राष्ट्र कल संविधान दिवस मनाएगा

0
34

राष्‍ट्र कल संविधान दिवस मनायेगा। यह दिन देशभर में राष्ट्रीय कानून दिवस के रूप में भी जाना जाता है और देश में संविधान को अपनाये जाने का स्मरण कराता है। 26 नवंबर 1949 को, देश की संविधान सभा ने वर्तमान संविधान को विधिवत रूप से अंगीकार किया था और जिसे 26 जनवरी 1950 को लागू किया गया था।

 

सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय ने वर्ष 2015 में, 26 नवंबर को ‘संविधान दिवस’ के रूप में मनाने के सरकार के निर्णय को अधिसूचित किया था। यह दिन संवैधानिक मूल्यों के प्रति नागरिकों में सम्मान की भावना को बढ़ावा देने के लिए मनाया जाता है। यह दिन भारत के पहले कानून मंत्री डॉक्टर भीमराव आम्बेडकर को श्रद्धांजलि देने के लिए भी मनाया जाता है, जिन्होंने संविधान के निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी।

 

आकाशवाणी का समाचार सेवा प्रभाग इस अवसर पर 17 दिसम्बर, 1946 को संविधानसभा में डॉक्‍टर आम्‍बेडकर के भाषण का एक अंश प्रस्तुत कर रहा है।

 

71वें संविधान दिवस के अवसर पर कल सूचना और प्रसारण मंत्रालय का फिल्‍म प्रभाग अपने वेबसाइट और यू टयूब चैनल पर चार फिल्‍में स्‍ट्रीमिंग के जरिये प्रसारित करेगा। ये फिल्‍में भारतीय संविधान को स्‍वीकार किये जाने, संविधान की विशेषताओं और डॉक्‍टर बी. आर. आम्‍बेडकर के जीवन से सं‍बंधित हैं।