A- A A+
Last Updated : Oct 21 2020 7:13PM     Screen Reader Access
News Highlights
Police Commemoration Day being observed today; Govt working to make border impregnable by linking technology with human force, says Amit Shah            Campaigning for first phase of Bihar Assembly Elections gains momentum; scrutiny of nomination papers for third phase underway            India returns missing Chinese soldier who strayed across LAC            COVID-19 recovery rate in country reaches 88.81 pct            IPL: Kolkata Knight Riders to take on Royal Challengers Bangalore at Abu Dhabi           

Text Bulletins Details


समाचार संध्या

2000 HRS
24.09.2020
मुख्य समाचार :-

  • प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने स्वस्थ रहने का एक नया मंत्र दिया - फिटनेस की डोज़, आधा घंटा रोज़।
  • प्रधानमंत्री ने फिट इंडिया मूवमेंट की पहली वर्षगांठ पर विभिन्‍न आयु वर्ग के लिए फिटनेस प्रोटोकोल जारी।
  • कृषि मंत्री नरेन्‍द्र सिंह तोमर ने भरोसा दिलाया कि कृषि विधेयकों से देश के किसानों के जीवन में क्रांतिकारी परिवर्तन आएगा।
  • भारत ने चीन से कहा है कि वह वास्तविक नियंत्रण रेखा पर यथास्थिति बदलने का कोई प्रयास न करे।
  • भारत ने कहा-पाकिस्तान को देश के अंदुरूनी मामलों में दखल देने का कोई अधिकार नहीं।
  • देश में कोविड से स्‍वस्‍थ होने की दर 81 दशमलव पांच-पांच प्रतिशत हुई।
  • आईपीएल क्रिकेट में, दुबई में किंग्स इलेवन पंजाब और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलौर के बीच मुकाबला जारी।

-----

 
प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने देशवासियों को स्‍वस्‍थ रहने का एक नया मंत्र दिया है- फिटनेस की डोज़, आधा घंटा रोज़। प्रधानमंत्री ने आज फिट इंडिया मूवमेंट के एक वर्ष पूरे होने के अवसर पर ऑनलाइन फिट इंडिया संवाद के दौरान लोगों से फिट और स्‍वस्‍थ रहने के लिए इस मंत्र को अपने जीवन में अपनाने का आह्वान किया।

 
फिटनेस की डोज आधा घंटा रोज इस मंत्र में सभी का स्‍वास्‍थ्‍य, सभी का सुख छिपा हुआ है। फिर चाहे वो योग हो या बेडमिंटन हो, टेनिस हो या फुटबॉल हो, जो भी आपको पंसद आए कम से कम तीस मिनट रोज कीजिए।
 
प्रधानमंत्री ने विभिन्‍न आयु वर्ग के लिए फिटनेस प्रोटोकोल की भी शुरूआत की। श्री मोदी ने सभी देशवासियों के स्वास्थ्य की कामना की।
 
आज का ये डिस्‍कशन हर आयु वर्ग के लिए और भिन्‍न-भिन्‍न रुचि रखने वालों के लिए भी बहुत ही उपयोगी होगा। फिट इंडिया मूवमेंट की फर्स्‍ट एनीवर्सरी पर मैं सभी देशवासियों के अच्‍छे स्‍वास्‍थ्‍य की कामना करता हूं। एक साल के भीतर-भीतर ये फिटनेस मूवमेंट, मूवमेंट ऑफ पीपल भी बन चुका है और  मूवमेंट ऑफ पॉजिटिविटी बन चुका है। देश में हैल्‍थ और फिटनेस को लेकर निरतंर अवेयरनेस में बढ़ोतरी होती चली जा रही है और एक्टिवनेस भी बढ़ी है।  
 
श्री मोदी ने कहा कि विश्‍व के कई देशों ने स्‍वास्‍थ्‍य के बारे  में अनेक लक्ष्‍य तय किए हैं और उन्‍हें हासिल करने लिए कई मोर्चों पर काम कर रहे हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि योग, ध्‍यान, व्‍यायाम, स्‍वस्‍थ खान-पान और तैराकी जैसी गतिविधियां हमारी प्राकृतिक चेतना का हिस्‍सा बन रही हैं। उन्‍होंने कहा कि कोविड संकट के दौरान फिट इंडिया मूवमेंट के प्रभाव और इसकी उपयोगिता का ज्‍यादा एहसास हुआ है। 

फिट इंडिया मूवमेंट ने अपना एक साल एक ऐसे समय में पूरा किया है जिसमें करीब-करीब छह महीने अनेक प्रकार के रि‍स्ट्रिक्‍शन के बीच हमें गुजारा करना पड़ा है। लेकिन फिट इंडिया मूवमेंट ने अपने प्रभाव और प्रासंगिकता को इस कोरोना काल में सिद्ध करके दिखाया है। वाकई फिट रहना उतना मुश्किल काम नहीं है जितना कुछ लोगों को लगता है। थोड़े से नियम से और थोड़े से परिश्रम से आप हमेशा स्‍वस्‍थ रह सकते हैं।
 
प्रधानमंत्री ने इस दौरान फिटनेस एक्‍सपर्ट और लोगों को तंदुरूस्‍त रहने के लिए प्रोत्‍साहित करने वाली जानी-मानी हस्तियों से वार्ता की। श्री मोदी ने क्रिकेटर विराट कोहली, अभिनेता मिलिंद सोमन, फुटबॉल खिलाड़ी अफशान आशिक और अन्‍य जानी-मानी हस्तियों के साथ बातचीत की। जम्मू-कश्मीर की अफशान आशिक ने कहा कि लड़कियां अब खेलों में भी करियर बना रही हैं।

मुझे बहुत ही खुशी होती है कि मैं जम्‍मू एंड कश्‍मीर स्‍टेट को रिप्रे‍जेंट करती हूं। मैं मुंबई के फीफा क्‍लब में खेलती हूं एज ए गोलकीपर। मैं जब भी बाहर जाती हूं तो लड़कियों को एक्‍सरसाइज्स करते हुए, वॉक करते हुए या ग्राउंड में देखती हूं तो मुझे बहुत ही खुशी होती है कि हमारे स्‍टेट की लड़कियां भी आगे आ रही हैं। नोट इन जम्‍मू एंड कश्‍मीर, ऑल ऑवर कंट्री जितनी भी लड़कियां हैं उनको आगे आना चाहिए न कि पीछे रहना चाहिए, हमें अपनी बात हर किसी के आगे रखनी चाहिए और खुद को फिट रखना चाहिए।

-------

 
कृषि मंत्री नरेन्‍द्र सिंह तोमर ने कहा है कि संसद में पारित कृषि विधेयक देश के किसानों के जीवन में क्रांतिकारी परिवर्तन लाएंगे। उन्‍होंने कहा कि नए कानून के बन जाने से किसान अपनी उपज का बेहतर मूल्य पाने में और अधिक स्वतंत्र होंगे और उन्हें आर्थिक लाभ होगा। 

बिल के जो प्रावधान है वो किसान हितैषी हैं। जिनका विरोध करने की स्थिति में कोई भी राजनीतिक दल नहीं है। लेकिन यह रिफॉर्म, ये क्रांतिकारी परिवर्तन जो लम्‍बे समय से अपेक्षित था उसको लाने में मोदी सरकार का संकल्‍प पूरा हुआ है। इ‍सलिए किसी को विरोध करना है तो वो देशभर में लोगों को गुमराह करके इसका विरोध कर रहे हैं।
 
श्री तोमर ने कांग्रेस पर आरोप लगाया कि वह देश के किसानों को गुमराह कर रही है। उन्होंने कहा कि न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य-एमएसपी एक प्रशासनिक निर्णय है।

एम. एस. पी. भारत सरकार का प्रशासकिय निर्णय है, ये निर्णय पहले था, आज भी है और आने वाले कल में भी रहेगा। खरीद के एमएसपी हमने घोषित कर दिए, खरीफ की फलस अक्‍टूबर में आने वाली है और उसकी खरीद की प्रक्रिया उपभोक्‍ता मंत्रालय प्रारंभ करने जा रहा है। रबी की फसल की बुआई से पूर्व ही हम लोगों ने एम. एस. पी. घोषित कर दी है।
 
श्री तोमर ने कहा कि कृषि उत्‍पाद विपणन समिति मंडी को हटाने का प्रावधान नहीं किया गया है।
 
कृषि मंत्री ने कहा कि कृषि विधेयकों से किसानों को फसल की कीमत की गारंटी मिलेगी। इसलिए वे समय पर बुआई कर सकेंगे। उन्‍होंने स्‍पष्‍ट किया कि उपज बेचने का अनुबंध केवल उपज तक ही सीमित होगा और उसका खेती की ज़मीन से कोई संबंध नहीं होगा।

-------

 
सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने राज्‍यसभा में कृषि विधेयकों को पारित कराए जाने के दौरान विरोध करने के बाद मॉनसून सत्र का बहिष्‍कार करने के लिए विपक्षी सांसदों की आलोचना की है।

विपक्षी दलों का राजनीति दिशाहीन हो गई है, क्‍योंकि जब उनका अधिकार था संसद में बैठने का़, बोलने का, अपनी राय जताने का, तो वो अधिकार उन्‍होंने छोड़ दिया, वॉकआउट किया और बाहर जाकर धरना प्रदर्शन कर रहे है। राष्‍ट्रपति जी को मिल रहे है उसके लिए तो तीन सौ दिन है ना, जो 70, 80 दिन चलती है पार्लियामेंट। वो पार्लियामेंट में बोलने के लिए है। इतने महत्‍वपूर्ण किसान विधेयक हुआ, उसमें चर्चा भी हुई, जिस तरह से विपक्ष पेश आया, वो शर्मसार कर दिया उन्‍होंने राज्‍यसभा को।
 
श्री जावड़ेकर ने स्‍पष्‍ट किया कि फसलों का न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य समाप्‍त नहीं किया जा रहा है और कृषि उपज मंडी समितियां भी काम करती रहेंगी।

-------

 
तमिलनाडु सरकार संसद द्वारा पारित कृषि विधेयकों को लागू करने के लिए सभी उपाय करेगी। राज्य के कृषि मंत्री दोराईकन्नू ने बताया कि ये कानून समग्र कृषि समुदाय के लाभ के उद्देश्य के लिए बनाए गए हैं।

-------

 
केन्‍द्र सरकार ने कहा है कि पीएम स्‍ट्रीट वेंडर्स आत्‍मनिर्भर निधि-पीएम स्‍वनिधि योजना के तहत अब तक ऋण के लिए 15 लाख से अधिक आवेदन मिले हैं। आवास और शहरी कार्य मंत्रालय ने कहा है कि इन आवेदनों में से साढ़े पांच लाख से अधिक ऋण मंज़ूर किए गए हैं। करीब दो लाख आवेदकों को ऋण वितरित कर दिए गए। मंत्रालय कोविड लॉकडाउन के बाद कारोबार फिर शुरू करने के लिए पचास लाख स्‍ट्रीट वेंडर्स को गिरवी रखे बिना ऋण उपलब्‍ध कराने के लिए पीएम स्‍वनिधि योजना लागू कर रहा है। ऋण मंज़ूर करने की प्रक्रिया में तेज़ी लाने और ऋण प्रक्रिया आसान बनाने के लिए आवेदनों को सीधे बैंक शाखाओं में भेजने का फैसला किया गया है। ये आवेदन वेंडर की पसंद या उसके खाते संबंधी बैंक शाखा में भेजे जा रहे हैं।
 
इस प्रक्रिया से स्‍वीकृत ऋणों की संख्‍या बढ़ी है और ऋण वितरण के समय में महत्‍वूर्ण कमी आएगी। इस प्रक्रिया को सुगम बनाने के लिए सॉफ्टवेयर विकसित किया गया है जो 11 सितम्‍बर से काम कर रहा है। इस सॉफ्टवेयर के इस्‍तेमाल से बैंकों में करीब तीन लाख आवेदन भेजे जा रहे हैं। इन उपायों से पीएम स्‍वनिधि योजना के कार्यान्‍वयन में तेजी आने की उम्‍मीद है।

-------

 
मध्‍य प्रदेश के मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज दस हजार ग्रामीण रेहड़ी पटरी वालों को दस हजार रुपये का ब्‍याज मुक्‍त ऋण प्रदान किया। भोपाल में श्री चौहान ने इस अवसर पर वीडियो कॉन्‍फ्रेंस के माध्‍यम से ग्रामीण रेहड़ी पटरी वालों से बातचीत भी की। हमारे संवाददाता ने बताया है कि ग्रामीण रेहड़ी पटरी वालों के लिए ऋण वितरण के कार्यक्रम कई अन्‍य जिलों में भी आयोजित किए गये।

यह योजना प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा शहरी पथ विक्रेताओं के लिए शुरू की गयी प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना की तर्ज पर मध्यप्रदेश के ग्रामों तथा कस्बों में निवास करने वाले पथ विक्रेताओं के लिए बनायीं गयी है। मुख्यमंत्री पथ विक्रेता योजना के अंतर्गत 18 से 55 वर्ष की आयु वाले छोटे व्यवसायियों के लिए 10 हजार रूपए तक की कार्यशील पूंजी बिना किसी गारंटी एवं ब्याज के बैंको से प्रदान की जा रही है। इस ऋण का भुगतान एक वर्ष के भीतर करना होगा। समय पर ऋण भुगतान करने पर अगले वर्ष व्यवसाय के लिए 20 हजार रूपए तक की ब्याज मुक्त ऋण राशि प्राप्त की जा सकती है। इसके अलावा डिजिटल भुगतान करने पर हितग्राही को 1200 रूपये की छूट भी मिलेगी। संजीव शर्मा, आकाशवाणी समाचार, भोपाल।

-------

 
वित्‍त मंत्रालय ने पांच राज्‍यों को अतिरिक्‍त वित्‍तीय संसाधन जुटाने के लिए खुले बाजार से नौ हजार नौ सौ 13 करोड रूपये का ऋण लेने की अनुमति दे दी है। इसमें आंध्रप्रदेश, तेलंगाना, गोवा, कर्नाटक और त्रिपुरा शामिल हैं। एक राष्‍ट्र, एक राशनकार्ड व्‍यवस्‍था के कार्यान्‍वयन की शर्तों को सफलतापूर्वक अपनाने के बाद इन राज्यों को ये अनुमति दी गई है। इस अनुमति के अंतर्गत कर्नाटक चार हजार 509 करोड रूपये और आंध्रप्रदेश दो हजार 525 करोड रूपये का ऋण ले सकते हैं। तेलंगाना को दो हजार 508 करोड रूपये जबकि गोवा को 223 करोड रूपये और त्रिपुरा को 148 करोड रूपये ऋण जुटाने की अनुमति दी गई है।
 
कोरोना महामारी के कारण केंद्र सरकार ने मई में राज्‍यों के चालू वित्‍त वर्ष के सकल घरेलू उत्‍पाद का दो प्रतिशत तक अतिरिक्‍त ऋण लेने की अनुमति दी थी। इस तरह राज्‍यों को चार लाख 27 हजार 302 करोड रूपये उपलब्‍ध हो जाएंगे।

--------------

 
भारत ने एशिया वार्ता और विश्वास निर्माण मंच-सी०आई०सी०ए० के दुरूपयोग के लिए पाकिस्‍तान की कड़ी आलोचना की है। भारत ने कहा है कि पाकिस्तान निराधार बयान देता रहा है। मंच की विशेष मंत्री स्‍तरीय वर्चुअल बैठक में उत्‍तर देने के अधिकार के दौरान भारत ने कहा कि जम्‍मू-कश्‍मीर तथा लद्दाख भारत के अभिन्‍न अंग हैं और हमेशा बने रहेंगे।
 
पाकिस्‍तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी की टिप्‍पणी पर भारत ने कहा कि पाकिस्‍तान को भारत के अंदरूनी मामलों में दखल देने का कोई अधिकार नहीं है। भारत ने कहा कि पाकिस्‍तान ने जो आज बयान दिया है वह उसके आंतरिक मामलों, संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता में खुला हस्‍तक्षेप है।
 
भारत ने कहा कि पाकिस्‍तान आतंकवाद का वैश्विक केंद्र बना हुआ है और वो भारत में आतंकवादी गतिविधियों को जारी रखे हुए है। उसने पाकिस्‍तान को सलाह दी कि वो भारत के बारे में इस मंच को भ्रमित करने की बजाय आतंकवाद को शह देने, सहायता देने और समर्थन देना बंद करे। ऐसा करने से दोनों देश आपसी मुद्दों पर अधिक ध्‍यान दे सकेंगे।

--------------

 
भारत ने कहा है कि पाकिस्तान द्वारा सैन्य रूप से हथियाए गए तथाकथित गिलगित-बाल्तिस्तान की स्थिति में किए गए परिवर्तन का कोई कानूनी आधार नहीं है और यह पूरी तरह अनधिकृत है। मीडिया के एक प्रश्न के उत्तर में विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने कहा कि इस मुद्दे पर भारत की स्थिति हमेशा से स्पष्ट है।
 
प्रवक्‍ता ने कहा कि जम्मू कश्मीर और लद्दाख का पूरा क्षेत्र हमेशा से भारत का अभिन्न हिस्सा रहा है और आगे भी रहेगा। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान को भारत के आंतरिक मामलों पर टिप्पणी करने का कोई अधिकार नहीं है।
 
सीआईसीए और सार्क बैठकों में पाकिस्तान द्वारा जम्मू कश्मीर का मुद्दा उठाने पर प्रवक्ता ने कहा कि यह पाकिस्तान की आदत है कि वह इस तरह के मंचों पर द्विपक्षीय मुद्दों को लगातार उठाता रहा है।

--------------

 
विदेशमंत्री डॉ० सुब्रहमण्‍यम जयशंकर ने एशियाई देशों के बीच सहयोग और विश्‍वास निर्माण उपाय सम्‍मेलन-में एशियाई देशों के बीच सुरक्षा सहयोग के लिए भारत की प्रतिबद्धता जताई।
 
डॉ० जयशंकर ने कहा कि ऐसे सहयोग की बहुत जरूरत है। उन्‍होंने कोविड के खिलाफ वैश्विक संघर्ष में भारत के योगदान का भी उल्‍लेख किया। उन्‍होंने भारत-मध्‍य एशिया सहयोग और भारत--प्रशांत महासागर के देशों के सिलसिले में भारत की पहल का भी उल्‍लेख किया। डॉ० जयशंकर ने आतंकवाद और इसको बढावा देने वालों के खिलाफ संयुक्‍त कार्रवाई करने का भी आहवान किया। उन्‍होंने अफगान शांति प्रक्रिया के समर्थन की पुष्टि की और कहा कि भारत उसकी राष्‍ट्रीय संप्रभुता, क्षेत्रीय अखंडता तथा उसकी लोकतांत्रिक प्रगति को सुरक्षित रखने के प्रयासों का सम्‍मान करता है।

--------------

 
भारत ने कहा है कि  भारत और चीन के बीच सीमा विवाद के सभी क्षेत्रों में पूर्ण शांति के लिए विचार विमर्श जारी रखने के साथ-साथ यथास्थिति को बदलने की एकतरफा कार्रवाईयों से बचना चाहिए।
 
विदेश मंत्रालय के प्रवक्‍ता ने कहा कि दोनों पक्षों ने वरिष्‍ठ कमान्‍डरों की अगली बैठक जल्‍द से जल्‍द बुलाने का निर्णय लिया है। उन्‍होंने कहा कि परामर्श और सहयोग की कार्य तंत्र की अगली बैठक बहुत जल्‍द होने वाली है।
 
इस महीने की 21 तारीख को मॉल्‍दो में भारत और चीन के वरिष्‍ठ कमांडरों की छठी बैठक हुई थी। दोनों पक्षों ने किसी गलतफहमी और अनावश्‍यक निर्णयों को दूर करने के लिए जमीनी स्‍तर पर सूचनाओं के आदान-प्रदान को सुदृढ करने का निर्णय लिया है।

--------------

 
देश में पिछले छह दिनों से लगातार कोविड के नए रोगियों की तुलना में अधिक लोग स्‍वस्‍थ हो रहे हैं। पिछले 24 घंटों के दौरान देश में 87 हजार तीन सौ से ज्यादा रोगी स्‍वस्‍थ हुए हैं, जबकि 86 हजार पांच सौ से अधिक लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई है। अब तक 46 लाख 70 हजार से अधिक लोग स्‍वस्‍थ हुए हैं। स्‍वस्‍थ होने की दर 81 दशमलव पांच-पांच प्रतिशत हो गई है। स्‍वस्‍थ होने वालों की संख्‍या नए संक्रमित लोगों से 37 लाख अधिक है। कुल संक्रमित लोगों में से इस समय केवल 16 दशमलव आठ-छह प्रतिशत रोगियों का इलाज चल रहा है।

--------------

 
जांच, निगरानी और उपचार की केन्‍द्र की रणनीति के प्रभावी कार्यान्‍वयन से कोविड मरीज़ों के स्‍वस्‍थ होने की दर में वृद्धि हुई है, जबकि मृत्‍यु दर कम हुई है।
 
इस समय देश में कोविड से मृत्‍यु की दर एक दशमलव पांच नौ प्रतिशत है। भारत विश्‍व के उन देशों में शामिल है जहां मृत्‍यु दर सबसे कम है। देश में पिछले 24 घंटों में एक हजार एक सौ 29 लोगों की मृत्‍यु हुई। मृतकों की संख्‍या 91 हजार एक सौ 49 हो गई।
 
भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद के अधिकारी ने बताया कि पिछले 24 घंटे में 11 लाख 56 हजार से अधिक नमूनों की जांच की गई। अब तक छह करोड़ 74 लाख से अधिक नमूनों की जांच की जा चुकी है। इस समय देश में एक हजार आठ सौ दस प्रयोगशालाओं में कोविड जांच की जा रही है। इनमें से एक हजार 82 सरकारी और सात सौ 28 निजी क्षेत्र की प्रयोगशालाएं हैं।

--------------

 
एयर इंडिया एक्सप्रेस ने कहा कि सउदी अरब ने वंदे भारत मिशन के अंतर्गत भारत में जाने वाली यात्री उड़ानों की अनुमति दे दी है। मंगलवार को सउदी अरब ने कोविड-19 के बढ़ते मामलों के मद्देनज़र भारत से आने-जाने वाली उड़ानों पर रोक लगा दी थी। एयर इंडिया एक्‍सप्रेस ने कहा कि भारत से सउदी अरब के लिए कोई भी यात्री नहीं था। कोविड-19 के चलते भारत ने अंतर्राष्‍ट्रीय यात्री उड़ानों की समय-सारणी 23 मार्च से स्‍थगित कर दी है। हालांकि, वंदे भारत मिशन के अंतर्गत भारत और सउदी अरब के बीच विशेष अंतर्राष्‍ट्रीय उड़ानें छह मई से जारी हैं।

--------------

 
राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविन्‍द ने वर्ष 2018-19 के राष्‍ट्रीय सेवा योजना-एनएसएस पुरस्‍कार वीडियो कॉन्‍फ्रेंस के जरिए प्रदान किए। राष्‍ट्रपति ने कहा कि राष्‍ट्रीय सेवा योजना का लक्ष्‍य सेवा से  शिक्षा प्रदान करना है।

सेवा के द्वारा युवा स्‍वयं सेवकों के चरित्र का निर्माण तथा व्‍यक्तित्‍व का विकास होता है। स्‍वैच्छिक सामुदायिक सेवा राष्‍ट्रीय सेवा योजना का महत्‍वपूर्ण अंग है। इस योजना का आदर्श वाक्‍य है-नॉट मी, बट यू। इसका भाव है-अपने हित की जगह दूसरे के हित पर ध्‍यान देना। राष्‍ट्रीय सेवा योजना का प्रतीक है-अशोक चक्र, जो स्‍वयं सेवकों को 24 घंटे सेवा के लिए तत्‍पर रहने की प्रेरणा देता है।
 
श्री कोविन्‍द ने कहा कि ये बड़े हर्ष का विषय है कि कई तकनीकी संस्‍थानों, महाविद्यालयों और विश्‍वविद्यालयों के लगभग 40 लाख युवा छात्र राष्‍ट्रीय सेवा योजना से जुड़कर राष्‍ट्र और समाज की सेवा कर रहे हैं। उन्‍होंने कहा कि अब तक लगभग चार करोड़ स्‍वयं सेवकों ने इस योजना के तहत अपना योगदान दिया है। राष्‍ट्रपति ने कहा कि कोविड वैश्विक महामारी से लड़ाई में एनएसएस स्‍वयंसेवकों ने समाज में सुरक्षित दूरी और मास्‍क के उपयोग के बारे में जागरूकता पैदा की है।

कोविड-19 की महामारी ने सम्‍पूर्ण विश्‍व को गंभीर विपदा में डाल दिया है। इस वैश्विक महामारी के विरूद्ध संघर्ष में राष्‍ट्रीय सेवा योजना के स्‍वयं सेवकों ने क्‍वारंटीन के दौरान लोगों तक खाद्य सामग्री एवं अन्‍य उपयोगी वस्‍तुएं पहुंचाने में योगदान दिया है। इन युवाओं ने कोविड-19 के कारणों और उसकी रोकथाम के संबंध में जानकारी का प्रचार-प्रसार करने में सरकार एवं गैर-सरकारी संगठनों को अनेक प्रकार से सहायता प्रदान की है।
 
इस अवसर पर खेल मंत्री किरेन रिजिजू ने कोविड महामारी के दौर में एनएसएस स्‍वयंसेवकों के महत्‍वपूर्ण योगदान की सराहना की।

चुनौतीपूर्ण समय में राष्‍ट्रीय सेवा योजना के हमारे स्‍वयं सेवकों ने महामारी की रोकथाम के संबंध में अनुकरणीय सेवा प्रदान की है। माननीय प्रधानमंत्री जी का आकांक्षा है कि भारत में स्‍वयं सेवकों के माध्‍यम से राष्‍ट्र निर्माण के कार्यों को जन-जन तक पहुंचाया जाए। उनका यह भी मानना है कि हमारे युवा स्‍वयं सेवकों को विभिन्‍न प्राकृतिक आपदाओं से निपटने के लिए प्रशिक्षण किया जाए।
 
समाज में स्वयंसेवा के जरिए युवा छात्रों का व्यक्तित्व और चरित्र निर्माण करने के उद्देश्य से एनएसएस की शुरुआत 19 सौ उनहत्तर में हुई थी।

--------------

 
मध्य प्रदेश की दो एन. एस. एस. छात्राओं मानसी तेर्थानी और मेहरान जाफरी को राष्ट्रीय सेवा योजना राष्ट्रीय पुरस्कार प्रदान किए गए। इन छात्राओं ने आकाशवाणी से विशेष बातचीत में कहा कि यह उनके जीवन का सबसे सुखद क्षण है।

बड़ा ही गौरव की बात है कि मुझे इस कंट्री के सबसे बड़े युथ अवार्ड से सम्‍मानित किया गया है जोकि राष्‍ट्रीय सेवा योजना पुरस्‍कार है। जोकि हर वर्ष आज ही के दिन 24 सितम्‍बर जो आज हम मनाते हैं राष्‍ट्रीय सेवा योजना दिवस के रूप में उस दिन प्रदान किया गया है और एक बहुत लंबी कतार है राष्‍ट्रीय सेवा योजनाओं के स्‍वंयसेवकों की लगातार राष्‍ट्र की सेवा के लिए, राष्‍ट्र निर्माण के लिए कार्य कर रहे हैं और उन सभी एन.एस.एस वॉलेंटियर्स में से हमारा राष्‍ट्रपति द्वारा सम्‍मानित किए जाने वाले राष्‍ट्रीय सेवा योजना पुरस्‍कार के लिए सलेक्‍शन हुआ तो मैं बहुत गौरवनित महसूस कर रही हूं। 

--------------

 
प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी और श्रीलंका के प्रधानमंत्री महिन्‍दा राजपक्ष शनिवार को वीडियो कॉफ्रेंस के माध्‍यम से आयोजित द्विपक्षीय सम्‍मेलन में भाग लेंगे। सम्‍मेलन के दौरान दोनों नेता आपसी संबंधों की समीक्षा करेंगे। श्रीलंका में हाल ही में संपन्‍न संसदीय चुनावों के बाद दोनों देशों के बीच यह पहली उच्‍चस्‍तरीय बैठक होगी। श्री मोदी ने कहा कि वे  दोनों देशों के बीच संयुक्‍त रूप से द्विपक्षीय संबंधों की विस्‍तृत समीक्षा के लिए उत्‍सुक हैं। श्री मोदी ने कहा है कि कोविड महामारी के बाद भारत और श्रीलंका को मिलकर आपसी सहयोग बढ़ाने के उपाय करने होंगे।

--------------

 
उपराष्‍ट्रपति और राज्‍यसभा के सभापति एम वेंकैया नायडु ने सदन के दो सौ 52वें सत्र के दौरान किए गए कार्यों की समीक्षा के लिए आज एक बैठक की। श्री नायडु ने कोविड-19 महामारी के कारण उत्पन्न कठिन परिस्थितियों के बावजूद राज्‍यसभा के सत्र को सुचारू रूप से संचालन सुनिश्चित करन के लिए दोनों सचिवालयों की सराहना की।
 
83 सचिवालय कर्मियों को कोविड-19 से संक्रमित होने  की सूचना मिलने पर सभापति ने अधिकारियों को उन्‍होंने समूचित चिकित्‍सीय और अन्‍य कल्‍याणकारी सहायता उपलब्‍ध कराने के निर्देश दिए।

--------------

 
केंद्र शासित प्रदेश जम्मू कश्मीर में पाकिस्तान की ओर से आज फिर संघर्ष विराम का उल्लंघन किया गया। जम्मू के राजौरी जिले में नौशेरा सेक्टर में नियंत्रण रेखा के समीप पाकिस्तान की सेना की ओर से आज शाम अकारण गोलीबारी की गई और मोर्टार से गोले दागे गए। रक्षा प्रवक्ता कर्नल दवींदर आनंद ने बताया कि भारतीय सेना इस दुस्साहस का मुंह तोड़ जवाब दे रही है। 

--------------

 
कर्नाटक में विपक्ष के नेता सिद्धारमैया ने बीएस येडियुरप्पा के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार के खिलाफ राज्य विधानसभा में आज अविश्वास प्रस्ताव पेश किया। विधानसभा अध्यक्ष विशेश्वर हेगड़े कगेरी ने अविश्वास प्रस्ताव नोटिस को स्वीकार करते हुए कहा कि इस पर चर्चा के लिए समय और तिथि की जानकारी शनिवार तक दे दी जाएगी। 
 
राजस्व मंत्री आर अशोक जी ने अविश्‍वास प्रस्ताव को राजनीतिक कदम करार करते हुए कहा है कि उनके पास स्‍पष्‍ट बहुमत है। मगर कांग्रेस नेता डी के शिवकुमार का कहना है कि बीजेपी के आंतरिक कलह की वजह से कुछ भी हो सकता है। सिद्धारमैया जी द्वारा  दिए गए सूचना में 23 कांग्रेस विधायकों के हस्ताक्षर हैं। जे‍डीएस इस विषय पर तटस्थ है। राज्‍य की येदियुरप्पा सरकार एक साल चार महीने आयु की है और उसे 116 विधायकों का समर्थन प्राप्‍त है। एक निर्दलीय विधायक भी उनके साथ है। 225 सीटों में से विधानसभा में चार सीट खाली हैं। इसी कारण बहुमत के लिए आवश्‍यक 112 सीट से ज्‍यादा समर्थन बीजेपी की सरकार को प्राप्‍त है। शनिवार को मानसून सत्र खत्‍म होगा तो देखना है कि उस दिन नोटिस पर क्‍या कार्यवाही होगी। सुधींद्र, आकाशवाणी समाचार, बेंगलुरु।
 
एक अन्य घटनाक्रम में कांग्रेस विधायक बी. नारायण राव की कोविड संक्रमण के कारण आज मृत्यु हो गई। वे 65 वर्ष के थे।

--------------

 
बम्‍बई उच्‍च न्‍यायालय ने महाराष्‍ट्र में ठाणे जि़ले के भिवंडी  में इमारत गिरने की घटना का संज्ञान लेते हुए इसे बहुत ही गंभीर बताया है।
 
मुख्‍य न्‍यायाधीश दीपांकर दत्‍ता की अध्‍यक्षता वाली खंडपीठ ने इस मामले में महाराष्‍ट्र राज्‍य, बृहन्‍नमुम्‍बई नगर निगम, भिवंडी-निजामपुर, कल्‍याण-डोम्‍बीवली, ठाणे और नवी मुम्‍बई नगर निकायों को पक्षकार बनाया है।
 
मुख्‍य न्‍यायाधीश दत्‍ता ने महाधिवक्‍ता आशुतोष कुम्‍भाकोणि  को राज्‍य और नगर निकायों के जवाब दो सप्‍ताह के भीतर देने को सुनिश्चित करने को कहा है।

मुंबई के भिवंडी इलाके में इमारत गिरने के तीन दिन बाद एनडीआरएफ ने आज सुबह घटनास्थल पर चल रहे बचाव अभियान के समाप्ति‍  की  घोषणा की। एनडीआरएफ की टीम ने मलबे से कुल 41 शव बरामद किए है और इस ऑपरेशन में लगभग 25 लोगों को बचाया। 41 शवों में 18 बच्चे शामिल थे। इस बीच, इमारत के मालिक के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है और इस इमारत के गिरने के संबंध में नगर निगम के दो अधिकारियों को भी निलंबित कर दिया गया है। निवेदिता, आकाशवाणी समाचार, मुंबई।

--------------

 
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉक्टर शेखर बसु के निधन पर दुख व्यक्त किया है और इसे राष्ट्र की बड़ी क्षति बताया है। श्री कोविंद ने कहा कि परमाणु ऊर्जा आयोग के पूर्व अध्यक्ष डॉक्टर बसु परमाणु विज्ञान अनुसंधान के क्षेत्र में अग्रणी वैज्ञानिक थे। उन्होंने परमाणु हथियार ले जाने में सक्षम पनडुब्बी अरिहंत के लिए महत्वपूर्ण योगदान दिया था।
 
प्रधानमंत्री ने कहा कि डॉक्टर बसु ने भारत को परमाणु विज्ञान और इंजीनियरिंग के क्षेत्र में अग्रणी देश के रूप में स्थापित करने में महत्वपूर्ण योगदान दिया।

--------------

 
ऑस्ट्रेलिया के पूर्व बल्लेबाज डीन जोन्स का मुंबई के होटल में आज दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। वह 59 वर्ष के थे। जोन्स आईपीएल क्रिकेट टूर्नामेंट के लिए कमेंट्री टीम का हिस्सा थे। वह 1987 विश्व कप जीतने वाली ऑस्ट्रेलियाई टीम में भी थे।

--------------

 
आईपीएल क्रिकेट टूर्नामेंट में दुबई में किंग्स इलेवेन पंजाब का मुकाबला रॉयल चैलेंजर्स बेंगलौर से हो रहा है। बेंगलौर ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया है। ताजा समाचार मिलने तक पंजाब ने 10 ओवर में एक विकेट पर 79 रन बना लिए हैं।
 
कल दुबई में चेन्नई सुपर किंग्स का मुकाबला दिल्ली कैपिटल्स से होगा।

--------------

 
51वां भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्म समारोह अगले वर्ष 16 से 24 जनवरी के बीच गोआ में आयोजित किया जाएगा। इससे पहले, इसका आयोजन इस वर्ष 20 से 28 नवम्बर के बीच किया जाना था। सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावडेकर और गोआ के मुख्यमंत्री डाक्टर प्रमोद सावंत के बीच हुई बातचीत के बाद तिथियों में यह परिवर्तन किया गया है।

--------------

 
मौसम के पूर्वानुमान पर:-

राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्ली में आंशिक रूप से बादल छाये रहेंगे। न्‍यूनतम तापमान 26 और अधिकतम 38 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने का अनुमान है। पश्चिम की बात करें तो मुम्‍बई में सामान्य तौर पर बादल छाए रहने तथा हल्‍की वर्षा की संभावना है। न्‍यूनतम तापमान 25 और अधिकतम 28 डिग्री सेल्सियस के आसपास बना रहेगा। चले चेन्‍नई तो वहां आमतौर पर बादल छाए रहेंगे। तापमान 26 और 35 डिग्री सेल्सियस के बीच रहने के आसार हैं। पूरब की बात करें तो कोलकाता में आमतौर पर बादल छाए रहने और एक या दो स्‍थानों पर गरज के साथ छीटें पड़ने के आसार हैं। तापमान 28 और 31 डिग्री सेल्सियस के बीच रहने का अनुमान है। वहीं उत्‍तर भारत में, जम्‍मू में न्‍यूनतम तापमान 24, जबकि अधिकतम तापमान 37 डिग्री सेल्सियस के आसपास रह सकता है। शहर में आमतौर पर आसमान साफ रहेगा। श्रीनगर, लद्दाख और गिलगित में आमतौर पर आसमान साफ रहेगा। दोपहर बाद या शाम को आंशिक रूप से बादल छाए रहने का अनुमान है। श्रीनगर में न्‍यूनतम तापमान नौ डिग्री सेल्सियन और अधिकतम 29 डिग्री सेल्सियस रहने का अनुमान है। लद्दाख में तापमान 11 से 24 डिग्री सेल्सियस के आस-पास रहेगा। गिलगित में 12 से 24 डिग्री सेल्सियस के आस-पार रहने का अनुमान है। मुजफ्फराबाद में आमतौर पर आसमान साफ रहेगा और तापमान 16 से 34 डिग्री सेल्सियस के बीच रहने की संभावना है। पूर्वोत्‍तर की बात करें तो गुवाहाटी में सामान्‍य तौर पर बादल छाए रहेंगे तथा एक-दो स्‍थानों पर गरज के साथ बारिश हो सकती है। तापमान 25 और 31 डिग्री सेल्सियस के बीच रहेगा। समाचार कक्ष से अलका सिंह।

--------------

Live Twitter Feed

Listen News

Morning News 21 (Oct) Midday News 21 (Oct) Evening News 20 (Oct) Hourly 21 (Oct) (1800hrs)
समाचार प्रभात 21 (Oct) दोपहर समाचार 21 (Oct) समाचार संध्या 20 (Oct) प्रति घंटा समाचार 21 (Oct) (1810hrs)
Khabarnama (Mor) 21 (Oct) Khabrein(Day) 21 (Oct) Khabrein(Eve) 20 (Oct)
Aaj Savere 21 (Oct) Parikrama 21 (Oct)

Listen Programs

Market Mantra 20 (Oct) Samayki 9 (Aug) Sports Scan 20 (Oct) Spotlight/News Analysis 20 (Oct) Employment News 21 (Oct) World News 20 (Oct) Samachar Darshan 22 (Mar) Radio Newsreel 21 (Mar)
    Public Speak

    Country wide 12 (Mar) Surkhiyon Mein 20 (Oct) Charcha Ka Vishai Ha 11 (Mar) Vaad-Samvaad 17 (Mar) Money Talk 17 (Mar) Current Affairs 6 (Mar) Sanskrit Saptahiki 17 (Oct) North East Diary 15 (Oct)