A- A A+
Last Updated : Oct 22 2020 11:24AM     Screen Reader Access
News Highlights
Campaigning for first phase of assembly elections gains momentum in Bihar            COVID-19 recovery rate in country crosses 89 pct            Indigenously built ASW stealth corvette INS Kavaratti to be commissioned into Navy today            Inter-Ministerial team to visit Telangana to assess flood damage            IPL: Royal Challengers Bangalore beat Kolkata Knight Riders by 8 wickets           

Text Bulletins Details


Parikrama

1630 HRS
27.09.2020

लिखकर हर रोज़ किस्‍मत का, मिटा दिया करते हैं,

कर्मों का इस तरह, हर रोज़, हिसाब किया करते हैं

कार्यक्रम परिक्रमा के, बज रहे हैं साढ़े चार दोस्‍तो,

तो इस 30 मिनट में हम, खबरों का भी, हिसाब किया करते हैं,

और आज प्रधानमंत्री ने फिर की है मन की बात,

तो मन की बातों का भी, मन से, संवाद किया करते हैं।


जी, हां। फ्रेंड्स! स्‍वागत और अभिनंदन न्‍यूज मैगजीन कार्यक्रम परिक्रमा के आज के अंक में! ध्‍वनि के माध्‍यम- रेडियो की आवृत्तियों के कागज पर, आवाज़ की कलम से, अगले पूरे 30 मिनट का हिसाब, आपके और हमारे दिलो-दिमाग पर होने जा रहा है, तो जुड़े रहिए हमारे साथ, खबरों के हिसाब के इस सफर में- मैं हूं पुष्‍पलता शर्मा और मेरे साथ हैं मेरी सहयोगी सुब्‍घा कौल। स्‍वीकार कीजिए हम दोनों का नमस्‍कार!


Namaskar, Pushplata, Good Evening listerns and a very warm welcome to out later afternoon News Magazine Parikrama.


Friends everyday, without fail, we bring you something new, something refreshing and you with all thats making news. And Pushplata today is 27th September is the World Tourism Day!!! Well, unfortunately, tourism has been among the hardest hit of all sectors by the Covid-19 pandemic, ....But on the flip side this pandemic has given us an oppertunity to re-think, on the future of tourism sector, a sector that truly helps in bringing people together, promoting solidarity and trust.


And with that hope of positivitiy that the tourism sector revivies and thrives back again lets begain our today edition of Parikrama..Pushplata we start with News,

<><><>

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने कहा है कि किसानों और गांवों के सशक्‍त होने पर ही भारत आत्‍मनिर्भर बनेगा। आकाशवाणी से आज मन की बात कार्यक्रम में उन्‍होंने कहा कि कृषि क्षेत्र, किसान और गांव ही आत्‍मनिर्भर भारत का आधार हैं। उन्‍होंने कहा कि संकट की इस घड़ी में कृषि क्षेत्र ने अपना दम-खम दिखाया।


"हमारे यहाँ कहा जाता है, जो, ज़मीन से जितना जुड़ा होता है, वो, बड़े-से-बड़े तूफानों में भी उतना ही अडिग रहता है। कोरोना के इस कठिन समय में हमारा कृषि क्षेत्र, हमारा किसान इसका जीवंत उदाहरण हैं। संकट के इस काल में भी हमारे देश के कृषि क्षेत्र ने फिर अपना दमख़म दिखाया है। साथियो, देश का कृषि क्षेत्र, हमारे किसान, हमारे गाँव, आत्मनिर्भर भारत का आधार है। ये मजबूत होंगे तो आत्मनिर्भर भारत की नींव मजबूत होगी।"


The Prime Minister said that in the recent past, farmers have liberated themselves from many restrictions and tried to break free from many myths. Mr Modi said farmers now have the freedom to sell their produce anywhere and to anyone to get higher price.


प्रधानमंत्री ने कहानी सुनाने की कला पर विस्‍तार से बताया कि कैसे यह हमेशा से भारतीय संस्‍कृति का हिस्‍सा रही है। हर परिवार में कोई न कोई बुजुर्ग और अग्रज कहानियां सुनाया करते थे और घर में नई प्रेरणा, नई ऊर्जा से भर देते थे।


"मैं, ज़रूर आपसे आग्रह करूँगा, परिवार में, हर सप्ताह, आप, कहानियों के लिए कुछ समय निकालिए, और ये भी कर सकते हैं कि परिवार के हर सदस्य को, हर सप्ताह के लिए, एक विषतय करें, जैसे, मान लो करुणा है, संवेदनशीलता है, पराक्रम है, त्याग है, शौर्य है - कोई एक भाव और परिवार के सभी सदस्य, उस सप्ताह, एक ही विषय पर, सब के सब लोग कहानी ढूँढेंगे और परिवार के सब मिल करके एक-एक कहानी कहेंगे। आप देखिये, कि, परिवार में कितना बड़ा खजाना हो जाएगा, रिसर्च (Research) का कितना बढ़िया काम हो जाएगा, हर किसी को कितना आनन्द आएगा और परिवार में एक नयी प्राण, नयी उर्जा आएगी।"


Prime Minister Modi said the second of October is a holy and inspiring day for all as we remember Mahatma Gandhi and Lal Bahadur Shastri on this day.


"मेरे प्यारे देशवासियो, आने वाले दिनों में हम देशवासी, कई महान लोगों को याद करेंगे, जिनका, भारत के निर्माण में अमिट योगदान है। 02 अक्टूबर हम सबके लिए पवित्र और प्रेरक दिवस होता है। यह दिन माँ भारती के दो सपूतों, महात्मा गाँधी और लाल बहादुर शास्त्री को याद करने का दिन है। पूज्य बापू के विचार और आदर्श आज पहले से कहीं ज्यादा प्रासंगिक हैं, महात्मा गाँधी का जो आर्थिक चिन्तन था, अगर उस spirit को पकड़ा गया होता, समझा गया होता, उस रास्ते पर चला गया होता, तो, आज आत्मनिर्भर भारत अभियान की जरूरत ही नहीं पड़ती। गाँधी जी के आर्थिक चिंतन में भारत की नस-नस की समझ थी, भारत की खुशबू थी। पूज्य बापू का जीवन हमें याद दिलाता है कि हम ये सुनिश्चित करें कि हमारा हर कार्य ऐसा हो, जिससे, ग़रीब से ग़रीब व्यक्ति का भला हो।"


श्री मोदी ने स्‍वतंत्रता सेनानी भगत सिंह को याद किया, जिनकी कल 28 सितंबर को जयंती है।


"कल, 28 सितम्बर को हम शहीद वीर भगतसिंह की जयन्ती मनायेंगे। मैं, समस्त देशवासियों के साथ साहस और वीरता की प्रतिमूर्ति शहीद वीर भगतसिंह को नमन करता हूँ। शहीद भगतसिंह पराक्रमी होने के साथ-साथ विद्वान भी थे, चिन्तक थे। अपने जीवन की चिंता किये बगैर भगतसिंह और उनके क्रांतिवीर साथियों ने ऐसे साहसिक कार्यों को अंजाम दिया, जिनका देश की आज़ादी में बहुत बड़ा योगदान रहा। शहीद वीर भगतसिंह के जीवन का एक और खूबसूरत पहलू यह है कि वे टीम वर्क के महत्व को बख़ूबी समझते थे।"


प्रधानमंत्री ने भारत रत्‍न लोकनायक जयप्रकाश जी का भी स्‍मरण किया, जिनकी जयंती 11 अक्‍तूबर को है। उन्‍होंने कहा कि जे.पी. ने भारत के लोकतांत्रिक मूल्‍यों की रक्षा में अग्रणी भूमिका निभाई है।

<><><>

पूर्व केन्द्रीय मंत्री जसवंत सिंह का आज सुबह नई दिल्ली में लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया। वे 82 वर्ष के थे। उन्‍हें 25 जून को दिल्‍ली में सेना के आर.आर. अस्‍पताल में भर्ती कराया गया था। छह वर्ष पहले 2014 में उनके सिर में गहरी चोट लगने के बाद वे कोमा में चले गए थे।


जसवंत सिंह भारतीय जनता पार्टी के संस्‍थापक सदस्‍यों में से एक थे। उन्‍होंने रक्षा, विदेश और वित्‍तमंत्री के रूप में काम किया और योजना आयोग के उपाध्‍यक्ष भी रहे।


राष्‍ट्रपति, उपराष्‍ट्रपति और प्रधानमंत्री ने जसवंत सिंह की मृत्‍यु पर शोक व्‍यक्‍त किया है।


Director General of World Health Organisation Tedros Adhanom Ghebreyesus has thanked Prime Minister Narendra Modi for his speech at the UN General Assembly. In a tweet, the WHO DG thanked Mr Modi for his commmitment and solidarity in fight against Coronavirus pandemic. The WHO Chief said, COVID-19 pandemic can be ended only by mobilizing forces and resources jointly for the common good.


देश में कोविड से स्‍वस्‍थ होने की दर बढ़कर 82 दशमलव चार-छह प्रतिशत हो गई है और 49 लाख से अधिक रोगी कोरोना से पूरी तरह स्‍वस्‍थ हो चुके हैं। आज 88 हजार छह सौ नए मरीज़ों का पता चलने के साथ ही देश में संक्रमित व्‍यक्तियों की कुल संख्‍या उनसठ लाख 92 हजार पांच सौ से अधिक हो गई है। पिछले 24 घंटे में एक हजार एक सौ 24 लोगों की मृत्‍यु होने के साथ ही मृतकों की कुल संख्‍या 94 हजार पांच सौ से ज्‍यादा हो गई है। कोविड से मृत्‍युदर एक दशमलव पांच आठ प्रतिशत है।


देशभर में नौ लाख 56 हजार से अधिक रोगियों का उपचार चल रहा है, जो कुल संक्रमित व्‍यक्तियों का 15 दशमलव नौ छह प्रतिशत हैं।


भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद - आईसीएमआर के अनुसार कल देश में नौ लाख 87 हजार आठ सौ से अधिक कोविड जांच की गई। अभी तक कुल सात करोड़ 12 लाख 58 हजार के करीब कोविड जांच की जा चुकी हैं।


अंतर्राष्ट्रीय समाचार-


British Prime Minister Boris Johnson has said that Coronavirus pandemic has frayed the bonds between nations, and urged world leaders to unite against the common foe of COVID-19. Mr. Johnson, who made the remarks in a prerecorded speech to the United Nations General Assembly, said that, nine months into the pandemic, the very notion of the international community looks tattered.


Mr Johnson set out a plan for preventing another global pandemic, including a network of zoonotic research labs around the world to identify dangerous pathogens before they leap from animals to humans.


British Prime Minister also committed 636 million US dollars through the global COVAX vaccine-procurement pool. He announced that the UK is boosting its funding for the World Health Organization by 30 per cent to 432 million US dollar for next four years.


<><><>


NEWS FROM THE STATES : (CORRESPONDENT CORNER)


Gujarat government has proposed to set up the dedicated toy manufacturing clusters in the state. According to sources, the state government has invited top Indian and multinational toy manufacturers as well as start-ups to set up operations in Gujarat.


"प्रधान मंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने पिछले महीने अपने मन की बात कार्यक्रम मे बच्चो के खिलोने के उत्पादन में देश को विश्वका बड़ा केंद्र बनाने की बात कही थी. उन्होंने नए स्टार्ट उप और नये उद्यमियो को वैश्विक स्तर के खिलोने और गेइम बनाने के लिए आगे आने की अपील की थी. गुजरात सरकार ने इस दिशामे एक कदम और आगे बढाया हे. गुजरात सरकार द्वारा राज्यमे सिर्फ खिलोने के उत्पादन के लिए क्लस्टर स्थापित करने का फैसला किया हे. गुजरात सरकार द्वारा खिलोने बनाने में अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त जापान की जानी मानी कम्पनिया निनटेन्ड़ो और टोमी, अमेरिका की हासब्रो और मेटेल, जर्मनी की सुम्बा सहित अनेक अंतर राष्ट्रिय कम्पनियो को खिलोने के उत्पादन के लिए गुजरात आने का न्योता भेजा हे. मुख्य मंत्री कार्यालय में अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री मनोज दास ने जापान, अमरीका, केनेडा और यूरोप के देशो के खिलोने उत्पादको को गुजरात में उत्पादन इकाईया स्थापित करने का न्योता भेजा हे. और विश्व स्तरकी सुविधाए प्रदान करने का आश्वासन दिया हे.


जापान के खिलोने उत्पादको को लिखी चिठ्ठी में कहा गया हे के भारत के एक चोथाई जन संख्या 14 साल कम उम्र के बच्चो की हे. प्रधान मंत्री द्वारा भी देश के इतने बड़े बाज़ार को देखते हुवे भारत में निवेश के लिए बड़ी संभावना व्यक्त की थी. गुजरात औद्योगिक उत्पादन में देश में सर्वोच्च स्थान पर हे. और इस वक्त देश में सबसे अधिक विदेश निवेश भी आकर्षित कर रहा हे. और यह सब राज्य सरकारके निवेशको के साथ मैत्री पूर्ण नीतिओ की वजह से हो रहा हे. यह पत्र के अनुसार गुजरात में प्लासटिक, लकड़ी, रबर, स्पेश्सियालिटी केमिकल्स, मेटल आदि के उत्पादन के लिए अच्छी और काफी विकसित व्यवस्था पहेले से ही स्थापित हे.  जो खिलोने के उत्पादन में कच्चे माल सामान की आपूर्ति में काफी मददगार हो सकता हे. गांधीनगर में बाल विश्व विद्यालय पहेले से ही स्थापित हे, और राज्य सरकार को खिलोने के म्यूजियम स्थापित करने का आश्वासन एक निजी कम्पनी द्वारा पहेले से ही मिल चूका हे. जैसे की प्रधान मंत्रीने अपने मन की बात कार्यक्रम में कहा था- की विश्व के 7 लाख करोड़ के खिलोने के कारोबार में भारत का हिस्सा बढाने  का यह सबसे उपयुक्त समय हे. तब गुजरात ने इस दिशामे अच्छी शुरुआत की हे.  परिक्रमा के लिए अहमदाबाद से में योगेश पंड्या."


School Education in Nagaland has taken a giant leap towards the welfare education system in the State, with the launch of the various online portals for students and teachers.


"In what may help solve several issues including proxy teaching in government institutions that has been hampering the delivery of quality education, the department of school education has taken major leap in launching four programmes at Kohima on 23rd of September .  Principal Secretary of School Education, Menukhol John officially launched the Online Teachers’ Transfer Portal and Teacher’s app.  while State Mission Director Samagra Shiksha, Nagaland, Kevileno launched the Child Protection Policy for School and Security Pledge and guidelines. Principal Secretary of School Education, Menukhol John said the commissioning of Online Transfer Portal will ensure the required staff strength and the vacancy positions for all schools as well as allow transparency in the functioning of the department."


SHAH-NORTH EAST

'Destination North East-2020', a four-day event to highlight the Northeast region's various potentials like eco-tourism, culture, heritage and business kicked off today.


The four-day programme will feature audio visual presentation of the tourist spots of the states and the region, messages from state icons and achievers, introduction to prominent local entrepreneurs and virtual exhibition of handicraft, traditional fashion, and local products.


The 'Destination North East-2020' is a calendar event of the Ministry of Development of North Eastern Region conceptualised with the objective of taking the northeastern region to other parts of the country and bringing them closer together in order to strengthen national integration.


This year, the theme is 'The Emerging Delightful Destinations', which speaks of the tourism destinations emerging stronger and more attractive when the sector picks up momentum.


गृहमंत्री अमित शाह ने आज पूर्वोत्‍तर राज्‍यों में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए डेस्‍टीनेशन नोर्थ ईस्‍ट कार्यक्रम का उद्घाटन किया। इसका उद्देश्‍य पूर्वोत्‍तर क्षेत्र में पर्यावरण अनुकूल पर्यटन, संस्‍कृति, धरोहर और व्‍यापार जैसी विभिन्‍न क्षमताओं को उजागर करना है।


उन्‍होंने कहा कि पूर्वोत्‍तर क्षेत्र की संस्‍कृति बेजोड़ है और वहां के लोगों ने इसे संरक्षित किया है। उन्‍होंने इस क्षेत्र की बेजोड़ संस्‍कृति को भारतीय संस्‍क़ृति का आभूषण बताया।


Minister for Development of North Eastern Region, DoNER, Dr Jitendra Singh was the guest of honour at the event.


डॉ. जितेन्‍द्र सिंह ने इस अवसर पर अपने संबोधन में कहा कि कोविड-19 के बाद इस क्षेत्र के स्‍वर्ण युग की शुरुआत होगी। उन्‍होंने कहा कि यह क्षेत्र पर्यटन और व्‍यापार के महत्‍वपूर्ण लक्ष्‍यों में से एक होगा। उन्‍होंने कहा कि पूर्वोत्‍तर नए भारत के निर्माण में अग्रणी भूमिका अदा करेगा।

इस अवसर पर पूर्वोत्‍तर राज्‍यों के मुख्‍यमंत्री भी उपस्थित थे।

Earlier, this week unveiling the logo and theme song of the festival, Dr Singh said the 'Destination North East' event has been travelling across the country, from Varanasi to New Delhi or to Chandigarh. He said the festival is not just about tourism, but it's an invitation to the organisations and specially to the young entrepreneurs who would like to avail the advantage of unexplored potentials of the region. Mr Singh said the northeastern region will be one of the favourite tourist and business destinations of India post-COVID-19 and will be an important engine for Prime Minister Narendra Modi's clarion call of Atmanirbhar Bharat by focussing on "Vocal for Local". He said the event is also an effort to make everyone explore the local destinations rather than going anywhere abroad.

<><><>


EMPLOYMENT NEWS:-

चाहे कितना भी मुश्किल समय क्यों ना आ जाए लेकिन सही सलामत बच निकलने का कोई ना कोई रास्ता निकल ही आता है। आवश्यकता बस इतनी सी होती है कि सूझबूझ के साथ सही समय पर सही कदम उठाया जाएं।


इंडियन रबर मैन्युफैक्चरर्स रिसर्च एसोसिएशन द्वारा सहायक निदेशक कमर्शियल के पद की सीधी भर्ती के लिए आवेदन पत्र आमंत्रित किए गए हैं।

विधिवत हस्ताक्षरित आवेदन और उस पर नवीनतम पासपोर्ट रंगीन फोटोग्राफ्स चिपका कर, आवश्यक दस्तावेजों की स्वयं सत्यापित प्रतिलिपि संलग्न करते हुए इसे निदेशक, इंडियन रबर मैन्युफैक्चरर्स रिसर्च एसोसिएशन, प्लॉट नंबर 254/18। रोड नंबर V वागले,  इंडस्ट्रियल एस्टेट, ठाणे- 400604 के पास केवल पंजीकृत और स्पीड पोस्ट से भेजा जाना चाहिए।


कोविड-19 महामारी के कारण विशेष मामले के तौर पर आवेदन पत्रों को ईमेल के जरिए स्वीकार किया जा रहा है।  जो आप info@irmra.org  पर भेज सकते हैं। विज्ञापन के तिथि से 15 दिन के अंदर आवेदन भेजे जा सकते हैं। आगे की सभी घोषणाएं विवरण समय-समय पर केवल  IRMRA  की  वेबसाइट info@irmra.org  पर उपलब्ध कराई जाएगी।

@@@@@@@@@@@@@@@@@

राष्ट्रीय मस्तिष्क अनुसंधान केंद्र, NBRC  मानेसर, गुरूग्राम, हरियाणा में निदेशक पद हेतु आवेदन आमंत्रित किए जाते हैं।

केंद्र की विस्तृत जानकारी www.nbrc.ac.in पर उपलब्ध है।

स्थानीय आवेदकों हेतु बायोटेक्नोलॉजी विभाग में आवेदन करने की अंतिम तिथि इस विज्ञापन के रोजगार समाचार में प्रकाशित होने के 30 दिनों के अंदर एवं विदेश तथा अंडमान एवं निकोबार द्वीप, उत्तर पूर्व क्षेत्र के राज्य, केंद्र शासित प्रदेश जम्मू और कश्मीर  के लद्दाख क्षेत्र, हिमाचल प्रदेश के चंबा अनुमंडल एवं लाहौल एवं स्पीति जिलों के आवेदकों हेतु 45 दिन है।


@@@@@@@@@@@@@

एंट्रिक्स कॉरपोरेशन लिमिटेड अंतरिक्ष विभाग के प्रशासनिक नियंत्रण के अंतर्गत भारत सरकार की पूर्ण स्वामित्व वाली कंपनी प्रबंध वित्त पद के लिए हार्ड कॉपी में आवेदन आमंत्रित करती है।

पता है-अंतरिक्ष भवन परिसर, न्यू बी. ई. रोड बेंगलुरू 560094

शैक्षणिक योग्यता, अनुभव और आयु सीमा के विस्तृत विवरण के लिए वेबसाइट www.antrix.co.in देखें। आवेदन प्राप्त करने की अंतिम तिथि 12 अक्टूबर 2020 है


@@@@@@@@@@@@@@@@@@

राष्ट्रीय विज्ञान शिक्षा एवं अनुसंधान संस्थान भुवनेश्वर, में प्रतिनियुक्ति के आधार पर वित्त अधिकारी के पद हेतु योग्य भारतीय नागरिकों से आवेदन आमंत्रित किए गए  हैं।


आयु सीमा 56 वर्ष रखी गई है।

योग्यता है किसी भी विषय में मास्टर डिग्री कम से कम 55% अंकों या उसके समकक्ष ग्रेड के साथ। और 15 वर्ष का अनुभव जिसमें से कम से कम 5 वर्ष कुलपति या समकक्ष पद पर कार्य शामिल है।

16 नवंबर 2020 आवेदन की अंतिम तिथि है।

आवेदन फॉर्म और विस्तृत विज्ञापन नाइसर की आधिकारिक वेबसाइट www.niser.ac.in पर उपलब्ध है। आवेदन की हार्ड कॉपी भेजने और भविष्य में पत्राचार के लिये पता नोट करें।

भर्ती प्रकोष्ठ, राष्ट्रीय विज्ञान शिक्षा एवं अनुसंधान संस्थान, भुवनेश्वर, पी. ओ. भीमपुर- पालनपुर, वाया-जटनी, जिला खुर्दा ओडीशा 752050, भारत

इस भर्ती प्रक्रिया से संबंधित सभी घोषणाएं और विवरण आधिकारिक वेबसाइट पर समय समय पर उपलब्ध कराए जाएंगे।

@@@@@@@@

कृषि सहकारिता एवं किसान कल्याण विभाग में योजना अधिकारी के एक पद को भरने के लिए आवेदन आमंत्रित किए गए हैं। आयु सीमा 56 वर्ष से अधिक नहीं होगी।

आवेदन के साथ अपेक्षित दस्तावेज रोजगार समाचार में प्रकाशन से 60 दिन के अंदर श्री सुनील कुमार स्वर्णकर,

अवर सचिव कमरा नंबर-37, सतह तल, कृषि भवन, नई दिल्ली, 110001 के पास भेज सकते हैं।

पद के लिए आवेदन कर रहे उम्मीदवारों को बाद में अपनी उम्मीदवारी वापस लेने की अनुमति नहीं होगी। अंतिम तिथि 16 नवंबर 2020  के बाद पहुंचने वाले आवेदन स्वीकार नहीं किए जाएंगे।

@@@@@@@@@@@@

काशी हिंदू विश्वविद्यालय में निदेशक, आईएमएस, चिकित्सा अधीक्षक तथा उप चिकित्सा अधीक्षक के पद भरने के लिए भारतीय नागरिकों से ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित किए गये हैं।

पदों के विवरण, अनिवार्य योग्यतायें, उम्मीदवारों के लिए सामान्य अनुदेश वेबसाइट www.bhu.ac.in /rac के भर्ती पोर्टल देखें जा सकते हैं।

अंतिम तिथि 30 सितंबर 2020  शाम 5:00 बजे तक ऑनलाइन आवेदन प्रपत्र जमा  और आवेदन शुल्क का भुगतान कर सकते हैं।
@@@@@@@@@

मेघालय  के शिलांग में भारतीय प्रबंधन संस्थान में अनुबंध आधार रेजिडेंट चिकित्सा अधिकारी, गैर शिक्षण के 1 पद हेतु आवेदन मांगे गये है। अधिक जानकारी के लिए वेबसाइट www.iimshillong.ac.in देंखे।

पद हेतु संस्थान के भर्ती पोर्टल के जरिए ऑनलाइन आवेदन करना होगा। अंतिम तिथि 30 सितंबर 2020 है।

@@@@@@@@@@@@@@@@@

इन रिक्तियों के बारे में जानकारी रोजगार समाचार में प्रकाशित की गई है। समाचार पत्र में और अधिक रिक्तियों के बारें में जानकारी उपलब्ध हैं। यदि आप इन रोजगार के अवसरों के बारे में अधिक विस्तार से पढ़ना और जानना चाहते हैं, तो आप अंग्रेजी में जानकारी के लिए Employment News, हिंदी और उर्दू में जानकारी के लिए रोज़गार समाचार देख सकते हैं। सूचना और प्रसारण मंत्रालय का प्रकाशन प्रभाग प्रत्येक शनिवार को इसे प्रकाशित करता है।


SPORTS

In IPL Cricket, Rajasthan Royals will take on Kings Eleven Punjab at Sharjah today. Both teams have won one match each so far in the tournament.


FRENCH -OPEN

Amid COVID 19 pandemic, the French open Tennis begins today in Paris with organisers restricting the spectators' size to one thousand per day. The new limit, reduced from 5,000 per day, was first announced by Prime Minster Jean Castex on Thursday.

Thr first round matches of the Men's and Women's Singles are underway. The tournament ends on October 11.

<><><>

अब हम परिक्रमा के उस भाग में पहुँच चुके हैं जहाँ अब हम ज़िक्र करेंगे जनम दिवसों और मृत्यु दिवसों की यानि की जयंतियों और पुण्यतिथियों की :-

सबसे पहले हम याद कर रहे हैं आज राजा राममोहन राय को आज के दिन उनका निधन हुआ था । आधुनिक भारतीय समाज के संसथापक भारतीय भाषायी प्रेस के प्रवर्तकध्‍ जनजागरण और सामाजिक आंदोलन के प्रणेता, बंगाल में नवजागरण युग के पितामह, रूढि़वाद अंधविश्‍वास को दूर करने में महत्‍वपूर्ण भूमिका का निर्वाह किया । सतीप्रथा का उन्‍मूलन उन्‍हीं के प्रयासों से हुआ । हिन्‍दू कालेज के संस्‍थापक भी रहे ।


Roy was ranked number 10 in BBC's poll of the Greatest Bengali of all time.


Shobha Gurtu (1925–2004) was an Indian singer in the light Hindustani classical style and in time came to be known as the Thumri Queen and for the 'Abhinaya' ang in her full-throated voice. ठुमरी की रानी उनको कहा जाता है, पद्मभूषण से सम्‍मानित । ठुमरी को विश्‍व में ख्‍याति दिलवाई । 1978 में मैं तुलसी तेरे आंगन की में उनकी गायी ठुमरी बहुत प्रसिद्ध हुई । आइये थोड़ा सा सुनते हैं वही ठुमरी ।


She was awarded the Padma Bhushan in 2002, Sangeet Natak Akademi Award in 1987 and was also the recipient of the Lata Mangeshkar Puraskar, Shahu Maharaj Puraskar and the Maharashtra Gaurav Puraskar.


Mahendra Kapoor  -और अब याद कर रहे हैं हम महान गायक महेन्‍द्र कपूर को आज ही के दिन 2008 में उनका निधन हुआ था । सम्‍मोहक खनकती आवाज  जो कानों से होते हुए सीधे दिल में उतरती है और दिमाग को झकझोर देती है आत्‍मा को एक उन्‍नयन के आयाम पर ले जाती है । लगभग 25 हज़ार गीत गाये हैं उन्‍होंने, हिन्‍दी ही नहीं, मराठी, पंजाबी, भोजपुरी भी । उपकार में उन्‍होंने उम्‍दा देशभक्ति के गीत गाए । हमराज फिल्‍म का बहुत सुंदर गीत है न मुंह छुपा के जीयो, उसे थोड़ा सा आपको सुनाते हैं ।


In 1972, he was awarded the Padma Shri by the Government of India.-(SONG)


BIRTH ANNIVERSARIES:

YASH RAJ CHOPRA-

भारतीय हिन्‍दी सिनेमा के कालजयी फिल्‍म निर्माता, निर्देशक, पटकथा लेखक यश चोपड़ा, जिन्‍होंने मानवीय संवेदना, प्‍यार स्‍नेह और रूमानी जज्‍़बे के रिश्‍ते में पक्‍का भरोसा पैदा किया । 5दशक तक दर्शकों के दिलों पर राज किया । 


He is credit, films like Waqt, Daag, Deewar, Kabhi Kabhi, Trishul, Chandni, Darr, Dil To Pagal Hai and many more.

जी हां दादा साहब फाल्‍के, पद्मभूषण पुरस्‍कार से सम्‍मानित, ग्‍यारह बार फिल्‍म फेयर पुरस्‍कार से सम्‍मानित किया गया । 


British Academy of Film and Television Arts presented him with a lifetime membership, making him the first Indian to receive the honour.

<><><>


 

Live Twitter Feed

Listen News

Morning News 22 (Oct) Midday News 21 (Oct) Evening News 21 (Oct) Hourly 22 (Oct) (1010hrs)
समाचार प्रभात 22 (Oct) दोपहर समाचार 21 (Oct) समाचार संध्या 21 (Oct) प्रति घंटा समाचार 22 (Oct) (1100hrs)
Khabarnama (Mor) 22 (Oct) Khabrein(Day) 21 (Oct) Khabrein(Eve) 21 (Oct)
Aaj Savere 22 (Oct) Parikrama 21 (Oct)

Listen Programs

Market Mantra 21 (Oct) Samayki 9 (Aug) Sports Scan 21 (Oct) Spotlight/News Analysis 21 (Oct) Employment News 21 (Oct) World News 21 (Oct) Samachar Darshan 22 (Mar) Radio Newsreel 21 (Mar)
    Public Speak

    Country wide 12 (Mar) Surkhiyon Mein 21 (Oct) Charcha Ka Vishai Ha 11 (Mar) Vaad-Samvaad 17 (Mar) Money Talk 17 (Mar) Current Affairs 6 (Mar) Sanskrit Saptahiki 17 (Oct) North East Diary 15 (Oct)