A- A A+
Last Updated : Sep 18 2020 10:31PM     Screen Reader Access
News Highlights
PM hails historic reforms in agriculture; says govt committed to MSP support for farmers            PM Modi inaugurates Kosi Rail mega bridge & 12 railway projects in Bihar            COVID recovery rate improves to 78.86 per cent            India -Japan economic cooperation is on upswing: S Jaishankar            Stage all set for 13th edition of IPL Cricket in Abu Dhabi           

Text Bulletins Details


दोपहर समाचार

1430 HRS
10.08.2020

मुख्य समाचार

  • प्रधानमंत्री ने अंडमान और निकोबार द्वीप समूह के लिए समुद्र के नीचे पहली ऑप्टिकल फाइबर केबल का शुभारंभ किया।


  • उद्घाटन अवसर पर श्री नरेन्द्र मोदी ने कहा - यह परियोजना सम्पर्क में सुधार और जीवन को सुगम बनाने की दिशा में केंद्र सरकार की प्रतिबद्धता का परिणाम है। 


  • केंद्रीय पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने हाथियों के संरक्षण के सर्वोत्तम तौर-तरीकों से संबंधित दस्‍तावेज का विमोचन किया। मानव तथा हाथियों के बीच संघर्ष पर एक पोर्टल का भी शुभारंभ।


  • देश में कोविड-19 के अब तक 15 लाख से अधिक रोगी  स्वस्थ हुए। ठीक होने की दर 69 प्रतिशत से अधिक हुई।


  • केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के टेली-मेडिसिन सेवा के तहत डेढ लाख से अधिक लोगों को ऑनलाइन परामर्श दिया गया।

----

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने आज चेन्‍नई और पोर्ट ब्‍लेयर को जोड़ने वाली दो हजार तीन सौ किलोमीटर लंबी समुद्री ऑप्टिकल फाइबर केबल का शुभारंभ किया। उन्‍होंने वीडियो कांफ्रेंस के माध्‍यम से इसे राष्‍ट्र को समर्पित किया। इस अवसर पर उन्होंने समय से पहले इस परियोजना के पूरा होने पर प्रसन्नता व्यक्त की। प्रधानमंत्री ने कहा कि यह परियोजना लोगों के जीवन को सुगम बनाने के लिए केन्द्र सरकार की प्रतिबद्धता को दर्शाती है।


हमारा समर्पण रहा है कि देश के हर नागरिक, हर क्षेत्र की दिल्ली से और दिल से दोनों दूरियों को पाटा जाए। हमारा समर्पण रहा है कि देश के हर जन, हर क्षेत्र तक आधुनिक सुविधाएं पहुंचे और हर नागरिक का जीवन आसान बने। हमारा समर्पण रहा है कि राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़े बॉर्डर एरिया और समुद्री सीमा पर बसे क्षेत्रों का तेजी से विकास हो। साथियों, अंडमान-निकोबार को, बाकी देश और दुनिया से जोड़ने वाला ये ऑप्टिकल फाइबर प्रोजेक्ट ईज ऑफ लीविंग के प्रति हमारी प्रतिबद्धता का प्रतीक है।


प्रधानमंत्री ने कहा कि यह परियोजना अंडमान निकोबार निवासियों के लिए स्वतंत्रता दिवस का उपहार है। इससे  द्वीप समूह में पर्यटन को बढावा मिलेगा।


अंडमान को जो सुविधा मिली है उसका बहुत बड़ा लाभ वहां जाने वाले टूरिस्‍टों को भी मिलेगा। बेहतर नेट कनेक्टिविटी आज किसी भी टूरिस्ट डेस्टीनेशन की सबसे पहली प्राथमिकता होती है। पहले देश और दुनिया के टूरिस्‍टों को मोबाइल और इंटरनेट कनेक्टिविटी का कम होना बहुत अखरता था। अपने परिवार से, अपने बिजनेस से एक प्रकार से उसका निरंतर संपर्क कट जाता था। अब ये कमी भी खत्म होने वाली है। और जब लोग ज्यादा रूकेंगे, अंडमान-निकोबार के समंद्र का, वहां के खान-पान का आनंद लेंगे तो रोजगार के भी नए अवसर बनेंगे।

 

प्रधानमंत्री ने कहा कि इस परियोजना से अंडमान निकोबार के निवासियों को डिजिटल इंडिया योजना के सभी लाभ मिल पायेंगे।


अंडमान-निकोबार के लोगों को भी मोबाइल कनेक्टिविटी और तेज इंटरनेट की वही, सस्ती और अच्छी सुविधाएं मिल पाएंगी जिसके लिए आज पूरी दुनिया में भारत अग्रणी है। अब अंडमान-निकोबार के लोगों को, बहनों को, बच्चों को, युवाओं को , व्यापारियों को, कारोबारियों को डिजिटल इंडिया के वो सभी लाभ मिल पाएंगे। जो बाकी देश के लोगों को मिलते आ रहे हैं। ऑनलाइन पढ़ाई हो, टुरिज्म से कमाई की बात हो, बैंकिंग ऑपरेशन्स हो, शॉपिंग हो या टेलीमेडिशन दवाईयां हो। अब अंडमान-निकोबार के हजारों परिवार को भी ये ऑनलाइन व्यवस्थाएं मिल पाएंगी।

 

प्रधानमंत्री ने कहा कि इस परियोजना से समुद्र से जुडे  देशों के साथ भारत के संबंध मजबूत होंगे। इसमें अंडमान निकोबार की महत्वपूर्ण भूमिका होगी।


अब जब भारत इंडो-पेसिफिक में व्यापार, कारोबार और सहयोग की नई नीति और रीति पर चल रहा है। तब अंडमान-निकोबार सहित हमारे तमाम द्वीपों का  महत्व और अधिक बढ़ गया है। एक्‍ट ईस्‍ट पॉलिसी के तहत पूर्वी एशियाई देशों और समंद्र से जुड़े दूसरों देशों के साथ भारत के मजबूत होते रिश्तों में अंडमान-निकोबार की भूमिका बहुत अधिक है और यह निरंतर बढ़ने वाली है।

 

इस अवसर पर संचार और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि आज का दिन अंडमान निकोबार वासियों के लिए स्‍वर्णिम दिन है। उन्‍होंने कहा कि इस परियोजना की द्वीपवासियों को लंबे समय से प्रतीक्षा थी।

----

अंडमान निकोबार द्वीप समूह के उपराज्यपाल एडमिरल देवेन्‍द्र जोशी ने इस ऐतिहासिक परियोजना के लिए प्रधानमंत्री को धन्यवाद दिया है।


प्रधानमंत्री जी ने बहुत बड़े प्रोजेक्ट का उद्घाटन किया है। ये ऐतिहासिक प्रोजेक्ट है करीब बीस साल से चल रहा है। सबसे उल्लेखनीय यह है इसके आईलैंड डेवलपमेंट एंजेंसी के एजेंटा पॉइन्ट में शामिल होने और पीएमओ और संचार मंत्रालय के पूर्ण सहयोग के बाद ही यह कॉन्ट्रेक्ट हो पाया है। इसके साथ ही मैं आग्रह करना चाहूंगा कि जो सेगमेंट अब बच गये हैं। जल्दी से जल्दी फंगशनल उनको कराने का प्रयत्न करें।

 

राज्यपाल ने परियोजना के लिए सभी द्वीप वासियों को बधाई दी।  इस परियोजना पर 12 अरब 24 करोड़ रुपये की लागत आई है। इससे पोर्टब्‍लेयर के अलावा  स्‍वराज द्वीप, लिटिल अंडमान, कार निकोबार, कमोर्टा, ग्रेट निकोबार, लॉंग आइलैंड और रांगत भी जुडेंगे। इससे अंडमान-निकोबार द्वी‍प समूह में टेलीमेडिसिन, टेलीशिक्षा, टेलीस्‍वास्‍थ्‍य, ई-प्रशासन जैसी- डिजिटल सेवाओं और पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा।

----

इस परियोजना के शुभारंभ के साथ ही अंडमान-निकोबार द्वीपसमूह में धीमे इंटरनेट का युग आज समाप्‍त हो गया। उपग्रह सम्‍पर्क  के कारण द्वीपसमूह में बहुत सीमित बैंड़विडथ उपलब्‍ध थी। लेकिन अब इसकी गति लगभग सौ गुना बढ़ जायेगी। इससे द्वीपवासियों की हाई स्‍पीड इंटरनेट की आवश्‍यकता आसानी से पूरी होगी। आप्टिकल फाइबर केबल से यूजर हर महीने अधिकतम 15 सौ जी बी डाटा डाउन लोड कर सकते हैं।


अंडमान-निकोबार के मुख्य सचिव चेतन बी संघी ने चेन्नई पोर्ट ब्लेयर के बीच  आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा लांच की गई अंडर सी ऑप्टिकल फाइबर केबल परियोजना को एतिहासिक बताते हुए कहा कि कोरोना महामारी के बीच मौजूद इस परियोजना को पूरा किया गया है।


20 साल से जो अंडमान के द्विपवासी ये सपना देख रहे थे वो अब पूरा होने जा रहा है। इसके अंदर जितने भी डिपार्टमेंट्स हैं भारत सरकार के डीओपी, बीएसएनएल है या गृहमंत्रालय ने जो आइलैंड डेवलेपमेंट ऑथोरिटी है, सब ने एकजुट होकर पैंडामिक के बावजूद इतने कम समय में समयबद्ध तरीके से ऑन शेड्यूल इतने बड़े प्रोजेक्ट को कम्पलीट किया है। ये अपने आप ऐतिहासिक कदम है। अंडमान के इतिहास में बड़ा कदम है, अगर कोई एक माना जाएगा। आज से 50 साल बाद 100 साल बाद  जब सोचा जाएगा तो ये दिन हमेशा याद रखा जाएगा क्योंकि हम साउथ ईस्ट एशिया के इतने करीब है। हमारे यहां इतनी अपरच्युनेटी आ सकती हैं। इस एक कदम से मनेजमेंट में कहते हैं ना दिश ईज वन सीलवर बुलेट, तो दिश ईज वन सीलवर बुलेट फॉर अंडमान। आकाशवाणी समाचार के लिए पोर्ट ब्लेयर से मैं गौरव पटवाल।

----

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह आज दोपहर बाद आत्मनिर्भर भारत सप्ताह की शुरूआत करेंगे।   श्री सिंह ने कल घोषणा की थी कि भारत 2024 तक परिवहन विमान, हल्के लड़ाकू हेलीकॉप्टर, पारंपरिक पनडुब्बियों और क्रूज मिसाइलों सहित 101 हथियारों और सैन्य प्लेटफॉर्म के आयात को रोक देगा। यह कदम घरेलू रक्षा उत्पादन को गति देने के लिए है। रक्षा मंत्री ने कहा कि रक्षा मंत्रालय प्रधानमंत्री मोदी के आत्मनिर्भर भारत के आह्वान के अनुरूप स्वदेशी रक्षा विनिर्माण को प्रोत्साहित करने के लिए अब एक बड़े प्रयत्‍न के लिए तैयार है।

------

उद्योग जगत ने रक्षा मंत्रालय के फैसले का स्‍वागत किया है। भारतीय उद्योग परिसंघ-सीआईआई के महानिदेशक चन्‍द्रजीत बनर्जी ने घरेलू कंपनियों से खरीद के लिए 52 हजार करोड़ रुपये निर्धारित किये जाने के फैसले का स्‍वागत किया। उन्‍होंने कहा कि रक्षामंत्री की घोषणा आत्‍मनिर्भर भारत के लक्ष्‍य की दिशा में नये पथ की शुरूआत है।

 

भारतीय वाणिज्‍य और उद्योग परिसंघ- फिक्‍की ने इसे रक्षा निर्माण में आत्‍मनिर्भरता की ओर बड़ी छलांग बताया है। फिक्‍की की रक्षा समिति के प्रमुख एस.पी. शुक्‍ला ने कहा कि घरेलू रक्षा उपकरणो की खरीद के लिए 52 हजार करोड़ रुपये का निर्धारण उद्योग जगत के अनुरोध को पूरा करता है।

    ----

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने वर्तमान खरीफ फसल के लिए मुख्यमंत्री किसान सहाय योजना की घोषणा की है। उन्होंने बताया कि  इस योजना से राज्य के सभी किसान लाभान्वित होंगे। उन्होंने कहा कि इसके लिए उन्हें न किस्त देनी होगा और न ही पंजीकरण कराना होगा। श्री रूपाणी ने कहा कि राज्य सरकार को वर्तमान कृषि मौसम के लिए फसल बीमा की किस्त के रूप में पांच हजार सात सौ करोड़ रूपए का भुगतान करना होगा। आज घोषित नई योजना वर्तमान फसल बीमा योजना के  स्थान पर लागू होगी। इस योजना में जनजातीय किसानों को भी शामिल किया गया है जबकि पिछली योजना में ये शामिल नहीं थे।

------

देश में कल कोरोना संक्रमण के 62 हजार से अधिक मामलों के साथ ही कुल सं‍क्रमित लोगों की संख्‍या 22 लाख को पार कर गई है। केन्‍द्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के अनुसार इस संक्रमण से कल देश में एक हजार से अधिक लोगों की मृत्‍यु हुई। इसे मिलाकर अब तक 44 हजार से अधिक लोग इस संक्रमण से अपनी जान गंवा चुके हैं।

 

पिछले 24 घंटों के दौरान करीब 55 हजार लोग इस संक्रमण से ठीक हुए। देश में अब तक करीब 15 लाख 36 हजार लोग ठीक हो चुके हैं। ठीक होने वालों की दर 69 प्रतिशत से अधिक हो गई है। इस संक्रमण से मृत्‍यु दर दो प्रतिशत से कम हो गई है। कल देश भर में करीब चार लाख 77 हजार नमूनों की जांच की गई। अब तक करीब दो करोड 46 लाख नमूनों की जांच की जा चुकी है।

------

स्‍वस्‍थ्‍य मंत्रालय की ई-संजीवनी ओ.पी.डी. नाम की टेलीमेडिसिन सेवा के तहत एक लाख 58 हजार लोगों ने ऑनलाइन परामर्श के लिए अपना पंजीकरण कराया है। स्‍वास्‍थ और परिवार कल्‍याण मंत्री डॉक्‍टर हर्षवर्धन ने कहा है कि पिछले नवंबर से 23 राज्‍यों ने यह सेवा शुरू की है और देश की 75 प्रतिशत आबादी इसके दायरे में आ गयी है। बाकी लोगों के लिए भी इस सेवा का विस्‍तार किया जा रहा है। ई-संजीवनी सेवा से दो प्रकार की टेली-परामर्श सेवाओं की शुरुआत हुई है जिसमें से एक है ई-संजीवनी जिसमें डॉक्‍टर से डॉक्‍टर के बीच परामर्श और दूसरी का नाम ई-संजीवनी ओ.पी.डी. है जिसके तहत रोगी डॉक्‍टर से परामर्श ले सकते हैं।

-----

महाराष्ट्र में कोविड-19 के बढते मामलों के बीच, राज्य के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने बताया कि रोगियों को ले जाने के लिए 500 एम्बुलेंस  खरीदी गई है, जिससे मरीजों को समय पर उपचार मिल सके। इसके अलावा, संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए, औरंगाबाद जिला प्रशासन ने आज से सीरो सर्वेक्षण करने का फैसला किया है।


औरंगाबाद के जिला कलेक्टर उदय चौधरी ने नागरिकों से सीरो सर्वेक्षण में भाग लेने की अपील की है। औरंगाबाद में फिलहाल 4,994 मरीज कोरोना संक्रमित हैं। वही दूसरी ओर, उत्तर मुंबई के दहिसर, बोरीवली और कांदिवली क्षेत्रों में तेजी से फैला हुआ कोरोनो वायरस संक्रमण अब नियंत्रण में आ रहा है। नगर निगम द्वारा डोर-टू-डोर स्क्रीनिंग के जरिए फेरीवालों और दुकानदारों के परीक्षण के लिए प्रभावी उपाय किए जा रहे हैं। जिसके चलते, पिछले 15 दिनों में नए कोरोनो वायरस मामलों में वृद्धि की दर में 30 प्रतिशत की कमी आई है। इस बीच, पुलिस विभाग ने स्पष्ट किया है कि एक जिले से दूसरे जिले में यात्रा करने के लिए अभी भी ई-पास की आवश्यकता है। ई पास को रद्द करने संबंधी कुछ संदेश सोशल मीडिया पर थे, हालांकि पुलिस विभाग ने स्पष्ट किया है कि ये संदेश गलत थे। माधुरी पांगे, आकाशवाणी समाचार, मुंबई।

----

केन्‍द्रशासित प्रदेश चण्‍डीगढ में पिछले कुछ दिनों में कोविड संक्रमण के मामले बढे हैं। कल यहां 89 व्‍यक्तियों में इस संक्रमण का पता चला। इसे मिलाकर केन्‍द्रशासित प्रदेश में अब तक डेढ हजार से अधिक व्‍यक्ति संक्रमित हुए हैं। इनमें से नौ सौ से अधिक लोग ठीक हो गये हैं और 585 व्‍यक्तियों का उपचार चल रहा है। चण्‍डीगढ में इस संक्रमण से अब तक 25 लोगों की मौत हो चुकी है।

------

बिहार में कोरोना संक्रमण तेजी से फैल रहा है। तीन हजार नौ सौ चौंतीस नये रोगियों के सामने आने के साथ ही राज्‍य में संक्रमित व्‍यक्तियों की संख्‍या बढकर 79 हजार सात सौ बीस हो गई। इनमें से 51 हजार तीन सौ पन्‍द्रह रोगी पूरी तरह स्‍वस्‍थ हो चुके हैं।

-----

तेलंगाना में कोरोना से कल एक हजार 256 लोग संक्रमित हुए। इसे मिलाकर वहां  संक्रमित लोगों की संख्‍या 80 हजार से अधिक हो गई है। राज्‍य के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के अनुसार इससे स्‍वस्‍थ होने वालों की द़र 71 प्रतिशत से अधिक हो गई है। इस बीच, वृहद हैदराबाद नगर निगम क्षेत्र में कल कोरोना संक्रमण के 389 मामले सामने आए। इसके बाद रंगारेड्डी, संगारेड्डी, करीमनगर और वारंगल जिलों का स्‍थान रहा।

-------

मणिपुर स्वास्थ्य विभाग ने राज्य के लोगों को सलाह दी है कि वे विदेशों में बने क्लोरीन डाई ऑक्साइड छोड़ने वाले  कॉर्ड डिवाइस "वाइरस शट आउट 'का  उपयोग बंद कर दें। राज्य के स्वास्थ्य विभाग के प्रवक्ता ने कहा कि इस यंत्र का उपयोग जनता के बीच बढ़ गया है। क्लोरीन डाइऑक्साइड एक जलीय घोल है और इसका उपयोग पेयजल के कीटाणुशोधन में किया जाता है। राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने कहा कि यह कोविड महामारी की रोकथाम में ऐसे अप्रमाणित उपकरणों के उपयोग की अनुशंसा नहीं करता है। मणिपुर में लगभग सभी दवाइयों की दुकानों पर भारी माँग के कारण इस उपकरण की बिक्री की जा रही है।

------

गुजरात सरकार ने मास्क न पहनने वालों के लिए जुर्माने की राशि फिर बढ़ा दी है। मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने बताया कि राज्य में मास्क नियमों का उल्लंघन करने पर कल से एक हजार रूपए का जुर्माना लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि गुजरात उच्च न्यायालय के दिशा-निर्देश के अनुसार जुर्माना बढ़ाया गया है। इससे पहले इस महीने की पहली तारीख से मास्‍क न पहनने पर जुर्माने की राशि दो सौ से बढ़ाकर पांच सौ रूपए की गई थी।

-------

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की आज कोविड-19 जांच की गई और उनमें इस संक्रमण की पुष्टि हुई है। श्री मुखर्जी ने पिछले सप्ताह अपने संपर्क में आये लोगों से क्‍वारंटीन में रहने और कोविड-19 की जांच कराने का भी अनुरोध किया है।

----

उच्चतम न्यायालय ने आज विश्वविद्यालय अनुदान आयोग को महाराष्ट्र सरकार और दिल्ली सरकार द्वारा कोविड-19 महामारी के मद्देनजर विश्वविद्यालयों की परिक्षाएं रद्द किए जाने के बारे में अपना रुख स्पष्ट करने को कहा है। इससे पहले आयोग ने इन राज्‍यों को अपनी परीक्षाएं 30 सितम्‍बर तक पूरा करने का निर्देश दिया था। इस मामले की अगली सुनवाई 14 अगस्त को होगी।

----

संयुक्त अरब अमारात से 114 भारतीयों को लेकर एयर इंडिया का विमान कल रात मध्यप्रदेश के इंदौर पहुंचा। कोरोना वायरस के कारण लॉकडाउन के मद्देनजर इन्हें स्वदेश लाया गया है। हमारे संवाददाता ने बताया है कि इन यात्रियों में से 64 इंदौर में उतरे जबकि शेष 50 यात्रियों को मुंबई ले जाया गया।


कोविड-19 की रोकथाम के लिए इंदौर जिले के नोडल अधिकारी अमित मालाकार ने बताया कि इंदौर में उतरने वाले यात्रियों में से किसी में भी हवाई अड्डे पर स्क्रीनिंग के दौरान कोरोना वायरस संक्रमण के लक्षण नहीं मिले हैं। अधिकारीयों ने बताया कि जिन यात्रियों ने पहले से ही कोविड-19 का परीक्षण करा लिया था उन्हें एहतियात के तौर पर 14 दिनों के लिए घर में ही क्वारंटीन रहना होगा। जबकि अन्य यात्रियों को पहले सात दिनों के लिए किसी क्वारंटीन केंद्र में और शेष दिनों के लिए घर में आइसोलेट रहना होगा। इस बीच, राज्य के चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग भी कोविड -19 पाजिटिव पाए गए हैं। उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल पर यह जानकारी साझा की। श्री सारंग कोरोना संक्रमित होने वाले राज्य मंत्रिपरिषद के चौथे सदस्य हैं। इससे पहले मुख्यमंत्री के अलावा, राज्य के सहकारिता मंत्री अरविंद सिंह भदौरिया, जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट और पिछड़ा वर्ग और अल्पसंख्यक कल्याण राज्य मंत्री रामखिलावन पटेल संक्रमित पाए गए थे हालाँकि अब सभी स्वस्थ हैं। संजीव शर्मा, आकाशवाणी समाचार, भोपाल।

------

श्रीलंका में लगभग पांच महीनों के बाद आज से सभी सरकारी स्कूल खोल दिए गए हैं। देश में कोविड महामारी के कारण ये स्कूल बंद थे। पिछले महीने उच्च कक्षा के छात्रों के लिए दो सप्ताह के लिए स्कूल खोल दिए गए थे। स्कूलों से कहा गया है कि वे स्थिति के अनुसार अनेक चरणों में स्कूल खोले और छात्रों में दूरी बनाए रखें।


श्रीलंका में कोविड स्थिति शुरूआत के दो महीनों के कर्फ्यू के बाद से नियंत्रण में है और स्‍कूलों का खुलना इस दिशा में एक कदम है। अन्‍य गतिविधियां पहले ही सुचारू हो गई थी, लेकिन विदेशी पर्यटकों के आने पर रोक जारी है। स्‍कूल खोलने का निर्णय पिछले महीने ही लिया गया था। लेकिन एक निरोग केन्‍द्र में कोविड के नये मामले आने के बाद और पिछले हफ्ते संपन्‍न चुनाव के मद्देनज़र स्‍कूलों को फिर बंद कर दिया गया था। आम चुनाव में सरकार ने कोविड स्थिति के सफल नियंत्रण को बड़ा चुनावी मुद्दा बनाया था और चुनाव में दो तिहाई बहुमत का श्रेय कुछ हद तक इस सफलता को भी जाता है। चुनाव के मद्देनज़र विदेशों में स्थित श्रीलंकाई नागरिकों बुलाने की मुहिम भी स्‍थगित कर दी गई थी, जो इस हफ्ते फिर शुरू की जायेगी। आकाशवाणी समाचार से कोलंबों के लिए संतोष कुमार।

----

आकाशवाणी से विशेषज्ञों की सलाह श्रृखंला में कोविड-19 के बारे में वरिष्‍ठ चिकित्‍सकों की राय प्रसारित की जाती है। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्‍थान दिल्ली के निदेशक, डॉ रणदीप गुलेरिया ने कोविड-19 के फैलाव को रोकने के लिए लोगों से सुरक्षित दूरी बनाए रखने और हाथों को साफ रखने की सलाह दी।

 

पब्लिक हेल्थ फाउंडेशन ऑफ इंडिया के अध्यक्ष डॉ श्रीनाथ रेड्डी ने कहा कि कोविड-19 के मामलों में दुनिया के बाकी हिस्सों की तुलना में भारत की स्थिति बहुत बेहतर है और इस संबंध में जो उपाय किए गए हैं उनके  परिणाम अच्छे आए हैं।


अब तक जो नतीजे निकले हैं उनसे पता चलता है कि यह वायरस के प्रभाव को रोकने में हम काफी कामयाबी हासिल कर चुके हैं। दूसरे देशों के मुकाबले में, आज का हालात जो हैं उसमें कोई संशय नहीं है कि हमारे हालात दूसरे देशों के मुकाबले में बेहतर हैं।

------

आकाशवाणी का समाचार सेवा प्रभाग आज अपने फोन इन कार्यक्रम में कोविड-19 पर विशेष परिचर्चा प्रसारित करेगा। यह कार्यक्रम रात नौ बजकर 30 मिनट से एफ.एम. गोल्‍ड और अतिरिक्‍त मीटरों पर सुना जा सकता है। दिल्‍ली स्थित लेडी हार्डिंग मेडिकल कॉलेज में तंत्रिका विज्ञान विभाग के प्रमुख डॉ0 राजिन्‍दर धमीजा इस चर्चा में भाग लेगें।श्रोता, टोल‍-फ्री नम्‍बर 1 8 0 0 1 1 5 7 6 7  पर फोन करके विशेषज्ञ से सवाल पूछ सकते हैं। 0 1 1 2 3 3 1 4 4 4 4 पर भी सवाल पूछे जा सकते हैं। नम्‍बर एक बार फिर सुन लीजिए-  1 8 0 0 1 1 5 7 6 7 और 1 1 2 3 3 1 4 4 4 4. ट्वीटर हैंडल @airnews s पर हैशटैग Askair के जरिए से भी सवाल पूछ सकते हैं। यह कार्यक्रम हमारी वेबसाइट NEWS ON AIR DOT COM और हमारे यूट्यूब चैनल NEWS ON AIR OFFICIAL पर भी उपलब्ध रहेगा। मोबाइल ऐप NEWS ON AIR से भी अपडेट लिये जा सकते हैं।

-----

केन्‍द्रीय पर्यावरण और वन मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने विश्‍व हाथी दिवस-2020 की पूर्व संध्या पर आज हाथियों के संरक्षण के बेहतरीन तौर-तरीकों के बारे में एक दस्‍तावेज का विमोचन किया। उन्‍होंने मनुष्‍यों तथा हाथियों के बीच संघर्ष की स्थिति के बारे में एक वेबसाइट का भी शुभारंभ किया। इस अवसर पर श्री जावडेकर ने कहा कि हमें भारतीय संस्‍कृति पर गर्व है जिसमें न सिर्फ पशुओं से प्रेम किया जाता है बल्कि उनकी हत्‍या करने को अशुभ माना जाता है।  जावडेकर ने कहा कि सरकार ने वन क्षेत्रों में चारा और पानी की उपलब्‍धता बढाने की पहल की है।


अगर जंगल में पानी और खाद्य मिला तो वो बाहर क्यों आएंगे और एक जो किसानों ने ये सुत्र समझाया, उसके आधार पर हमने फोडर एण्ड वॉटर ओग्‍यूमेंटेशन इन जनरल एरियाज़, ये बड़ा महत्वपूर्ण कार्यक्रम किया है और उस कार्यक्रम में अब इस बार लाइडर टेक्नॉलोजी का भी उपयोग कर रहे हैं। लाइडर सर्वे भी कर रहे हैं और इस साल जो दिसम्बर के बाद काम होगा। सर्वे के बाद उसके सहारे अगले साल से जंगलों में पानी और जंगलों में घास और खाद्य बहुत अच्छी मात्रा में पैदा होगा ये मुझे पूरा विश्वास है।


इस अवसर पर केन्‍द्रीय पर्यावरण और वन राज्‍य मंत्री बाबुल सुप्रियो ने कहा कि यह गर्व की बात है कि एशियाई हाथियों की कुल संख्‍या का 60 प्रतिशत भारत में हैं।

 

विश्‍व हाथी दिवस का आयोजन हाथियों के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए किया जाता है। एशियाई और अफ्रीकी हाथियों की घटती संख्‍या की ओर तत्‍काल ध्‍यान आकृष्‍ट करने के लिए यह दिवस 2012 से मनाया जा रहा है। एशियाई और अफ्रीकी हाथियों को अवैध शिकार, मनुष्‍यों और हाथियों के बीच संघर्ष तथा पालतू हाथियों के साथ दुर्व्‍यवहार जैसे खतरों का सामना करना पड़ रहा है।

-------

74वें स्‍वतंत्रता दिवस समारोह के सिलसिले में हम आपको डिजिटल इंडिया की दिशा में किये गए विशेष उपायों की जानकारी देना चाहेंगे। राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन सरकार ने भारत को डिजिटल रूप में सशक्‍त और ज्ञान आधारित अर्थव्‍यवस्‍था बनाने पर विशेष बल दिया है। इसी उद्देश्‍य को ध्‍यान में रखकर डिजिटल इंडिया कार्यक्रम  एक जुलाई 2015 को शुरू किया गया था। पिछले पांच वर्षों में डिजिटल इंडिया की यात्रा सशक्‍तीकरण, समावेशन और रूपांतरण पर केंद्रित रही है। इस कार्यक्रम ने भारतीय नागरिकों की पहचान से संबंधित सभी पहलुओं पर सकारात्‍मक प्रभाव डाला है।


डिजिटल इंडिया कार्यक्रंम ने कोविड​​-19 के दौरान भी महत्वपूर्ण सेवाएं प्रदान की है, इनमें आरोग्य सेतु, ई-संजीवनी, माई जीओवी और सोशल मीडिया प्लेटफार्म के जरिए लोगों में जगारूकता पैदा करना शामिल है। ई-सेवाओं की संख्या 2014 में 2,463 थी। जो इस वर्ष मई बढ़कर 3,858 हो गई। इस तरह दैनिक औसत इलेक्ट्रॉनिक लेनदेन 2014 के 66 लाख से बढ़कर 2020 में 16 करोड 30 लाख करोड़ पर पहुंच गया। 125 करोड 70 लाख नागरिकों को आधार कार्ड जारी किया जा चुका है। सरकार के 56 मंत्रालयों से 426 कार्यक्रमों के अंतर्गत 11 लाख 10 हजार करोड़ रूपये प्रत्यक्ष लाभ अंतरण के जरिए लोगों के भेजे गये हैं। देश में 117 करोड़ मोबाइल कनेक्शन और 68 करोड़ 80 लाख इंटरनेट कनेक्शन इस्तेमाल किये जा रहे हैं। सुपर्णा सैकिया के साथ अनुपम मिश्र, आकाशवाणी समाचार, दिल्ली।

-----

रेल मंत्रालय ने कहा है कि रेलवे में भर्ती के लिए कोई भी विज्ञापन भारतीय रेलवे द्वारा ही दिया जाता है और इसके लिए किसी भी निजी एजेंसी को अधिकृत नहीं किया गया है। मंत्रालय ने बताया है कि उसे पता चला है कि एवेस्‍ट्रान इनफोटेक नाम के किसी संगठन ने प्रमुख अखबारों में एक विज्ञापन दिया है जिसके अनुसार भारतीय रेलवे में 11 साल के अनुबंध पर आठ श्रेणियों के 5 हजार 285 पदों के लिए आवेदन आमंत्रित किये गये हैं।

------

रूस में चिकित्सा की शिक्षा प्राप्त कर रहे तमिलनाडु के चार छात्रों के डूब जाने से मृत्यु की खबर है। ये छात्र दक्षिणी रूस की वोल्गा नदी के किनारे स्थित वोल्गोग्राड राजकीय चिकित्सा विश्वविद्यालय में पढ रहे थे। बताया जाता है कि शनिवार को ये छात्र नदी में नहाने गए थे जहां एक छात्र नदी के बहाव में फंस गया इस छात्र को बचाने में तीन और छात्रों की जान चली गई। तमिलनाडु के मुख्यमंत्री इडापड्डी पलनीस्वामी ने शोकसंतप्त परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त की है। उन्होंने कहा है कि राज्य के अधिकारी विदेश मंत्रालय और मॉस्को में भारतीय दूतावास के संपर्क में हैं ताकि मृत छात्रों के पार्थिव शरीर स्वदेश लाये जा सकें।

----

केरल के इडुक्‍की जिले में राजमला में शुक्रवार को हुई भूस्‍खलन की घटना में मरने वालों की संख्‍या बढकर 49 हो गई है। बचाव कार्य अभी भी जारी है। उधर, राज्‍य के मुल्‍लपेरियार बांध में जलस्‍तर लगातार बढ रहा है। राज्‍य में वर्षा से संबंधित घटनाओं में आज तीन लोगों की मौत हो गई। अलपुझा जिले के अधिकांश इलाके बाढ से प्रभावित हैं और फसल को काफी नुकसान हुआ है।

-----

मौसम:-

 

राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्‍ली में गरज के साथ बारिश होने के आसार हैं। न्यूनतम तापमान 27 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया, अधिकतम तापमान 33 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने का अनुमान है। मुंबई में सामान्‍य रूप से बादल छाये रहने और वर्षा होने की संभावना है। न्‍यूनतम तापमान 27 डिग्री सेल्सियस रहा जबकि अधिकतम तापमान 30 डिग्री सेल्सियस रह सकता है। चेन्‍नई में सामान्‍य रूप से बादल छाये रहेंगे, हल्‍की वर्षा होने का अनुमान है। तापमान 24 और 31 डिग्री सेल्सियस के बीच रह सकता है। कोलकाता में आमतौर पर बादल छाये रहने और एक या दो स्‍थानों पर गरज के साथ बारिश होने के आसार हैं। न्‍यूनतम तापमान 28 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, अधिकतम तापमान 34 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने का अनुमान है। केंद्र शासित प्रदेश जम्‍मू-कश्‍मीर के जम्‍मू में गरज के साथ बारिश होने की उम्‍मीद है। श्रीनगर में, न्‍यूनतम तापमान 20 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, अधिकतम तापमान 30 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने की संभावना है। लद्दाख में आंशिक रूप से बादल छाये रहेंगे। आंधी या गरज के साथ छीटें पड़ने की उम्‍मीद है। गिलगित में तापमान 20 और 34 डिग्री सेल्सियस के बीच रहने का अनुमान है। मुजफ्फराबाद में गरज के साथ वर्षा होने की संभावना है। न्‍यूनतम तापमान 20 डिग्री सेल्सियस रहा, अधिकतम 34 डिग्री सेल्सियस रहने का अनुमान है। समाचार कक्ष से वीरेन्द्र कौशिक।

------

आकाशवाणी का समाचार सेवा प्रभाग आज से स्‍पोर्ट स्‍कैन कार्यक्रम का प्रसारण फिर से शुरू कर रहा है। यह कार्यक्रम सायं सात बजकर 20 मिनट से एफ.एम. गोल्‍ड और अतिरिक्‍त मीटरों पर सुना जा सकता है।  यह कार्यक्रम हमारी वेबसाइट NEWS ON AIR DOT COM और हमारे यूट्यूब चैनल NEWS ON AIR OFFICIAL पर भी उपलब्ध रहेगा। मोबाइल ऐप NEWS ON AIR से भी अपडेट लिये जा सकते हैं।

------

मध्य प्रदेश में, कोरोना महामारी के मद्देनजर गणेश उत्सव, मोहर्रम और जन्माष्टमी जैसे आगामी त्योहार सार्वजनिक रूप से नहीं मनाए जाएंगे। स्वतंत्रता दिवस भी सीमित स्तर पर मनाया जाएगा। हमारे संवाददाता ने अधिकारियों के हवाले से बताया है कि किसी भी स्थान पर लोगों को इकट्ठा होने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

-----

अमरीकी राष्‍ट्रपति डॉनल्‍ड ट्रम्‍प ने लेबनान से कहा है कि वह बेरूत में हुए शक्तिशाली विस्‍फोट की पूरी और पारदर्शी जांच कराये। उन्‍होंने लेबनान में सुधारों की मांग कर रहे प्रदर्शनों के प्रति समर्थन व्‍यक्‍त करते हुए लेबनान की सरकार से अपील की कि वह विस्‍फोट की भलीभांति जांच कराये। उन्‍होंने कहा कि ऐसी जांच में अमरीका सहायता करने को तैयार है। व्‍हाइट हाउस का कहना है कि अमरीकी राष्‍ट्रपति  ने लेबनान में शांति और शांतिपूर्ण प्रदर्शन करने वालों के लिए पारदर्शिता सुधारों और जवाबदेही की आवश्‍यकता पर बल दिया है।

-----

  

Live Twitter Feed

Listen News

Morning News 18 (Sep) Midday News 18 (Sep) Evening News 18 (Sep) Hourly 18 (Sep) (1910hrs)
समाचार प्रभात 18 (Sep) दोपहर समाचार 18 (Sep) समाचार संध्या 18 (Sep) प्रति घंटा समाचार 18 (Sep) (2200hrs)
Khabarnama (Mor) 18 (Sep) Khabrein(Day) 18 (Sep) Khabrein(Eve) 18 (Sep)
Aaj Savere 18 (Sep) Parikrama 18 (Sep)

Listen Programs

Market Mantra 18 (Sep) Samayki 9 (Aug) Sports Scan 18 (Sep) Spotlight/News Analysis 18 (Sep) Employment News 18 (Sep) World News 18 (Sep) Samachar Darshan 22 (Mar) Radio Newsreel 21 (Mar)
    Public Speak

    Country wide 12 (Mar) Surkhiyon Mein 18 (Sep) Charcha Ka Vishai Ha 11 (Mar) Vaad-Samvaad 17 (Mar) Money Talk 17 (Mar) Current Affairs 6 (Mar) Sanskrit Saptahiki 12 (Sep) North East Diary 17 (Sep)