A- A A+
Last Updated : Jul 7 2020 10:52PM     Screen Reader Access
News Highlights
COVID-19 cases in India are lowest per million in world, says Health Ministry            CBSE syllabus for classes 9 to 12 reduced by 30 percent            Government taking all measures to ensure farmers get remunerative prices for their produce, says Agriculture Minister            SoPs to speed up resumption of film production in unlock phase to be issued soon: I&B Minister Prakash Javadekar            NIA arrests 7th accused in Pulwama terror attack case           

Text Bulletins Details


समाचार संध्या

2000 HRS
04.06.2020

मुख्य समाचार :-

  • प्रधानमंत्री ने वर्चुअल वैश्विक वैक्‍सीन सम्‍मेलन में अंतर्राष्‍ट्रीयवैक्‍सीन गठबंधन- गावी के लिए डेढ करोड डॉलर देने की प्रतिबद्धता व्‍यक्‍त की।

  • भारत और ऑस्‍ट्रेलिया ने अपने सहयोग का स्‍तर समग्र नीतिगत साझेदारीतक बढाने का फैसला किया।

  • ऑस्‍ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्‍कॉट मॉरिसन ने कहा - आगामीवर्षों में हिंद-प्रशांत क्षेत्र में भारत की भूमिका महत्‍वपूर्ण।

  • कोविड रोगियों के स्‍वस्‍थ होने की दर लगभग 48 प्रतिशत हुई।

  • सरकार ने 960 विदेशी नागरिकोंके भारत यात्रा करने पर दस वर्ष का प्रतिबंध लगाया।

  • प्रधानमंत्री गरीब कल्‍याण पैकेजके तहत पांच सौ करोड रुपये की तीसरी किस्‍त महिला जन धन खाताधारकों को कल सेदी जाएगी।

  • जाने-माने फिल्‍म निर्माता औरनिर्देशक बासु चटर्जी का आज देहावसान हो गया। 

-----------

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने कहा है कि भारत, ऑस्‍ट्रेलिया के साथ संबंध प्रगाढकरने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्‍होंने कहा कि यह सिर्फ दोनों देशों के लिए ही नहीं,बल्कि पूरे हिन्‍द-प्रशान्‍त क्षेत्र और विश्‍व के लिए भी महत्‍वपूर्ण है। ऑस्‍ट्रेलियाके प्रधानमंत्री स्‍कॉट मॉरिसन के साथ वर्चुअल शिखर सम्‍मेलन में प्रधानमंत्री ने कहाकि मौजूदा कोरोना संक्रमण के दौर में समग्र नीतिगत साझेदारी की भूमिका महत्‍वपूर्णहो जाती है।

मेरामानना है कि भारत और ऑस्‍ट्रेलिया के संबंधों को और सशक्‍त करने के लिए ये परफैक्‍टसमय है, परफैक्‍ट मौका है। अपनी दोस्‍ती को और मजबूत बनाने के लिए हमारे पास असीम संभावनाएंहैं। ये संभावनाएं अपने साथ चैलेंजिज भी लाती हैं। चैलेंजिज की किस तरह इस पोटेन्‍शलको वास्‍तविकता में ट्रांसलेट किया जाए, ताकि दोनों देशों के नागरिकों, बिजनेसिज, अकेडेमिक्‍स,रिसर्चर्ज इत्‍यादि के बीच लिंक्स हो और जो और मजबूत बने।

प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार ने कोविड संकट को अवसर के रूप में देखा है।

विश्‍वको इस महामारी के आर्थिक और सामाजिक दुष्‍प्रभावों से जल्‍दी निकालने के लिए एक कॉर्डिनेटरऔर कॉलिब्रेटिव अप्रोच की आवश्‍यकता है। हमारी सरकार ने इस क्राइसि‍स को एक अपोरच्‍युनिटीकी तरह देखने का निर्णय लिया है। भारत में लगभग सभी क्षेत्रों में व्‍यापक रिफॉर्म्सकी प्रक्रिया शुरू की जा चुकी है। बहुत जल्‍द ही ग्राउंड लेवल पर इसके परिणाम देखनेको मिलेंगे। 

प्रधानमंत्री ने देशवासियोंकी ओर से ऑस्‍ट्रेलिया के कोविड प्रभावित लोगों के प्रति संवेदना प्रकट की। श्री मोदीने कोरोना संकट के समय भारतीय समुदाय की सहायता की सराहना करते हुए श्री मॉरिसन कोधन्‍यवाद दिया।

इस कठिनसमय में आपने ऑस्‍ट्रेलिया में भारतीय समुदाय का और खासतौर पर भारतीय छात्रों का, हमारेस्‍टूडेंट्स का जिस तरह ध्‍यान रखा है। उसके लिए मैं विशेष रूप से आपका आभारी हूं।

ऑस्‍ट्रेलिया के प्रधानमंत्रीस्‍कॉट मॉरिसन ने कहा कि ऑस्‍ट्रेलिया  सरकारसमेकित और समृद्ध हिन्‍द - प्रशान्‍त क्षेत्र के लिए  प्रतिबद्ध है। उन्‍होंने कहा कि आने वाले वर्षोंमें इस क्षेत्र में भारत की अहम भूमिका रहेगी। श्री मॉरिसन ने प्रधानमंत्री मोदी केनेतृत्‍व की सराहना करते हुए कहा कि उन्‍होंने कोरोना संकट के समय रचनात्‍मक भूमिकानिभाई। श्री मॉरिसन ने कहा कि भारत और ऑस्‍ट्रेलिया के बीच जहाजरानी संबंधों को अन्‍यक्षेत्रों में पारस्‍परिक संबंध मजबूत करने के लिए इस्‍तेमाल किया जा सकता है।

श्री मॉरिसन ने भारत कोविश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन के कार्यकारी बोर्ड का अध्‍यक्ष चुने जाने पर कहा कि इससेस्‍वास्‍थ्‍य समेत विश्‍व की अनेक समस्‍याओं को सुलझाने में मदद मिलेगी।

----------

भारत और ऑस्ट्रेलिया ने वर्चुअल शिखर सम्‍मेलन के बाद व्यापक कार्यनीतिक साझेदारीकी घोषणा की। दोनों देशों ने हिन्‍द-प्रशान्‍त क्षेत्र में समुद्री सहयोग पर एक साझादृष्टिपत्र भी जारी किया है। सात समझौतों पर भी हस्ताक्षर हुए। इनमें साइबर टेक्नोलॉजीसे संबद्ध सहयोग समझौते और खनन के क्षेत्र में महत्वपूर्ण सहयोग शामिल हैं। दोनों देशोंने रक्षा विज्ञान और प्रौद्योगिकी, लोक प्रशासन और प्रशासनिक सुधारों, व्यावसायिक शिक्षाऔर प्रशिक्षण तथा जल संसाधन प्रबंधन सहयोग के बारे में भी समझौता ज्ञापनों पर हस्ताक्षरकिए।

----------

भारत और ऑस्‍ट्रेलिया ने द्विपक्षीय कार्यनीतिक भागीदारी कोव्‍यापक भागीदारी बनाने की प्रतिबद्धता व्‍यक्‍त की है।  दोनों देशों के बीच, व्‍यापक कार्यनीतिक भागीदारीपर संयुक्‍त वक्‍तव्‍य में कहा गया है कि यह आपसी भरोसा, हित और लोकतांत्रिक मूल्‍योंपर आधारित होगी। संयुक्‍त वक्‍तव्‍य में कोविड-19 जैसी बड़ी चुनौतियों के समाधान केलिए व्‍यवहारिक वैश्विक सहयोग को लेकर दोनों देशों की प्रतिबद्धता व्‍यक्‍त की गई है।

भारत और ऑस्‍ट्रेलिया ने विज्ञान, प्रौद्योगिकी और अनुसंधानक्षेत्र में सहयोग बढ़ाने का भी संकल्‍प व्यक्‍त किया है और डिजिटल अर्थव्‍यवस्‍था,साइबर सुरक्षा जैसे क्षेत्रों में  मिलकर कामकरने का निर्णय लिया है। समुद्री क्षेत्र में भी सहयोग बढ़ाने पर सहमति बनी है। आतंकवादको क्षेत्रीय शांति और स्थिरता के लिए बड़ा खतरा बताते हुए दोनों देशों ने हर प्रकारके आतंकवाद की निंदा की है और इस बात पर बल दिया है कि आतंकी गतिविधियों को किसी भीहाल में उचित नहीं ठहराया जा सकता।

----------

विदेश मंत्रालय ने कहा है कि प्रधानमंत्रीनरेंद्र मोदी और आस्‍ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्‍कॉट मॉरिसन के बीच आज की वार्ता केबाद दो संयुक्‍त घोषणायें जारी की गईं। मीडिया को जानकारी देते हुए विदेश मंत्रालयमें सचिव-पूर्व विजय ठाकुर सिंह ने कहा कि इनमें दोनों देशों के संबंधों के दर्जे को  सामरिक साझेदारी से बढाकर समग्र सामरिक साझेदारीके रूप  में विकसित करना शामिल है। श्रीमतीविजय ठाकुर सिंह ने कहा कि इस दस्‍तावेज में कई क्षेत्रों को शामिल किया गया है, जिनकेतहत दोनों देश द्विआयामी और बहुआयामी रूप से सहयोग करेंगे।

----------

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदीने कहा कि कोविड-19 महामारी ने वैश्विक सहयोग की सीमाओं को उजागर कर दिया है और विश्वके हाल के इतिहास में पहली बार विश्व समुदाय ने साझा दुश्मन का मुकाबला करना है। उन्होंनेकहा कि भारत इस चुनौती भरे समय में विश्व समुदाय के साथ है। श्री मोदी ने यह बात ब्रिटेनके प्रधानमंत्री बोरिस जानसन द्वारा आयोजित वैश्विक वैक्सीन शिखर सम्मेलन को संबोधितकरते हुए कही। इस सम्मेलन का आयोजन वर्चुअल तरीके से किया गया और इसमें दुनिया के50 देशों के व्यावसायिक नेता, संयुक्त राष्ट्र एजेंसियों के प्रतिनिधि, मंत्री, राष्ट्राध्यक्षऔर अन्य नेताओं ने भाग लिया। श्री मोदी ने कहा कि भारतीय सभ्यता समूचे विश्व को एकपरिवार मानने की शिक्षा देती है और कोरोना महामारी के इस दौर में भारत ने इस शिक्षाका पालन किया है। उन्होंने यह भी कहा कि भारत ने अपने यहां उपलब्ध दवाओं के भंडार कोदुनिया के 120 देशों के साथ साझा किया और इससे निपटने के लिए संयुक्त रणनीति के तहतकार्य किया। उन्होंने कहा कि भारत ने अपने नागरिकों की हिफाजत के साथ-साथ पड़ोसी देशोंकी भी मदद की।

भारत ने अंतर्राष्ट्रीयवैक्सीन अलायंस को डेढ़ करोड़ अमरीकी डालर की सहायता का भी संकल्प व्यक्त किया। उन्होंनेकहा कि यह संगठन दुनिया की एकजुटता का भी प्रतीक है।

----------

पेट्रोलियम मंत्री धर्मेन्‍द्रप्रधान ने पेट्रोलियम निर्यातक देशों के संगठन- ओपेक के महासचिव डॉक्‍टर मोहम्‍मदबारकिंडो से वीडियो कॉन्‍फ्रेंस के माध्‍यम से बातचीत की है। उन्‍होंने वैश्‍विक ऊर्जाबाजार के मौजूदा घटनाक्रम और कच्‍चे तेल की कीमतों के बारे में चर्चा की। श्री प्रधानने दुनिया भर में कमजोर आर्थिक स्थिति को पटरी पर लाने के लिए आने वाले दिनों में तेलउत्‍पादक और उपभोक्‍ता देशों द्वारा जिम्‍मेदारी से कदम उठाने की आवश्‍यकता पर जोरदिया। उन्‍होंने भारत की ऊर्जा सुरक्षा और मौजूदा चुनौतीपूर्ण स्थिति में वैश्‍विकऊर्जा स्‍थायित्‍व के लिए ओपेक के साथ सहयोग की सहमति व्‍यक्‍त की।

श्री बारकिंडो ने भारतके, महामारी से निपटने और देश में आर्थिक गतिविधियां फिर से शुरू करने के लिए उसकेप्रयासों की सराहना की।

----------

देश में कोविड-19 महामारी के रोगियोंके स्‍वस्‍थ होने की दर लगभग 48 प्रतिशत हो गई है। पिछले 24 घंटों में इस महामारी सेठीक हुए लोगों की कुल संख्‍या तीन हजार 804 हो गई। इस तरह अब तक कुल एक लाख चार हजाररोगी स्‍वस्‍थ हो चुके हैं। 

इस समय एक लाख छह हजार 737 रोगियोंका अस्‍पतालों में इलाज चल रहा है। भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद-आई सी एम आरने देश में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की जांच के लिए परीक्षण क्षमता में और विस्‍तारकिया है। 498 सरकारी और 212 निजी प्रयोगशालाओं में इस बीमारी के परीक्षण की सुविधाउपलब्‍ध हो गई है। पिछले 24 घंटों में एक लाख 39 हजार 485 नमूनों की जांच की गई। इसतरह देशभर में अब तक 42 लाख 42 हजार नमूनों की जांच की जा चुकी है।

----------

उच्‍चतम न्‍यायालय ने दिल्‍ली,उत्‍तरप्रदेश और हरियाणा सरकारों को निर्देश दिया है कि वे राष्‍ट्रीय राजधानी क्षेत्रमें यातायात के बारे में एक समान नीति अपनाएं। न्‍यायालय इस क्षेत्र में लोगों के आवागमनमें आ रही समस्‍याओं के बारे में एक याचिका पर सुनवाई कर रहा है। शीर्ष न्‍यायालय नेतीनों राज्‍य सरकारों को निर्देश दिया है कि वे एक सप्‍ताह के भीतर एक समान नीति तैयारकरके उसे एक वेब पोर्टल पर डालें, ताकि राष्‍ट्रीय राजधानी क्षेत्र में लोगों के आवागमनको सुगम बनाया जा सके।

----------

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रीडॉक्‍टर हर्षवर्धन ने कहा है कि दिल्ली को प्रभावी निगरानी, संक्रमित लोगों के संपर्कोंका तेजी से पता लगाने, संरोधन वाले क्षेत्रों में कडाई से नियमों का पालन करने और संक्रमणकी जांच बढाने की आवश्यकता है। उनका यह वक्‍तव्‍य राष्ट्रीय राजधानी में कोविड​​-19के मामलों और मरने वालों की संख्‍या बढ़ने के बीच आया है। डॉक्‍टर हर्षवर्धन ने शहरमें कोविड-19 की रोकथाम और नियंत्रण के लिए तैयारियों की समीक्षा के लिए वीडियो कॉन्फ्रेंसिंगके माध्यम से एक उच्च-स्तरीय बैठक की अध्यक्षता की।

स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री नेकहा कि दिल्‍ली में स्‍वास्‍थ्‍य बुनियादी ढांचा मजबूत करने और जांच सुविधाएं बढ़ानेके लिए सभी प्रकार की सुविधाएं दी जा रही हैं। उन्‍होंने जिला मजिस्‍ट्रेटो, आयुक्‍तोंऔर महापौरों से विस्‍तृत बातचीत की। उन्‍होंने डॉक्‍टर हर्षवर्धन को अपने-अपने क्षेत्रमें किए गए उपायों के बारे में बताया। डॉक्‍टर हर्षवर्धन ने स्‍वास्‍थ्‍य कर्मियों,प्रशासन और अन्‍य कोरोना योद्धाओं की सराहना की। उन्‍होंने सुझाव दिया कि दूरी बनाएरखने, साफ-सफाई रखने, मास्‍क इस्‍तेमाल करने और अन्‍य दिशानिर्देशों का पालन करना अबपहले से अधिक जरूरी हो गया है।

----------

केंद्र शासित प्रदेश जम्मूकश्मीर में कोविड-19 से आज एक और व्यक्ति की मौत हो गई। इसके साथ ही केंद्र शासित प्रदेशमें इस वायरस से मृतकों की संख्या 35 हो गई है। जम्मू कश्मीर में कोविड-19 के तेजीसे बढ़ते मामलों के साथ ही कोविड मामलों का आंकड़ा दो हजार आठ सौ सत्तावन पर आ गयाहै। इनमें से एक हजार सात लोग ठीक हुए हैं।

----------

इस बीच, प्रशासन ने लॉकडाउनके दौरान देश के अन्य भागों में फंसे अब तक अपने करीब एक लाख नौ हजार तीन सौ अट्ठावननागरिकों को लखनपुर के रास्ते विशेष रेलगाड़ियों तथा बसों से निकाला है। जम्मू और ऊधमपुररेलवे स्टेशनों पर विभिन्न राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से 43 विशेष रेलगाड़ियांपहुंची। इसके अलावा 39 हजार प्रवासी नागरिकों को भी श्रमिक स्पेशल रेलगाड़ियों द्वाराउनके गृह राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों तक पहुंचाया गया।  

----------

अरुणाचल प्रदेश में संगरोधकेंद्र से कोरोना के चार और नए मामलों की पुष्टि हुई है लेकिन इनमें कोरोना के लक्षणनहीं पाए गए हैं। इन चार मामलों में पश्चिमी सियांग जिले के चांगलांग से तीन और एकआलो से है। इसके साथ ही राज्य में संक्रमित मामलों की संख्या बढ़ कर 42 हो गई है जिनमें41 सक्रिय मामले हैं। एक रिपोर्ट...

पूर्वीसियांग जिले के रुक्सिन के एक स्‍कूल के माध्‍यमिक शिक्षक जॉन पांयांग ने असम-अरूणाचलसीमा के पास नागोरलुंग-रालुंग गांव  के प्रवेशद्वार पर एक अस्‍थाई चिकित्‍सा जांच केन्‍द्र बनाया है। इसे बनाने में बांस और पारदर्शीपॉलीथिन चदरों का इस्‍तेमाल किया गया है और एक थर्मल स्क्रीनिंग मशीन, फेस-मास्क, दस्तानोंऔर एल्‍कोहल युक्‍त सैनिटाइज़र की व्‍यवस्‍था की गई है। श्री पांयांग बताते हैं किउन्‍हें स्क्रीनिंग तकनीक के बारे में सरकारी दफ्तरों से  प्रशिक्षण मिला है और दफ्तरों ने इन्‍हें इस पहलके लिए प्रोत्साहित किया है। उन्होंने बताया कि अगर किसी व्‍यक्ति के शरीर का तापमानअधिक दर्ज होता है तो उस व्‍यक्ति को रुक्सिन के सामुदायिक चिकित्‍सा सहायता के लिएभेजा जाता है। श्री पांयांग ने अपने गाँव के कल्याण को ध्‍यान में रखते हुए अपना वेतनस्‍वेच्‍छा से सुरक्षा उपकरण और अन्‍य सामग्री खरीदने के लिए दान कर दिया है। ईस्‍टसियांग डिस्‍ट्रि‍क्‍ट से प्रफुल्‍ल तमांग के साथ मैं राकेश डोले, एआईआर न्‍यूज, इटानगर।

----------

हिमाचल प्रदेश सरकार नेदेश के अन्य भागों में फंसे अपने निवासियों को वापस लाने के लिए चार करोड़ रुपये खर्चकिए। कोविड-19 के मद्देनजर, अब तक एक लाख 70 हजार नागरिकों को राज्य में वापस लायाजा चुका है। एक रिपोर्ट...

राज्यसरकार देश के विभिन्‍न भागों में फंसे प्रदेशवासियों को लाने के लगातार प्रयास कर रहीहै। राज्य सरकार के अनुसार, 51000 से अधिक लोगों को राज्‍य में वापस लाने के लिए13 ट्रेनें और दो हजार से ज्‍यादा बसें लगाई गई जिसमें  कुल 4 करोड़ रुपये खर्च किए गए हैं। शिमला में हुईप्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि बाहर से लौटेराज्‍यवासियों को संस्‍थागत क्‍वारटाइन में रखाने के चलते ही राज्‍य में कोरोना संक्रमणको समाज में फैलने में बड़े पैमाने पर रोक पाए। उन्होंने कहा कि राज्य में मई माह मेंएक ही संक्रमित मरीज रह गया था परन्‍तु एक लाख 70 हजार राज्‍यवासियों के लौटने पर मामलेतेजी से बढ़े हैं। इस बीच राज्य में कोविड-19 की दर 1400 प्रति दिन हो गई है। वहींठीक होने वाली संख्‍या 40 प्रतिशत पहुंच चुकी है। हालांकि, मृत्यु दर 1 दशमलव 52 प्रतिशतहै। संजीव सुंदरियाल, आकाशवाणी समाचार, शिमला।

---------

झारखंड में मुख्‍यमंत्रीदीदी रसोई कोविड महामारी के कारण हुए लॉकडाउन से सभी जरूरतमंदो, गरीबों और बेघर लोगों,विशेषकर दिव्‍यांगजन तथा बुजुर्गों को भोजन उपलब्‍ध करा रही है।

कोई भी गरीब या जरूरतमंद भूखा ना सोये, इसी उद्देश्य से इस जनकल्याणकारी योजना को पूरे राज्य में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन द्वारा शुरू किया गया।दीदी किचन के जरिए अब तक पूरे राज्य में 2 करोड़ 35 लाख से ज्यादा लाभार्थियों को दोवक्त का भोजन कराया जा चुका है। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा ...

साउंड बाइट - मुख्यमंत्री

सीएम किचन के माध्‍यम से आम जनता तक अनाज पहुंचाने का कार्यकिया जाएगा। कोई गरीब भूखा न सोए ये सरकार का उद्देश्‍य है। कई जगहों पर लोगों को अनाजउपलब्‍ध करवाया जा रहा है। सरकार के माध्‍यम से भी राशन घरों तक जा रहा है।

खूंटी ज़िले में भी राज्य आजीविका मिशन के तहत सखी मंडल की महिलाओंद्वारा संचालित मुख्यमंत्री दीदी किचन में स्वच्छता मापदंडों का विशेष ध्यान रखा जाताहै। ऐसी ही एक सखी दीदी उर्मिला देवी ने आकाशवाणी को बताया....

साउंड बाईट- सखी मंडल

हम‍ यहां दाल बनाते हैं, सामान मिलाते हैं सब कुछ मिलाते हैं,कभी-कभी खिचड़ी बनाते हैं। गरीब दुखी सब आते हैं, जिसके घर में चूल्‍हा नहीं जल रहाहै इधर खाते हैं। विकलांग लोग भी आते हैं। हम लोगों को बहुत अच्‍छा लग रहा है।

खूटी मंडल के पदाधिकारी ने आकाशवाणी को बताया

साउंट बाईट- पदाधिकारी

दीदी किचन को लेकर किसी भी प्रकार की बाधाओं का सामना नहीं करनापड़ा है। प्रत्‍येक दीदी किचन में प्रतिदिन 150 से 200 लोग खाना खा रहे हैं। अधिकांशवही लोग दीदी किचन से लाभान्वित हो रहे हैं जिनके पास न तो चूल्‍हा है और ना ही राशनका सामान। 

राज्य में 2 अप्रैल को झारखण्ड राज्य आजीविका मिशन की ओर सेदीदी किचन 21 दिनों के लिए शुरू किया गया था, लेकिन लॉकडाउन बढ़ने के साथ ही इस योजनाका भी विस्तार कर दिया गया है। ज्योत्स्ना शीला डांग, आकाशवाणी समाचार, खूटी।

----------

राजस्थान में होम्योपैथीचिकित्सा पद्धति कोविड -19 के मरीजों के इलाज में काफी प्रभावकारी सिद्ध हुई है। राज्यमें कोविड संक्रमित 42 रोगियों का होम्योपैथी विश्वविद्यालय जयपुर के डाक्टरों द्वाराउपचार किया गया, जिसके अच्छे परिणाम आए हैं। ब्‍यौरा हमारे संवाददाता से...

होम्योपैथी विश्वविद्यालय के डॉक्टरों ने एसएमएस अस्पताल तथामहिला चिकित्सालय में भर्ती 42 संक्रमित मरीजों से टेलीमेडिसिन के माध्यम से बातचीतकी। इसके बाद एसएसमएस मेडिकल कॉलेज से अनुमति लेकर इन मरीजों को एलोपैथी दवाओं के साथहोम्योपैथी दवा भी दी गयी। दवा कारगर साबित हुई और संक्रमित सभी 42 मरीज तीन से पांचदिन में बीमारी से उभरकर अस्पताल से डिस्चार्ज हो गये। विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रारडॉ. ताडकेश्वर जैन ने बताया....

42 मरीजों में से 31 की जो दवाई आई वो ....... थी। बाकि जो11 मरीज थे उनकी अलग-अलग दवाइयां थी और वो सिंटम उनकी मेंटल स्‍टेट फिजिक्‍ल सिंटमके आधार पर थी। उनमें से एक-दो मरीज ऐसे भी थे जो आईसीयू में एडमिट थे। उनको रात मेंकाफी ब्रीथिंग में डिफिक्‍लिटी होती थी। दवाइयां देने के बाद में उनको नेक्‍ट डे हीआराम आया और दूसरे दिन वो भी डिसचार्ज हो कर चले गए। कुल मिलाकर अगर होम्‍योपैथी दवाइयोंके साथ-साथ एलोपैथिक दवाइयां भी कोविड पेशेन्‍टस को दी जाती हैं तो मेरा अपना तजुर्बाकहता है कि मरीज न सिर्फ जल्‍दी रिकवर होगा बल्कि अपने आप को बहुत कोन्‍फिडेंट फीलकरता है और ओवर ऑल हेल्‍दी फील करता है।

डॉक्टरअब बड़े पैमाने पर इन दवाओं के असर पर शोध करने की योजना बना रहे हैं और उन्हें उम्मीदहै कि इसके नतीजे निश्चित ही सकारात्मक साबित होंगे। आकाशवाणी समाचार  के लिए जयपुर से जितेन्‍द्र द्विवेदी।

----------

प्रधानमंत्री जन धन योजनाके अन्‍तर्गत सरकार, जून महीने के लिए कल से पांच-पांच सौ रुपए की राशि महिला लाभार्थियोंके खाते में डालना शुरू करेगी। यह राशि उन्‍हें प्रधानमंत्री गरीब कल्‍याण पैकेज केअन्‍तर्गत दी जा रही है। वित्‍तीय सेवा विभाग ने बताया कि लाभार्थी इस महीने की दसतारीख के बाद कभी भी अपने खाते से यह राशि निकाल सकते हैं।    

पहली किस्‍त में बीस करोड़पांच लाख महिला जन धन खाता धारकों के खाते में दस हजार 29 करोड़ रुपए जमा कराए गए।दूसरी किस्‍त में बीस करोड़ 62 लाख महिला जन धन खाता धारकों के खाते में दस हजार तीनसौ 15 करोड़ रुपए जमा किए गए। एक लाख 70 हजार करोड़ रुपए के प्रधानमंत्री गरीब कल्‍याणपैकेज के अंतर्गत सरकार ने महिलाओं, गरीब वरिष्‍ठ नागरिकों और किसानों के लिए नि:शुल्‍कअनाज और नकद भुगतान की घोषणा की है।

----------  

सरकार ने आज 960 विदेशी नागरिकोंके भारत यात्रा करने पर दस साल का प्रतिबंध लगाते हुए उन्‍हें प्रतिबंधित सूची मेंडाल दिया है। प्रतिबंधित सूची में डाले गये ये विदेशी नागरिक तब्‍लीगी जमात की गतिविधियोंमें शामिल थे।

अप्रैल में सरकार ने तब्‍लीगीजमात की गतिविधियों में शामिल कुछ विदेशी नागरिकों को प्रतिबंधित सूची में डालकर उनकावीजा रद्द कर दिया था।

----------

वंदे भारत मिशन के अंतर्गतदुबई और ढाका में फंसे 546 भारतीय नागरिक आज बिहार में गया पहुंचे। इनमें से 376 दुबईऔर 170 ढाका से हैं। दुबई से आने वाले सभी लोग बिहार के विभिन्न भागों से हैं। ढाकासे लौटे 170 यात्रियों में से 91 झारखंड से हैं।

इस बीच, दोहा से आए146 और किर्गिस्तान से आए 127 लोगों को क्वारंटीन अवधि पूरी करने के बाद होटलों सेउनके घर भेज दिया गया है।

----------

वंदे भारत मिशन का दूसराचरण इस महीने की 13 तारीख तक जारी रहेगा। पिछले महीने की 17 तारीख से शुरू हुआ यह चरणसुचारू रूप से चल रहा है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्‍ता अनुराग श्रीवास्‍तव ने बतायाकि अब तक इस चरण में एयर इंडिया ने विदेश में फंसे भारतीय नागरिकों को स्‍वदेश लानेके लिए एक सौ तीन उड़ानें संचालित की हैं। नौसेना भी श्रीलंका और मालदीव से भारतीयनागरिकों को स्‍वदेश लाई है।

----------

एयर इंडिया, वंदे भारतमिशन के तीसरे चरण के तहत अमरीका और कनाडा में कुछ गंतव्‍यों के लिए 75 और उड़ानोंके वास्‍ते कल शाम पांच बजे से बुकिंग शुरू करेगी। इन गंतव्‍यों में शामिल हैं- न्‍यूयॉर्क,नेवार्क, शिकागो, वॉशिंगटन, सनफ्रांसिस्‍को, वेन्‍कोवर और टोरन्‍टो। नागर विमानन मंत्रीहरदीप सिंह पुरी ने बताया कि ये उड़ानें इस महीने की नौ तारीख से तीस तारीख तक संचालितहो जाएंगी।

--------

भारतीय नौसेना का पोत आईएनएस जलाश्‍वभारतीय नागरिकों को स्‍वदेश लाने के अभियान के चौथे चरण के सिलसिले में मालदीवकी राजधानी माले पहुंच गया है। यह जहाज कल सात सौ भारतीयों को लेकर तमिलनाडु में तूतीकोरिनरवाना होगा। माले में भारतीय उच्‍चायोग मालदीव के अधिकारियों के सहयोग से प्रवासी भारतीयोंकी वापसी के कार्य का समन्‍वय कर रहा है। राजधानी माले में विभिन्‍न स्‍थानों से प्रवासियोंको जहाज तक लाने के लिए बसों की व्‍यवस्‍था की गई है।

---------- 

कोविड-19 पर आकाशवाणी सेबातचीत में दिल्‍ली के लेडी हार्डिंग मेडिकल कॉलेज के वरिष्‍ठ चिकित्‍सक डॉक्‍टर तन्‍मयतालुकदार ने कहा है कि अधिकांश लोग जिन्‍हें कोविड-19 का संक्रमण हैं, वे या तोसंक्रमण की प्रसुप्‍त दशा में या उनमें हल्‍का-फुल्‍का संक्रमण का लक्षण है, ऐसे लोगस्‍वस्‍थ लोगों तक बीमारी को चुपचाप फैलाते हैं।

अधिकतरलोग उनको लक्षण बहुत कम होते हैं, लेकिन बीमारी फैलाने की क्षमता उनमें फिर भी बरकरारहोती है। हालांकि दूसरों से थोड़ी कम होगी, क्‍योंकि ये लोग खांसेंगे, छींकेंगे कम।इसीलिए ये खतरा रहता है, काफी मेजोरिटी पेशेंट जो होते हैं कोविड के वो एक सिम्‍टोमेटिककैरियर्स से हम लोग कहते हैं। ये कम्‍य‍ुनिटी में बीमारी को फैलाना काफी हद तक इन्‍हींसे होता है।

----------

आकाशवाणी का समाचार सेवाप्रभाग आज फोन इन कार्यक्रम में कोविड-19 पर विशेषपरिचर्चा प्रसारित करेगा।

सर गंगाराम अस्पताल के वरिष्ठ चिकित्सक डॉक्टर लेफ्टिनेंट जनरल वेद चतुर्वेदी परिचर्चामें भाग लेंगे।

श्रोता स्‍टूडियो में फोन कर विशेषज्ञ से सवाल पूछ सकते हैं। नम्‍बर है- 01 1 2 3 3 1 4 4 4 4. हमारा टोल‍-फ्री नम्‍बर है-1 8 0 0 1 1 5 7 6 7.  यह कार्यक्रम रात नौ बजकर 30 मिनटसे एफएम गोल्‍ड और अतिरिक्‍त मीटरोंपर सुना जा सकता है।

----------

सोशल मीडिया के विभिन्‍न मंचों पर फैलाई जा रही फर्जी खबरों की जांच कर हम तथ्‍यआपके सामने लाते हैं।

सोशल मीडिया पर एक वीडियों में यह दावा किया गया है कि कोविड-19 एक बैक्‍टीरियाहै जिसका इलाज एस्प्रिन से किया जा सकता है जबकि सरकार का कहना है कि यह एक वायरस हैऔर इसकी दवा अभी उपलब्‍ध नहीं है।

---------

जाने-माने फिल्‍म निर्माता और निर्देशक बासु चटर्जी के निधन पर राष्‍ट्रपति, उपराष्‍ट्रपतिऔर प्रधानमंत्री ने शोक व्‍यक्‍त किया है। राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि देशने एक महान चरित्र को खो दिया है।

उपराष्‍ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने कहा है कि बासु चटर्जी ने अपनी फिल्‍मों मेंशहरी मध्‍यम वर्ग के विभिन्‍न पहलुओं को दिखाया।

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने गहरा दुख व्‍यक्‍त करते हुएकहा कि वे मन को छूने वाली संवेदनशील फिल्‍मों के लिए हमेशा याद रखे जाएंगे।

सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाशजावड़ेकर ने उनके निधन पर दुख व्यक्त करते हुए कहा कि बासु चटर्जी एक महान फिल्म निर्देशकथे।

प्रसिद्ध फिल्‍म निर्माता और निर्देशक बासु चैटर्जी का आज मुम्‍बईमें उनके निवास पर निधन हो गया। वे 93 वर्ष के थे। बासु चटर्जी को मंजिल, उस पार, शौकीन, चितचोर, पिया का घर,खट्टा-मीठा और बातों-बातों में जैसी फिल्‍मों के लिए सदैव याद रखा जाएगा।

----------

मौसम-

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में सामान्‍य रूप से बादल छाए रहनेऔर हल्की वर्षा का अनुमान है। अधिकतम तापमान 34 डिग्री और न्यूनतम 24 डिग्री सेल्सियसरहेगा। मुम्‍बई में भी सामान्‍य रूप से बादल छाए रहेंगे और बारिश होने या गरज के साथबौछारें पड़ने की संभावना है। न्‍यूनतम और अधिकतम तापमान 26 से 31 डिग्री सेल्सियसके बीच रहेगा। दक्षिण की ओर चलें तो चेन्नई में सामान्‍य रूप से बादल छाए रहेंगे। तापमान29 से 39 डिग्री सेल्सियस के बीच रहेगा।  कोलकातामें आंशिक रूप से बादल छाये रहेंगे। हल्‍की वर्षा गरज के साथ बौछारें पड़ सकती हैं।अधिकतम तापमान 36 डिग्री और न्यूनतम तापमान 27 डिग्री सेल्सियस रहेगा। देश के उत्तरीभाग में केन्द्रशासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर के जम्मू में अधिकतम तापमान 36 डिग्री औरन्यूनतम 23 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है। आसमान आम तौर पर साफ रहेगा लेकिन दोपहरबाद या शाम को आंशिक रूप से बादल छाये रहने का अनुमान है। श्रीनगर में आसमान में आंशिकरूप से बादल छाये रहेंगे।  अधिकतम तापमान26 और न्यूनतम 12 डिग्री सेल्सियस रहेगा। गिलगित में आंशिक रूप से बादल छाये रहने केसाथ ही तापमान 16 से 32 डिग्री सेल्सियस के बीच रहने का अनुमान है। उधर, मुजफ्फराबादमें आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे। वर्षा होने या गरज के साथ बौछारें पड़ने या धूलभरीआंधी आने का भी अनुमान है। न्यूनतम तापमान 15 डिग्री और अधिकतम 31 डिग्री सेल्सियसरहेगा। समाचार कक्ष से मनीषा खन्‍ना।

----------

मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल 'निशंक' और शहरी कार्यमंत्री हरदीप सिंह पुरी ने आज संयुक्‍त पहल ट्यूलिप का शुभारंभ किया। इसका उद्देश्‍यदेश में इंजीनियरिंग के विद्यार्थियों को इंटर्नशिप उपलब्‍ध कराना है। शहरी कार्य मंत्रीहरदीप सिंह पुरी ने कहा कि ट्यूलिप से विद्यार्थियों और शहरी स्‍थानीय निकायों सहितसभी पक्षों को लाभ होगा।

----------

Live Twitter Feed

Listen News

Morning News 7 (Jul) Midday News 7 (Jul) Evening News 7 (Jul) Hourly 7 (Jul) (1800hrs)
समाचार प्रभात 7 (Jul) दोपहर समाचार 7 (Jul) समाचार संध्या 7 (Jul) प्रति घंटा समाचार 7 (Jul) (2200hrs)
Khabarnama (Mor) 7 (Jul) Khabrein(Day) 7 (Jul) Khabrein(Eve) 7 (Jul)
Aaj Savere 7 (Jul) Parikrama 7 (Jul)

Listen Programs

Market Mantra 7 (Jul) Samayki 6 (Jul) Sports Scan 23 (Mar) Spotlight/News Analysis 7 (Jul) Samachar Darshan 22 (Mar) Radio Newsreel 21 (Mar)
    Public Speak

    Country wide 12 (Mar) Surkhiyon Mein 7 (Jul) Charcha Ka Vishai Ha 11 (Mar) Vaad-Samvaad 17 (Mar) Money Talk 17 (Mar) Current Affairs 6 (Mar) Sanskrit Saptahiki 5 (Jul)
  • Money Matters 22 (Mar)
  • International News 22 (Mar)
  • Press Review 23 (Mar)
  • From the States 23 (Mar)
  • Let's Connect 22 (Mar)
  • 360°- Ek Parivesh 23 (Mar)
  • Know Your Constitution 30 (Jan)
  • Ek Bharat Shreshta Bharat 22 (Mar)
  • Sanskriti Darshan 23 (Mar)
  • Fit India New India 23 (Mar)
  • Weather Report 21 (Mar)
  • North East Diaries 22 (Mar)
  • 150 Years of Bapu 22 (Mar)
  • Sector Specific Discussions 22 (Mar)