A- A A+
Last Updated : Oct 22 2020 11:52AM     Screen Reader Access
News Highlights
Campaigning for first phase of assembly elections gains momentum in Bihar            COVID-19 recovery rate in country crosses 89 pct            Indigenously built ASW stealth corvette INS Kavaratti to be commissioned into Navy today            Inter-Ministerial team to visit Telangana to assess flood damage            IPL: Royal Challengers Bangalore beat Kolkata Knight Riders by 8 wickets           

Text Bulletins Details


समाचार संध्या

2000 HRS
17.09.2020
मुख्य समाचार :-
  • रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कहा-भारत, चीन के साथ वर्तमान सीमा मुद्दे का उचित और शांतिपूर्ण समाधान के लिए प्रतिबद्ध। देश किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए तैयार।
  • प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी कल बिहार में एतिहासिक कोसी रेल महासेतु सहित 12 रेल परियोजनाओं को राष्‍ट्र को समर्पित करेंगे।
  • प्रधानमंत्री मोदी के जन्‍मदिवस के अवसर पर देशभर में सेवा सप्‍ताह का आयोजन किया जा रहा है। विश्‍व नेताओं ने श्री मोदी को बधाई दी।
  • कोविड से स्‍वस्‍थ होने वालों की दर बढकर 78 दशमलव छह चार प्रतिशत हुई।
  • जम्‍मू कश्‍मीर में श्रीनगर बटमालू इलाके में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड में तीन आतंकी ढेर और एक नागरिक की मौत।

***

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि भारत उचित और शांतिपूर्ण ढंग से चीन के साथ मौजूदा सीमा विवाद के समाधान के लिए प्रतिबद्ध है। उन्‍होंने कहा कि देश किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए तैयार है। रक्षामंत्री ने कहा कि चीन वास्‍तविक नियंत्रण रेखा-एलएसी पर यथास्थिति बदलने की कोशिश कर रहा है, जो किसी भी हाल में भारत के लिए स्‍वीकार्य नहीं है। लद्दाख क्षेत्र में सीमा पर हाल के घटनाक्रम के बारे में राज्‍यसभा में आज श्री सिंह ने कहा कि सीमा पर मौजूदा स्थिति पहले की तुलना में भिन्न है।

 
एक और किसी को भी हमारी सीमा की सुरक्षा के प्रति हमारे दृढ़ निश्‍चय यानी डिटरमिनेशन के बारे में संदेह नहीं होना चाहिए। वहीं भारत यह भी मानता है कि पड़ोसियों के साथ शांतिपूर्ण संबंधों के लिए आपसी सम्‍मान और संवेदनशीलता भी यह रखना आवश्‍यक है।
 
रक्षा मंत्री ने कहा कि इस पूरी अवधि में भारतीय सेना के आचरण से पता चला कि अत्‍यधिक उकसावे की कार्रवाई का सामना करने में धैर्य के साथ देश की क्षेत्रीय अखंडता की रक्षा करते समय जवानों ने पूरे साहस का प्रदर्शन किया।


 

चीन द्वारा एक बहुत ही वायलेंट के हिसाब की स्थिति 15 जून को गलवान में क्रिएट की है। हमारे बहादुर सिपाहियों ने, बहादुर जवानों ने अपनी जान का बलिदान दिया और साथ ही चीनी पक्ष को भी भारी क्षति पहुंचाई है और अपनी सीमा की सुरक्षा में कामयाब भी रहे है। पूरी के दौरान हमारे बहादुर जवानों ने, जहां सयंम की जरूरत थी, वहां सयंम रखा और जहां शौर्य की जरूरत थी वहां शौर्य का भी प्रदर्शन किया। मैं सदन से यह अनुरोध करता हूं कि हमारे सैनिकों की वीरता एवं बहादुरी की भूरी-भूरी प्रशंसा की जानी चाहिए। हमारे बहादुर जवान अत्‍यंत मुश्किल परिस्थितियों में अपने अथक प्रयास से समस्‍त देशवासियों को सुरक्षित रखने के अपने दायित्‍व का निर्वहन कर रहे है। 
 
श्री सिंह ने कहा कि चीन की कार्रवाई विभिन्‍न द्विपक्षीय समझौतों के विरूद्ध है और चीन ने पिछले कई दशकों से सीमा क्षेत्रों में अपनी तैनाती बढ़ाने के लिए महत्‍वपूर्ण ढांचागत निर्माण किया।
 
रक्षा मंत्री ने कहा कि भारत सरकार ने सीमा पर बुनियादी ढांचे के विकास के लिए बजट दोगुना कर दिया है। चीन ने लद्दाख में करीब 38 हजार वर्ग किलोमीटर क्षेत्र पर गैर-कानूनी ढंग से कब्‍जा कर रखा है। पाकिस्‍तान ने अपने कब्‍जे वाले कश्‍मीर में पांच हजार वर्ग किलोमीटर से ज्‍यादा भारतीय क्षेत्र अवैध तरीके से चीन को सौंप दिया। रक्षामंत्री ने कहा कि सीमा का मुद्दा जटिल मामला है और भारत-चीन ने स्‍वीकार किया है कि द्विपक्षीय संबंधों के लिए शांति आवश्‍यक है।

----------

 
भारत ने चीन से कहा है कि वह पेंगांग झील के निकटवर्ती इलाके सहित सीमा क्षेत्रों में तनाव को यथाशीघ्र कम करने के लिए गंभीरता से प्रयास करे। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने आज कहा कि भारत उम्मीद करता है कि चीन वास्तविक नियंत्रण रेखा का गंभीरता से सम्मान करेगा और यथास्थिति को एकतरफा बदलने का आगे कोई प्रयास नहीं करेगा। उन्होंने कहा कि भारत, कूटनीतिक और सैन्य माध्यमों से चीन के साथ शांतिपूर्ण बातचीत का पक्षधर है। 

----------

 
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ऐतिहासिक कोसी रेल महासेतु को कल वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए राष्ट्र को समर्पित करेंगे। इसके अलावा प्रधानमंत्री बिहार के लिए यात्रियों की सुविधाओं से संबंधित 12 रेल परियोजनाओं का भी उद्घाटन करेंगे। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार इस अवसर पर मौजूद रहेंगे।
 
एक दशमलव नौ किलोमीटर लम्बे कोसी मेगा पुल को 516 करोड़ रुपये की लागत से पूरा किया गया है। इस पुल के बन जाने से निरमाली और सरायगढ़ के बीच की दूरी मौजूदा 298 किलोमीटर से घट कर 22 किलोमीटर रह जाएगी।
 
यह परियोजना कोविड महामारी के दौरान पूरी की गई और इसमें प्रवासी मजदूरों ने भी काम किया। इससे क्षेत्र के लोगों का 86 साल पुराना सपना पूरा हुआ। यह पुल मिथिला और कोसी क्षेत्र को जोड़ेगा और भारत-नेपाल सीमा पर स्थित होने के कारण इसका काफी महत्व है।
 
प्रधानमंत्री द्वारा जिन 12 परियोजनाओं का उद्घाटन किया जाएगा उनमें दो नई रेल लाइनें, पांच विद्युतीकरण परियोजनाएं, एक इलेक्ट्रिक लोकोमोटिव शेड और बाड़ तथा बख्तियारपुर के बीच तीसरी लाइन की परियोजना शामिल है।

-------- 

  
प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के जन्‍म दिवस पर आज पूरे देश में कल्‍याणकारी कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है। भाजपा ने इस अवसर पर 20 सितम्‍बर तक 
सेवा सप्‍ताह का आयोजन किया है। देशभर में सैनेट्री पैड्स और व्‍हील चेयर वितरण, स्वच्छता और कई अन्‍य कल्‍याणकारी कार्यक्रम इस दौरान आयोजित हो रहे हैं।
 
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और उपराष्‍ट्रति एम. वेंकैया नायडू ने श्री मोदी को जन्‍म दिन पर शुभकामनाएं दी हैं।
 
लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने आज सदन के सभी सदस्यों की ओर से प्रधानमंत्री को जन्‍मदिन की बधाई दी।

----------

 
विश्‍व के कई बडे नेताओं ने भी प्रधानमंत्री को जन्‍मदिन की शुभकामनाएं दी हैं। रूस के राष्‍ट्रपति व्‍लादिमीर पुतिन ने दोनों देशों के बीच रणनीतिक साझेदारी को मजबूत करने में श्री मोदी के व्‍यक्तिगत योगदान की सराहना की। श्री पुतिन ने कहा कि श्री मोदी के नेतृत्‍व में भारत सामाजिक-आर्थिक, वैज्ञानिक और तकनीकी विकास के मार्ग पर सफलतापूर्वक आगे बढ़ रहा है। जर्मनी की चांसलर आंगेला मर्केल ने कहा कि श्री मोदी दोनों देशों के बीच पारम्‍परिक और अच्‍छे संबंधों को और प्रगाढ़ करने में सफल रहे हैं।

----------

 
इस अवसर पर, आकाशवाणी आज रात सवा नौ बजे एक विशेष कार्यक्रम- 
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नए भारत की नई सोच एफएम समाचार चैनल पर प्रसारित करेगा। 

----------


देश में कोविड रोगियों के स्‍वस्‍थ होने की दर 78 दशमलव छह-चार प्रतिशत हो गई है। पिछले 24 घंटों के दौरान 82 हजार से अधिक मरीज़ स्‍वस्‍थ हुए हैं। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने बताया कि अब तक 40 लाख 25 हजार से अधिक लोग ठीक हो चुके हैं। स्‍वस्‍थ होने वालों की संख्‍या में लगातार बढ़ोतरी हो रही है और वर्तमान में संक्रमितों की कुल संख्‍या 19 दशमलव सात-तीन प्रतिशत रह गई है। संक्रमण से मरने वालों की दर एक दशमलव छह तीन प्रतिशत रह गई है।
 
पिछले 24 घंटों के दौरान एक हजार एक सौ 32 लोगों की मौत हुई है। मृतकों का कुल आंकड़ा 83 हजार एक सौ 98 पर पहुंच गया है। पिछले 24 घंटों के दौरान 11 लाख 36 हजार से अधिक कोविड की जांच की गई। देश में अब तक छह करोड़ पांच लाख से अधिक जांच की जा चुकी है। 

----------

 
बृहनमुंबई नगर निगम ने मुंबई में 
कोविड-19 के प्रसार को रोकने के लिए कई जगहों पर जम्‍बो कोविड केन्‍द्रों की शुरूआत की है।

बृहन मुंबई महानगर पालिका बी एम सी इन जम्‍बो कोविड केन्‍द्रों में भर्ती रोगियों को विश्‍वसनीय और गुणवत्‍ता पूर्वक सेवाएं प्रदान करने की दिशा में लगातार काम कर रही है। इसे ध्‍यान में रखते हुए 11 निजी अस्‍पतालों में से काम करने वाले 35 विशेषज्ञ डॉक्‍टर्स टेलीफोन के माध्‍यम से अपनी सेवाएं नगर निगम के जम्‍बो कोविड केन्‍द्रों को उपलब्‍ध कराएंगे। इन केन्‍द्रों में लगभग सात हजार 450 बिस्‍तर उपलब्‍ध है। इसके अलावा विशेषज्ञ डॉक्‍टर्स, नर्सेज, टेकनिसियन्‍स, वॉड बॉय सहित लगभग एक हजार 466 चिकित्‍सा कर्मचारी निर्बाध रूप से इन केन्‍द्रों में काम कर रहे हैं। 15 सितम्‍बर तक इन उपचार केन्‍द्रों में 20 हजार 722 कोविड संक्रमित रोगियों का इलाज किया गया है। स्‍वीटी कोठारी के साथ कुणाल शिंदे, आकाशवाणी समाचार, मुंबई। 

----------

 
वंदे भारत मिशन के तहत कल तक चौदह लाख 60 हजार भारतीयों को विदेशों से वापस लाया गया है। अब तक 21 देशों से 420 अंतर्राष्ट्रीय और 80 फीडर उड़ानों के जरिए लोगों को पहुंचाया गया है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने आज बताया कि वंदे भारत मिशन के तहत विदेशों में फंसे एक लाख बीस हजार और लोगों को भारत लाए जाने की उम्मीद है।

----------


भारत ने इस्राइल, संयुक्‍त अरब अमारात, बहरीन और अमरीका के बीच हुए अब्राहम समझौते का स्‍वागत किया है। विदेश मंत्रालय ने कहा कि भारत ने पश्चिम एशिया में हमेशा शांति और स्थिरता का समर्थन किया है। उन्‍होंने कहा कि भारत परम्‍परागत रूप से फलस्‍तीन का समर्थन करता रहा है और आशा करता है कि जल्‍द ही सीधी बातचीत से दोनों देशों को स्‍वीकार्य हल मिल सकेगा।

-------


केंद्रशासित प्रदेश जम्‍मू कश्‍मीर में आज श्रीनगर के बाहरी इलाके बटमालू में सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड में तीन आतंकी मारे गये। पुलिस महानिदेशक दिलबाग सिंह ने बताया कि आतंकियों के पास से हथियार और गोला-बारूद बरामद किये गये हैं।
 

आज भी ऐसा एक ऑपरेशन बटमालू एरिया में श्रीनगर सिटी में हुआ, जिसमें तीन दहशतगर्द मारे गये। अनफोर्चुनेटली इस फायर के दौरान एक हमारे व्‍यक्ति कमांडेंट जो सी आर पी टीम को लीड कर रहे थे, उनको गोलियां लगीं, जश्‍मी हैं, बेस हॉस्पिटल में हैं और साथ ही एक महिला कौसर रियाज जो उस वक्‍त उसी स्‍पॉट पर थीं उसको भी इस फायर के दौरान गोली लगी और अनफोर्चुनेटली उसकी डेथ भी हो गई।

----------

थलसेनाध्‍यक्ष जनरल मनोज मुकुंद नरवणे कश्‍मीर के दो दिन के दौरे पर हैं। सेनाध्‍यक्ष आज श्रीनगर पहुंचे और उत्तरी कश्मीर में नियंत्रण रेखा पर स्थिति का जायजा लिया। उन्होंने सैनिकों के उच्च मनोबल की सराहना की और पाकिस्तान द्वारा संघर्ष विराम उल्लंघन पर उनकी जवाबी कार्रवाई की प्रशंसा की।

 ----------

 
पूर्वोतर मामलों के केंद्रीय मंत्री डॉ० जितेंद्र सिंह ने कहा है कि पूर्वोतर के राज्‍यों के सामने कोरोना काल के बाद आर्थिक विकास के काफी अवसर हैं। आकाशवाणी से बातचीत में डॉ० सिंह ने कहा कि कोविड के बाद पूर्वोतर आर्थिक विकास में महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाएगा। उन्‍होंने कहा कि पूर्वोतर में बांस, पर्यटन, हथकरघा और हस्‍तशिल्‍प सहित कई अन्‍य क्षेत्रों में असीमित क्षमताएं हैं। उन्‍होंने कहा कि प्रधानमंत्री का कहना है कि पूर्वोतर नए भारत के इंजन के रूप में उभरने वाला है।

----------


संसद में आज की कार्यवाही की समीक्षा। पहले पेश है राज्‍यसभा की समीक्षा।
राज्यसभा में आज रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने पूर्वी लद्दाख की स्थिति पर बयान दिया। अपने बयान में सिंह ने कहा कि भारत शांतिपूर्ण तरीके से सीमा मुद्दे के हल के लिए प्रतिबद्ध है और हमने राजनयिक एवं कूटनीतिक माध्यम से पड़ोसी देश को बता दिया है कि यथास्थिति में एकतरफा ढंग से बदलाव का कोई भी प्रयास अस्वीकार्य होगा।

सिंह ने कहा कि चीन की गतिविधियों से पूरी तरह से स्पष्ट है कि उसकी ‘कथनी और करनी’ में अंतर है। क्योंकि जब बातचीत चल रही थी तब उसने यथास्थिति को बदलने का प्रयास किया जिसे हमारे सैन्य बलों ने विफल कर दिया।’’

उन्होंने कहा, ‘‘ हम पूर्वी लद्दाख में चुनौती का सामना कर रहे हैं, लेकिन इसमें कोई संदेह नहीं है कि हमारे वीर जवान इस चुनौती पर खरे उतरेंगे। हम मुद्दे को शांतिपूर्ण ढंग से हल करना चाहते हैं और हम देश की संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता को लेकर पूरी तरह से प्रतिबद्ध हैं।’’

सभापति एम वेंकैया नायडू ने रक्षा मंत्री को सुझाव दिया कि वह प्रमुख नेताओं को अपने कक्ष में बैठक बुलाकर उन्हें लद्दाख की स्थिति के बारे में जानकारी दें।

उन्होंने कहा कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर एक दुष्प्रचार चल रहा है कि भारत में इस मुद्दे पर मतभेद है। उन्होंने कहा कि हमें इस सदन से ऐसा संदेश देना चाहिए कि पूरा देश और संसद फौज के साथ एकजुट है।

सदन में नेता प्रतिपक्ष गुलाम नबी आजाद ने कहा कि उनकी पार्टी चीन के साथ विवाद के मुद्दे पर पूरी तरह से सरकार के साथ खड़ी है। लेकिन कोई समझौता नहीं होना चाहिए और अप्रैल में वो जहां थे, उन्हें वहीं जाना चाहिए।

कांग्रेस के ही आनंद शर्मा ने कहा कि इस बारे में कोई शंका नहीं रहनी चाहिए कि भारत में एकता नहीं रहेगी। उन्होंने कहा कि पूरे देश से यह आवाज गूंजनी चाहिए कि हमें अपनी सेना पर गर्व है।

जनता दल (यू) के आरसीपी सिंह ने कहा कि चीन एक कृतघ्न देश रहा है।

कांग्रेस नेता ए के एंटनी ने कहा सरकार को वायदा करना चाहिए कि संप्रभुता की रक्षा के लिए जो भी जरूरी कदम होगा, हम उठाएंगे।
शिवसेना के संजय राउत ने कहा चीन की परंपरा विश्वासघात की रही है और हमें सावधान रहना होगा।

आप के संजय सिंह ने कहा कि इस मुद्दे पर हम पूरी तरह से सरकार और सेना के साथ खडे हैं।

चर्चा में समाजवादी पार्टी के रवि प्रकाश वर्मा, राष्‍ट्रीय जनता दल के प्रेमचंद गुप्ता, द्रमुक के पी विल्सन, तृणमूल कांग्रेस के डेरेक ओ ब्रायन, बीजू जनता दल के प्रसन्न आचार्य, बसपा के वीर सिंह ने भी भाग लिया तथा रक्षा मुद्दे पर सेना तथा चीन के साथ खड़े रहने की प्रतिबद्धता जतायी।

इससे पहले सदन में कोरोना वायरस महामारी पर चर्चा हुयी। चर्चा का जवाब देते हुए स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्द्धन ने कहा कि देश में कोविड-19 से होने वाली मौत की दर फिलहाल, दुनिया के अन्य देशों की तुलना में सबसे कम (1.64) फीसदी है और सरकार का लक्ष्य इस मृत्यु दर को घटा कर एक फीसदी से भी कम करने का है।

हर्षवर्धन ने कहा कि भारत में कोविड मरीजों के स्वस्थ होने की दर 78 से 79 फीसदी है। उन्होंने कहा कि भारत कोविड-19 से स्वस्थ होने की उच्च दर वाले गिने-चुने देशों में शामिल है।

उन्होंने कहा कि भारत में कोविड महामारी की वजह से जान गंवाने वाले लोगों की संख्या यूरोप के कई देशों की तुलना में कम है।
मंत्री ने कहा कि सरकार भारत में अमेरिका की तुलना में अधिक कोविड जांच करने पर विचार कर रही है।

चर्चा में भाग लेते हुए आप के संजय सिंह ने आरोप लगाया कि उत्तर प्रदेश सहित कई राज्यों में इस ‘‘आपदा को अवसर’’ बनाते हुए घोटाले किए गए हैं।

शिवसेना सदस्य संजय राउत ने कहा कि यह राजनीतिक लड़ाई नहीं बल्कि जिंदगी बचाने की लड़ाई है। इसमें हमें परस्पर दोषारोपण से बचना चाहिए।

राष्‍ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के प्रफुल्ल पटेल ने भी इस मामले में टीका-टिप्पणी और परस्पर दोषारोपण से बचने की जरूरत पर बल दिया और कहा कि यह विश्व की सबसे बड़ी महामारी है।

शिवसेना सदस्य प्रियंका चतुर्वेदी ने कहा कि इस बीमारी से हर राज्य प्रभावित है। उन्होंने कहा कि इस मामले में राजनीति नहीं करने की बात करने वाले खुद ही राजनीति करने में लगे हुए हैं।

तेलुगुदेशम पार्टी सदस्य के रवींद्र कुमार मेदला ने आंध्र प्रदेश में कोरोना वायरस से संक्रमण के मामलों में तेजी से हो रही वृद्धि पर चिंता जतायी। वहीं भारतीय कम्‍युनिस्‍ट पार्टी के विनय विश्वम ने इस बीमारी के खिलाफ लड़ाई में सफाई कर्मियों की भूमिका की विशेष रूप से सराहना करते हुए गरीबों को मुफ्त मास्क दिए जाने की मांग की।

मनोनीत सदस्य स्वप्न दासगुप्ता ने लॉकडाउन के संबंध में एक राष्ट्रीय दिशानिर्देश जारी करने का सुझाव दिया ताकि लोगों को पता हो कि क्या करना है।

टीएमसी (एम) सदस्य जी के वासन ने कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में तमिलनाडु सरकार द्वारा किए गए उपायों की सराहना की और कहा कि वहां अधिकतम जांच पर जोर दिया जा रहा है।

बसपा के वीर सिंह ने कोरोना वायरस के कारण प्रवासी श्रमिकों को हुयी परेशानी का जिक्र करते हुए कहा कि इस बीमारी के कारण अर्थव्यवस्था भी बुरी तरह प्रभावित हुयी है।

वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के वी विजयसाई रेड्डी ने कहा कि प्रधानमंत्री ने यह कह कर लॉकडाउन लागू किया था कि ''जान है तो जहान है। अनलॉक के दौरान प्रधानमंत्री ने राज्यों के साथ लगातार चर्चा की कि अर्थव्यवस्था को पटरी पर वापस कैसे लाया जाए।''

भारतीय जनता पार्टी के डॉ सुधांशु त्रिवेदी ने कहा ''दुनिया के 215 देश कोविड से प्रभावित हैं और यह मनुष्य जाति के ज्ञात इतिहास की सबसे बडी चुनौती है। इससे निपटने के लिए मनोबल, संसाधन, हर वर्ग के साथ समन्वय और संवेदनशीलता की जरूरत है।''

कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा 'कोविड महामारी से निपटने के लिए इसके टीके के निर्माण को प्राथमिकता दी जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य कर्मियों, सुरक्षा कर्मियों आदि पर भी खास ध्यान देना होगा जो सीधे खतरे की जद में आते हैं।

सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्री रामदास आठवले ने कहा ''जब तक टीका उपलब्ध नहीं होता तब तक अत्यधिक सतर्कता बरतने की जरूरत है।''

चर्चा में अन्नाद्रमुक के एम थंबीदुरई, टीआरएस सदस्य के आर सुरेश रेड्डी, भाजपा के राजीव चंद्रशेखर, तृणमूल कांग्रेस के डॉ शांतनु सेन ने भी हिस्सा लिया।

इससे पहले शून्य काल में सदस्यों ने लोक महत्व के विभिन्न मुद्दे उठाए।

कांग्रेस के शक्ति सिंह गोहिल ने रेडियो कॉलर लगाए जाने से देश में करीब 25 फीसदी एशियाटिक शेरों की मौत होने का दावा करते हुए कहा कि उन्हें रेडियो कॉलर नहीं लगाया जाए।

कांग्रेस की अमी याज्ञिक ने कोरोना वायरस के कहर के दौरान गैर संचारी बीमारियों के मरीजों को परेशानी होने का दावा करते हुए कहा कि कोविड के साथ ही इन बीमारियों के लिए भी सरकार को अलग से अवसंरचना, निवेश, मानव संसाधन और प्रौद्योगिकी की व्यवस्था करनी चाहिए।

भाजपा सदस्य डी पी वत्स ने कोरोना वायरस महामारी से निपटने के लिए अग्रणी पंक्ति के योद्धाओं की मेहनत एवं उनके समर्पण की सराहना करते हुए कहा कि ऐसे योद्धाओं को वीरता पदक से सम्मानित किया जाना चाहिये।

शून्यकाल में ही समाजवादी पार्टी सदस्य विशंभर प्रसाद निषाद ने सवाल किया कि केंद्र सरकार में पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षित पदों की रिक्तियों को कब तक भरा जाएगा।

अन्नाद्रमुक के एन गोकुल कृष्णन, शिवसेना के संजय राउत, भाजपा के नबम रेबिया, सुरेंद्र सिंह नागर और विवेक ठाकुर, पीडीपी के मीर मुहम्मद फयाज ने भी लोक महत्व के विषय के तहत विभिन्न मुद्दे उठाए। 
 

----------

लोकसभा में कार्यवाही की समीक्षा:-
कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने आज लोकसभा में कृषि उपज एवं कीमत आश्वासन संबंधी विधेयकों को चर्चा एवं पारित कराने के लिए रखा। उन्होंने इन विधेयकों को परिवर्तनकारी बताते हुए कहा कि इससे किसानों को उनकी उपज के लिए लाभकारी मूल्य दिलाना सुनिश्चित होगा और उन्हें निजी निवेश एवं प्रौद्योगिकी भी सुलभ हो सकेगी।

तोमर ने लोकसभा में कृषि उपज व्यापार और वाणिज्य (संवर्द्धन और सुविधा) विधेयक-2020 और कृषक (सशक्तिकरण एवं संरक्षण) कीमत आश्वासन समझौता और कृषि सेवा पर करार विधेयक-2020 को चर्चा एवं पारित होने के लिए रखा ।

कृषि मंत्री ने कहा कि विधेयक आने वाले समय में किसानों के जीवन में परिवर्तन लाने वाला है। पिछले दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में कृषि के क्षेत्र में कई योजनाओं का सृजन हुआ है। उनका लाभ भी कृषि क्षेत्र को मिल रहा है।

उन्होंने कहा कि अभी तक किसान अपने उत्पाद के लिए मंडी की जंजीरों से बंधा था। इस विधेयक से उसे पूरी स्वतंत्रता मिलेगी। इस विधेयक के कानून बनने के बाद किसान अपने घर, खेत और सभी स्थानों से कारोबार के लिए स्वतंत्र होंगे।

तोमर ने कहा कि इस विधेयक से राज्य के कानूनों का अधिग्रहण नहीं होता।

कृषक (सशक्तिकरण एवं संरक्षण) कीमत आश्वासन समझौता और कृषि सेवा पर करार विधेयक-2020 का जिक्र करते हुए कृषि मंत्री ने कहा कि देश में 86 प्रतिशत किसान छोटे हैं जो निवेश नहीं कर पाते और ना ही निवेश का लाभ प्राप्त कर पाते। लेकिन कीमत पहले से निर्धारित होने से वे फायदे की खेती कर सकते हैं।

उन्होंने कहा कि इन कानूनों से न्यूनतम समर्थन मूल्य पर कोई फर्क नहीं पड़ने वाला। एमएसपी थी, है और जारी रहेगी।

तोमर ने कहा कि प्रस्तावित कानून कृषि उपज के बाधा मुक्त व्यापार को सक्षम बनायेगा। साथ ही किसानों को अपनी पसंद के निवेशकों के साथ जुड़ने का मौका भी प्रदान करेगा।

मंत्री ने कहा कि यह पहल, सरकार द्वारा देश के किसानों के कल्याण के लिए किये गये तमाम उपायों की श्रृंखला में उठाया गया ताजा कदम है।

कांग्रेस और कई अन्य विपक्षी दलों ने इन विधेयकों का विरोध किया। उनका तर्क था कि यह एमएसपी प्रणाली द्वारा किसानों को प्रदान किए गए सुरक्षा कवच को कमजोर कर देगा और बड़ी कंपनियों द्वारा किसानों के शोषण की स्थिति को जन्म देगा।

विधेयक पर चर्चा की शुरुआत करते हुए कांग्रेस के रवनीत सिंह बिट्टू ने कहा कि किसानों के लिए काला कानून लाया जा रहा है। इससे किसानों को बख्श देना चाहिए। उन्होंने कहा कि सरकार का सहयोगी शिरोमणि अकाली दल ने भी विधेयक के खिलाफ आवाज उठाई है।
बिट्टू ने कहा कि कोरोना वायरस संकट के कारण सबकुछ बंद था और प्रधानमंत्री मोदी ने सबको राशन देने का ऐलान किया था। उन्होंने कहा कि पंजाब के गोदामों से पूरे देश में अनाज का बड़ा हिस्सा जा रहा है। अगर ये गोदाम खाली हो जाएंगे तो 80 करोड़ लोगों को अनाज कहां से देंगे।

उन्होंने कहा कि पंजाब, हरियाणा और कई दूसरे राज्यों में किसान सड़कों पर हैं। ऐसा लगता है कि इतना बड़ा बहुमत मिलने से यह सरकार किसानों को भूल गई और ’किसान विरोधी विधेयक’ लेकर आई है।

भाजपा के वीरेंद्र सिंह ने विधेयक को किसानों के लिए लाभकारी बताते हुए कहा कि यह आजादी के बाद पहली सरकार है जिसने किसानों की समृद्धि के लिये काम किया। सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री के जन्मदिन पर किसानों की समृद्धि के लिए यह विधेयक लाया गया है। यह किसानों को मजबूत बनाने के लिए यह बहुत बड़ा कदम है।

उन्होंने कहा कि विपक्ष के लोग कह रहे हैं कि किसान गुलाम हो जाएंगे, लेकिन मैं कहना चाहता हूं कि किसान कभी गुलाम नहीं हो सकता।
आरएसपी के एन के प्रेमचंद्रन ने कहा कि सरकार ने कोविड-19 के हालात का फायदा उठाते हए इन अध्यादेशों को लाकर कृषि क्षेत्र को बर्बाद करने का प्रयास किया है। उन्होंने अध्यादेश और संबंधित विधेयकों का विरोध करते हुए मांग की कि विधेयकों को संसदीय स्थायी समिति को भेजा जाना चाहिए।

इससे पहले आज सदन की कार्यवाही आरंभ होने पर आंध्र प्रदेश के तिरुपति से वर्तमान लोकसभा सदस्य बल्ली दुर्गा प्रसाद राव के निधन पर उन्हें श्रद्धांजलि देने के बाद निचले सदन की बैठक अपराह्न चार बजे तक के लिए स्थगित कर दी गयी। लोकसभा की बैठक शुरू होते ही अध्यक्ष ओम बिरला ने सदस्यों को वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के वर्तमान सांसद बल्ली दुर्गा प्रसाद राव के निधन की जानकारी दी। इसके बाद सदन ने कुछ पल का मौन रखकर दिवंगत सदस्य को श्रद्धांजलि दी।

लोकसभा की कार्यवाही शाम चार बजे फिर से आरंभ होने पर सदन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन पर उन्हें बधाई दी।

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने सदन में कहा कि आज प्रधानमंत्री और सदन के नेता नरेंद्र मोदी का जन्मदिन है। इस अवसर पर मैं पूरे सदन की ओर से उन्हें शुभकामनाएं और बधाई देता हूं।’’

उन्होंने कहा कि ईश्वर से प्रार्थना है कि प्रधानमंत्री स्वस्थ रहें, दीर्घायु हों और देश सेवा तथा राष्ट्र सेवा के कार्य में निरंतर लगे रहें।

तृणमूल कांग्रेस के कल्याण बनर्जी ने विधेयक का विरोध करते हुए कहा कि यह किसान विरोधी है। इसके कारण गरीब और कम पढ़े-लिखे किसानों को मजबूत पक्षों की शर्तों को मानने को विवश होना पड़ेगा।

बनर्जी ने कहा कि इसके कारण अनुबंध की शर्तें पूरा नहीं होने की स्थिति में मुकदमों की संख्या बढ़ेगी। उन्होंने आरोप लगाया कि यह पूरे कृषि क्षेत्र का निजीकरण करने का प्रयास है।

----------

संसद में आज की कार्यवाही की समीक्षा:-

खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने किसानों की उपज, व्यापार और वाणिज्य विधेयक 2020 और कृषि सेवा विधेयक 2020 के विरोध में इस्तीफा दे दिया है। शिरोमणि अकाली दल के सुखबीर सिंह बादल ने लोकसभा में यह जानकारी दी।

----------

गृहमंत्री अमित शाह को आज नई दिल्ली स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान-एम्‍स से छुट्टी दे दी गई। उन्हें रविवार को स्वास्थ्य जांच के लिए भर्ती कराया गया था।

----------


एक भारत श्रेष्ठ भारत कार्यक्रम के अंतर्गत गोआ को झारखंड के साथ जोड़ा गया है।
एक भारत श्रेष्‍ठ भारत कार्यक्रम की रफ्तार कोविड महामारी के कारण धीमी हो गई थी। हालांकि उस समय वचुर्अल कार्यक्रम आयोजित किये गये। झारखंड और गोआ राज्‍यों के बीच साहित्‍य अनुवाद कार्यक्रम पहले ही शुरू हो चुका है। लोक कलाकारों के बीच आदान-प्रदान कार्यक्रम काफी सफल रहा।

गोवा में आयोजित वार्षिक लोकोत्‍सव काफी लोकप्रिय है। इस लोकोत्‍सव में झारखंड के विभिन्‍न स्‍टॉल गोआ के निवासियों के बीच आकर्षण का केन्‍द्र बने। लोगों ने हथकरघा तथा अन्‍य वस्‍तुएं भी खरीदीं। झारखंड और गोआ के मध्‍य आदान-प्रदान दोनों राज्‍यों के कलाकारों और शिल्‍पकारों के बीच एक मजबूत समन्‍वय कायम किया है। पणजी गोआ से मुकेश थली की रिपोर्ट के साथ आनंद श्रीवास्‍तव।

----------

कल के मौसम के पूर्वानुमान पर-

राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्ली में हल्‍की वर्षा या बूंदाबांदी हो सकती है। न्‍यूनतम तापमान 28 और अधिकतम 38 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने का अनुमान है।

मुम्‍बई में हल्‍की बारिश होने का संभावना है। न्‍यूनतम तापमान 25 और अधिकतम 32 डिग्री सेल्सियस के आसपास बना रहेगा।

चेन्‍नई में तापमान 26 और 33 डिग्री सेल्सियस के बीच रहने के आसार हैं।

जम्‍मू-कश्‍मीर के जम्‍मू में न्‍यूनतम तापमान 25, जबकि अधिकतम तापमान 36 डिग्री सेल्सियस के आसपास रह सकता है।

लद्दाख में भी तापमान 12 और 28 डिग्री सेल्सियस के बीच रहने का अनुमान है।

गिलगित में तापमान 15 से 29 डिग्री सेल्सियस के बीच रहेगा।

मुजफ्फराबाद में तापमान 18 और 34 डिग्री सेल्सियस के बीच रहने का अनुमान हैं।

----------


Live Twitter Feed

Listen News

Morning News 22 (Oct) Midday News 21 (Oct) Evening News 21 (Oct) Hourly 22 (Oct) (1010hrs)
समाचार प्रभात 22 (Oct) दोपहर समाचार 21 (Oct) समाचार संध्या 21 (Oct) प्रति घंटा समाचार 22 (Oct) (1100hrs)
Khabarnama (Mor) 22 (Oct) Khabrein(Day) 21 (Oct) Khabrein(Eve) 21 (Oct)
Aaj Savere 22 (Oct) Parikrama 21 (Oct)

Listen Programs

Market Mantra 21 (Oct) Samayki 9 (Aug) Sports Scan 21 (Oct) Spotlight/News Analysis 21 (Oct) Employment News 21 (Oct) World News 21 (Oct) Samachar Darshan 22 (Mar) Radio Newsreel 21 (Mar)
    Public Speak

    Country wide 12 (Mar) Surkhiyon Mein 21 (Oct) Charcha Ka Vishai Ha 11 (Mar) Vaad-Samvaad 17 (Mar) Money Talk 17 (Mar) Current Affairs 6 (Mar) Sanskrit Saptahiki 17 (Oct) North East Diary 15 (Oct)