----

Live Twitter Feed

Listen News

Morning News 1 (Dec) Midday News 1 (Dec) Evening News 1 (Dec) Hourly 1 (Dec) (1910hrs)
समाचार प्रभात 1 (Dec) दोपहर समाचार 1 (Dec) समाचार संध्या 1 (Dec) प्रति घंटा समाचार 1 (Dec) (2200hrs)
Khabarnama (Mor) 1 (Dec) Khabrein(Day) 1 (Dec) Khabrein(Eve) 1 (Dec)
Aaj Savere 1 (Dec) Parikrama 1 (Dec)

Listen Programs

Market Mantra 1 (Dec) Samayki 9 (Aug) Sports Scan 1 (Dec) Spotlight/News Analysis 1 (Dec) Employment News 1 (Dec) World News 1 (Dec) Samachar Darshan 22 (Mar) Radio Newsreel 21 (Mar)
    Public Speak

    Country wide 12 (Mar) Surkhiyon Mein 1 (Dec) Charcha Ka Vishai Ha 11 (Mar) Vaad-Samvaad 17 (Mar) Money Talk 17 (Mar) Current Affairs 6 (Mar) Sanskrit Saptahiki 28 (Nov) North East Diary 26 (Nov)